PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 14 MAY 2020 6:55PM by PIB Delhi

 (पिछले 24 घंटे में कोविड-19 से संबंधित जारी प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल है)

 अभी तक कोविड-19 के 78,003 मामले दर्ज किए गए, जिनमें से 26,235 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। इस प्रकार सुधार की दर 33.6 प्रतिशत तक पहुंच गई। 2,549 लोगों की मृत्यु हो गई।

पिछले 24 घंटों में 3,722 नए मामले सामने आए।

पिछले तीन दिन से मामले दोगुने होने में लगने वाला समय 14 दिन के आसपास बना हुआ है।

कोविड-19 के परीक्षण के लिए एक परिष्कृत मशीन सीओबीएएस 6800 स्थापित कर दी गई।

वित्त मंत्री ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारतीय अर्थव्यवस्था को समर्थन देने के लिए आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत दूसरी किस्त के विवरण की घोषणा की।

पीएम केयर्स फंड ट्रस्ट ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई के लिए 3,100 करोड़ रुपये का आवंटन किया:  जिसमें 2,000 करोड़ रुपये वेंटिलेटर खरीदने, 1,000 करोड़ रुपये प्रवासियों को राहत और 100 करोड़ रुपये वैक्सीन के विकास के लिए हैं।

15 दिन से भी कम समय में 800श्रमिक स्पेशलट्रेनों के माध्यम से 10 लाख से ज्यादा यात्री अपने गृह राज्यों के लिए भेजे जा चुके हैं।

डॉ. हर्षवर्धन ने सीओबीएएस 6800 मशीन राष्ट्र को समर्पित की, पिछले तीन दिनों में मामलों के दोगुना होना का समय लगभग 14 दिन हुआ

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) का दौरा किया और सीओबीएएस 6800 मशीन राष्ट्र को समर्पित की। यह ऐसी पहली जांच मशीन है जिसे सरकार ने कोविड-19 के मामलों की जांच के लिए खरीदा है। सीओबीएएस 6800 रोबोटिक्स इनेबल्ड एक अत्याधुनिक मशीन है जो संदूषण के अवसरों तथा स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को होने वाले संक्रमण के जोखिम को न्यूनतम करता है क्यांकि इसे सीमित मानव अंतःक्षेपों के साथ दूर से प्रचालित किया जा सकता है।

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि आज का दिन एक ऐतिहासिक उपलब्धि का दिन है, क्योंकि हमने देश में 500 से अधिक प्रयोगशालाओें में कोविड-19 के लिए लगभग 20 लाख परीक्षण कर लिए हैं। उन्होंने कहा कि यह जानकर प्रसन्नता हुई है कि आज, पिछले तीन दिनों में मामलों के दोगुना होने का समय घटकर 13.9 दिनों पर आ गया है, जबकि पिछले 14 दिनों के दौरान मामलों के दोगुना होने का समय 11.1 दिन था। उन्होंने यह भी कहा कि मृत्यु दर 3.2 प्रतिशत है तथा स्वस्थ होने की दर में और सुधार आया है और आज यह 33.6 प्रतिशत (कल यह 32.83 प्रतिशत थी) है। उन्होंने यह भी कहा कि (कल तक) आईसीयू में 3 प्रतिशत सक्रिय कोविड-19 मरीज हैं, वेंटिलेटर पर 0.39 प्रतिशत और 2.7 प्रतिशत आक्सीजन के सपोर्ट पर हैं। उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटों में 14 राज्यों/ केंद्र शासित प्रदेशों में कोविड-19 का कोई भी मामला सामने नहीं आया है। 14 मई, 2020 तक, देश में कुल 78,003 मामले दर्ज किए गए हैं जिनमें 26,235 व्यक्ति स्वस्थ हो चुके हैं तथा 2,549 लोगों की मृत्यु हो चुकी हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान, 3,722 नए पुष्ट मामले सामने आए हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

