PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 18 APR 2020 6:48PM by PIB Delhi

 

Coat of arms of India PNG images free downloadhttp://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image001ZTPU.jpg

(पिछले 24 घंटे में जारी कोविड-19 से जुड़ी प्रेस विज्ञप्तियां, क्षेत्र अधिकारियों से प्राप्त जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल है)

• देश में कोविड-19 के पुष्ट मामलों की कुल संख्या 14,378  है।

• पिछले 28 दिनों और 14 दिनों में एक भी नया मामला सामने नहीं आने वाले जिलों की संख्या में वृद्धि होने सहित कार्य योजना के कार्यान्वयन के अच्छे परिणाम प्राप्त हो रहे हैं।

• भारत दौरे के लिए विदेशियों को जारी किए गए सभी मौजूदा वीजा 3 मई तक निलंबित रहेंगे।

• कोविड-19 के संदर्भ में ग्रामीण डाक सेवक सहित सभी डाक कर्मचारियों को 10 लाख रुपये का मुआवजा।

• 8 अप्रैल 2020 से लेकर अब तक लगभग 8.2 लाख छोटे व्यवसायों को 5204 करोड़ रुपये के आयकर रिफंड जारी।

• कोविड-19 महामारी के कारण भारतीय कंपनियों के अवसरवादी अधिग्रहण/नियंत्रण में लेने को रोकने के लिए मौजूदा एफडीआई नीति में संशोधन।

कोविड-19 पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय का अपडेट

देश में कोविड-19 के पुष्ट मामलों की कुल संख्या 14,378 है। करीब 1992 व्यक्तियों अर्थात कुल मामलों में से 13.82% को उपचार के बाद/स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। 23 राज्यों/संघशासित प्रदेशों के 47 जिलों में कार्य योजना के कार्यान्वयन के अच्छे परिणाम प्राप्त हो रहे हैं। कोडाग्गु (कर्नाटक) जिले को माहे (पुद्दुचेरी) के साथ उन जिलों की सूची में शामिल किया गया है, जहां पिछले 28 दिनों से एक भी नया मामला सामने नहीं आया है। 12 राज्यों  के 22 नए जिलों में पिछले 14 दिनों से एक भी नया मामला सामने नहीं आया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

डॉ. हर्षवर्धन ने दिल्ली के उपराज्यपाल, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री, दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों के चिकित्सा अधीक्षकों और केंद्र व दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस की

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने अस्पतालों से अनुरोध किया है कि वे कोविड-19 के अलावा अन्य गंभीर रूप से बीमार मरीजों की भी रोग के खिलाफ लड़ने के संकल्प सहित देख-रेख करें। उन्होंने भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी की मदद से स्वैच्छिक रक्त दान को बढ़ावा देने और मोबाइल ब्लड कलेक्शन जैसी तमाम सेवाओं का उपयोग करके खून का पर्याप्त स्टॉक रखने को कहा। उन्होंने कहा कि अगर किसी मरीज को तुरंत इलाज की जरूरत है और उसे अस्पताल से वापस किया गया तो दोषी स्वास्थ्यकर्मी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

कुछ श्रेणियों को छोड़कर विदेशियों को जारी किए गए सभी मौजूदा वीजा और इमिग्रेशन चेक पोस्ट के जरिए भारत आने वाला पैसेंजर ट्रैफिक, 3 मई 2020 तक निलंबित रहेगा  

देश में जारी कोविड-19 के प्रकोप के मद्देनजर केंद्रीय गृह मंत्रालय (एमएचए) ने राजनयिक, आधिकारिक, संयुक्त राष्ट्र/अंतरराष्ट्रीय संगठनों, रोजगार और प्रोजेक्ट श्रेणियों को छोड़कर विदेशियों को जारी किए सभी मौजूदा वीजा के निलंबन को 3 मई 2020 तक बढ़ाने का फैसला किया है। एमएचए ने निर्देश दिया है कि 107 इमिग्रेशन चेक पोस्टों में से किसी के भी जरिए भारत आने वाला पेसेंजर ट्रैफिक 3 मई 2020 तक निलंबित रहेगा। हालांकि इस तरह का कोई भी प्रतिबंध किसी प्रकार के सामान और जरूरी या गैर-जरूरी आपूर्ति ले जाने वाले गाड़ियों, विमानों, जहाजों, वाहनों, ट्रेनों आदि पर लागू नहीं होगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

