PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 29 APR 2020 6:49PM by PIB Delhi

 (पिछले 24 घंटे में जारी कोविड-19 से जुड़ी प्रेस विज्ञप्तियां, क्षेत्र अधिकारियों से प्राप्त जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल है)

  

अभी तक कोविड-19 के 31,332 मामलों की पुष्टि हो चुकी है, उपचार के बाद 7,695 लोगों के स्वस्थ होने से भारत में सुधार की दर 24.5 प्रतिशत तक पहुंच गई है

केन्द्र सरकार कोविड-19 महामारी के मद्देनजर देश में फंसे प्रवासी कामगारों के साथ ही सामान्य लोगों के लिए दे रही है अंतर-राज्यीय आवाजाही की सुविधा

मानव संसाधन विकास मंत्री ने की राज्यों से अपील, बोर्ड परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिका की मूल्यांकन की प्रक्रिया शुरू करें और इसके लिए सीबीएसई को संबंधित राज्यों में सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं

•  डॉ. हर्षवर्धन का वैज्ञानिकों से आह्वान, कोविड-19 के उपचार के लिए जल्द से जल्द विकसित करें समाधान

श्री पीयूष गोयल ने कहा, भारत को कोविड महामारी के दौर के बाद वैश्विक व्यापार में प्रमुख हिस्सेदारी हासिल करने पर करना चाहिए विचार

 

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से कोविड-19 पर प्राप्त अपडेट

अब तक कुल 7,695 लोग उपचार के बाद ठीक हो चुके हैं। इससे ठीक होने की हमारी कुल दर 24.5% हो गई है। अब तक कुल 31,332 लोगों में कोविड की पुष्टि हुई है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण (एचएफडब्ल्यू) सचिव ने इस बात पर जोर दिया कि गैर-कोविड वाली आवश्यक चिकित्सीय देखभाल की उपेक्षा नहीं की जानी चाहिए। उन्होंने  इस बात को दोहराया कि देखभाल की आवश्यकता वाले रोगियों, जैसे डायलिसिस, कैंसर, मधुमेह, गर्भवती महिलाएं और हृदय संबंधी बीमारियों से पीड़ित लोगों की पर्याप्त देखभाल की जानी चाहिए। उन्होंने राज्यों से आरोग्य सेतु ऐप को बढ़ावा देने का आग्रह किया, जो एक स्वमूल्यांकन करने वाला उपकरण है और सरकार द्वारा किए जा रहे रोकथाम के प्रयासों में सहायक है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने सभी राज्यों के शिक्षा मंत्रियों और शिक्षा सचिवों के साथ बातचीत की

बैठक को संबोधित करते हुए, केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कोविड-19 की वर्तमान स्थिति बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है, लेकिन यह समय समझदारी के साथ काम करने और छात्रों के अकादमिक कल्याण और सुरक्षा को सुनिश्चित करने की दिशा में नए प्रयोगों को अपनाकर इस स्थिति को एक अवसर में तब्दील करने का है। उन्होंने घोषणा की कि स्कूलों में ग्रीष्मकालीन छुट्टियों के दौरान मध्याह्न भोजन उपलब्ध कराने के लिए मंजूरी प्रदान की जा रही है, जिस पर लगभग 1,600 करोड़ रुपये का अतिरिक्त खर्च आयेगा। मंत्री ने सभी राज्यों से आग्रह किया कि वे बोर्ड परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन की प्रक्रिया शुरू करें और इसके लिए सीबीएसई को संबंधित राज्यों में सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

केंद्र ने कोविड-19 महामारी के चलते देश में प्रवासी मज़दूरों सहित अन्य फंसे हुए लोगों के अंतर-राज्यीय आवागमन को सुगम बनाया

