PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 06 MAY 2020 6:44PM by PIB Delhi

 

(पिछले 24 घंटे में जारी कोविड-19 से जुड़ी प्रेस विज्ञप्तियां, क्षेत्र अधिकारियों से प्राप्त जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल है)

देश में अभी तक 49,391 पुष्ट मामलों में से 14,183 कोविड-19 मरीज उपचार के बाद ठीक हो गए, ठीक होने की दर 28.72 प्रतिशत हो गई।

• कल से अब तक कोविड-19 के 2,958 नए मामले दर्ज किए गए।

• प्रधानमंत्री ने वैक्सीन के विकास, दवा खोज, निदान और परीक्षण में भारत के प्रयासों की समीक्षा की।

• प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत लगभग 39 करोड़ गरीब लोगों को मिली 34,800 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता।

• लॉकडाउन के दौरान अतिरिक्त प्रतिबद्धताएं पूरी करने के बाद भी पर्याप्त स्तर पर है एफसीआई का भंडार।

• गृह मंत्रालय ने दूसरे देशों में फंसे और विदेश जाने के इच्छुक भारतीय नागरिकों की आवाजाही के लिए एसओपी जारी की हैं; भारतीय नौसेना ने विदेश से भारतीय नागरिकों को लाने के लिए समुद्र सेतु’ ऑपरेशन शुरू किया।

• फीचर फोन या लैंडलाइन फोन रखने वाले लोगों के लिए आरोग्यसेतु आईवीआरएस सेवाओं का किया शुभारम्भ।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से कोविड-19 पर प्राप्त अपडेट

अब तक कुल 14,183 लोग ठीक हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में 1,457 मरीज ठीक हुए हैं। इससे ठीक होने की हमारी कुल दर 28.72% हो गई है। वर्तमान में कुल पुष्ट मामलों की संख्या 49,391 है। कल से, भारत में कोविड-19 के पुष्ट मामलों की संख्या में 2,958 की वृद्धि दर्ज हुई है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

डॉ. हर्षवर्धन ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से गुजरात और महाराष्ट्र में कोविड-19 प्रबंधन की तैयारियों और बचाव के उपायों की समीक्षा की

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने गुजरात और महाराष्ट्र में कोविड-19 की स्थिति, उससे निपटने के कार्यों तथा प्रबंधन की तैयारियों की समीक्षा के लिए आज गुजरात के स्वास्थ्य मंत्री और महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक की। राज्यों के कुछ जिलों में कोविड संक्रमण के कारण बड़ी संख्या में लोगों की मौत पर चिंता व्यक्त करते हुए, डॉ. हर्षवर्धन ने कहा, “राज्यों को चाहिए कि वह समय पर उपचार के लिए प्रारंभिक निगरानी और सम्पर्कों की पहचान पर ध्यान दें ताकि कोविड-19 के कारण होने वाली मृत्यु दर को कम किया जा सके।”

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में कोरोना वैक्सीन को विकसित करने, दवा की खोज, रोग-निदान और परीक्षण से जुड़े टास्क फोर्स की बैठक 

 

प्रधानमंत्री ने वैक्सीन को विकसित करने, दवा की खोज, रोग के निदान और परीक्षण से जुड़े भारत के प्रयासों की वर्तमान स्थिति की विस्तृत समीक्षा की। 30 से अधिक भारतीय टीके कोरोना के टीके के विकास- प्रक्रिया के विभिन्न चरणों में हैं। इनमें से कई टीके परीक्षण वाले चरण तक पहुंचने वाले हैं। प्रधानमंत्री द्वारा की गई समीक्षा में अकादमिक एवं उद्योग जगत तथा सरकार के असाधारण रूप से एक साथ आने और उनके साथ एक त्वरित लेकिन कारगर नियामक प्रक्रिया के जुड़े होने को रेखांकित किया गया। प्रधानमंत्री ने इच्छा व्यक्त की कि इस तरह के समन्वय और गति को एक मानक संचालन प्रक्रिया के रूप में जोड़ा जाना चाहिए। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि संकट के समय जो भी संभव है, उसे हमारे वैज्ञानिक कामकाज के नियमित तरीके का एक हिस्सा होना चाहिए।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज: अब तक की प्रगति