कोविड-19 प्रकोप के संदर्भ में लगाए गए यात्रा प्रतिबंधों के कारण इस समय भारत में रह रहे विदेशी नागरिकों को 3 मई 2020 तक दूतावास की सेवाएं

केंद्रीय गृह मंत्रालय (एमएचए) ने 28 मार्च 2020 को कोविड-19 प्रकोप के संदर्भ में लगाए गए यात्रा प्रतिबंधों के कारण इस समय भारत में रह रहे विदेशी नागरिकों को निःशुल्क आधार पर दूतावास की सेवाएं (कांसुलर सर्विसेज) 30 अप्रैल 2020 तक प्रदान की थी। मामले पर विचार करने के बाद इस समय भारत में फंसे विदेशी नागरिकों को विदेशियों के क्षेत्रीय पंजीकरण अधिकारियों के कार्यालय/विदेशी पंजीकरण अधिकारियों के द्वारा निम्नलिखित दूतावास सेवाओं की अवधि बढ़ाने का फैसला किया गया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

सभी डाक कर्मचारियों को 10 लाख रुपये का मुआवजा

कोविड-19 की स्थिति के परिप्रेक्ष्य में ग्रामीण डाक सेवक (जीडीएस) सहित सभी डाक कर्मचारियों को कर्तव्य निवर्हन के दौरान बीमारी से मृत्यु हो जाने पर 10 लाख रुपये के मुआवजे का भुगतान करने का फैसला किया गया है। ये दिशा-निर्देश जल्द प्रभावी हो जाएंगे और कोविड-19 संकट समाप्त होने तक की पूरी अवधि के लिए लागू रहेंगे।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

कोविड-19 की परिस्थितियों में जीएसटी करदाताओं की मदद करने के लिए प्रतिबद्ध:  सीबीआईसी

सीबीआईसी ने 30 मार्च 2020 से लेकर अब तक 5,575 करोड़ रुपये के दावों वाले 12,923 रिफंड आवेदनों की प्रोसेसिंग की है। अकेले पिछले सप्ताह ही सीबीआईसी ने 3854 करोड़ रुपये के दावों वाले 7,873 आवेदनों की प्रोसेसिंग की है। सीबीआईसी ने कहा कि उसने एक व्यापार और कारोबार अनुकूल उपाय (इसके परिपत्र, संख्या 133 दिनांक 31.03.2020, को देखें) किया है, ताकि जीएसटी रिटर्न दाखिल करने वालों को आईटीसी रिफंड जल्द2 हो सके और इसके साथ ही यह सुनिश्चित किया जा सके कि संबंधित सूचना के अभाव में गलत आईटीसी दावों की प्रोसेसिंग न हो जाए, लेकिन इसके बारे में सोशल मीडिया और अन्य मीडिया के कुछ विशेष वर्गों में गलत ढंग से समझाते हुए बताया गया है कि इससे कोविड-19 जैसी स्थिति में करदाताओं को परेशानी हो रही है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

एमएसएमई को राहत पहुंचाने के लिए पिछले 10 दिनों में 5,204 करोड़ रुपये के आयकर रिफंड जारी

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने आज कहा कि लगभग 8.2 लाख छोटे व्यवसायों (प्रोपराइटर, फर्म, कंपनियां और ट्रस्ट) को 8 अप्रैल 2020 से लेकर अब तक कुल 5,204 करोड़ रुपये के आयकर रिफंड जारी किए गए हैं। ये आयकर रिफंड कोविड-19 महामारी की मौजूदा परिस्थितियों में वेतन कटौती और कर्मचारियों की छंटनी के बिना ही अपने कारोबार को चलाने में एमएसएमई की मदद करेंगे।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

