PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 22 APR 2020 6:45PM by PIB Delhi
.

Description: Coat of arms of India PNG images free download

 

 

 

 

 

(पिछले 24 घंटे में जारी कोविड-19 से जुड़ी प्रेस विज्ञप्तियां, क्षेत्र अधिकारियों से प्राप्त जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल है)

·         भारत में कोविड-19 के अब तक 19,984 पॉजिटिव मामलों की पुष्टि हो चुकी है, लगभग 20 प्रतिशत लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

·         आईसीएमआर ने राज्यों को रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट के उपयोग के लिए प्रोटोकॉल भेजा है।

·         सरकार कोविड-19 के संबंध में फीडबैक लेने के लिए 1921 नम्बर के जरिए टेलीफोन सर्वेक्षण कराएगी।

·         मंत्रिमंडल ने भारत कोविड-19 आपात प्रतिक्रिया और स्वास्थ्य प्रणाली तैयारी पैकेजके लिए 15,000 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की है।

·         अतिरिक्त कृषि और वानिकी वस्तुओं, वि़द्यार्थियों के लिए शैक्षणिक पुस्तकों की दुकानों और इलेक्ट्रिक पंखों की दुकानों को लॉकडाउन प्रतिबंधों से छूट प्रदान की गई है।

·         शहरी क्षेत्रों में वरिष्ठ नागरिकों की घर में देखभाल करने वालों, प्रीपेड मोबाइल रिचार्ज सेवाओं, खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों को भी लॉकडाउन प्रतिबंधों से छूट दी गई है।

·         गृहमंत्री ने कोविड-19 के खिलाफ जंग में डॉक्टरों को सुरक्षा का आश्वासन दिया है।  

·         सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने कोविड-19 कवर करने वाले पत्रकारों को उचित सावधानी बरतने का परामर्श जारी किया है।

 

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से प्राप्त अपडेट

अब तक, इस बीमारी से 3,870 लोग ठीक हो चुके हैं और इस रोग से मुक्त होने की दर 19.36 प्रतिशत है। कल से अब तक 1,383 नए मामले सामने आये हैं। साथ ही, भारत में अब कोविड-19 के पुष्ट मामलों की संख्या 19,984 हो गई हैं। पिछले 24 घंटे में 50 लोगों की मौतें हुई हैं। मंत्रिमंडल द्वारा महामारी रोग अधिनियम, 1897 के अंतर्गत डॉक्टरों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए आज एक अध्यादेश जारी करने की भी सिफारिश की गई है। आईसीएमआर ने सभी राज्यों को रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट का इस्तेमाल करने के लिए एक विज्ञप्ति भेजी है। इसमें दोहराया गया है कि एंटीबॉडी रैपिड टेस्ट को बड़े पैमाने पर निगरानी के लिए एक उपकरण के रूप में इस्तेमाल किया जाना चाहिए। भारत सरकार एक टेलीफोन सर्वेक्षण का आयोजन करेगी, जिसमें एनआईसी के माध्यम से नागरिकों के मोबाइल फोन पर 1921 नंबर से संपर्क स्थापित किया जाएगा। यह एक वास्तविक सर्वेक्षण है। सभी नागरिकों से अनुरोध है कि वे इसमें सहभागी बनें और कोविड-19 के लक्षणों के प्रसार और व्यापकता पर सही फीडबैक प्राप्त करने में मदद करें।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1617252

सरकार ने कोविड-19 से लड़ने के लिए घोषित लॉकडाउन से अतिरिक्त कृषि एवं वानिकी वस्तुओं, छात्रों की शैक्षिक पुस्तकों की दुकानों और बिजली के पंखे की दुकानों को छूट दी

गृह मंत्रालय (एमएचए) ने कोविड-19 से लड़ने के लिए घोषित देशव्यापी लॉकडाउन के मद्देनजर समेकित संशोधित दिशा-निर्देशों के तहत कुछ गतिविधियों को छूट देने का आदेश जारी किया है। उपरोक्त मदों में दी गई छूट हॉटस्पॉट अथवा नियंत्रित यानी कंटेनमेंट जोनों पर लागू नहीं होगी। इन जोनों में उपरोक्त गतिविधियों की इजाजत नहीं होगी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1616946

शहरी इलाकों में वरिष्ठ नागरिकों की घर में देखभाल करने वालों, प्रीपेड मोबाइल रिचार्ज जैसी जनोपयोगी सेवाओं, खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों को कोविड-19 से मुकाबला करने के लिए लागू लॉकडाउन प्रतिबंधों से छूट दी गई