कोविड-19 से लड़ने के लिए लगाए गए लॉकडाउन प्रतिबंध के परिणामस्वरूप, देश में विभिन्न स्थानों पर प्रवासी मज़दूर, तीर्थयात्री, पर्यटक, छात्र और अन्य व्यक्ति फंसे हुए हैं। अब, केंद्र ने सड़क के रास्ते इन फंसे हुए लोगों को आवाजाही की अनुमति दी है। संबंधित राज्यों द्वारा एक-दूसरे से परामर्श करने और पारस्परिक रूप से सहमत होने के बाद उन्हें एक से दूसरे राज्य/केंद्र शासित प्रदेश में जाने की अनुमति दी जाएगी। इस बात पर जोर दिया गया है कि अपने गंतव्य पर पहुंचने पर, ऐसे व्यक्ति (यों) की जांच स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा की जायेगी, और उन्हें होम क्वारंटीन में रखा जायेगा, जब तक कि उस व्यक्ति को जांच के लिए इंस्टीट्यूशनल क्वारंटीन में रखने की आवश्यकता न हो। इसके अलावा,  समय-समय पर उनकी स्वास्थ्य की जांच की जायेगी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

डॉ. हर्षवर्धन ने वैज्ञानिकों से कोविड-19 को नियंत्रित करने की दिशा में तेजी से समाधान तलाशने को कहा

डॉ. हर्षवर्धन ने जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी) और उसके स्वायत्त संस्थानों (एआई और उसके सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों) बीआईआरएसी तथा बीआईबीसीओएल द्वारा कोविड-19 संकट से निपटने के लिए विशेष रूप से वैक्सीन, तथा स्वेदशी रैपिड टेस्ट और आरटी-पीसीआर नैदानिक किट विकसित करने की दिशा में की गई विभिन्न पहलों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कम से कम छह तरह के टीकों पर काम चल रहा है जिनमें से चार पर शोध अंतिम चरण में है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

कोविड-19 के बाद दुनियाभर में आपूर्ति श्रृंखला में बड़े बदलाव आएंगे, ऐसे में भारत को विश्व व्यापार में बड़ी हिस्सेदारी की संभावनाएं तलाशनी होंगी-गोयल

केन्द्रीय वाणिज्य और उद्योग एवं रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल ने आज निर्यातकों से आह्वान किया कि वे विशिष्ट क्षेत्रों में अपनी ताकत, क्षमता और प्रतिस्पर्धी लाभ की पहचान करें और वैश्विक बाजारों में उनका इस्तेमाल करने पर ध्यान केंद्रित करें। श्री गोयल ने कहा कि कोविड-19 का प्रभाव खत्म होने जाने के बाद के समय में, वैश्विक आपूर्ति-श्रृंखलाओं में आमूल बदलाव होंगे, ऐसे में भारतीय उद्योगपतियों और निर्यातकों को विश्व व्यापार में महत्वपूर्ण हिस्सेदारी के अवसर तलाशने होंगे। उन्होंने निर्यातकों को आश्वासन दिया कि सरकार उनके प्रयासों में एक सहयोगी बनकर मदद करेगी। उन्होंने कहा कि निर्यातकों को कुछ प्रोत्साहन दिए जा सकते हैं लेकिन इन्हें उचित साबित करना होगा और यह भी तय करना हेागा कि ये विश्व व्यापार संगठन के नियमों के अनुरुप हों।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

श्री रविशंकर प्रसाद ने कोविड- 19 के खिलाफ लड़ाई में सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के प्रयासों की सराहना की