सरकार ने कोविड-19महामारी के कारण भारतीय कंपनियों के अवसरवादी अधिग्रहण/नियंत्रण में लेने को रोकने के लिए मौजूदा एफडीआई नीति में संशोधन किया

भारत सरकार ने वर्तमान कोविड-19 महामारी की वजह से भारतीय कंपनियों के अवसरवादी अधिग्रहण/नियंत्रण में लेने को रोकने के लिए मौजूदा प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) नीति की समीक्षा की है। भारत सरकार ने इसके साथ ही समग्र एफडीआई नीति, 2017 में निहित मौजूदा एफडीआई नीति में संशोधन किया है। अब एक ऐसे देश, जिसके साथ भारत की भूमि सीमा जुड़ी या मिली हुई है, का कोई भी निकाय, या जहां भारत में किसी निवेश का लाभकारी मालिक अवस्थित है या इस तरह के किसी भी देश का नागरिक है, वह केवल सरकारी रूट के तहत ही यहां निवेश कर सकता है

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

प्रधानमंत्री और दक्षिण अफ्रीकी गणराज्य के राष्ट्रपति के बीच टेलीफोन पर बातचीत

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने दक्षिण अफ्रीकी गणराज्य के राष्ट्रपति सिरिल रामफौसा के साथ टेलीफोन पर बातचीत की है। दोनों नेताओं ने कोविड-19 महामारी से उत्पन्न घरेलू, क्षेत्रीय और वैश्विक चुनौतियों के बारे में विचारों का आदान-प्रदान किया। प्रधानमंत्री ने आश्वासन दिया कि भारत इस चुनौतीपूर्ण समय में दक्षिण अफ्रीका को आवश्यक दवाओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए हर संभव सहायता प्रदान करेगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

प्रधानमंत्री और मिस्र के राष्ट्रपति के बीच टेलीफोन पर बातचीत

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मिस्र के राष्ट्रपति श्री अब्देल फत्ताह अल-सीसी के साथ टेलीफोन पर बातचीत की है। दोनों नेताओं ने कोविड-19 महामारी से उत्पन्न वैश्विक स्थिति पर चर्चा की और अपनी आबादी की सुरक्षा के लिए अपनी सरकारों द्वारा उठाए जा रहे कदमों के बारे में जानकारी का आदान-प्रदान किया। प्रधानमंत्री ने मिस्र के राष्ट्रपति को आश्वासन दिया कि भारत इन कठिन समय में दवा की आपूर्ति की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए हर संभव सहायता प्रदान करेगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

कृषि मंत्री ने लॉकडाउन के दौरान कृषि गतिविधियों को आसान बनाने के लिए कामकाज जारी रखने के उपायों पर किया विचार-विमर्श

सरकार ने ट्रैक्टर, टिल्लर, हार्वेस्टर और 51 कृषि मशीनरी के लिए नमूनों के परीक्षण और स्वीकृतियों को वर्ष के अंत तक के लिए टाला; बीज डीलर्स की लाइसेंस वैधता और आयात स्वीकृतियों को सितंबर 2020 तक बढ़ाने के अलावा 30 जून को खत्म हो रही पैक-हाउस, प्रसंस्करण इकाइयों और ट्रीटमेंट इकाइयों की वैधता को एक साल का विस्तार दिया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसानों से सीधे दलहन और तिलहन की खरीद का संचालन

भारत सरकार, नेफेड और एफसीआई जैसी केंद्रीय नोडल एजेंसियों के माध्यम से किसानों को बेहतर रिटर्न देने का आश्वासन देती रही है। रबी 2020-21 सीजन में कई राज्यों में किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर अधिसूचित वस्तुओं की खरीद शुरू हुई है। लॉकडाउन के समय में किसानों को समय पर विपणन सहायता दी जा रही है। कोविड-19 महामारी के प्रबंधन के लिए जारी किए गए दिशा-निर्देशों का अनुपालन करके अधिक से अधिक किसानों को सहायता पहुंचाई जा रही है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

