PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 26 APR 2020 6:16PM by PIB Delhi

 

 

(पिछले 24 घंटे में जारी कोविड-19 से जुड़ी प्रेस विज्ञप्तियां, क्षेत्र अधिकारियों से प्राप्त जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल है)

• अब तक 5804 लोगों का इलाज हो चुका है यानी ठीक होने की दर 21.90 प्रतिशत है। कुल 26,496 लोगों में कोविड-19 पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है जबकि 824 लोगों की मौत हो चुकी है।

• स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि भारत में स्थिति में सुधार हो रहा है क्योंकि हॉटस्पॉट जिले अब गैर-हॉटस्पॉट जिलों में तब्दील हो रहे हैं।

• प्रधानमंत्री ने कहा है कि भारत में कोरोना के खिलाफ लड़ाई जन अभियान है यानी इसमें जनता की सक्रिय भूमिका है; देशवासियों से आग्रह किया कि वे अत्यधिक आत्मविश्वास में न फंसे।

• राज्यों से कहा गया है कि वे किसानों और अन्य की मदद के लिए प्रत्यक्ष विपणन (डायरेक्ट‍ मार्केटिंग) को बढ़ावा दें ताकि वे अपने उत्पाद थोक क्रेता को बेच सकें।    

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय से प्राप्त़ कोविड-19 पर अपडेट

अब तक 5804 लोगों का इलाज हो चुका है यानी ठीक होने की दर 21.90 प्रतिशत है। भारत में अब तक कुल 26,496 लोगों में कोविड-19 पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है जबकि 824 लोगों की मौत हो चुकी है। कोविड-19 की तैयारियों के बारे में प्रतिक्रिया जानने के लिए मंत्रिमंडल सचिव ने सभी राज्यों/संघ शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये विस्तृत बातचीत की। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि जिन राज्यों में कोविड-19 के मामलों की संख्या बहुत अधिक है उन्हें लॉकडाउन उपायों के प्रभावी कार्यान्वयन और रोकथाम रणनीति के उपायों पर विशेष ध्यान देना चाहिए। स्वास्थ्य  और परिवार कल्या‍ण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा है कि भारत में स्थिति में सुधार हो रहा है क्योंकि हॉटस्पॉट जिले अब गैर-हॉटस्पॉट जिलों में तब्दील हो रहे हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें -

प्रधानमंत्री ने मन की बात 2.0की 11वीं कड़ी को संबोधित किया

‘मन की बात 2.0’ की 11वीं कड़ी को संबोधित करते हुए, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि कोरोना के खिलाफ भारत की लड़ाई जन अभियान है यानी इसमें जनता की सक्रिय भूमिका है, और लोगों के साथ मिलकर सरकार और प्रशासन इस महामारी का मुकाबला कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश का प्रत्येक नागरिक इस लड़ाई में एक सैनिक है और वे लड़ाई का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्होंने लोगों के संकल्प की सराहना करते हुए कहा कि किस प्रकार जगह-जगह लोग एक दूसरे की मदद करने के लिए आगे आ रहे हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

मन की बात 2.0की 11वीं कड़ी में प्रधानमंत्री के सम्बोधन का मूल पाठ (26.04.2020)

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

लॉकडाउन के दौरान डायरेक्ट मार्केटिंगसे मंडियों में भीड़-भाड़ कम करने और कृषि उपज के समय से विपणन में सहायता मिलती है

भारत सरकार डायरेक्ट मार्केटिंग और उपज का बेहतर मुनाफा सुनिश्चित करने में किसानों की मदद करने के लिए ठोस प्रयास कर रही है। साथ ही विभाग ने कोविड-19 महामारी को देखते हुए कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए मंडियों में एक दूसरे से दूरी बनाकर रखने (सोशल डिस्टेंसिंग) के लिए परामर्श जारी किए हैं। राज्यों से अनुरोध किया गया है कि वे किसानों/किसान समूहों/एफपीओ/सहकारी समितियों की उपज थोक खरीदारों/बड़े खुदरा विक्रेताओं/प्रोसेसरों आदि को बेचने में सुविधा प्रदान करने के लिए ’डायरेक्ट मार्केटिंग’ की अवधारणा को बढ़ावा दें।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