कोविड-19 के खिलाफ जंग के लिए पीएम केयर्स फंड ट्रस्‍ट की ओर से 3100 करोड़ रुपये की राशि का आवंटन

पीएम केयर्स (प्राइम मिनिस्‍टर्स सिटीजन असिस्‍टेंस एंड रिलीफ इन इमरजेंसी सिचुएशन्‍स) फंड ट्रस्‍ट ने कोविड-19 के खिलाफ जंग के लिए 3100 करोड़ रुपये का आवंटन करने का फैसला लिया। 3100 करोड़ रुपये में से लगभग 2000 करोड़ रुपये की धनराशि वेंटिलेटर्स की खरीद के लिए निश्चित की जाएगी, 1000 करोड़ रुपये की राशि का उपयोग प्रवासी कामगारों की देख-रेख में किया जाएगा और 100 करोड़ रुपये की राशि वैक्‍सीन के विकास में सहायता के लिए दी जाएगी। देश भर में कोविड-19 के मामलों से निपटने के लिए बुनि‍यादी सुविधाओं में वृद्धि करने हेतु पीएम केयर्स फंड से लगभग 2000 करोड़ रुपये की लागत से 50000मेड इन इंडियावेंटिलेटर्स की खरीद की जाएगी। ये वेंटिलेटर्स कोविड-19 के गंभीर रोगियों के उपचार के लिए समस्‍त राज्‍यों/संघ शासित प्रदेशों में सरकार द्वारा संचालित किए जा रहे कोविड अस्‍पतालों को प्रदान किए जाएंगे। प्रवासियों और गरीबों के कल्‍याण के लिए किए जा रहे मौजूदा उपायों को मजबूती प्रदान करने के लिए राज्‍यों/संघशासित प्रदेशों को पीएम केयर्स फंड से कुल 1000 करोड़ रुपये की एकमुश्‍त सहायता प्रदान की जाएगी। यह राशि राज्‍यों/संघ शासित प्रदेशों के जिला कलेक्‍टरों/नगर आयुक्‍तों को प्रदान की जाएगी, ताकि आवास की सुविधा प्रदान करने, भोजन की व्यवस्था करने, चिकित्सा उपचार प्रदान करने और प्रवासियों के लिए परिवहन की व्यवस्था करने हेतु किए जा रहे उनके प्रयासों को मजबूती प्रदान की जा सके। कोविड-19 वैक्‍सीन को डिजाइन और विकसित करने वालों की सहायता के लिए 100 करोड़ रुपये की राशि पीएम केयर्स फंड से दी जाएगी, ताकि वैक्‍सीन विकास को उत्‍प्रेरित करने के रूप में सहायता दी जा सके। इस राशि का उपयोग प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के निरीक्षण में किया जाएगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारतीय अर्थव्यवस्था को नई गति देने के लिए आत्मनिर्भर भारत अभियानकी दूसरी कड़ी के बारे में विस्‍तृत प्रस्‍तुति दी

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

सरकार रियल एस्टेट सेक्टर में इज़ ऑफ डूइंग बिजनेस सुनिश्चित करते हुए घर खरीदारों के हितों को सुरक्षित रखने के लिए प्रतिबद्ध है