श्री संतोष गंगवार ने देश में कामगारों की समस्याओं के समाधान हेतु समन्वित प्रयासों के लिए राज्यों और संघ शासित प्रदेशों से नोडल अधिकारी मनोनीत करने को कहा

केन्‍द्रीय श्रम और रोजगार राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री संतोष गंगवार ने विभिन्न राज्यों/ संघ शासित प्रदेशों से कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए घोषित लॉकडाउन को देखते हुए श्रमिकों और मजदूरों की समस्याओं से जुड़े मुद्दों के समाधान के लिए केन्‍द्र सरकार द्वारा स्थापित 20 नियंत्रण कक्षों के साथ समन्वय करने के लिए अपने यहां श्रम विभाग से एक नोडल अधिकारी मनोनीत करने का आग्रह किया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :  

कोविड-19 से मुकाबला करने के लिए पीपीई और अन्य उत्पादों के निर्माण पर वेबिनार

सरकारी और गैर-सरकारी दोनों क्षेत्रों के लिए कोविड-19 से निपटने के लिए उत्पादों की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए घरेलू उद्योग को अपनी निर्माण क्षमताओं में तेजी लाने की आवश्यकता है। इस संबंध में सोसाइटी ऑफ इंडियन डिफेंस मैन्युफैक्चरर्स (एसआईडीएम) ने डीआरडीओ के सहयोग से एक वेबिनार का आयोजन किया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

श्री गडकरी ने उद्योग से आह्वान किया कि वे प्रतिस्पर्धी बने रहने के लिए आयात के विकल्प पर काम करें और अभिनव प्रौद्योगिकी अपनाएं

मंत्री ने आर्थिक गतिविधियों को फिर से शुरू करने पर चर्चा करने के लिए उद्योग संघों के साथ बातचीत की क्योंकि कुछ क्षेत्रों में 20 अप्रैल से लॉकडाउन में ढील दी जा सकती है। एमएसएमई क्षेत्र के पुनरुत्थान के संदर्भ में, मंत्री ने उल्लेख किया कि उद्योग को निर्यात में वृद्धि करने की दिशा में विशेष ध्यान देना चाहिए और वैश्विक बाजार में प्रतिस्पर्धी बनने के लिए बिजली लागत, लॉजिस्टिक्स लागत और उत्पादन लागत को कम करने के लिए आवश्यक कार्य प्रणाली को अपनाना चाहिए।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

देश भर में आवश्यक चिकित्सा आपूर्ति के लिए लाइफलाइन उड़ान के तहत 274 उड़ानें संचालित की गईं

कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई में सहयोग करने के लिए देश के दूरदराज के हिस्सों में आवश्यक चिकित्सा आपूर्ति पहुंचाने के लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा 'लाइफलाइन उड़ान' उड़ानें संचालित की जा रही हैं। लाइफलाइन उड़ान के अंतर्गत एयर इंडिया, अलायंस एयर, आईएएफ और निजी विमान कंपनियों द्वारा 274 उड़ानें संचालित की गई हैं। इन उड़ानों में से 175 एयर इंडिया और अलायंस एयर द्वारा संचालित की गई हैं। इनमें अब तक ले जाया गया कार्गो लगभग 463.15 टन रहा है। लाइफलाइन उड़ान की अब तक पूरी की गई हवाई दूरी 2,73,275 किमी. से अधिक रही है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

भारतीय रेल ने कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान अभिनव तरीके अपनाए और माल पहुंचाने का नया रिकार्ड बनाया

उत्तर से ‘अन्नपूर्णा’ और दक्षिण से ‘जयकिसान’ जैसी लंबी दूरी की सुपर फास्ट विशेष मालगाड़ियों की शुरुआत की गई। देशभर में लगभग 5000 टन और 80 रैक से अधिक खाद्यान्नों से भरी लंबी दूरी की मालगाड़ियों का परिचालन किया गया। भारतीय रेल ने इस वर्ष 1 अप्रैल-16 अप्रैल के बीच 3.2 मिलियन टन से अधिक खाद्यान्न की ढुलाई की, जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि में 1.29 मिलियन टन खाद्यान्न की ढुलाई की गई थी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) के लिए खाद्यान्नों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के उद्देश्य से, रेलवे ने पिछले वर्ष जितनी राशि के खाद्यान्न लादे थे, उससे दोगुनी राशि का माल चढ़ाया और उतारा।

