PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 15 JUL 2020 6:27PM by PIB Delhi

(पिछले 24 घंटे में जारी कोविड-19 से संबंधित प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल हैं)

पिछले 24 घंटों में 20,000 से ज्यादा मरीजों के स्वस्थ होने के साथ सुधार की दर 63.24 प्रतिशत के स्तर पर पहुंच गई।

• स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या 6 लाख के करीब हुई।

• कोविड-19 के सक्रिय मामलों की संख्या सिर्फ 3,19,840 रह गई है।

• भारत में 22 राज्य/केंद्र शासित प्रदेश पहले से ही प्रति दिन दस लाख की आबादी पर 140 से अधिक कोविड जांच कर रहे हैं, जो कि डब्ल्यूएचओ की सलाह से अधिक है।

• केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने आईआईटी दिल्ली द्वारा विकसित दुनिया की सबसे सस्ती कोविड-19 डायग्नोस्टिक किट कोरोश्योर को लॉन्च किया।

• अटल इनोवेशन मिशन ने कोविड-19 समाधान के साथ स्टार्टअप्स की सहायता करने के लिए मंत्रालयों, साझीदारों के साथ टीम बनाई।

Image

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से कोविड-19 पर प्राप्त अपडेट; पिछले 24 घंटों में 20,000 से ज्यादा मरीजों के स्वस्थ होने के साथ सुधार की दर 63.24 प्रतिशत के स्तर पर पहुंच गई; स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या 6 लाख के करीब हुई; कोविड-19 के सक्रिय मामलों की संख्या सिर्फ 3,19,840 रह गई है

पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के मरीजों के स्वस्थ होने की संख्या में बढ़ोतरी देखने को मिली। 20,572 मरीजों के स्वस्थ होने के साथ कोविड-19 से ठीक होने वाले कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 5,92,031 हो गई। सुधार की दर भी बढ़कर आज 63.24 प्रतिशत के स्तर पर पहुंच गई। स्वस्थ होने के मामलों में बढ़ोतरी की मुख्य वजह बड़ी संख्या में परीक्षण, समयबद्ध जांच और होम आइसोलेशन या अस्पतालों में सक्रिय चिकित्सा निगरानी में रखकर मरीजों का प्रभावी प्रबंधन रहीं। अब वास्तविक सक्रिय मामलों की संख्या महज 3,19,840 के स्तर पर बनी हुई है। वे सभी चिकित्सा देख-रेख में हैं। होम आइसोलेशन के नियम एवं मानदंडों के साथ ही ऑक्सीमीटरों के उपयोग से अस्पतालों पर दबाव बनाए बिना स्पर्शोन्मुख या हल्के लक्षण वाले लोगों की जांच में सहायता मिली है। स्वस्थ होने और सक्रिय मामलों के बीच का अंतर लगातार बढ़ रहा है। यह आज 2,72,191 के स्तर पर है। स्वस्थ मामलों की संख्या, सक्रिय मामलों की तुलना में 1.85 गुना है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

डब्ल्यूएचओ की प्रति दिन दस लाख की आबादी पर 140 कोविड जांच की सलाह, भारत में 22 राज्य/केंद्र शासित प्रदेश पहले से ही प्रति दिन दस लाख की आबादी पर 140 कोविड जांच कर रहे हैं; प्रति दस लाख की आबादी पर जांच का आंकड़ा 8994 से अधिक है

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोविड-19 के संदर्भ में "सार्वजनिक स्वास्थ्य और सामाजिक उपायों को समायोजित करने के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य मानदंड पर अपने नोट में संदिग्ध मामलों के लिए व्यापक निगरानी की सलाह दी है। डब्ल्यूएचओ ने सलाह दी है कि देश में प्रति दस लाख की आबादी पर प्रति दिन 140 जांच होनी चाहिए। केन्द्र और राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा किए गए विभिन्न समन्वित प्रयासों के साथ, भारत में 22 राज्य/ केंद्र शासित प्रदेश पहले से ही प्रति दिन दस लाख की आबादी पर 140 से अधिक कोविड जांच कर रहे हैं।