सरकार रियल एस्टेट सेक्टर में इज़ ऑफ डूइंग बिजनेस यानी कारोबार सुगमता को सुनिश्चित करते हुए घर खरीदारों के हितों को सुरक्षित रखने के लिए प्रतिबद्ध है। एक संवाददाता सम्मेलन में केंद्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण की घोषणा के बाद आज घर खरीदारों के हितों की रक्षा करने के उद्देश्य से केंद्र सरकार ने सभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों और उनके रियल स्टेट नियामक प्राधिकरणों को एक एडवाइजरी जारी की है जिसमें कहा गया है कि रेरा (आर ई आर ए) के तहत पंजीकृत सभी रियल एस्टेट परियोजनाओं का पंजीकरण स्वतः 6 महीने के लिए बढ़ा दिया जाए और कोविड-19 महामारी की वजह से यदि जरूरी हुआ तो इसे पुनः अगले 3 महीने तक के लिए बढ़ा दिया जाए। आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने सभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों और उनके संबंधित रियल एस्टेट नियामक प्राधिकरणों को एडवाइजरी जारी करते हुए मौजूदा कोविड-19 महामारी को प्राकृतिक आपदा मानकर "फोर्स मैजियुर" के रूप में विचार करने को कहा है जो रियल एस्टेट परियोजनाओं के नियमित विकास को बुरी तरह प्रभावित कर रहा है। इस उपाय से घर खरीदारों को उनके फ्लैट/घरों की डिलीवरी पाने के अधिकारों का बचाव होगा। हालांकि इसमें कुछ महीनों की देरी होगी लेकिन, इससे परियोजनाओं का निर्माण कार्य सुनिश्चित हो सकेगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

स्त्रोत पर कर कटौती (टीडीएस) और स्त्रोत पर कर संग्रह (टीसीएस) की दर में कमी

कोविड-19 महामारी से उत्पन्न आर्थिक स्थिति से निपटने के लिए करदाताओं को अधिक धनराशि प्रदान करने के लिए, निवासियों को किए गए गैर-वेतनभोगी निर्दिष्ट भुगतानों के लिए स्त्रोत पर कर कटौती (टीडीएस) की दरों को 14 मई 2020 से 31 मार्च 2021 की अवधि के लिए 25 प्रतिशत घटा दिया गया है। इसके अलावा, निर्दिष्ट प्राप्तियों के लिए स्त्रोत पर कर संग्रह (टीसीएस) की दर भी 14 मई 2020 से 31 मार्च 2021 की अवधि के लिए 25 प्रतिशत तक कम कर दी गई है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

भारतीय रेलवे ने 15 दिन से भी कम समय में "श्रमिक स्पेशल" ट्रेनों के जरिये 10 लाख से अधिक यात्रियों को उनके गृह राज्यों में पहुंचाकर महत्‍वपूर्ण उपलब्धि हासिल की

14 मई 2020 तक, देश भर के विभिन्न राज्यों से कुल 800श्रमिक स्पेशलट्रेनें चलाई गई। 10 लाख से अधिक यात्री अपने गृह राज्य पहुंच चुके हैं। यात्रियों को भेजने वाले और उन्‍हें अपने यहां लेने वाले राज्‍य की सहमति के बाद ही रेलवे द्वारा ट्रेनें चलाई जा रही हैं। इन 800 ट्रेनों का परिचालन विभिन्न राज्यों जैसे आंध्र प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, जम्मू और कश्मीर, झारखंड, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, मिजोरम, ओडिशा, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, त्रिपुरा, उत्तर प्रदेश, उत्‍तराखंड और पश्चिम बंगाल में पहुंचने पर समाप्त हुआ।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

भारतीय रेलवे 12.05.2020 से शुरू की गई विशेष ट्रेनों की विभिन्न श्रेणियों के लिए सीमित रूप में प्रतीक्षा सूची टिकट जारी करेगा

भारतीय रेलवे द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि 12.05.2020 से शुरू की गई विशेष ट्रेनों में आरएसी (रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसिलेशन) की कोई व्यवस्था नहीं होगी। इसके अलावा, यह भी निर्णय लिया गया है कि प्रतीक्षा सूची के टिकट अधिकतम सीमा के साथ जारी किए जाएंगे। विशेष ट्रेनों के संबंध में, प्रतीक्षा सूची से संबंधित अन्य नियम लागू होंगे। कोई भी तत्काल/प्रीमियम तत्काल कोटा उपलब्ध नहीं होगा। दिव्यांगजनों, वरिष्ठ नागरिकों, महिलाओं के लिए आरक्षण को मौजूदा निर्देशों के अनुसार लागू किया जाएगा। उपरोक्त परिवर्तन 22 मई, 2020 से शुरू होने वाली ट्रेनों के लिए लागू किए जाएंगे यानी जिसकी बुकिंग 15 मई, 2020 से शुरू होगी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