डिजिटल भुगतान प्रणाली का उपयोग करते हुए, लगभग 39 करोड़ गरीब लोगों को 5 मई, 2020 तक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (पीएमजीकेपी) के तहत 34,800 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता प्राप्त हुई। अब तक की प्रगति में शामिल हैं-

• 8.19 करोड़ लाभार्थियों को 16,394 करोड़ रुपए की पीएम किसान की पहली किस्त के भुगतान की व्यवस्था

• पहली किस्त के रूप में 20.05 करोड़ महिला जन धन खाताधारकों को 10,025 करोड़ रुपये दिए गए। दूसरी किस्त के तहत 5.57 करोड़ महिला जन धन खाताधारकों को 5 मई को 2,785 करोड़ रुपए जारी किए गए।

• लगभग 2.82 करोड़ वृद्धों, विधवाओं और विकलांग व्यक्तियों को 1405 करोड़ रुपए वितरित किए गए

• भवन एवं निर्माण क्षेत्र में लगे 2.20 करोड़ श्रमिकों को 3492.57 करोड़ की वित्तीय सहायता मिली।

• प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (पीएमयूवाई) के तहत अब तक कुल 5.09 करोड़ सिलेंडर बुक किए गए हैं और 4.82 करोड़ पीएमयूवाई मुफ्त सिलेंडर लाभार्थियों को वितरित किए जा चुके हैं।

• कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के 9.6 लाख सदस्यों ने ईपीएफओ खाते से 2985 करोड़ की अग्रिम राशि की ऑनलाइन निकासी का लाभ लिया।

• 44.97 लाख अंशधारकों के खाते में 24 प्रतिशत अंशदान के रूप में 698 करोड़ रुपये डाले गए।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

गृह मंत्रालय ने देश के बाहर फंसे भारतीय नागरिकों एवं भारत में फंसे उन व्यक्तियों के लिए जो आवश्यक कारणों से विदेश यात्रा करने के इच्छुक हैं, की आवाजाही के लिए एसओपी जारी किया

कई भारतीय नागरिक जिन्होंने लॉकडाउन से पहले रोजगार, अध्ययन/प्रशिक्षुता, पर्यटन, व्यवसाय आदि कारणों से विभिन्न देशों की यात्रा की थी, विदेशों में फंसे हुए हैं। विदेशों में उनके विलंबित ठहराव के कारण उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है और वे तत्काल भारत लौटने को इच्छुक हैं। उपरोक्त मामलों के अतिरिक्त, कुछ अन्य भारतीय नागरिक भी हैं जिन्हें मेडिकल इमरजेंसी या परिवार के किसी सदस्य की मृत्यु के कारण भारत आने की आवश्यकता है। इसके अतिरिक्त, भारत में भी कई लोग फंसे हुए हैं जो विभिन्न उद्देश्यों से तत्काल विदेश जाने के इच्छुक हैं। ऐसे व्यक्तियों की आवाजाही को सुविधाजनक बनाने के लिए गृह मंत्रालय ने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोटोकॉल जारी किया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

भारतीय नौसेना ने ऑपरेशन "समुद्र सेतु" लांच किया

भारतीय नौसेना ने विदेशों से भारतीय नागरिकों को स्वदेश लाने के लिए ऑपरेशन "समुद्र सेतु" शुरू किया है- जिसका अर्थ है "समुद्री पुल"। भारतीय नौसेना के समुद्री जहाज जलाश्व और मगर इस समय मालदीव गणराज्य के माले बंदरगाह के रास्ते में हैं, जो चरण-1 के भाग के रूप में 8 मई 2020 से निकासी अभियान शुरू करेंगे।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

कोविड-19 के कारण फि‍लहाल भारत में फंसे विदेशी नागरिकों को भारत से यात्रियों की अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा पर पाबंदियां हटाए जाने की तारीख से लेकर 30 दिनों तक कुछ कंसुलर सेवाएं दी जा सकेंगी