States testing more than 140 per day per million.jpg

मौजूदा समय में देश में सरकारी क्षेत्र की 865 और निजी क्षेत्र की 358 प्रयोगशालाओं के साथ कुल परीक्षण प्रयोगशालाओं की संख्या 1223 है। पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड का पता लगाने के लिए 3,20,161 नमूनों का परीक्षण किया गया है। अब तक परीक्षण किए गए नमूनों की कुल संख्या 1,24,12,664 हो चुकी है। भारत में प्रति दस लाख की आबादी पर परीक्षण की दर लगातार बढ़ रही है। आज यह आंकड़ा 8994.7 को छू चुका है। 14 जुलाई 2020 को, एक ही दिन में 3.2 लाख से अधिक परीक्षण किए गए।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने आईआईटी दिल्ली द्वारा विकसित दुनिया की सबसे सस्ती कोविड-19 डायग्नोस्टिक किट कोरोश्योर को लॉन्च किया

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने आज नई दिल्ली में आईआईटी दिल्ली द्वारा विकसित की गई आरटी-पीसीआर पर आधारित विश्व की सबसे सस्ती कोविड-19 डायग्नोस्टिक किट को डिजिटल माध्यम से लॉन्च किया, जिसे आईसीएमआर और डीसीजीआई द्वारा स्वीकृत किया गया है। श्री पोखरियाल ने कहा कि भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली द्वारा कोविड-19 के लिए विकसित की गई डायग्नोस्टिक किट कोरोश्योर, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के दृष्टिकोण की दिशा में एक कदम है। उन्होंने कहा कि देश को सस्ते और विश्वसनीय परीक्षण की आवश्यकता है जो कि महामारी को नियंत्रित करने में सहायता प्रदान कर सकता है। कोरोश्योर किट का विकास स्वदेशी रूप से किया गया है और यह अन्य किटों की तुलना में बहुत ही सस्ती है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

प्रधानमंत्री ने ‘विश्व युवा कौशल दिवसके अवसर पर युवाओं से कौशल प्राप्त करने, नया कौशल सीखने और कौशल को बढ़ाने का आह्वान किया 

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने विश्व युवा कौशल दिवस और ‘कौशल भारत’ मिशन की पांचवीं वर्षगांठ के अवसर पर आज आयोजित डिजिटल स्किल कॉन्क्लेव के लिए अपने संदेश में युवाओं से कौशल प्राप्त करने, नया कौशल सीखने और कौशल को बढ़ाने का आह्वान किया, ताकि तेजी से बदलते कारोबारी माहौल और बाजार स्थितियों में निरंतर प्रासंगिक बने रहना संभव हो सके। प्रधानमंत्री ने कहा कि यह दुनिया सही मायनों में युवाओं की है क्योंकि उनमें सदैव नए कौशल हासिल करने की व्यापक क्षमता होती है। उन्होंने कहा कि इसी दिन पांच साल पहले शुरू किए गए ‘स्किल इंडिया मिशन’ से कौशल प्राप्त करने, नया कौशल सीखने एवं कौशल को बढ़ाने के लिए एक विशाल अवसंरचना का निर्माण हुआ है और इसके साथ ही स्थानीय एवं विश्व दोनों ही स्तरों पर रोजगार प्राप्त करने के अवसर बढ़ गए हैं। कुशल कामगारों और नियोक्ताओं का खाका (मैपिंग) या विवरण तैयार करने के लिए हाल ही में लॉन्च  किए गए पोर्टल का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इससे घर लौटे प्रवासी श्रमिकों सहित अन्य कामगारों को आसानी से नौकरी पाने में मदद मिलेगी। इसके साथ ही नियोक्ताओं को भी माउस को क्लिक करते ही कुशल कर्मचारियों से संपर्क करने में काफी आसानी होगी। उन्होंने विशेष जोर देते हुए कहा कि प्रवासी श्रमिकों के उत्कृष्ट कौशल से स्थानीय अर्थव्यवस्था को बदलने में भी काफी मदद मिलेगी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

विश्व युवा कौशल दिवस पर प्रधानमंत्री के संबोधन का मूल पाठ

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

15वें भारत-यूरोपीय संघ (आभासी) शिखर सम्मेलन के उद्घाटन अवसर पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र  मोदी का सम्बोधन

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइज़र पर जीएसटी दर के मुद्दे पर स्पष्टीकरण

मीडिया के कुछ भागों में अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइज़र पर जीएसटी दर के मुद्दे पर रिपोर्टें आई हैं। ऐसा कहा गया है कि हैंड सेनिटाइज़र पर 18 प्रतिशत की दर से जीएसटी लिया जा रहा है। सैनिटाइज़र साबुन, एंटी-बैक्टीरियल तरल पदार्थ, डेटॉल आदि जैसे कीटाणुनाशक हैं जिन पर जीएसटी व्यवस्था के तहत 18 प्रतिशत की मानक दर लगती है। विभिन्न वस्तुओं पर जीएसटी की दरें जीएसटी परिषद द्वारा तय की जाती हैं जहां केंद्र सरकार और सभी राज्य सरकारें एक साथ विचार-विमर्श करती हैं और निर्णय लेती हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