डॉ. हर्षवर्धन वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 32 वें राष्ट्रमंडल स्वास्थ्य मंत्रियों की बैठक में शामिल हुए

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री, डॉ. हर्षवर्धन ने आज यहां वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राष्ट्रमंडल के स्वास्थ्य मंत्रियों की 32 वीं बैठक में हिस्सा लिया। बैठक का विषय था- राष्ट्रमंडल द्वारा समन्वित रूप से कोविड-19 के लिए प्रतिक्रिया देना।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री ने वेबिनार के माध्यम से देश भर के शिक्षकों के साथ बातचीत की

 

केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक ने आज वेबिनार के माध्यम से देश भर के शिक्षकों के साथ बातचीत करते हुए आचार्य देवो भवका संदेश दिया। मंत्री महोदय ने छात्रों और समाज के बड़े हिस्से तक कोविड-19 से संबंधित जागरूकता फैलाने के लिए सभी शिक्षकों का आभार व्यक्त किया। मंत्री महोदय ने इस वेबिनार के दौरान दो बड़ी घोषणाएं कीं। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि नेट की परीक्षा तिथि जल्दी ही घोषित की जायेगी। उन्होंने यह भी घोषणा की कि जिन शिक्षकों ने नवोदय विद्यालय की भर्ती प्रक्रिया पूरी कर ली है, उन्हें लॉकडाउन के बाद नियुक्ति मिलेगी। उन्होंने सभी शिक्षकों से अपने कर्तव्यों का पालन करने और लॉकडाउन की स्थिति में भी  छात्रों का शैक्षणिक कल्याण सुनिश्चित करने की अपील की।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

लॉकडाउन के दौरान दलहन और तिलहन की खरीद जारी

रबी सीजन 2020-21 के दौरान 277 एलएमटी से भी अधिक गेहूं की आवक हुई, लगभग 269 एलएमटी की खरीद हुई। लॉकडाउन के दौरान पीएम-किसान के अंतर्गत लगभग 9.25 करोड़ किसान परिवारों को 18,500 करोड़ रुपये से ज्‍यादा राशि जारी की गई।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

भारतीय नौसेना द्वारा विकसित नवीन किफायती पीपीई का पेटेंट हो जाने से बड़ी संख्या में इसके उत्पादन का रास्ता खुला

भारतीय नौसेना द्वारा विकसित मेडिकल व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) का बड़ी संख्या में त्वरित उत्पादन की दिशा में बड़ा कदम उठाते हुए रक्षा मंत्रालय के बौद्धिक संपदा सुविधा प्रकोष्ठ (आईपीएफसी) ने विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अधीन उपक्रम राष्ट्रीय अनुसंधान विकास निगम (एनआरडीसी) के सहयोग से सफलतापूर्वक एक पेटेंट फाइल किया गया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

ऑपरेशन समुद्रसेतु- आईएनएस जलाश्व दूसरे चरण के लिए मालदीव लौटा

भारतीय नौसेना का जहाज जलाश्व समुद्र के रास्ते विदेश से भारतीय नागरिकों को स्वदेश लाने के ऑपरेशन समुद्र सेतु का दूसरा चरण शुरू करने के लिए मालदीव की राजधानी माले के लिए लौट चुका है। यह जहाज 15 मई, 2020 की सुबह माले बंदरगाह पर पहुंच जाएगा और मालदीव में भारतीय दूतावास में पहले से पंजीकृत भारतीय नागरिकों को जहाज पर चढ़ाना शुरू कर देगा। आईएनएस जलाश्व अपनी दूसरी खेप में 700 भारतीय नागरिकों को जहाज पर बिठाएगा और 15 मई की रात तक वापस कोच्चि के लिए रवाना हो जाएगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