लॉकडाउन की अवधि 25 मार्च से 17 अप्रैल 2020 के दौरान 1500 से अधिक रैक और 4.2 मिलियन टन से अधिक खाद्यान्न लादा गया, जबकि पिछले वर्ष इसी अवधि में यह 2.31 मिलियन टन था। भारतीय रेलवे यह सुनिश्चित करने के सभी प्रयास कर रही है कि खाद्यान्न जैसे कृषि उत्पादों को समय पर उठाया जाए और निर्बाध आपूर्ति श्रृंखला सुनिश्चित की जाए।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

श्री रविशंकर प्रसाद ने डाक विभाग को निर्देश दिया कि वह उन लोगों पर ध्यान केन्द्रित करे जिन्हें खाद्य पदार्थों की तत्काल आवश्यकता है

डाक विभाग कोविड-19 संकट के इस समय में, देश भर में फैले डाकघरों के माध्यम से देश के लोगों की मदद के लिए खड़ा हो गया है। श्री रविशंकर प्रसाद ने निर्देश दिया है कि विभाग उन शोषितों और जरूरतमंदों पर विशेष ध्या न केन्द्रित करे जिन्हें खाद्य पदार्थों की तत्काल आवश्यकता है। डाक विभाग के कर्मचारियों ने मलिन बस्तियों, पलायन करने आए मजदूरों और दिहाड़ी मजदूरों में जरूरतमंदों को भोजन, सूखा राशन और यहां तक कि मास्क वितरित करने के लिए अपनी बचत को इकट्ठा किया है। पिछले कुछ दिनों में, लगभग 1 लाख भोजन / सूखे राशन के पैकेट वितरित किए गए हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

आरसीडी, दिल्ली ने की 50,000 पुनः उपयोग योग्य मास्कों की आपूर्ति की और इन मास्कों को लॉकडाउन की अवधि के दौरान घरों पर तैयार किया गया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

सार्वजनिक क्षेत्र की रक्षा इकाइयों, आयुध कारखाना बोर्ड ने कोविड-19 महामारी से मुकाबले के लिए अपने संसाधनों में वृद्धि की

सार्वजनिक क्षेत्र के रक्षा उपक्रमों (डीपीएसयू) और आयुध कारखाना  बोर्ड (ओएफबी) ने कोविड-19 महामारी के विरूद्ध लड़ाई में नागरिक प्रशासन की सहायता के लिए अहम भूमिका निभाई है। इन महत्वपूर्ण संस्थानों ने इस घातक वायरस पर नियंत्रण करने में देश की सहायता के‍ लिए अपने सभी संसाधनों, तकनीकी ज्ञान और जनशक्ति को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

सीएसआईआर-एनएएल ने कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए व्यक्तिगत सुरक्षा कवर सूट विकसित किया

वैज्ञानिक एंव औद्योगिक अनुसंधान परिषद् (सीएसआईआर) की घटक, बेंगलूरु स्थित राष्ट्रीय अंतरिक्ष प्रयोगशाला ने समग्र सुरक्षा कवच सूट को विकसित किया। एमएएफ क्लोदिंग्स प्राइवेट लिमिटेड के साथ मिलकर पॉलीप्रोपलीन लेपित कई लेयरों वाला बिना बुना हुआ कपड़े का एक ऐसा सुरक्षा सूट बनाया है जिसका इस्तेमाल कोविड-19 शमन के लिए चौबीसों घंटे काम करने वाले डॉक्टर, नर्स, अर्धचिकित्साकर्मियों और अन्य तरह के स्वास्थ्य सेवा कर्मियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए किया जा सकता है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

नेशनल फर्टिलाइजर्स लिमिटेड कोविड-19 से लड़ने के प्रयासों में सरकार की मदद करने के लिए खाद्य और दवाओं जैसी आवश्यक वस्तुओं के वितरण में सक्रिय होकर भाग ले रहा है