ऐसे विदेशी नागरिकों के नियमित वीजा, ई-वीजा या ठहराव को ‘नि:शुल्कn’ आधार पर बढ़ाया जाएगा, जिनके वीजा की अवधि या तो समाप्त हो गई है या 01 फरवरी 2020 (मध्यरात्रि) से लेकर उस तिथि तक की अवधि के दौरान समाप्त हो जाएगी, जिस दिन भारत से यात्रियों की अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा पर लगाई गई पाबंदियों को भारत सरकार द्वारा हटा लिया जाएगा। इसके लिए विदेशी नागरिकों को अपने आवेदन पत्र ऑनलाइन जमा करने होंगे। इस तरह का समय विस्तार भारत से यात्रियों की अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा पर लगाई गई पाबंदियों को हटाने की तारीख से लेकर 30 दिनों तक की अवधि के लिए दिया जाएगा और इसके लिए तय अवधि से ज्यादा समय तक भारत में रहने के कारण कोई जुर्माना नहीं लगाया जाएगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

कुछ विशेष श्रेणियों के सिवाए विदेशियों को प्रदान किए गए समस्त वीजा भारत से/तक अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा प्रतिबंधों के हटाए जाने तक निलंबित रहेंगे

गृह मंत्रालय ने निर्णय लिया है कि कूटनीतिक, आधिकारिक, संयुक्त राष्ट्र/अंतर्राष्ट्रीय संगठनों, रोजगार और प्रोजेक्ट श्रेणियों संबंधित व्यक्तियों के वीजा के सिवाए, विदेशियों को प्रदान किए गए समस्त वीजा भारत सरकार द्वारा भारत से/तक यात्रियों के अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा प्रतिबंधों के हटाए जाने तक निलंबित रहेंगे।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

भारत से अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा पर प्रतिबंध हटने तक ओसीआई कार्डधारकों के लिए निलंबित रहेंगी कई बार प्रविष्टि के अधिकार वाली जीवन पर्यंत वीजा सुविधा

केन्द्रीय गृह मंत्रालय (एमएचए) ने एक आदेश में कहा कि प्रवासी भारतीय यानी ओवरसीज सिटीजन ऑफ इंडिया (ओसीआई) कार्डधारकों के रूप में पंजीकृत लोगों को किसी भी उद्देश्य से कई प्रविष्टि के अधिकार वाली जीवन पर्यंत अवधि वाली वीजा सुविधा का निलंबन आगे भी जारी रहेगा, जब तक भारत सरकार भारत से आने या जाने वाले यात्रियों से अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा पर प्रतिबंध नहीं हटा लेती है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

लॉकडाउन के दौरान अतिरिक्त प्रतिबद्धताएं पूरी करने के बावजूद एफसीआई के पास पर्याप्त भंडार : श्री रामविलास पासवान

मंत्री महोदय ने बताया कि 04 मई 2020 की रिपोर्ट के अनुसार वर्तमान में एफसीआई के पास 276.61 एलएमटी चावल और  353.49 एलएमटी गेहूं का भंडार है। एनएफएसए एवं अन्य कल्याणकारी योजनाओं के तहत एक माह के लिए लगभग 60 एलएमटी अनाज की आवश्यकता होती है। मंत्री महोदय ने जानकारी दी कि लॉकडाउन होने के बाद से अभी तक 2483 रेल रैक्स के माध्यम से लगभग 69.52 एलएमटी अनाज का उठाव और ढुलाई की गई है। रेल मार्ग के अलावा सड़क एवं जल मार्ग के माध्यम से भी ढुलाई की गई। कुल 137.62 एलएमटी की ढुलाई की गई है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

रबी सीजन 2020-21 के दौरान दलहन, तिलहन और गेहूं की खरीद पूरी तेज गति से जारी है

रबी 2020-21 सीजन के दौरान 02 मई 2020 तक 2,682 करोड़ रुपये के एमएसपी मूल्य पर 2,61,565 मीट्रिक टन दलहन और 3,17,473 मीट्रिक टन तिलहन की खरीद की गई है जिससे 3,25,565 किसान लाभान्वित हुए हैं। इनमें से 14,859 मीट्रिक टन दलहन और 6706 मीट्रिक टन तिलहन की खरीद 1 और 2 मई, 2020 को मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और हरियाणा जैसे छह राज्यों में की गई। इसके अलावा, रबी विपणन सीजन 2020-21 में एफसीआई में कुल 1,87,97,767 मीट्रिक टन गेहूं प्राप्त हुआ है, जिसमें से 1,81,36,180 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