केवीआईसी स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए आगे आया

खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 'स्थानीय उत्पादों के लिए मुखर हों' और इसे "वैश्विक" बनाने के लिए किए गए आह्वान के प्रति कमर कस ली है। स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए केवीआईसी ने निर्णय लिया है कि प्रत्येक जिले में एन95 मास्क, वेंटिलेटर या उनका सामान, चिकित्सा कर्मचारियों के लिए पीपीई किट, सैनिटाइजर/लिक्विड हैंड वॉश, थर्मल स्कैनर और अगरबत्ती और साबुन के निर्माण से संबंधित कम से एक इकाई स्थापित की जाएगी। यह देश में मौजूदा कोविड-19 के संकट के कारण बढ़ती हुई मांग को पूरा करने के लिए है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

कोविड-19 के दौरान दिव्यांगजनों और बुजुर्गों के सामने आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए डीएसटी सहायक उपकरणों, प्रौद्योगिकियों और तकनीकों का समर्थन करता है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां

महाराष्ट्र : महाराष्ट्र में किसी एक दिन में कोविड-19 के सबसे ज्यादा 1,495 नए मामले दर्ज किए गए और 54 लोगों की मृत्यु हो गई। इस प्रकार कोविड-19 के संक्रमण के कुल मामले 25,922 के स्तर पर पहुंच गए और राज्य में अभी तक कुल 975 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। मुंबई के धारावी में कल कोविड-19 के कुल 66 नए मामले सामने आए, जिससे क्षेत्र में कुल पॉजिटिव मामले बढ़कर 1,028 हो गए। उद्योग मंत्री सुभाष देसाई ने बताया कि राज्य में कुल 65,000 उद्योगों को परिचालन शुरू करने की अनुमति दे दी गई है, जिनमें से 35,000 उद्योग पहले ही उत्पादन गतिविधियां शुरू कर चुके हैं। इनमें कुल 9 लाख से ज्यादा कर्मचारी काम पर लौट चुके हैं। इसके अलावा महाराष्ट्र राज्य परिवहन निगम की बसों से पिछले पांच दिन में लगभग 73,000 प्रवासी कामगारों को उनके राज्यों की सीमाओं तक छोड़ दिया गया है। 42,000 प्रवासियों को श्रमिक एक्सप्रेस ट्रेन सेवाओं के माध्यम से उनके गृह राज्यों के लिए रवाना कर दिया गया है।

गुजरात : 364 नए पॉजिटिव मामले आने के साथ ही गुजरात में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 9,267 के स्तर पर पहुंच गई। कल अकेले अहमदाबाद में ही 292 पॉजिटिव मामले सामने आए। गुजरात सरकार ने लॉकडाउन के बाद राज्य में आर्थिक पुनरोद्धार के उपाय सुझाने के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया है। समिति से दो सप्ताह के भीतर अपनी अंतरिम रिपोर्ट जमा करने के लिए कहा गया है। सीएमओ सचिव अश्विनी कुमार ने कहा कि समिति कोविड-19 के कारण प्रत्येक क्षेत्र को हुए क्षेत्रवार नुकसान का अनुमान देगी और क्षेत्रवार सिफारिशें देगी।

राजस्थान : राजस्थान में कोविड-19 के 66 नए मामले दर्ज किए गए, जिससे राज्य में कोविड-19 के मामलों की कुल संख्या बढ़कर 4,394 हो गई। राज्य में अभी तक 2,575 लोग स्वस्थ हो चुके हैं, जबकि 122 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। इनमें से 28 महिलाएं उपचार के बाद ठीक हो गईं और अपने नवजातों के साथ घर लौट चुकी हैं। राजस्थान सरकार ने छह प्रमुख श्रेणियों में दुकानों और वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों को फिर से खोलने के लिए अनुमति दे दी है। इनमें राजमार्गों पर भोजनालय, मिठाई की दुकानें, ढाबे, हार्डवेयर की दुकानें, निर्माण सामग्री, इलेक्ट्रिक तथा इलेक्ट्रॉनिक्स और ऑटोमोबाइल दुकानें शामिल हैं। भोजनालय और मिठाई की दुकानें सिर्फ सामान घर ले जाने या होम डिलीवरी के लिए ही खोली गई हैं।