रसायन और उर्वरक मंत्रालय के उर्वरक विभाग के अधीन एक अग्रणी उर्वरक कंपनी नेशनल फर्टिलाइजर्स लिमिटेड (एनएफएल) कोविड-19 महामारी से निपटने के प्रयासों में सरकार की मदद करने के लिए खाद्य पदार्थों,दवाओं और मास्क जैसी आवश्यक वस्तुओं का बड़े पैमाने  पर वितरण कर रही है। एनएफएल की बठिंडा इकाई ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए जिला प्रशासन, बठिंडा को 3,000 मास्क मुहैया कराए हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

पर्यटन मंत्रालय ने आज देखो अपना देशवेबिनार श्रृंखला के माध्यम से विश्व धरोहर दिवस मनाया

पर्यटन मंत्रालय ने आज एक वेबिनार श्रृंखला के माध्यम से विश्व धरोहर दिवस 2020 मनाया। इस अवसर पर पर्यटन और संस्कृति मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा कि हमारी परंपरा और संस्कृति न केवल प्राचीन है बल्कि अमूल्य भी है। उन्होंने कहा कि वर्तमान संकट में जहां दुनिया और हमारा देश कोविड-19 से निपट रहा है, यह हमारे मानवीय मूल्य और हमारी विरासत का आतिथ्य स्वरूप है जो हमारी व्याख्या करता है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें :

पीआईबी के क्षेत्र अधिकारियों से प्राप्त जानकारियां

• महाराष्ट्र: संक्रमण और मौतों के मामले में सबसे अधिक प्रभावित राज्य महाराष्ट्र में कोविड-19 मामलों की संख्या 3,323 तक पहुंच गई है। मुंबई में भारतीय नौसेना के कम से कम 20 जवानों में यह वायरल संक्रमण जांच के दौरान पॉजिटिव पाया गया। नौसेना के जवान, पश्चिमी नौसेना कमान की लॉजिस्टिक और सहायता सुविधा आईएनएस आंग्रे का हिस्सा हैं।

• गुजरात: गुजरात के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शनिवार को 176 नए मामलों के सामने आने के बाद राज्य में कोरोनो वायरस पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 1,272 हो गई है। अहमदाबाद में कोविड-19 के 142 नये मामले दर्ज किए गए हैं जिसके बाद शहर में कुल मामलों की संख्या बढ़कर 765 हो गई है। संक्रमण से अब तक 48 लोगों की मौत हो चुकी है।

• राजस्थान: राजस्थान में कोरोनो वायरस के 98 नये मामले सामने आए हैं, जिसके बाद राज्य में प्रभावित लोगों की संख्या बढ़कर 1229 हो गई है। अब तक संक्रमित कुल लोगों में से 183 का इलाज हो चुका है और 11 की मौत हो गई।

• केरल: राज्य के स्वास्थ्य मंत्री के.के. शैलजा ने कहा है कि मलप्पुरम के रहने वाले एक व्यक्ति की मृत्यु कोविड-19 से नहीं हुई है जिसे निगरानी में रखा गया था। पिछली तीन जांचों में उसमें संक्रमण नैगेटिव निकला। राज्य में कल कोविड-19 का केवल एक मामला सामने आया और रोगियों का इलाज हो गया।

• तमिलनाडु: तमिलनाडु में हॉटस्पॉट इलाकों में उपयोग के लिए 36,000 रैपिड टेस्ट किट वितरित किए गए। हुंडई ने तमिलनाडु और अन्य राज्यों में आईसीयू वेंटिलेटर तैयार करने के लिए एयर लिक्विड मेडिकल सिस्टम के साथ समझौता किया है। केन्द्र ने राज्य में प्लाज्मा थैरेपी की अनुमति दे दी है। अब तक कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1323 है; 15 की मौत हो चुकी है; 283 को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