गृह मंत्रालय ने कोविड-19 से मुकाबला करने के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के संबंध में समेकित संशोधित दिशा-निर्देशों के अंतर्गत कुछ गतिविधियों को छूट देने का आदेश जारी किया है। उपरोक्त आदेशों के अंतर्गत जारी दिशा-निर्देशों में जिन श्रेणियों के भीतर विशिष्ट सेवाओं/गतिविधियों को पहले से ही छूट दी गई है, उसके संबंध में कुछ प्रश्न प्राप्त हुए हैं। गृह मंत्रालय ने इस संबंध में स्पष्टीकरण जारी किया है, और कुछ सेवाओं को छूट की श्रेणी में शामिल किया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1616909

केंद्रीय गृह मंत्री ने डॉक्टरों व आईएमए के वरिष्ठ प्रतिनिधियों के साथ बातचीत की और उन्हें कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में उनकी सुरक्षा का आश्वासन दिया

गृह मंत्री ने डॉक्टरों की अहम भूमिका, विशेष रूप से कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में, की सराहना की और विश्वास व्यक्त किया कि सभी डॉक्टर इस लड़ाई में समर्पित रूप से काम करना जारी रखेंगे, जैसा कि वे अब तक कर रहे हैं। उन्होंने डॉक्टरों द्वारा कोविड-19 जैसी घातक बीमारियों से लोगों को सुरक्षित रखने के लिए उनके समर्पण और बलिदान को नमन किया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1616966

स्वास्थ्य सेवा पेशेवरों, चिकित्साकर्मियों और अग्रिम पंक्ति में तैनात कर्मचारियों के खिलाफ हिंसा रोकने के लिए उनकी पर्याप्त सुरक्षा सुनिश्चित की जाए: केंद्रीय गृह मंत्री

गृह मंत्री श्री अमित शाह के निर्देशों के तहत, गृह मंत्रालय (एमएचए) ने आज सभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को निर्देश दिया है कि वे स्वास्थ्य सेवा पेशेवरों, चिकित्साकर्मियों और अग्रिम पंक्ति में तैनात स्वास्थ्य सेवा कर्मचारियों की पर्याप्त सुरक्षा सुनिश्चित करें ताकि उनके खिलाफ हिंसा को रोका जा सके। आदेश में यह भी कहा गया है कि अपनी सेवाओं का निर्वहन करते हुए कोविड-19 संक्रमण से मरने वाले चिकित्सा पेशेवरों या अग्रिम पंक्ति में तैनात स्वास्थ्य सेवा कर्मियों के अंतिम संस्कार में बाधा डालने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1617220

मंत्रिमंडल ने भारत कोविड-19 आपात प्रतिक्रिया और स्वास्थ्य प्रणाली तैयारी पैकेजके लिए 15,000 करोड़ रुपये को स्वीकृति दी

केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने भारत कोविड-19 आपात प्रतिक्रिया और स्वास्थ्य प्रणाली तैयारी पैकेजके लिए 15,000 करोड़ रुपये के निवेश को स्वीकृति दे दी है। इस स्वीकृत धनराशि का 3 चरणों में उपयोग किया जाएगा और अभी के लिए तत्काल कोविड-19 आपात प्रतिक्रिया (7,774 करोड़ रुपये की धनराशि) का प्रावधान किया गया है। बाकी धनराशि मध्यावधि सहयोग (1-4 वर्ष) के तौर पर मिशन मोड में उपलब्ध कराई जाएगी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1617122

मोबाइल रक्त संग्रह वैन और लाने-छोड़ने जैसी विभिन्न सुविधाओं के माध्यम से स्वैच्छिक रक्तदाताओं की व्यवस्था बनाते हुए रक्ताधान (ट्रांसफ्यूजन) के लिए पर्याप्त रक्त स्टॉक रखें

केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने वीडियो कॉन्फ्रेंस में संपूर्ण भारत से समर्पित रेड क्रॉस योद्धाओं का स्वागत करते हुए उन्हें बधाई दी। उन्होंने प्रतिनिधियों को स्वैच्छिक रक्तदान को प्रोत्साहन देने और रक्तदाताओं को लाने और छोड़ने की सुविधा प्रदान करते हुए पर्याप्त मात्रा में रक्त स्टॉक रखने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने आईआरसीएस से आग्रह किया कि वे कोविड-19 से स्वस्थ हुए रोगियों से रक्तदान के लिए आगे आने के लिए संपर्क करें, जिससे कोरोना प्रभावित रोगियों का शीघ्र उपचार करने हेतु स्वास्थ्य की दृष्टि से लाभकारी उनके रक्त प्लाज्मा का उपयोग किया जा सके।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1616947