फीचर फोन या लैंडलाइन फोन इस्तेमाल करने वाले लोगों के लिए आरोग्य सेतु आईवीआरएससेवाओं को लागू किया गया है

आरोग्य सेतु के संरक्षण में फीचर फोन और लैंडलाइन फोन वाले लोगों को भी शामिल करने के लिए ‘आरोग्य सेतु इंटरएक्टिव वॉयस रिस्पांस सिस्टम (आईवीआरएस)’ को लागू किया गया है। यह सेवा देश भर में उपलब्ध है। यह एक टोल-फ्री यानी नि:शुल्कr सेवा है, जिसके तहत नागरिकों को 1921 नंबर पर एक मिस्ड कॉल करने के लिए कहा जाता है और इसके बाद उन्हें प्राप्त कॉल बैक में उनसे अपने स्वास्थ्य के बारे में आवश्यक जानकारियां देने का अनुरोध किया जाता है। पूछे जाने वाले प्रश्न आरोग्य सेतु एप से जुड़े होते हैं और इसके जो जवाब मिलते हैं उनके आधार पर संबंधित नागरिक को उनके स्वास्थ्य की वर्तमान स्थिति के बारे में संकेत देने वाला एक एसएमएस मिलेगा और इसके साथ ही आगे भी उनके स्वास्थ्य के बारे में अलर्ट मिलेंगे। यह सेवा मोबाइल एप्लिकेशन के समान ही 11 क्षेत्रीय भाषाओं में लागू की गई है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और पुर्तगाल के प्रधानमंत्री महामहिम एंटोनियो कोस्टा ने फोन पर बातचीत की

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने पुर्तगाल के प्रधानमंत्री महामहिम एंटोनियो कोस्टा से फोन पर बात की। दोनों नेताओं ने कोविड-19 महामारी की स्थिति और दोनों देशों द्वारा इसके स्वास्थ्य और आर्थिक प्रभाव पर नियंत्रण के लिए उठाए जा रहे कदमों पर विचार-विमर्श किया। प्रधानमंत्री ने इस संकट से प्रभावी रूप से निपटने के लिए प्रधानमंत्री कोस्टा की प्रशंसा की। नेताओं ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर सक्रिय उपायों से वायरस के प्रसार की रोकथाम में सहायता मिलेगी। उन्होंने इन परिस्थितियों से निपटने में एक-दूसरे को हर संभव सहायता दिए जाने की पेशकश की और कोविड-19 से लड़ाई में शोध और नवाचार में भागीदारी पर भी सहमति जाहिर की।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

गरुड़ पोर्टल के माध्यम से कोविड-19 से संबंधित ड्रोन/आरपीएएस संचालनों के लिए सरकारी संस्थाओं को सशर्त छूट

नागरिक उड्डयन मंत्रालय और नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने गरुड़ पोर्टल  लॉन्च किया है ताकि कोविड-19 से संबंधित आरपीएएस (रिमोटली पायलटेड एयरक्रॉफ्ट सिस्टम)/ ड्रोन संचालनों के लिए सरकारी एजेंसियों को फास्ट ट्रैक यानी तेज़ी से सशर्त छूट प्रदान की जा सके। गरुड़ दरअसल 'राहत कार्यों के लिए ड्रोन उपयोग का सरकारी प्राधिकरण' है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

श्री गडकरी ने बस एवं कार ऑपरेटरों को आर्थिक मंदी से बाहर निकलने में पूरी सहायता करने का आश्वासन दिया