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद ने 28 अप्रैल 2020 को राज्यों के आईटी मंत्रियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ‘वर्क फ्रॉम होम’ के मानदंडों में छूट के लिए डीओटी की समय सीमा को 30 अप्रैल से बढ़ाकर 31 जुलाई 2020 तक कर देगी। उन्होंने राज्यों से भारतनेट योजना का समर्थन करने के लिए कहा और उनसे अनुरोध किया कि एक मजबूत दूरसंचार नेटवर्क के विकास को बढ़ावा देने के लिए मुद्दों को सही दिशा में ले जाने के बार में सोचें। उन्होंने निर्देश दिया कि आरोग्य सेतु ऐप को राज्यों में जिला स्तर के अधिकारियों तक ऑनलाइन उपलब्ध कराया जाए। मंत्री ने घोषणा की कि ऐसा ही एक सोल्यूशन फीचर फ़ोन यूजर के लिए भी बनाया जा रहा है और उसे जल्द ही लांच किया जाएगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय ने अस्पतालों में कोविड-19 के परीक्षण एवं क्वारंटाइन सुविधाओं तथा उपचार के लिए बने केंद्रों में दिव्यांगजनों के पहुंचने के लिए बुनियादी भौतिक सुविधाएं सुनिश्चित करने के लिए राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखा

सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को लिखे एक पत्र में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के तहत दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग (डीईपीडब्ल्यूडी) की सचिव ने कहा कि इस महामारी के प्रभाव को कम करने और आवश्यकतानुसार चिकित्सीय उद्देश्यों से धारण क्षमता बढ़ाने के लिए कई कोविड–19 केंद्रों को रोकथाम इकाइयों (कन्टेनमेंट यूनिट्स), अलगाव उपचार केंद्रों (आइसोलेशन ट्रीटमेंट सेंटर्स) एवं जांच प्रयोगशालाओं (टेस्टिंग लैब) के रूप में चिन्हित किया गया है। वर्तमान संकट दिव्यांगजनों के लिए न केवल उनकी अपेक्षाकृत कम/सीमित प्रतिरोधी क्षमता की वजह से बल्कि कोविड से जुड़े इंतजामों के तहत मुहैया कराये जाने वाले भौतिक वातावरण और परिवेश में उनके लिए पहुंच-योग्य सुविधाओं की अनुपलब्धता के कारण भी अधिक बड़ा खतरा प्रतीत होता है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

प्रधानमंत्री और कनाडा के प्रधानमंत्री के बीच टेलीफोन पर बातचीत

प्रधानमंत्री ने कनाडा के प्रधानमंत्री महामहिम जस्टिन ट्रूडो से टेलीफोन पर बातचीत की। दोनों नेताओं ने कोविड-19 वैश्विक महामारी के बारे में मौजूदा वैश्विक स्थिति पर चर्चा की। उन्होंने वैश्विक एकजुटता एवं सहयोग, आपूर्ति श्रृंखलाओं को बनाए रखने और सहयोगी अनुसंधान गतिविधियों के महत्व पर सहमति जताई। प्रधानमंत्री ने कनाडा में मौजूद भारतीय नागरिकों, विशेषकर भारतीय छात्रों को दी जाने वाली सुविधा एवं सहायता के लिए कनाडा के प्रधानमंत्री का धन्यवाद किया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

लॉकडाउन के दौरान पिछले वर्ष की तुलना में इस बार निजी खाद्यान्न ढुलाई में बड़ी वृद्धि

25 मार्च से 28 अप्रैल, 2020 तक लॉकडाउन के दौरान भारतीय रेल द्वारा निजी खाद्यान्न के 7.75 लाख टन (303 रेक) से अधिक की ढुलाई की गई जबकि पिछले वर्ष की समान अवधि में लगभग 6.62 लाख टन (243 रेक) की ढुलाई की गई थी। भारतीय रेल  खाद्यान्न जैसे कृषि उत्पादों के समय पर उठाव और उनकी निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए सभी प्रयास कर रही है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से फिक्की और उद्योग के प्रमुख सदस्यों के साथ विचार-विमर्श किया

केंद्रीय एफपीआई मंत्री ने उद्योग के सदस्यों से किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए खाद्यान्न और फल व सब्जियां खरीदने हेतु आगे आने का आग्रह किया। केंद्रीय मंत्री ने उद्योग  सदस्यों को मंत्रालय से आवश्यक समर्थन का आश्वासन दिया और उन्हें किसी भी सहायता के लिए टास्क फोर्स के संपर्क में रहने की सलाह दी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