मध्य प्रदेश : पिछले 24 घंटों में 187 लोगों के कोरोना वायरस पॉजिटिव आने से राज्य में इसके कुल मरीजों की संख्या 4,173 के स्तर तक पहुंच गई है। अच्छा संकेत यह है कि राजधानी भोपाल में कुल 884 मरीजों में से अभी तक 531 लोग स्वस्थ हो चुके हैं, जिससे 60 प्रतिशत सुधार दर प्रदर्शित होती है। इसी प्रकार अभी तक इंदौर में 45 प्रतिशत, उज्जैन में 48 प्रतिशत, खरगोन में 57 प्रतिशत, धार में 46 प्रतिशत और खंडवा में 48 प्रतिशत मरीज उपचार के बाद स्वस्थ हो चुके हैं। यह राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है।

गोवा : गोवा के कोविड-19 मरीजों का आंकड़ा रातोंरात दोगुना होकर 14 के स्तर पर पहुंच गया, क्योंकि सात नए पॉजिटिव मामले दर्ज किए गए और ये सभी ऐसे लोग हैं जिन्होंने लॉकडाउन की शर्तों में नरमी के बाद सड़क मार्ग से राज्य में प्रवेश किया है। इन सात मरीजों का बृहस्पतिवार की सुबह से ही दक्षिण गोवा में समर्पित कोविड-19 केन्द्र में उपचार किया जा रहा है।

अरुणाचल प्रदेश : मुख्य सचिव ने लोगों से राज्य भर में क्वारंटाइन केन्द्रों का प्रबंधन कर रहे अधिकारियों के साथ सहयोग करने का आह्वान किया। इसके साथ ही लॉकडाउन में नरमी के बावजूद सभी बचाव और सुरक्षा के उपाय पहले की तरह लागू रहेंगे।

असम : असम में मुंबई से आए 7 मरीज और सहायक जो अभी तक क्वारंटाइन में थे, वे कोविड-19 जांच में पॉजिटिव पाए गए हैं। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट के माध्यम से कहा कि राज्य में कुल 86 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 39 को डिस्चार्ज कर दिया गया है, 44 मामले सक्रिय हैं और 2 लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

मणिपुर : मणिपुर में आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, आंगनवाड़ी सहायकों और मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय बढ़ाकर क्रमशः 3,000 रुपये से 4,500 रुपये, 2,250 रुपये से 3,500 रुपये और 1,500 रुपये से 2,250 रुपये कर दिया जाएगा।

मेघालय : मेघालय के विधानसभा अध्यक्ष मेतबाह लिंगदोह ने एक सर्वदलीय बैठक बुलाई थी। सरकार और विपक्ष ने कोविड-19 के खिलाफ प्रभावी लड़ाई के संकल्प पर सहमति जाहिर की।

मिजोरम : मुख्यमंत्री ने कोविड-19 महामारी के बीच एनजीओ, चर्चों, राजनीतिक दलों, ग्राम और स्थानीय निकायों तथा स्थानीय/ग्राम स्तरीय कार्यबलों के साथ लॉकडाउन के बारे में और राज्य की योजना पर विचार-विमर्श के लिए एक परामर्श बैठक बुलाई है।

नागालैंड : नागालैंड में स्थानीय स्तर पर फंसे लोगों की आवाजाही का दूसरा चरण पूरा हो गया। 4 राहत शिविरों में 64 प्रवासी कामगारों को रखा गया है। अन्य 720 दिहाड़ी कामगारों और गरीब लोगों को भोजन उपलब्ध कराया गया है।

सिक्किम : राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने सभी स्वास्थ्य केन्द्रों को कोविड-19 मरीजों के उपचार और क्वारंटाइन के दौरान निकले कचरे के रख-रखाव, उपचार और निस्तारण के दिशा-निर्देशों को सख्ती से लागू करने के लिए कहा गया है।