बस एवं कार ऑपरेटर परिसंघ के सदस्यों को संबोधित करते हुए श्री गडकरी ने कहा कि परिवहन एवं राजमार्गों को खोलने से आम जनता के बीच दीर्घकालिक रूप से विश्वास का संचार होगा। उन्होंने कहा कि कुछ दिशा-निर्देशों के साथ जल्द ही सार्वजनिक परिवहन खोल दिया जा सकता है। मंत्री महोदय ने सूचित किया कि उनका मंत्रालय सार्वजनिक परिवहन के लंदन मॉडल का अनुसरण कर रहा है, जहां सरकारी वित्तपोषण न्यूनतम है और निजी निवेश को बढ़ावा दिया जा रहा है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

देश भर में आवश्यक चिकित्सा सामग्री पहुंचाने के लिए लाइफलाइन उड़ान के अंतर्गत 465 उड़ानें संचालित की गईं

एयर इंडिया, अलायंस एयर, आईएएफ और निजी विमान वाहकों द्वारा लाइफलाइन उड़ान के तहत 465 उड़ानें संचालित की गई हैं। अब तक ले जाया गया कार्गो लगभग 835.94 टन है। लाइफलाइन उड़ान द्वारा तय की गई अब तक की हवाई दूरी 4,51,038 किमी से अधिक है। पवन हंस लिमिटेड सहित हेलीकॉप्टर सेवाएं जम्मू एवं कश्मीर, लद्दाख, द्वीपों और पूर्वोत्तर क्षेत्र में महत्वपूर्ण चिकित्सा कार्गो और रोगियों का परिवहन कर रही है। पवन हंस ने 5 मई, 2020 तक 7,729 किमी की दूरी तय करते हुए 2.27 टन कार्गो का परिवहन किया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

ईपीएफओ ने लॉकडाउन अवधि के दौरान नियोक्ताओं द्वारा ईपीएफ अनुपालन की प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए ई-साइन प्राप्त करने के लिए ई-मेल व्यवस्था को शुरू किया चूंकि नियोक्ताओं को डिजिटल या आधार आधारित ई-साइन का उपयोग करने में मुश्किल हो रही थी

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

कंपनियों को वीसी या ओएवीएम के माध्यम से वार्षिक आम बैठकें (एजीएम) आयोजित करने की अनुमति दी

सामाजिक दूरी सम्बन्धी नियमों का पालन करने और व्यक्तियों की आवाजाही पर लगाए गए प्रतिबंधों के कारण यह आवश्यक हो गया है और इसलिए यह निर्णय लिया गया है कि कैलेंडर वर्ष 2020 के दौरान कंपनियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (वीसी) या अन्य ऑडियो विजुअल साधनों (ओएवीएम) के द्वारा अपनी वार्षिक आम बैठक (एजीएम) आयोजित करने की अनुमति दी जाए। तदनुसार, इस उद्देश्य के लिए सामान्य परिपत्र संख्या: 20/2020 जारी किया गया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

डॉ. हर्षवर्धन की अध्यक्षता में दिल्ली में मलेरिया, डेंगू और चिकनगुनिया की रोकथाम और नियंत्रण के लिए उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक आयोजित की गई

मंत्री महोदय ने कोविड-19 के कारण बदली हुई परिस्थिति में, वेक्टर (रोगवाहक) जनित बीमारियों की रोकथाम के लिए अभिनव जागरूकता अभियान, सामुदायिक भागीदारी और सभी हितधारकों के सहयोग के महत्व पर जोर दिया

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

लॉकडाउन के दौरान अब तक की 54,292 टन सामान की ढुलाई की गई; पार्सल ट्रेनों की कुल संख्या 2000 के पार

भारतीय रेल ने ई-कॉमर्स कंपनियों और राज्य सरकारों सहित अन्य के द्वारा की जा रही त्वरित व्यापक ढुलाई के लिए रेलवे की पार्सल वैन उपलब्ध करा दी हैं। रेलवे ने आवश्यक सामानों की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए समय सारणी के आधार पर विशेष पार्सल ट्रेनें चलाने का फैसला किया है। रेलवे मंडल नियमित रूप से इन विशेष पार्सल ट्रेनों के लिए रूटों की पहचान और उन्हें अधिसूचित कर रहे हैं। वर्तमान में 82 रूट पर इन ट्रेनों को चलाया जा रहा है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