प्रथम वर्चुअल पीटर्सबर्ग जलवायु संवाद में भारत ने 30 देशों के साथ जलवायु परिवर्तन से संबंधित मामलों पर विचार-विमर्श किया

पीटर्सबर्ग जलवायु संवाद के ग्यारहवें सत्र में भारत ने 30 अन्य देशों के साथ सामूहिक लचीलेपन को संवर्धित करने और जलवायु परिवर्तन कार्रवाई को उत्प्रेरित करते हुए तथा विशेष तौर पर असहाय लोगों की भी सहायता करते हुए कोविड-19 के बाद अर्थव्यवस्थाओं और समाजों में नई जान डालने की चुनौती से निपटने के तरीकों और साधनों पर विचार-विमर्श किया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

श्रम मंत्रालय ने सभी मुख्य सचिवों से अनुरोध किया कि वे कोविड-19 के कारण नियोक्ताओं को कर्मचारियों को बर्खास्त न करने और वेतन न काटने की सलाह दें: पीआईबी फैक्ट चेक समाचार की पुष्टि करता है

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

डॉ. हर्षवर्धन ने लायंस क्लब इंटरनेशनल के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस की

कोविड-19 से उबरने में भारत के दृष्टिकोण को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा, “इस बार हम पांच चरणों की रणनीति पर काम कर रहे हैं : (1) वर्तमान स्थिति को लेकर जागरूकता को कायम रखना, (2) सतर्कतापूर्ण और सक्रिय रणनीति, (3) निरंतर बदलते परिदृश्य में क्रमिक प्रतिक्रिया, (4) सभी स्तरों पर अंतर-क्षेत्रीय समन्वय, और अंतिम लेकिन सबसे महत्वपूर्ण (5) इस बीमारी से लड़ाई में एक जनांदोलन तैयार करना।”

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

देश भर में स्वयं सहायता समूहों द्वारा एक करोड़ से अधिक फेस मास्क तैयार किये गये

देश भर में विभिन्न स्वयं सहायता समूहों द्वारा एक करोड़ से अधिक फेस मास्क बनाये गये हैं। यह आवास और शहरी कार्य मंत्रालय की डीएवाई -एनयूएलएम फ्लैगशिप योजना के तहत कोविड-19 से लड़ने के लिए स्वयं सहायता समूहों के अथक प्रयास, सकारात्मक ऊर्जा और एकजुट संकल्प को दर्शाता है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

मानसून के लिए तैयार है जल शक्ति अभियान

 ‘जल शक्ति अभियान’ अपने विभिन्न घटकों के माध्यम से वर्तमान स्वास्थ्य संकट से उबरने और ग्रामीण अर्थव्यवस्था को प्रोत्साहन देने के लिए पूरी तरह तैयार है। इस साल कोविड-19 संकट और ग्रामीण क्षेत्रों में भारी श्रम बल की उपलब्धता को देखते हुए आगामी मानसून के मद्देनजर अभियान के तहत तैयारियां शुरू कर दी गई हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

स्मार्ट सिटी कल्याण-डोंबिवली का कोविड-19 डैशबोर्ड अब आम जनता के लिए खुला

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

पर्यटन मंत्रालय ने 'देखो अपना देश' कार्यक्रम के तहत "भारत एक महाकाव्य- असंख्य कहानियों का देश" विषय पर 11वां वेबिनार आयोजित किया 