प्रधानमंत्री ने धरती माता का आभार व्यक्त किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय पृथ्वी दिवस के अवसर पर धरती माता का आभार व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री ने कहा अंतरराष्ट्रीय पृथ्वी दिवस पर हम सभी हमारी देखभाल और करुणा के लिए अपने ग्रह का आभार व्यक्त करते हैं। चलिए एक स्वच्छ, स्वस्थ और अधिक समृद्ध ग्रह बनाने की ओर काम करने का संकल्प लें। कोविड-19 को हराने के लिए अग्रिम मोर्चे पर काम कर रहे सभी लोगों का आभार।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1616995

भारतीय रेलवे ने कोविड महामारी के दौरान माल ढुलाई के लिए कई प्रोत्साहनों की घोषणा की

24 मार्च 2020 से 30 अप्रैल 2020 तक खाली कंटेनरों और खाली फ्लैट वैगनों की आवाजाही के लिए कोई शुल्क नहीं होगा। अधिकांश ग्राहक खुद मालगोदाम जाने के बजाय इलेक्ट्रॉनिक रूप से अपनी मांगों को दर्ज करा सकते हैं और माल के लिए रेलवे से रसीद प्राप्त कर सकते हैं। यदि ग्राहक इलेक्ट्रॉनिक रसीद का लाभ नहीं उठाते हैं, तब भी वे वैकल्पिक प्रक्रिया का उपयोग करके गंतव्य बिंदु पर रेलवे चालान जमा किए बिना माल की डिलीवरी ले सकते हैं। ट्रेन लोड दरों का लाभ उठाने के लिए बीसीएनएचएल की आवश्यक न्यूनतम संख्या को अब 57 से घटाकर 42 वैगन कर दिया गया है। उद्योग जगत को प्रोत्साहित करने के लिए मिनी रेक, एवं दो बिंदु रेक आदि को प्रशासित करने वाली दूरी संबंधी शर्तों को शिथिल कर दिया गया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1617136

रेल मंत्रालय ने राज्यों को विभिन्न रेल रसोईघरों से रोजाना 2.6 लाख भोजन की आपूर्ति करने की पेशकश की है

रेल मंत्रालय ने जहां कहीं भी जिला प्रशासन इच्छुक हो और पके भोजन को लेने और उसे जरूरतमंदों के बीच वितरित करने में सक्षम हो, विभिन्न रेल किचनों से प्रतिदिन 2.6 लाख भोजन की आपूर्ति करने की पेशकश की है। प्रतिदिन 2.6 लाख भोजन की पेशकश निर्धारित आरंभिक स्थानों की किचन क्षमताओं पर आधारित है। अगर आवश्यकता पड़ी तो आपूर्ति में वृद्धि के लिए ऐसे और भी स्थानों को बढ़ाया जा सकता है। ये भोजन केवल 15 रुपये प्रति भोजन की लागत दर पर उपलब्ध होंगे।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1617117

भारतीय समुद्री नाविकों के भारतीय बंदरगाहों पर साइन-ऑन और साइन-ऑफ एवं उनकी गतिविधियों के बारे में एसओपी जारी किए गए

केंद्रीय नौवहन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री मनसुख मंडाविया ने भारतीय बंदरगाहों पर भारतीय समुद्री नाविकों के साइन-ऑन और साइन-ऑफ के लिए एसओपी जारी करने का स्वागत किया है। एक ट्वीट में, उन्होंने गृह मंत्री को इस आदेश के लिए धन्यवाद दिया जिसकी वजह से समुद्री बंदरगाहों पर अब चालक दल में बदलाव संभव हो सकेगा। उन्होंने कहा कि इससे हजारों समुद्री नाविकों को होने वाली कठिनाइयों से छुटकारा मिलेगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1616999