कोविड-19 के त्वरित एवं सटीक जांच के लिए किट तैयार करने संबंधी जानकारी के लाइसेंसिंग के लिए सीएसआईआर आईजीआईबी और टाटा संस के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

कोविड-19 के लिए एफईएलयूडीए को कोविड-19 की मौजूदा स्थिति को कम करने और बड़े पैमाने पर परीक्षण के लिए तैयार किया गया है। इसकी मुख्य विशेषता इसका किफायती होना, उपयोग के लिए अपेक्षाकृत सुगम होना और महंगी क्यू-पीसीआर मशीनों पर निर्भरता न होना है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां

चंडीगढ़ : चंडीगढ़ प्रशासक ने निर्देश दिए हैं कि नियंत्रण (कॉन्टेनमेंट) क्षेत्रों में संक्रमण को रोकने के लिए ज्यादा परीक्षण की जरूरत है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद ने पीजीआईएमईआर को अतिरिक्त परीक्षण किट उपलब्ध कराने पर सहमति व्यक्त की थी। शहर के सभी परीक्षण केन्द्रों को परीक्षण बढ़ाने के निर्देश दिए जा रहे हैं। संघ शासित क्षेत्र चंडीगढ़ में जरूरतमंद लोगों के बीच खाने के लगभग 1.55 लाख पैकेट वितरित किए गए हैं। शहर में 2,42,000 लोग पहले ही आरोग्य सेतु एप्लीकेशन डाउनलोड कर चुके हैं।

पंजाब : अपने कर्मचारियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य के लिए पंजाब सरकार ने कोविड-19 महामारी के दौरान उनके स्वास्थ्य की नियमित निगरानी के लिए हर विभाग में नोडल अधिकारियों की नियुक्ति के साथ ही सरकारी कार्यालयों के सुरक्षित परिचालन को विस्तृत दिशा-निर्देश और प्रोटोकॉल जारी किए हैं। पंजाब में खरीद के 20वें दिन सरकारी एजेंसियों और निजी कारोबारियों ने 3,89,478 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की है। सरकारी एजेंसियों ने 3,87,688 एमटी और निजी कारोबारियों (आढ़तियों) ने 1,790 एमटी गेहूं की खरीद की है।

हरियाणा : हरियाणा सरकार ने राज्य के जिला अस्पतालों और चिकित्सा महाविद्यालयों में दो डायलिसिस मशीनों को विशेष रूप से ऐसे कोविड-19 मरीजों के लिए आरक्षित कर दिया है, जिनके लिए डायलिसिस जरूरी है। इसके अलावा सभी 11 विशेष कोविड-19 अस्पतालों में 100-150 बिस्तर कोविड मरीजों के लिए आरक्षित करने के बाद बाकी ओपीडी और वार्ड में सभी अन्य मरीजों के इलाज जैसे सामान्य कार्य शुरू हो जाएंगे।

हिमाचल प्रदेश : सरकार देश के दूसरे राज्यों से राज्य में आ रहे लोगों के परिजनों को उचित रूप से जागरूक और शिक्षित करने के लिए एक नए कार्यक्रम ‘निगाह’ का शुभारम्भ करेगी, जिससे सामाजिक दूरी का प्रभावी रूप से पालन किया जा सके। आशा कार्यकर्ताओं, स्वास्थ्य कर्मचारियों और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का एक दल दूसरे राज्यों से आ रहे लोगों के परिजनों को जागरूक और शिक्षित करने के लिए उनसे मिलने जाएगा। इसके माध्यम से उन्हें सामाजिक दूरी का महत्व बताया जाएगा, जिससे वे किसी प्रकार के संभावित संक्रमण से बच सकें। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 महामारी के प्रसार की रोकथाम के लिए लागू ‘हिमाचल मॉडल’ इस महामारी को रोकने में प्रभावी रूप से सफल रहा है।

