कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन मंत्रालय

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कोविड-19 के खिलाफ भारत की जंग का जायजा लेने के लिए पूर्व नौकरशाहों के साथ व्‍यापक विचार विमर्श किया

Posted On: 25 APR 2020 6:37PM by PIB Delhi

केन्द्रीय पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) एवं प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत, पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष राज्य मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह ने आज कोविड-19 के खिलाफ भारत की जंग और लॉकडाउन पश्‍चात एक्जिट प्‍लान के रास्‍ते तलाशने के बारे में पूर्व नौकरशाहों के साथ व्‍यापक विचार विमर्श किया।

सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारियों श्री सुधीर भार्गव, श्री राम सुंदरम, श्री राकेश कुमार गुप्ता, श्री सत्यानंद मिश्रा, श्री पी.पन्नीरवेल और श्री के वी इपेन, और पूर्व आईआरएस अधिकारियों सुश्री संगीता गुप्ता, सुश्री शीला सांगवान के साथ एक-डेढ़ घंटे की वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान डॉ.जितेंद्र सिंह ने उन्हें महामारी से निपटने के लिए सरकार द्वारा प्रभावी तरीके से किए गएअब तक के प्रयासों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारत ने इस महामारी पर काबू पाने के लिए अपने अग्रसक्रिय उपायों के माध्यम से दुनिया के कई उन्‍नत देशों से बेहतर प्रदर्शन किया है।

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image001136S.jpg

 

अधिकारियों ने महामारी को रोकने के लिए विभिन्न उपायों के माध्यम से किए गए सरकार के प्रयासों की सराहना की और अर्थव्यवस्था को पुन: पटरी पर लाने के लिए संभावित लॉकडाउन पश्‍चात एक्जिट प्‍लान के बारे में भी अपने विचार साझा किए। वीडियो कॉन्‍फ्रेंस में हुए विचार विमर्श के दौरान अधिकारियों ने चरणबद्ध रूप से लॉकडाउन समाप्‍त करने, प्रशासन में प्रौद्योगिकी का अधिक उपयोग करने  अर्थात ई-ऑफिस, विटामिन-सी के सेवन के जरिए प्रतिरक्षा बढ़ाने के महत्‍व, अर्थव्यवस्था में तेजी लाने के लिए राजकोषीय प्रोत्साहन, गरीबों को वित्तीय सुरक्षा, शैक्षणिक वर्ष का उपयोग करने के लिए अधिक ऑनलाइन पाठ्यक्रम और परीक्षा शुरू करने, प्रवासी कामगारों को उनके मूल स्‍थानों तक पहुंचने में सहायता करने, मेक इन इंडिया अवधारणा को प्रोत्‍साहन देते हुए स्वदेशी तकनीक से वैक्सीन और परीक्षण किट के  विकास जैसे मामलों को भी रेखांकित किया।

डॉ.जितेंद्र सिंह ने इस विषय पर बहुमूल्य सुझाव देने के लिए नौकरशाहों का आभार प्रकट किया और कहा कि कोरोना महामारी के खतरे से लड़ने के लिए सभी वर्गों से ज्ञान प्राप्त करने के लिए भविष्य में भी इस तरह का सम्‍पर्क जारी रहेगा।

*****

एएम/आरके/डीए
 



(Release ID: 1618265) Visitor Counter : 107