चंडीगढ़ : लॉकडाउन के कारण चंडीगढ़ में कुछ प्रवासी कामगार, तीर्थयात्री, पर्यटक, विद्यार्थी और अन्य लोग फंसे हुए हैं। इन लोगों की सुचारु आवाजाही के चंडीगढ़ प्रशासन ने उनकी सहज और सुरक्षित यात्रा सुनिश्चित करने के लिए तमाम व्यवस्थाएं की हैं। आईएसबीटी-43 पर दो होल्डिंग केन्द्रों की स्थापना की गई है। होल्डिंग केन्द्रों में लोगों की चिकित्सा जांच की जाती है और पूरी यात्रा के दौरान उन्हें अपने पास स्वास्थ्य प्रमाण पत्र रखना होता है। होल्डिंग केन्द्र पर उन्हें लंच पैकेट दिया जाता है और रेलवे स्टेशन पर कोच के भीतर चढ़ने से पहले ही रात्रि भोजन के साथ पानी की बोतल उपलब्ध कराई जाती है।

पंजाब : पंजाब सरकार प्रवासियों को उनके गृह राज्य भेजने की सुविधा उपलब्ध करा रही है। अभी तक 90 से ज्यादा ट्रेन 1,10,000 प्रवासियों को पंजाब से उनके राज्यों को लेकर रवाना हो चुकी हैं। राज्य सरकार अभी तक इन प्रवासियों को भेजने पर 6 करोड़ रुपये से ज्यादा व्यय कर चुकी है। कोविड-19 के कारण जारी लॉकडाउन में पिछले 50 दिनों से बंद पड़ी खाने की दुकानों विशेषकर हलवाई की दुकानों को अपना पुराना, बासी और सड़ चुकी खाद्य सामग्री को नष्ट करने के लिए कह दिया गया है। इसके अलावा पैकेज खाने को भी नष्ट करने के लिए कहा गया है, जिसकी एक्सपायरी डेट बीत चुकी है।

हरियाणा : मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आशा व्यक्त की कि केन्द्रीय वित्त मंत्री सुश्री निर्मला सीतारमण द्वारा एमएसएमई के लिए 3 लाख करोड़ रुपये के गिरवी मुक्त कर्ज की घोषणा से राज्य की 50 हजार एमएसएमई इकाइयों को लगभग 3,000 करोड़ रुपये का फायदा होगा। इसी प्रकार सुश्री निर्मला सीतारमण ने संकट में फंसे एमएसएमई के लए 20,000 करोड़ रुपये के सब-ऑर्डिनेट कर्ज की घोषणा की, जिससे हरियाणा में लगभग 3,000 इकाइयों को भी फायदा होगा। हरियाणा सरकार ने लॉकडाउन के कारण राज्य में फंसे लोगों को निकालने के लिए 15 मई, 2020 से चुनिंदा रूटों पर विशेष बस सेवा शुरू करने का फैसला किया है। ये बसें सिर्फ हरियाणा के भीतर ही चलेंगी, लेकिन कोविड-19 से गंभीर रूप से प्रभावित क्षेत्रों में उनका परिचालन नहीं होगा।

हिमाचल प्रदेश : मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में राष्ट्र के लिए घोषित 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि राज्य की अर्थव्यवस्था में आत्म-निर्भरता लाने के लिए विभिन्न संस्थानों के माध्यम से भारत में विनिर्मित उत्पादों को बेचने का फैसला किया गया है। उन्होंने कहा कि इससे देश और राज्य में उत्पादन को बढ़ावा मिलेगा।