प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के लिए जारी परामर्श

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने देश के विभिन्न हिस्सों में कोविड-19 से जुड़े मसलों को कवर कर रहे मीडियाकर्मियों मसलन संवाददाताओं, कैमरामैन, फोटोग्राफर्स को सलाह जारी की है। इस एडवाइजरी में कंटेंनमेंट जोन, हॉटस्पॉट और कोरोना वायरस से प्रभावित अन्य इलाकों में जाने वाले मीडियाकर्मियों को अपनी ड्यूटी के दौरान स्वास्थ्य संबंधी सावधानी बरतने की सलाह दी गई है। इसके अलावा, मंत्रालय ने मीडिया घरानों के प्रबंधन से अनुरोध किया है कि वे फील्ड में तैनात कर्मचारियों के साथ-साथ कार्यालय में काम कर रहे अपने कर्मचारियों की भी आवश्यक देखभाल करें।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1617063

ईपीएफओ ने पीएमजीकेवाई के अंतर्गत 6.06 लाख कोविड-19 दावों सहित 10.2 लाख दावों का निपटारा 15 कार्य दिवसों में किया

कुल 3,600.85 करोड़ रुपये की राशि का वितरण किया गया, जिसमें पीएमजीकेवाई पैकेज के अंतर्गत 1,954 करोड़ रुपये के कोविड-19 दावे भी शामिल हैं। लॉकडाउन के कारण केवल एक तिहाई कर्मचारियों की काम पर उपलब्धता होने के बावजूद, 90 प्रतिशत कोविड-19 दावों का निपटारा तीन कार्य दिवसों में किया गया है, और इस तरह शीघ्र निपटारे के लिए डिज़ाइन किए गए विशेष सॉफ़्टवेयर के माध्यम से सेवा प्रदान के नए मानकों को स्थापित किया गया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1617309

मंत्रालयों को बंद करने का कोई सरकारी आदेश नहीं, पीआईबी फैक्टचेक ने फर्जी खबरों पर लगाई लगाम; सरकार के द्वारा 'से नमस्ते' नामक किसी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप का शुभारंभ/समर्थन नहीं किया जा रहा

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1616945

श्री धर्मेंद्र प्रधान ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से एलपीजी वितरकों से बात की; उनसे कहा कि गरीबों को लाभ के लिए मुफ्त उज्जवला रीफिल को अधिकतम करने का प्रयास करें

पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से देश भर के 1000 से अधिक एलपीजी वितरकों के साथ बातचीत की। लॉकडाउन के दौरान एलपीजी सिलेंडरों की डोरस्टेप डिलीवरी सुनिश्चित करने में उनके अच्छे काम की सराहना करते हुए उन्होंने उनसे लोगों तक सक्रिय रूप से पहुंचने और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत पीएमयूवाई लाभार्थियों के लिए घोषित तीन मुफ्त एलपीजी सिलिंडरों के वितरण को अधिकतम रूप से सुनिश्चित करने का आग्रह किया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1616993

राष्ट्रपति भवन में कोविड-19 पॉजिटिव मामला पाए जाने के संबंध में जानकारी

राष्ट्रपति भवन में एक कोविड-19 पॉजिटिव मामले का पता लगने के बारे में मीडिया में आई खबरों और अटकलों के मद्देनजर इस स्थिति के बारे में निम्नलिखित तथ्य हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1617017

मानव संसाधन विकास मंत्री ने ई-लर्निंग सामग्री में योगदान देने के लिए राष्ट्रीय कार्यक्रम विद्यादान 2.0 का शुभारंभ किया

श्री रमेश पोखरियाल निशंकने ई-लर्निंग सामग्री में योगदान देने के लिए विद्यादान 2.0 का शुभारंभ किया। यह कार्यक्रम विशेष रूप से कोविड-19 के संकट की पृष्ठभूमि में छात्रों (स्कूल और उच्च शिक्षा दोनों) के लिए ई-लर्निंग सामग्री की बढ़ती आवश्यकता और स्कूली शिक्षा के साथ डिजिटल शिक्षा को एकीकृत करते हुए संवर्धित शिक्षा की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए शुरू किया गया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1617143

उपराष्ट्रपति ने पृथ्वी को हरा-भरा, स्वच्छ ग्रह बनाने का आह्वान किया

उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू ने सभी नागरिकों से पृथ्वी को हरा-भरा और स्वच्छ ग्रह बनाने का आह्वान करते हुए कहा कि पर्यावरण संरक्षण हर नागरिक का कर्तव्य है। विश्व पृथ्वी दिवस की पूर्व संध्या पर अपने संदेश में उन्होंने कहा, " हमें प्रकृति के संरक्षण को प्राथमिकता देनी चाहिए, अपनी उपभोक्तावादी जीवन शैली में परिवर्तन करना चाहिए तथा विकास की अपनी अवधारणा पर पुनर्विचार करना चाहिए"। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के अनुभव के बाद हमें अपनी विकास और आर्थिक नीतियों की नए सिरे से पुनः समीक्षा करनी चाहिए और विकास की नई अवधारणा का विकसित करनी चाहिए।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1616820