देश में कोविड-19 मामलों का उपचार कर रहे चिकित्सा कार्मिकों के लिए आवश्यक कवरऑल की उत्पादन क्षमता बढ़ा कर प्रतिदिन एक लाख से अधिक की गई

वर्तमान में संचयी उत्पादन लगभग दस लाख कवरऑल इकाइयों का है। इससे कोविड-19 के खिलाफ अग्रिम पंक्ति के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को सुरक्षा प्रदान करने को काफी बढ़ावा मिलेगा। बेंगलुरु ने पीपीई कवरऑल उत्पादन में अगुवाई की, तमिलनाडु में चेन्नई एवं तिरुपुर, पंजाब में फगवाड़ा एवं लुधियाना, एनसीआर में गुरुग्राम एवं नोएडा भी पीपीई कवरऑल उत्पादन के केन्द्र बन गए हैं। सरकार आपूर्ति श्रृंखला को युक्तिसंगत बनाने, बाधाओं को दूर करने एवं निरंतर आपूर्ति बनाये रखने के लिए विभिन्न उद्योग निकायों एवं विनिर्माताओं के साथ कार्य कर रही है

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

आईआईटी बॉम्बे के छात्रों के नेतृत्व में टीम ने कम लागत वाला मैकेनिकल वेंटिलेटर रुहदारविकसित किया

आईआईटी बॉम्बे, एनआईटी श्रीनगर और इस्लामिक यूनिवर्सिटी ऑफ़ साइंस एंड टेक्नोलॉजी (आईयूएसटी), अवंतीपोरा, पुलवामा, जम्मू और कश्मीर के इंजीनियरिंग छात्रों की एक टीम रचनात्मक व्यक्तियों का एक ऐसा समूह है जो वेंटिलेटर की आवश्यकता संबंधी समस्या को हल करने के लिए सामने आया। इस टीम ने स्थानीय स्तर पर उपलब्ध सामग्रियों का उपयोग करते हुए कम लागत वाला वेंटिलेटर बनाया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

वाट्सऐप पर सरकार के कोरोना सहायता योजना के अंतर्गत 1000 रुपये देने का दावा फर्जी

पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी) की तथ्यों  की जांच करने वाली इकाई ने एक ट्वीट के माध्यम से स्पष्ट किया कि भारत सरकार तथाकथित कोरोना सहायता योजना के अंतर्गत किसी भी व्यक्ति को 1,000 रुपये की सहायता नहीं दे रही है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

केन्‍द्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई का जायजा लेने के लिए पूर्व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ व्यापक विचार-विमर्श किया

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

पर्यटन मंत्रालय की वेबिनार श्रृंखला "देखो अपना देश" के तहत "अवध की सैर-लखनऊ का गौरव" विषय के माध्यम से पाक-कला पर्यटन की संभावनाओं को दर्शाया गया

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

पीआईबी के क्षेत्र अधिकारियों से प्राप्त जानकारियां

असम: असम में लॉकडाउन के बाद से 18 जिलों के 28 रेलवे इकाइयों में चावल, नमक, चीनी, आलू, प्याज इत्यादि आवश्यक सामान उतारा गया है। औसतन हर दिन लगभग 1,500 ट्रकों का इस्तेमाल किया जा रहा है और अब तक 357 रेलवे रेक को उतारने के लिए राज्य में ट्रकों ने 44,624 ट्रिप किए हैं। लॉकडाउन के बीच खाद्य स्टॉक की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए, एफसीआई के 179 रेकों को समूचे पूर्वोत्तर के लिए 4.7 एलएमटी चावल और 0.21 एलएमटी गेहूं के साथ असम लाया गया है। इनमें से 3.75 एलएमटी चावल और 0.14 एलएमटी गेहूं असम के लिए है। स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट किया कि 8 मरीजों को आज अस्पताल से छुट्टी दे दी गई क्योंकि उनकी कोविड-19 की लगातार जांच के नैगेटिव परिणाम आ रहे थे। इन्हें 14 दिनों तक निगरानी में रखा जाएगा।