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

एचसीएआरडी नामक रोबोट कोविड-19 स्वास्थ्य योद्धाओं की सहायता करेगा

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां

चंडीगढ़ : पॉजिटिव मामलों में बढ़ोतरी के मद्देनजर संघ शासित क्षेत्र चंडीगढ़ के सलाहकार ने कहा कि महामारी पर रोकथाम के लिए सेक्टर 26 और सेक्टर 30-बी में बापूधाम कॉलोनी जैसे इलाकों में पूरी ऊर्जा और संसाधन लगाए जाने की जरूरत है। क्षेत्र को सील किए जाने के अलावा स्थानीय स्वयंसेवकों और नेताओं की सहायता से स्थानीय नागरिकों के बीच सामाजिक दूरी का पालन सुनिश्चित करने की दिशा में भी प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में सामाजिक दूरी के मानदंडों का उल्लंघन करने वाले लोगों की खोज के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे और ड्रोन फोटोग्राफी की जाएगी। पुलिस नियमित रूप से क्षेत्र में पेट्रोलिंग भी करेगी, जिससे कर्फ्यू के आदेशों का सख्ती से पालन सुनिश्चित हो सके।

पंजाब : गांवों में महिला स्वयं सहायता समूहों के सदस्य कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में व्यापक स्तर पर योद्धा के रूप में सामने आए हैं। ग्रामीण विकास विभाग, पंजाब के माध्यम से एसएचजी द्वारा सामान्य प्रशासन, पुलिस और पंचायतों के लिए भी मास्क, एप्रन और दस्ताने बना रहे हैं। पंजाब सरकार के आईटीआई विद्यार्थी लॉकडाउन के दौरान मास्क बनाने में शीर्ष पर रहे हैं।

हरियाणा : मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा की गई सूचना प्रौद्योगिकी से संबंधित पहलों ने कोविड-19 महामारी के दौरान सहायक और खरीद सेवाओं को बेहतर बनाने में अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने संकट में फंसे लोगों को ई-पीडीएस के माध्यम से डिस्ट्रेस राशन टोकन जारी किए हैं, जिससे उन्हें तीन महीने के लिए मुफ्त राशन उपलब्ध कराया जाएगा।

हिमाचल प्रदेश : राज्य सरकार ने 5,000 से ज्यादा हिमाचलियों को सहायता देने के साथ ही देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे हिमाचलियों तक पहुंचने के लिए कई कदम उठाए हैं। इन लोगों ने हेल्पलाइन नंबरों और ई-मेल के माध्यम से सरकार से संपर्क किया था। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ने उन सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र भी लिखा, जहां बड़ी संख्या में हिमाचली फंसे हुए हैं। पत्र के माध्यम से हिमाचलियों को जरूरी सहायता उपलब्ध कराने का अनुरोध किया गया है।

केरल : राज्य ने कोविड-19 महामारी के मद्देनजर सरकारी कर्मचारियों के वेतन में कटौती के लिए एक अध्यादेश को स्वीकृति दी है। इससे पहले केरल उच्च न्यायालय ने सरकार के इस आदेश पर स्थगनादेश जारी कर दिया था। सरकार ने सभी सार्वजनिक स्थलों पर फेस मास्क लगाने को अनिवार्य कर दिया है। स्वास्थ्य अधिकारी उस व्यक्ति में संक्रमण का स्रोत पता लगाने में असफल रहे हैं, जो कासरगोड में हुई जांच में पॉजिटिव आया था। राज्य के विभिन्न धार्मिक नेताओं ने महामारी से संक्रमित सभी लोगों के लिए 3 मई को एक संयुक्त प्रार्थना सभा के आयोजन का अनुरोध किया है। राज्य में कल तक कुल 485 पुष्ट मामले, सक्रिय मामले 123, जबकि उपचार के बाद ठीक होने वाली संख्या 359 है।