श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने खाद्य सुरक्षा, संरक्षा और पोषण पर कोविड-19 के प्रभाव के मुद्दे पर आयोजित जी-20 देशों के कृषि मंत्रियों की असाधारण बैठक में भाग लिया

केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने खाद्य सुरक्षा, संरक्षा और पोषण पर कोविड-19 के प्रभाव के मुद्दे पर आयोजित जी-20 देशों के कृषि मंत्रियों की असाधारण बैठक में भाग लिया और महामारी के प्रभाव को लेकर की चर्चा। उन्होंने सोशल डिस्टेंसिंग, स्वास्थ्य और स्वच्छता के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए, लॉकडाउन अवधि के दौरान सभी कृषि कार्यों को छूट देने और आवश्यक कृषि उपज और खाद्य आपूर्ति की निरंतर उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए भारत सरकार के निर्णयों को साझा किया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1616920

 

कोविड-19 महामारी के कारण लॉकडाउन अवधि के दौरान देश भर में अनिवार्य वस्तुओं की निर्बाध आपूर्ति के लिए सरकार द्वारा सही समय पर उपाय किए गए

कृषि मंत्रालय ने कोविड-19 महामारी के कारण व्याप्त लॉकडाउन स्थिति के दौरान थोक बाजार को भीड़-भाड़ से बचाने एवं आपूर्ति श्रृंखला को बढ़ावा देने के लिए कई कदम उठाये हैं। नेशनल एग्रीकल्चर मार्केट (ई-नाम) पोर्टल का दो नए मॉड्यूल अर्थात् (क) वेयरहाउस आधारित ट्रेडिंग मॉड्यूल एवं (ख) फार्मर प्रोड्यूसर ऑर्गेनाइजेशन (एफपीओ) मॉड्यूल जोड़ने के द्वारा पुनर्निर्माण किया गया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1616912

कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए देश में रसायनों, उर्वरकों और दवाओं की आपूर्ति बेहतर बनाने के सभी प्रयास किए जा रहे हैं: गौड़ा

केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री श्री डीवी सदानंद गौड़ा ने कहा है कि कोविड महामारी के कारण उत्पन्न होने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए, उनका मंत्रालय दवाओं, उर्वरकों और कीटाणुनाशक रसायनों की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रहा है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1616866

स्किल इंडिया ने महामारी के दौरान आवश्यक सेवाओं के लिए 900 सत्यापित पलम्बर की सूची मुहैया कराई है, जो दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए अपनी सेवा देंगे

कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय (एमएसडीई) के तत्वावधान में, स्किल इंडिया कार्यक्रम से जुड़े इंडियन प्लंबिंग स्किल काउंसिल (आईपीएससी) ने कोविड-19 संकट के दौरान पाइपलाइन जैसी आवश्यक सेवाओं की आवश्यकता का संज्ञान लेते हुए 900 से अधिक प्लंबर का एक डेटाबेस तैयार किया है, जो देशभर में लॉकडाउन अवधि के दौरान अपनी सेवाएं मुहैया कराने के लिए तैयार हैं। आईपीएससी ने अपने संबद्ध प्रशिक्षण साझेदारों से अनुरोध किया है कि जरूरतमंदों के लिए भोजन और आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए अभियान चलाएं और साथ ही वितरण और उसकी तैयारी के कार्यों में भी सहयोग दें।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1617199

पर्यटन मंत्रालय ने कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण 15 अक्टूबर 2020 तक होटल/रेस्तरां बंद रखने के लिए कोई पत्र जारी नहीं किया है

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1617133

कोविड-19 पर ट्राइफेड की सक्रिय पहलें

कोविड-19 लॉकडाउन (और इसके बाद की अवधि) के दौरान जनजातीय हितों के संरक्षण से संबंधित कार्यों को तीन श्रेणियों में वर्गीकृत किया जा सकता है- प्रचार और जागरूकता फैलाना, व्यक्तिगत सुरक्षात्मक स्वास्थ्य सेवा, एनटीएफपी की खरीद।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1617038