मणिपुर: मणिपुर में, लॉकडाउन हटाए जाने के बाद लौटने वालों की जिलेवार संख्या का आकलन करने की प्रक्रिया चल रही है। उनके लिए क्वारंटाइन वाले स्थानों की भी पहचान की जा रही है।

मिजोरम: राज्य कल्याण बोर्ड ने राज्य में लॉकडाउन के बीच 49,598 दिहाड़ी मजदूरों को प्रत्येक को 3000 रुपये वितरित किए।

नागालैंड: नागालैंड में लॉकडाउन के उल्लंघन के लिए 469 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 5 मामले सोशल मीडिया के उल्लंघन के हैं। इसके साथ-साथ 335 वाहनों को जब्त कर लिया गया है। नागालैंड सरकार फंसे हुए नागरिकों को अब तक1.63 करोड़ रुपये वितरित कर चुकी है। सत्यापित आवेदनों की कुल संख्या 9,800 तक पहुंच चुकी है।

चंडीगढ़: संघ शासित चंडीगढ़ में अब तक जरूरतमंदों और गरीबों के बीच 21.5 लाख भोजन के पैकेट वितरित किए जा चुके हैं। चंडीगढ़ प्रशासक ने उपरोक्त सहयोग के लिए सभी गुरुद्वारों, गैर सरकारी संगठनों/स्वयं सहायता समूहों के प्रति आभार व्यक्त किया है। शहर में कोविड-19 के प्रबंधन की निगरानी के लिए एक नया नियंत्रण और कमान केन्द्र खोला गया है। अधिकारी नियंत्रण कक्ष में सब्जियों, फलों, दूध, ब्रेड और स्वच्छता कार्यों के वितरण की निगरानी कर सकेंगे।

पंजाब: सरकार ने कोविड-19 महामारी को ध्यान में रखते हुए आवासीय/वाणिज्यिक और अस्पताल में एयर-कंडीशनिंग के उपयोग के बारे में परामर्श जारी किया है। पंजाब सरकार ने सी-डैक मोहाली द्वारा विकसित ई-संजीवनी-ऑनलाइन ओपीडी (डॉक्टर से मरीज), एकीकृत टेलीमेडिसिन समाधान शुरू किया है। यह विशेष स्वास्थ्य सेवाओं की पहुंच को ग्रामीण क्षेत्रों और किसी भी अलग-थलग पड़े समुदाय के लोगों तक पहुंचाता है। यह नागरिकों को वीडियो-कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये विशेषज्ञ डॉक्टरों के एक नेटवर्क से जुड़ने और घर बैठकर ही सामान्य स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं के लिए चिकित्सा उपचार और सलाह प्राप्त करने का एक मंच प्रदान करता है।

हरियाणा: मुख्यमंत्री ने एक मोबाइल एप्लीकेशन ‘हेल्पमी’ शुरू किया, जिसका उद्देश्य टेलीमेडिसिन, आने-जाने के लिए पास, खरीद में सहायता, सूखे राशन और पके हुए भोजन की डिलीवरी, शिक्षा सामग्री सहित सभी आवश्यक सेवाएं एक ही एप्लीकेशन में प्रदान करना है। राज्य में पिछले पांच दिनों में 130707 किसानों से कुल 19.26 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदा जा चुका है।

हिमाचल प्रदेश: सरकार ने 26.04.2020 से रोजाना सुबह 5.30 से 7 बजे तक कर्फ्यू में ढील देने का फैसला किया है ताकि वरिष्ठ नागरिक और आम जनता सुबह की सैर के लिए जा सके। राज्य सरकार ने सोमवार से कर्फ्यू में मौजूदा तीन घंटों के बजाय चार घंटे की छूट देने का फैसला किया है। इससे न केवल एक दूसरे से दूरी सुनिश्चित हो सकेगी, बल्कि दुकानों में कम से कम भीड़ होगी। राज्य सरकार ने खनन स्थलों से परियोजना क्षेत्रों तक निर्माण सामग्री ले जाने वाले ट्रकों को एक जिले से दूसरे जिले में जाने की अनुमति देने का फैसला किया है। सरकार ने निर्माण स्थलों के लिए सड़क निर्माण मशीनरी को भी एक जिले से दूसरे जिले में ले जाने की भी अनुमति दे दी है।