तमिलनाडु : चेन्नई में खाने की डिलीवरी करने वाला एक कर्मचारी कोविड-19 पॉजिटिव पाया गया है, जिसके पिता की संक्रमण से मृत्यु हो गई थी। तमिलनाडु में सभी चावल कार्डधारकों को तीन महीने के लिए दोगुनी मात्रा में मुफ्त चावल मिलेंगे। तमिलनाडु की विदेश में बसे कामगारों को वापस लाने के लिए पोर्टल शुरू करने की योजना है। चेन्नई कॉरपोरेशन ने शहर में मौजूद सभी केन्द्र, राज्य और आवश्यक सेवा संस्थानों को अपने कार्यालयों को दिन में दो बार कीटाणुमुक्त किए जाने के आदेश जारी किए हैं। कल तक कुल पुष्ट मामले: 2048, सक्रिय मामले : 902, मृत्यु : 25, डिस्चार्ज : 1128। चेन्नई से अधिकतम 673 मामले सामने आ चुके हैं।

कर्नाटक : आज 9 नए मामले सामने आए, जिनमें से 8 कलबुर्गी और एक बेलागावी से थे। इस प्रकार राज्य में कुल मामलों की संख्या 532 तक पहुंच गई है। अभी तक 20 लोगों की मृत्यु हो चुकी है और 215 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया है।

आंध्र प्रदेश : पिछले 24 घंटों में 73 नए मामले सामने आए, जिससे कुल पुष्ट मामलों की संख्या 1,332 तक पहुंच गई, जिसमें 1,014 सक्रिय मामले, उपचार के बाद 287 लोग ठीक हो गए, जबकि 31 लोगों की मृत्यु हो गई। राज्य सरकार ने सभी सरकारी विभागों, बैंकों, ठेका कर्मचारियों, मीडिया कर्मचारियों, कारोबारियों और परिवहन वाहनों के चालकों को आरोग्यसेतु ऐप डाउनलोड करने के निर्देश जारी किए हैं, जिससे वायरस के प्रसार पर रोक लगाई जा सके। जिलाधिकारियों को 3 मई को लॉकडाउन हटाए जाने की स्थिति में नियंत्रण क्षेत्रों के लिए एक रणनीति बनाने का परामर्श दिया है। पॉजिटिव मामलों में अग्रणी जिले – कुरनूल (343), गुंटूर (283), कृष्णा (236)।

तेलंगाना : स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि तेलंगाना ने पड़ोसी राज्य आंध्र प्रदेश की तुलना में काफी कम परीक्षण कराए हैं, लेकिन उन्होंने कहा कि पॉजिटिव मामलों की संख्या में कमी को देखते हुए व्यापक स्तर पर परीक्षण की कोई जरूरत नहीं है। बुधवार को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), हैदराबाद में प्रवासी कामगारों की हिंसा के चलते दो पुलिसकर्मी घायल हो गए और एक पुलिस वाहन क्षतिग्रस्त हो गआ। कुल मामले: 1009, सक्रिय मामले : 610.

महाराष्ट्र :  महाराष्ट्र में 728 नए मामलों के सामने के साथ कोविड-19 के सकारात्मक मामलों की संख्या बढ़कर 9,318 के स्तर पर पहुंच गई। राज्य में इस बीमारी से 369 लोगों की मृत्यु हो चुकी है, वहीं 1,388 लोग उपचार के बाद ठीक हो गए और उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। इसके अलावा महाराष्ट्र राज्य परिवहन निगम ने राज्य के 1,600 विद्यार्थियों को वापस लाने के लिए 70 बसें कोटा, राजस्थान को रवाना कर दी हैं। ये विद्यार्थी वहां कई आईआईटी और अन्य प्रतिस्पर्धी परीक्षा कोचिंग केन्द्रों में अध्ययन कर रहे हैं, जिनके लिए कोटा प्रसिद्ध है।

गुजरात : राज्य में कोविड के 196 मामले सामने आने के साथ गुजरात में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 3,744 तक पहुंच गई है। इनमें से 434 उपचार के बाद ठीक हो गए और 181 लोगों की मृत्यु हो गई।