डीएसटी के सहयोग से एनजीओ नेटवर्क सामुदायिक स्तर पर कोविड-19 से निपटेगा

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) के साइंस फॉर इक्विटी एम्पारवरमेंट एंड डेवलेपमेंट (एसईईडी) के सहयोग से एनजीओ के नेटवर्क ने कोविड-19 से निपटने में अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन किया है। एनजीओ का यह नेटवर्क विज्ञान और प्रौद्योगिकी (एसएंडटी) के जरिये देशभर के 22 राज्यों में कोरोना वायरस से लड़ने के सरकार के प्रयासों में शामिल हो रहा है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1617176

कोविड-19 महामारी के दौरान कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए उत्तरी डीएमसी ने उठाए व्यापक कदम

कोविड-19 महामारी के इस संकटपूर्ण दौर में उत्तरी दिल्ली नगर निगम (उत्तरी डीएमसी) ने अपने कर्मचारियों की पूर्ण सुरक्षा सुनिश्चित करने व्यापक कदम उठाए हैं। ये कदम पूरे शहर में बनाए गए कंटेनमेंट (रोकथाम) क्षेत्रों में सेवाएं देने के मद्देनजर उठाए गए हैं। उत्तरी डीएमसी ने हर कंटेनमेंट क्षेत्र के बाहर डॉकिंग स्टेशन की स्थापना की है। स्वच्छता, इंजीनियरिंग, सार्वजनिक स्वास्थ्य या किसी भी विभाग के हर कर्मचारी को इन डॉकिंग स्टेशनों से अपनी ड्यूटी शुरू करनी होती है। वे यहां रिपोर्ट करते हैं और उन्हें जरूरी पीपीई किट उपलब्ध कराई जाती हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1617018

पीआईबी के क्षेत्र अधिकारियों से प्राप्त जानकारियां

महाराष्ट्र: महाराष्ट्र में मंगलवार को 552 नए रोगियों के साथ ही राज्य में कोविड-19 मामलों की संख्या बढ़कर 5,218 हो गई। मुंबई ने 355 नए मामले दर्ज किए, जिसकी वजह से वहां रोगियों की संख्या बढ़कर 3,445 हो गई, जो भारत के किसी भी शहर की दृष्टि से सबसे अधिक है। 779 लोग अब तक ठीक हो चुके हैं। मुंबई के 53 पत्रकारों के कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने के मद्देनजर सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने परामर्श जारी कर प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकारों से सावधानी बरतने तथा मीडिया घरानों के प्रबंधन से फील्ड में तैनात कर्मचारियों के साथ-साथ कार्यालय में काम कर रहे कर्मचारियों की भी आवश्यक देखभाल करने का अनुरोध किया है। अपर सचिव मनोज जोशी के नेतृत्व में अंतर-मंत्रालयी केंद्रीय टीम (आईएमसीटी) ने आज धारावी क्षेत्र का दौरा किया और राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे के साथ ट्रांजिट कैम्प, क्वारंटाइन सुविधाओं आदि का निरीक्षण किया। आईएमसीटी टीम के सदस्यों ने मुख्यमंत्री, नगर आयुक्त, पुलिस आयुक्त और महाराष्ट्र सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ व्यापक विचार-विमर्श किया था।

गुजरात: गुजरात से कोरोना वायरस के 112 नए मामले सामने आए हैं, इसके साथ ही राज्य में कोविड-19 मामलों की संख्या बढ़कर 2,178 हो गई। आज तक कुल संक्रमित लोगों में से 139 ठीक हो चुके हैं और 90 लोगों की मृत्यु़ हो चुकी है। मामलों की संख्या की दृष्टि से महाराष्ट्र के बाद गुजरात भारत में सभी राज्यों और संघशासित प्रदेशों में दूसरे स्थान पर है।

राजस्थान: राजस्थान में बुधवार को कोरोना वायरस के 64 नए मामले दर्ज किए गए, जिससे राज्या में कोविड-19 मामलों की संख्या बढ़कर 1,799 हो गई। अपर मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) रोहित कुमार सिंह के अनुसार, दिल्ली की एक निजी लैब को भेजे गए 4000 नमूनों के परीक्षण के परिणाम आने शुरू हो गए हैं, जिसके परिणामस्वरूप अधिक संख्या में मामले सामने आए हैं।