केरल : राज्य ने विदेश से वापस लौटने वाले केरल के लोगों की संस्थागत क्वारंटाइन की अवधि को बदलकर 7 दिन से 14 दिन कर दिया है। वंदे भारत अभियान के तहत कल पहली दो विशेष उड़ानों से यूएई में फंसे केरल के लोगों को लेकर आया जाएगा। पहली उड़ान बृहस्पतिवार की रात नेदुम्बसरी हवाई अड्डे पर पहुंचेगी। प्रवेश की अनुमति नहीं मिलने से यूएई में फंसे इन लोगों की पानी के जहाज से वापसी में देरी हो गई थी। राज्य में शराब की दुकानें जल्द नहीं खुलने जा रही हैं। प्रवासी कामगारों को लेकर तीन ट्रेनें आज राज्य से रवाना हो जाएंगी।

तमिलनाडु : चेन्नई में अधिकारी प्रशिक्षण अकादमी की रसोई में काम करने वाला एक कर्मचारी कोविड 19 पॉजिटिव पाया गया है। कोयम्बेडु थोक बाजार के बंद होने से चेन्नई में सब्जियों का संकट पैदा हो गया है। अब चेन्नई में शराब की दुकानें नहीं खुलेंगी। उद्योग संगठनों ने कहा कि लॉकडाउन के बाद तमिलनाडु के 20-25 प्रतिशत खुदरा कारोबारियों को अपना व्यवसाय बंद करना पड़ सकता है। कल तक कुल मामलों की संख्या : 4058, सक्रिय मामले : 2537, मृत्यु : 33.

कर्नाटक : कर्नाटक के बागलकोट गांव में कोविड-19 के 13 परीक्षण पॉजिटिव आने से मामलों की संख्या बढ़कर 692 पहुंच गई है। राज्य ने 1,610 करोड़ रुपये के राहत पैकेज की घोषणा की है। सरकार ने कोविड-19 राहत के लिए शराब पर कर में 17 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी कर दी है। कर्नाटक ने कामगारों के पलायन पर रोक लगाते हुए उन्हें रोजगार, वेतन का भरोसा दिलाया है। राज्य सरकार ने 10,823 लोगों की अंतरराष्ट्रीय निकासी के लिए एसओपी तैयार की हैं।

आंध्र प्रदेश : राज्य ने तीन महीने के रोजगार के नुकसान की भरपाई के लिए कुल 1,09,231 मछुआरों को 10,000 रुपये की वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई है। लॉकडाउन के बाद मुंबई में फंसे लगभग 1,100 प्रवासी कामगार आज गुंतकल पहुंच गए। पिछले 24 घंटे में 7,782 नमूनों के परीक्षण के बाद 60 कोविड पॉजिटिव मामले दर्ज किए गए, 140 लोग डिस्चार्ज कर दिए गए और दो लोगों की मृत्यु हो गई। कुल मामले : 1777, सक्रिय मामले : 1012, मृत्यु : 36

तेलंगाना : हैदराबाद के विभिन्न इलाकों में स्थित विभिन्न रेलवे स्टेशनों से प्रवासी कामगारों को लेकर ज्यादा विशेष ट्रेनों की रवानगी प्रस्तावित है। राज्य में 42 दिन के बाद फिर शराब की दुकानें खुल गईं। खाड़ी क्षेत्रों और अन्य देशों से तेलंगाना के 1,750 कामगार वापस आ रहे हैं। सात दिन तक चलने वाली इस वापसी का पहला बैच 7 मई को पहुंचेगा। अभी तक कोविड के कुल मामलों की संख्या 1,096 तक पहुंच गई है। सक्रिय मामले : 439, उपचार के बाद स्वस्थ : 628, मृत्यु : 29.

अरुणाचल प्रदेश : इटानगर प्रशासन ने निर्माण सामग्री और हार्डवेयर सामानों की ढुलाई, सुबह 6 बजे से सुबह 8 बजे और दोपहर के 12 बजे से दोपहर के 2 बजे तक बाहर से सामान लाने के लिए वाहनों की अवाजाही को स्वीकृति प्रदान कर दी है।

असम : तीन लगातार निगेटिव जांचों के बाद 2 अतिरिक्त कोविड-19 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 44 रह गई है। असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट के माध्यम से यह जानकारी दी है।