राजस्थान : बुधवार को राजस्थान में कोरोना वायरस के 29 नए मामले सामने आने के साथ ही राज्य में कुल मामलों की संख्या 2,393 हो गई। अभी तक राज्य में वायरस के चलते 52 लोगों की मृत्यु हो चुकी है, जिसमें से जयपुर में 27 लोगों की जान चली गई। अभी तक 781 लोग उपचार के बाद ठीक हो चुके हैं।

मध्य प्रदेश : 25 नए मामले सामने आने के साथ मध्य प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 2,387 हो गई। इनमें से 377 लोग उपचार के बाद ठीक हो चुके हैं, जबकि वायरस के चलते 120 लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

छत्तीसगढ़ : छत्तीसगढ़ में वर्तमान में कोविड-19 के सक्रिय मामलों की संख्या सिर्फ 4 रह गई है। अभी तक दर्ज 38 मामलों में से 34 का उपचार हो चुका है।

गोवा : गोवा में वर्तमान में कोविड-19 का कोई सक्रिय मामला नहीं है, जहां पूर्व में सिर्फ 7 मामले दर्ज किए गए थे।

अरुणाचल प्रदेश : डीसी, इटानगर ने राजधानी क्षेत्र में स्वाइन फीवर बीमारी के प्रसार की आशंकाओं को देखते हुए सूअर और सूअर के मांस की ढुलाई पर प्रतिबंध लगा दिया है।

असम : असम के स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि कोविड महामारी के चलते उच्च शिक्षा के लिए नई रणनीति बनाना अहम है। इसका रोडमैप तैयार करने के लिए उन्होंने आज पीआर सचिव एवं शिक्षा आयुक्त के साथ ही असम महाविद्यालय प्राचार्य परिषद और असम महाविद्यालय शिक्षक संगठन की बैठक ली।

मणिपुर : कर्फ्यू और लॉकडाउन के आदेश का उल्लंघन किए जाने के कारण कल 784 लोगों को हिरासत में लिया गया। उन पर कुल 1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया।

मिजोरम : मुख्यमंत्री ने कहा कि चार पूर्वोत्तर राज्यों में फंसे मिजोरम के 693 लोगों को 30 अप्रैल से 2 मई के बीच वापस राज्य में लाया जाएगा। सरकार ऐसे लोगों के लिए वाहनों की व्यवस्था करेगी, जिनके पास वाहन नहीं है।

मेघालय : मुख्यमंत्री ने तत्काल ऑनलाइन परामर्श के लिए एनईआईजीआरआईएचएमएस, शिलांग में टेलीमेडिसिन सुविधा का शुभारम्भ किया। इस केन्द्र से दूरदराज के इलाकों में स्थित लोगों को कोविड से संबंधित मामलों के अलावा सामान्य बीमारियों के लिए भी उपचार उपलब्ध कराया जाएग।

नागालैंड : राज्य सरकार ने ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी करने का फैसला किया है। सरकार के आदेश के मुताबिक, सभी ईंधन उत्पादों पर पहले से लागू कर और उपकर के साथ ही कोविड-19 उपकर भी लगाया जाएगा।

सिक्किम : नई दिल्ली के एक अस्पताल में डायलिसिस करा रही सिक्किम की एक महिला जांच में कोविड-19 पॉजिटिव सामने आई है। सिक्किम के मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी तक यह पता नहीं चला है कि वहां कहां से वायरस से संक्रमित हुई। उन्होंने भरोसा दिलाया कि महिला को उचित उपचार मिल रहा है। उन्होंने लोगों से परेशान नहीं होने की अपील की।

त्रिपुरा : सरकार मनरेगा कार्यों के अंतर्गत झूमिया परिवारों को 6 मानव दिवस के लिए 202 रुपये प्रति मानव दिवस और त्रिपुरा में प्रति परिवार 1,212 रुपये देगी।

पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image00528S4.jpg

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image006HQT8.png

***

एएम/एमपी/एसके



(Release ID: 1619476) Visitor Counter : 172