चंडीगढ़: चंडीगढ़ प्रशासक ने इस बात पर जोर दिया है कि जिन क्षेत्रों को कोरोना के प्रकोप के कारण विशेष रूप से सील किया जा रहा है, वहां लोगों के घरों तक सब्जियों और राशन की आपूर्ति की जानी चाहिए, ताकि वहां के लोगों को अपने रिहायशी इलाकों से बाहर न आना पड़े। निवासियों की सुविधा के लिए प्लंबर, इलेक्ट्रीशियन और एसी मैकेनिक्स की सूची तैयार और प्रचारित की गई है। लोग भुगतान कर उनकी सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं।

पंजाब: # कोविड-19 प्रतिबंधों के बीच गेहूं की परेशानी मुक्त खरीद सुनिश्चित करने के लिए पंजाब मंडी बोर्ड ने रबी विपणन सीजन 2020-21 के दौरान, 409 अतिरिक्त राइस सेलर्स को उप मंडी यार्ड के रूप में परिवर्तित किया है। # कोविड-19 के बीच खरीद की कुशल व्यवस्था के कारण अब तक 8.95 एलएमटी गेहूं की आवक हो चुकी है, जिसमें से 7.54 एलएमटी की विभिन्न सरकारी एजेंसियों द्वारा खरीद कर ली गई है। पिछले सप्ताह केंद्रीय गृह मंत्रालय और पंजाब सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के तहत मानक संचालन प्रक्रिया के अनुपालन के अधीन जो औद्योगिक इकाइयां संचालन शुरू करना चाहती हैं, वे उद्योग एवं वाणिज्य विभाग की साइट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकती हैं और परिचालन शुरू कर सकती हैं।

हरियाणा: राज्य में लॉकडाउन के तहत दी गई ढील को देखते हुए उद्योग और अन्य प्रतिष्ठान अपना परिचालन शुरू करने हेतु पास के लिए “saralharyana.gov.in” पोर्टल पर आवेदन कर सकते हैं। वाहनों की अंतर-राज्य आवाजाही के लिए ई-पास प्राप्त करने के लिए “covidpass.egovernments.org/requester-dashboard”पर आवेदन किया जा सकता है।

हिमाचल प्रदेश: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में कर्फ्यू 3 मई, 2020 तक जारी रहेगा। ऐसा यह सुनिश्चित करने के लिए किया जा रहा है ताकि कोरोना वायरस राज्य के उन क्षेत्रों तक न पहुंचे, जो अभी तक इससे मुक्त हैं। मुख्यमंत्री ने राज्य को एन-95 सर्जिकल मास्क प्रदान करने के लिए भारत के माननीय राष्ट्रपति का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि इससे राज्य के कोरोना योद्धाओं का विश्वास बढ़ेगा।

जम्मू और कश्मीर: राज्या में आज 27 नए मामले सामने आए। ये सभी मामले कश्मीर डिवीजन से हैं। इसके साथ ही राज्य में कोविड-19 मामलों की संख्या बढ़कर अब 407 हो गई है। इनमें से जम्मू में 56 और कश्मीर में 351 मामले हैं। सेना ने इस महामारी का मुकाबला करने में नागरिक प्रशासन को पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया है इसलिए वह दो कोविड-19 अस्पताल स्थापित कर रही है, इनमें से एक श्रीनगर और दूसरा जम्मू में है।

अरुणाचल प्रदेश: अरुणाचल प्रदेश में अब तक 12,366 उपभोक्ताओं को मुफ्त एलपीजी सिलेंडर मिले हैं। भारतीय वायुसेना के हेलिकॉप्टरों ने अरुणाचल प्रदेश के चांगलांग जिले के दूरदराज के क्षेत्रों में आवश्यक वस्तुओं और चिकित्सा उपकरणों की आपूर्ति के लिए अब तक 4 उड़ाने भरी हैं।

असम: असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट किया है कि असम के निजी स्कूल अप्रैल की फीस का 50 प्रतिशत माफ करके लॉकडाउन के बीच अभिभावकों को राहत दें। पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग, असम ने पीएमजीकेवाई के तहत डीबीटी के माध्यम से 8,51,642 लाभार्थियों में से प्रत्येक को 500 रुपये की वित्तीय सहायता जारी की है।

मिजोरम: डीजीपी ने मिजोरम-त्रिपुरा सीमा के लोगों के एक समूह द्वारा ममीत जिले में बॉर्डर सीलिंग ड्यूटी पर तैनात 2 पुलिसकर्मियों पर हमले के मामले में जांच का आदेश दिया है।

नागालैंड: नागालैंड के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि राज्य में पीपीई की खरीद और गुणवत्ता नियंत्रण के लिए 2 समितियों का गठन किया गया है।