केरल: मुख्यमंत्री ने अंतर-राज्यीय सीमाओं पर लॉकडाउन को सख्ती से लागू करने का निर्देश दिया है। राज्य में की जाने वाले जांचों की संख्या बढ़ा दी गई है जो अभी औसतन 500 से कम है। एनओआरकेए (अप्रवासी केरलवासियों के मामले) रूट्स, सरकार का एक उपक्रम, विदेश में फंसे उन लोगों के लिए पंजीकरण शुरू करेगा जो राज्य में वापस लौटना चाहते हैं; राज्य उन लोगों के लिए क्वायरंटाइन की अधिक सुविधाओं का पता लगाएगा। कुल पुष्टे मामले: 457, सक्रिय मामले: 116, इलाज होने के बाद स्वस्थ: 338, निगरानी में: 21044; अब तक 22360 नमूनों की जांच की जा चुकी है।

तमिलनाडु: वायरस फैलने से रो‍कने के लिए आज से तमिलनाडु के 5 शहरों में पूरी तरह लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। तमिलनाडु के कोयम्बटूर जिले में दो पुलिस थानों को छह जवानों में कोविड-19 पॉजिटिव की पुष्टि के बाद उन्हें बंद कर दिया गया। चेन्नई नगर निगम ने कोविड-19 मामलों की सूचना के बाद कोयम्बेडु बाजार में जांच कर्मियों की संख्या बढ़ाई है। कल तक कुल मामलों की संख्यां: 1821, सक्रिय मामले: 835;  मृत्यु: 23, इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी: 960. चेन्नई में अधिकतम 495 मामले ।

कर्नाटक: बेंगलुरु में 45 साल की गर्भवती महिला की मौत के बाद कर्नाटक में कोविड के कारण 19वीं मौत दर्ज की गई है। राज्य सरकार के आंकड़ों से पता चलता है कि नए कोविड मामलों के एक महत्वपूर्ण हिस्से में बीमारी के कोई लक्षण नहीं दिखाई दिए हैं। कुल मामले: 501, मृत्यु: 19, इलाज के बाद 177 लोग स्वस्थ हो गए।

आंध्र प्रदेश: पिछले 24 घंटों में 81 नए मामले दर्ज किए गए, जिसके बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या: बढ़कर 1097 तक पहुंच गई है। सक्रिय मामले: 835, इलाज के बाद स्वस्थ‍ : 231, मौतों की संख्या 31 है। कुर्नूल, गुंटूर, कृष्णा जिलों में लागू लॉकडाउन के लिए कड़े उपय किए गए हैं क्योंकि इन जिलों में पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़ रही है। श्रीकाकुलम जिले के पथपटनम शहर को पूरी तरह से सील कर दिया गया है; 3 पॉजिटिव मामलों के सभी प्राथमिक संपर्कों की पहचान की जा रही है। पॉजिटिव मामलों के अग्रणी जिले: कुरनूल (279), गुंटूर (214), कृष्णा (177)।

तेलंगाना: पीपीई किट की कमी का सामना कर रहे राज्य के, खिलौना निर्माताओं ने अब  इन्हें विशाखापत्तनम एसईजेड में बनाने का फैसला किया है। लगभग सात लाख आबादी वाला गडवाल जिला अब कोविड के हॉटस्पॉट में से एक है। जिले से लगभग 45 मामले सामने आए हैं और रोजाना लगभग एक या दो मामले जुड़ रहे हैं। राज्य से रिपोर्ट किए गए मामलों की कुल संख्या 990 है।

पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य

***

एएम/केपी/एसके



(Release ID: 1618553) Visitor Counter : 257