• कर्नाटक: मुख्यमंत्री ने राज्य में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा करने और 20 अप्रैल के बाद उठाए जाने वाले कदमों के बारे में वरिष्ठ मंत्रियों के साथ समीक्षा बैठक की। राज्य में कुल पुष्ट मामलों की संख्या 371 है। आज 12 नये मामले सामने आए। कुल 13 लोगों की मौत हो चुकी है और 92 लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

• आंध्र प्रदेश: आंध्र प्रदेश में पिछले 24 घंटों में 31 नए मामले सामने आए; कृष्णा जिले से एक और मौत की सूचना है जिसके बाद मरने वालों की संख्यां 15 हो गई है। अब तक कुल पॉजिटिव मामले 603 हैं; 42 लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। रेड जोन में घर-घर जाकर सर्वेक्षण और जांच की गई। पॉजिटिव मामलों में अग्रणी जिले: कुरनूल (129), गुंटूर (126), कृष्णा (70), नेल्लोर (67) हैं।

• तेलंगाना: हैदराबाद में एक पुलिसकर्मी और नारायणपेट में एक ऐसे शिशु में पॉजिटिव संक्रमण का मामला सामने आया है जो किसी के भी सम्पर्क में नहीं आया। हो सकता है कि ‘हॉटस्पॉट’ तेलंगाना लॉकडाउन में ढील न दे। राज्यश इस बारे में अंतिम फैसला लेगा। कल तक कुल 766 पॉजिटिव मामले दर्ज किए गए। अब 18 लोगों की मौत हो चुकी है।

• अरुणाचल प्रदेश: के मुख्यमंत्री ने इटानगर के नजदीक असम-अरुणाचल सीमा पर बांदरदेवा चेक गेट का दौरा किया और राज्य में प्रवेश करने वालों की स्क्रीनिंग के उपायों की समीक्षा की।

• असम: स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट किया कि सिलचर मेडिकल कॉलेज और अस्पताल से कोविड-19 से संक्रमित एक और मरीज को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई; राज्य में कुल 12 मरीज इलाज के बाद ठीक हो गए।

• मेघालय: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस रिसोर्स डिवीजन के सहयोग से एनआईसी मेघालय,  ने मेघालय के लोगों के लिए अंग्रेजी, खासी और गारो भाषाओं में कोविड-19 से संबंधित प्रश्नों का उत्तर देने के लिए एक बहुभाषी चैटबॉट 'वाणी-कोविड-19' विकसित किया है।

• मणिपुर: शिक्षा विभाग ने घर पर बच्चों की पढ़ाई में मदद करने के लिए कॉमिक पाठ्यपुस्तकों के इलेक्ट्रॉनिक प्रारूप की शुरुआत की, जिसे वेबसाइट manipureducation.gov.in से डाउनलोड किया जा सकता है।

• मिजोरम: मुख्यमंत्री ने कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री श्री गोविंद एम काजरोल को बेंगलुरु में फंसे मिजोरम के लोगों को राहत सहायता प्रदान करने के लिए धन्यवाद दिया।

• चंडीगढ़: शहर के विभिन्न हिस्सों में बेसहारा और जरूरतमंद व्यक्तियों के बीच 68,525  पके हुए भोजन के पैकेट वितरित किए गए हैं। शहर में 20,000 श्रमिकों में से 17,000 श्रमिकों को संबंधित उद्योगों से मार्च, 2020 की मजदूरी मिल गई है।

• पंजाब:  पंजाब खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता कार्य मंत्री द्वारा राज्य में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की शुरुआत की गई। इस योजना के अंतर्गत स्मार्ट कार्ड योजना के सभी लाभार्थियों को गेहूं और दालें पूरी तरह से मुफ्त प्रदान की जाएंगी। कैबिनेट मंत्री ने किसानों को यह भी आश्वासन दिया कि खाद्यान्न का हर दाना खरीदा जाएगा।

जांचे गए तथ्य #कोविड-19

https://pbs.twimg.com/profile_banners/231033118/1584354869/1500x500

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image008YYFG.jpg

*******

एएम/आरके/के पी



(Release ID: 1615935) Visitor Counter : 170