केरल : कोविड-19 पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आने के संदेह के चलते कांग्रेस के 3 सांसदों और 2 विधायकों को 14 दिन तक क्वारंटाइन में जाने के लिए कहा गया है। वे केरल के लोगों के प्रवेश पर रोक के खिलाफ वायलार में एक सीमावर्ती चौकी पर प्रदर्शन कर रहे थे। पुलिस अधिकारियों, आरडीओ, पत्रकारों सहित 400 से ज्यादा लोगों को क्वारंटाइन में भेजा जा चुका है। वायनाड में मानंथवाड़ी पुलिस थाने के तीन पुलिस अधिकारियों के कोरोना जांच में पॉजिटिव आने के बाद थाने के सभी पुलिस अधिकारियों को क्वारंटाइन में भेज दिया गया है। कल 10 नए मामले सामने आने के बाद राज्य में कोविड संक्रमित मामले बढ़कर 41 हो गए। एक मलयाली नर्स की कुवैत में कोविड-19 के चलते मौत हो गई। कोविड के चलते केरल के 120 लोगों की विदेश में मृत्यु हो चुकी है।

तमिलनाडु : शिक्षा मंत्री ने कहा कि कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षाओं के संबंध में सरकार 19 मई को विद्यार्थियों के परिवहन पर बयान जारी करेगी। राज्य में कोविड देखभाल केन्द्रों के रूप में 30 बिस्तर वाले पीएचसी चुने गए हैं। कल 509 नए मामले सामने आने के बाद तमिलनाडु में कोविड संक्रमित लोगों की संख्या 9,000 से ज्यादा हो गई। अभी तक कुल मामले : 9227, सक्रिय मामले : 6984, मृत्यु : 64, डिस्चार्ज किए गए : 2176। चेन्नई में कुल सक्रिय मामलों की संख्या 5262 है।

कर्नाटक : आज दोपहर 12 बजे तक 22 मामले दर्ज किए गए, जिनमें से बेंगलुरु में 5, बीदर, मांड्या और गदग में 4-4, दावनगेरे में 3 और बगलकोट तथा बेलागावी में 1-1 मामला सामने आया। आज कलबुर्गी में एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई। कोविड के चलते आज दो लोगों की मृत्यु हो गई; जिसमें दक्षिण कन्नड़ में 80 वर्षीय बुजुर्ग महिला और बेंगलुरु में 60 वर्षीय वृद्ध की मृत्यु शामिल है। अभी तक कुल मामले 981 हो चुके हैं। 35 लोगों की मृत्यु हो गई और 456 लोगों को अभी तक डिस्चार्ज किया जा चुका हैं।

आंध्र प्रदेश : राज्य सरकार ने लॉकडाउन के नियमों में और छूट देते हुए नियंत्रण क्षेत्रों और बफर जोन्स को छोड़कर किराना दुकानें खुलने की समय-सीमा बढ़ाते हुए दुकानों को सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक खोले जाने के दिशा-निर्देश जारी किए हैं। राज्य सरकार आरटीसी की विशेष बसों के माध्यम से हैदराबाद में फंसे लोगों को वापस लाने पर विचार कर रही है। पिछले 24 घंटों में 9,256 नमूनों की जांच के बाद 36 नए मामले दर्ज किए गए (इसके अलावा 32 अन्य मामले महाराष्ट्र, ओडिशा और बंगाल से जुड़े प्रवासियों से संबंधित हैं); 50 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया है और एक व्यक्ति की मौत हो गई है। कुल मामलों की संख्या 2,100 हो गई। सक्रिय मामले : 860, स्वस्थ हुए : 1192, मृत्यु : 48। पॉजिटिव मामलों में अग्रणी जिले : कुर्नूल (591), गुंटूर (404) और कृष्णा (351)।

तेलंगाना : फिलीपींस और अमेरिका से 312 लोगों को लेकर दो अन्य उड़ान बृहस्पतिवार को हैदराबाद के राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचीं। कल तक कुल पॉजिटिव मामले बड़कर 1,367 हो गई, 939 लोग स्वस्थ हो गए, सक्रिय मामले 394 हैं और 34 लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य

***

एएम/एमपी/एसके



(Release ID: 1623999) Visitor Counter : 156


Read this release in: English , Urdu , Marathi , Assamese , Manipuri , Bengali , Punjabi , Gujarati , Telugu , Kannada , Malayalam