सिक्किम: सिक्किम के उत्तर जिला प्रशासन ने सूचित किया है कि 23 अप्रैल, 2020 से पीएमजीकेवाई के तहत चावल और दाल उचित मूल्य की दुकान के जरिये नियमों के अनुसार वितरित किए जाएंगे।

त्रिपुरा: त्रिपुरा में राज्य सरकार द्वारा प्रवासी मजदूरों के लिए घोषित किए गए कोविड-19 पैकेज के तहत खोवाई जिला प्रशासन ने प्रत्येक ईंट भट्ठा मजदूर को 1000 रुपये की राशि प्रदान की है। इस कदम से कुल 157 प्रवासी मजदूर लाभान्वित हुए। 

केरल: पठानमथिट्टा में एक 62 वर्षीय महिला का 43 दिन बाद कोविड टेस्ट निगेटिव आया। कोझिकोड एमसी के 2 हाउस सर्जन पॉजिटिव पाए गए हैं; उनके ट्रेन में दिल्ली के तबलीगी जमात के लोगों के संपर्क में आने की आशंका है। कोल्लम के सीमावर्ती गांव में सतर्कता बढ़ाई गई है क्योंकि पॉजिटिव लोगों के संपर्क में आने वालों का पता लगाया जा रहा है; तमिलनाडु से सटी सीमा चौकियों पर चौकसी बढ़ाई गई है। राज्य सरकार के सीएमडीआरएफ के लिए सरकारी कर्मचारियों के 5 महीने की तनख्वाह में से 6 दिन का वेतन काटने का फैसला किया गया है। राज्य में कुल पुष्ट मामले: 426, सक्रिय मामले: 117 हैं।

तमिलनाडु: मुख्यामंत्री ने कोविड से मरने वाले फ्रंटलाइन कर्मियों के निकट संबंधी को 50 लाख रुपये और नौकरी देने की घोषणा की है। कोविड के कारण मौत का शिकार हुए डॉक्टर के अंतिम संस्कार में हमले के सिलसिले में 69 पर मामला दर्ज किया गया है।

पुडुचेरी: सुरक्षा उपाय के तौर पर राज्य के मुख्यमंत्री, मंत्रियों, विधायकों का कोविड परीक्षण किया जाएगा। अब तक टीएन में कुल मामले 1596, सक्रिय मामले: 940, मृत्यु: 18, अस्पताल से छुट्टी: 635, अधिकतम मामले चेन्नई से 358 और कोयंबटूर से 134 हैं।

कर्नाटक: कुल मामले 425, आज 7 नए मामलों की पुष्टि हुई। कलबुर्गी 5, और बेंगलुरु  2. अब तक 129 को अस्पताल से छुट्टी  दी गई।

आंध्र प्रदेश: पिछले 24 घंटों में 56 नए मामले सामने आए; कुल पॉजिटिव मामले 813. मृत्यु: 24, अस्पताल से  छुट्टी: 120, सक्रिय मामले: 669। राज्य ने प्रत्येक रेड जोन में विशेष अधिकारियों की नियुक्ति की है। राज्य सरकार ने संकट से घिरी महिलाओं हेतु शिकायत दर्ज कराने के लिए सभी जिलों में घरेलू हिंसा हेल्पलाइन नंबर शुरू किए। पॉजिटिव मामलों में अग्रणी जिले: कुरनूल (203), गुंटूर (177), कृष्णा (86), नेल्लोर (67), चित्तूर (59), कडप्पा (51)।

तेलंगाना: राज्य के स्वास्थ्य अधिकारी हैदराबाद से लगभग 135 किलोमीटर दूर सूर्यापेट में मंगलवार को 26 नए मामलों के सामने आने से कोविड के तेजी से फैलने को लेकर चिंतित हैं। राज्य में अब तक कुल 928 पॉजिटिव मामले हैं।

जांचे गए तथ्य #कोविड-19

 Description: C:\Users\VARUN\Desktop\001.png

Description: C:\Users\VARUN\Desktop\002.jpg

Description: C:\Users\VARUN\Desktop\003.jpg

Description: C:\Users\VARUN\Desktop\004.png

Description: C:\Users\VARUN\Desktop\005.png

Description: C:\Users\VARUN\Desktop\006.png

Description: http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image005DGBN.jpg

एएम/आरके/एसके/वीएस

(Release ID: 1617215)



(Release ID: 1617378) Visitor Counter : 218