मणिपुर : राज्य के मंत्रिमंडल ने देश के विभिन्न हिस्सों से पूर्वोत्तर को वापस लौटने वाले लोगों के ट्रेन किराये की भरपाई खुद करने और लोगों के राजधानी में लौटने के मद्देनजर एहतियातन उपायों के तहत इम्फाल के बड़े बाजारों को बंद रखने का फैसला किया है।

मिजोरम : किसी भी प्रकार के मीडिया में कोविड-19 मरीजों की पहचान जाहिर किए जाने को दंडनीय अपराध घोषित कर दिया गया है। इसका उल्लंघन करने वाले पर 5,000 रुपये का जुर्माना या 3 महीने के कारावास की सजा दी जाएगी।

नागालैंड : नागालैंड में लोंगलेंग जिला प्रशासन और सामाजिक संगठन संयुक्त रूप से अपने अधिकार क्षेत्र में आने वाले कोविड-19 पीड़ितों के अंतिम संस्कार के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र जारी करेंगे।

महाराष्ट्र : कोरोना वायरस के 984 के नए मामले सामने आने से राज्य में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 15,525 तक पहुंच गई। राज्य में 34 लोगों की मृत्यु के साथ मृत्यु का कुल आंकड़ा बढ़कर 617 तक पहुंच गया। कुल दर्ज मामलों में से 635 मुंबई से थे, जहां मंगलवार को 26 लोगों की मृत्यु हुई थीं। मुंबई में कुल कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 9,758 हो गई। इसके अलावा राज्य में मृत्यु दर घटकर 4.0 प्रतिशत रह गई है, जो एक महीना पहले तक 7.2 प्रतिशत थी। राष्ट्रीय स्तर पर मृत्यु दर लगभग 3.2 प्रतिशत बनी हुई है। महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में उपस्थित भारतीय सेना, भारतीय नौसेना, भारतीय रेल, बंदरगाहों और अन्य केन्द्रीय संगठनों को कोविड-19 मरीजों के लिए गहन देखभाल इकाई (आईसीयू) बिस्तर उपलब्ध कराने के लिए कहा है। एक अन्य घटनाक्रम में मुंबई नगर आयुक्त ने शहर के सभी वार्ड अधिकारियों को कोविड-19 मरीजों के लिए निजी अस्पतालों या क्लीनिकों में अतिरिक्त बिस्तर/ वार्ड/ सुविधाओं की मांग के लिए अधिकृत कर दिया है।

गुजरात : कोरोना वायरस के 441 नए मामले सामने आने से गुजरात के कुल मामलों की संख्या 6,245 हो गई। आज तक कुल संक्रमित लोगों में 1,381 उपचार के बाद ठीक हो गए और 368 लोगों की मृत्यु हो गई।

राजस्थान : आज 35 नए लोगों के पॉजिटिव आने के साथ ही राजस्थान में कोविड-19 से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 3,193 हो गई। जयपुर में 22 मामले दर्ज होने के साथ शहर में कुल संक्रमित लोगों की संख्या 1,069 के स्तर तक पहुंच गई।

मध्य प्रदेश : 107 नए संक्रमित लोगों के सामने आने से मध्य प्रदेश में कोविड-19 के मामलों की संख्या 3,000 से ज्यादा हो गई और कुल मामले 3,049 तक पहुंच गई। उपचार के बाद अस्पतालों से अभी तक 1,000 लोग डिस्चार्ज किए जा चुके हैं। इंदौर, भोपाल और उज्जैन में संक्रमण के प्रसार की सख्ती से निगरानी की जा रही है।

छत्तीसगढ़ : पंजाब के बाद छत्तीसगढ़ ऐसा दूसरा राज्य बन गया है, जिसने भीड़-भाड़ से बचने के लिए ग्रीन जोन में शराब की घर तक डिलीवरी शुरू कर दी है। इसके तहत आधार कार्ड संख्या सहित पूरा विवरण देकर ऑनलाइन या मोबाइल ऐप के माध्यम से ऑर्डर दिया जा सकता है।

पीआईबी द्वारा जांचे गये तथ्य

***

एएम/एमपी/एसके



(Release ID: 1621672) Visitor Counter : 134