अटल इनोवेशन मिशन ने कोविड-19 समाधान के साथ स्टार्टअप्स की सहायता करने के लिए मंत्रालयों, साझीदारों के साथ टीम बनाई

जहां कोविड-19 महामारी और आर्थिक शटडाउन विश्व अर्थव्यवस्था को गहरी चोट पहुंचा रहे हैं, नीति आयोग का प्रमुख कार्यक्रम अटल इनोवेशन मिशन (एआईएम) कोविड-19 के नवोन्मेषी समाधानों के साथ स्टार्टअप्स की सहायता करने तथा कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में और मदद करने के लिए मंत्रालयों, साझीदारों के साथ टीम बनाने के द्वारा देश भर में उद्यमशील भावना को ऊंचा बनाये रखने के लिए पूरी तरह सक्रिय है। इस संबंध में, एआईएम ने कल वर्चुअल कोविड-19 डेमो दिवसों की एक श्रृंखला- जोकि कोविड-19 नवोन्मेषणों के साथ संभावित स्टार्टअप्स की पहचान करने तथा देश भर में सॉल्यूशंस की तैनाती करने तथा उन्हें और बढ़ाने में मदद करने की एक पहल है -  का समन्वय तथा समापन किया। इस पहल को मंत्रालयों, जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद (बीआईआरएसी), जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी), विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी), स्टार्टअप इंडिया, अग्नि सहित अन्य सरकारी निकायों की साझीदारी में लॉन्च  किया गया। उपचारात्मक, बचाव संबंधी तथा सहायता संबंधी समाधानों सहित वर्गों के एक विविध समूह से 1000 से अधिक कोविड-19 संबंधित स्टार्टअप्स के मूल्यांकन के दो दौर किए गए जिसमें से वर्चुअल कोविड डेमो दिवसों के लिए 70 से अधिक स्टार्टअप्स का चयन किया गया। ये स्टार्टअप्स वित्त पोषण, निर्माण क्षमताओं की सुविधा, आपूर्ति श्रृंखला तथा संभार तंत्र और सही वेंडरों और संरक्षकों की पहचान के रूप में सहायता प्राप्त करेंगे।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

श्री पीयूष गोयल ने वैश्विक स्थिरता, सुरक्षा और आर्थिक समृद्धि को बढ़ावा देने में मजबूत साझा हितों की बदौलत भारत-अमेरिका द्विपक्षीय रिश्तों में आई अभूतपूर्व प्रगाढ़ता को रेखांकित किया

भारत-अमेरिका सीईओ फोरम की बैठक 14 जुलाई 2020 को टेलीफोनिक कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आयोजित की गई। इस बैठक की अध्यक्षता वाणिज्य एवं उद्योग तथा रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल और अमेरिका के वाणिज्य मंत्री श्री विल्बर रॉस ने संयुक्त रूप से की। वाणिज्य मंत्री श्री विल्बर रॉस ने विशेषकर कोविड-19 महामारी के इस चुनौतीपूर्ण समय में द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने में भागीदारी एवं पहल करने के लिए वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री श्री गोयल, सह-अध्यक्षों और सीईओ फोरम के सदस्यों का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि यह महामारी फार्मास्युटिकल्स, चिकित्सा उपकरण एवं संबंधित आपूर्ति श्रृंखलाओं (सप्लाई चेन) के क्षेत्र में सहयोग के जरिए दोनों देशों को और करीब लाने का एक अवसर भी है। श्री गोयल ने वैश्विक स्थिरता, सुरक्षा और आर्थिक समृद्धि को बढ़ावा देने में मजबूत साझा हितों की बदौलत भारत-अमेरिका द्विपक्षीय रिश्तों में आई अभूतपूर्व प्रगाढ़ता को फि‍र से रेखांकित किया। उन्होंने दोनों ही देशों की अर्थव्यवस्थाओं में छोटे व्यवसायों के विशेष महत्व और इस सेक्टर में रोजगार एवं कौशल बढ़ाने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने फोरम से कोविड काल के बाद की दुनिया में एक नया मार्ग प्रशस्त करने के कार्य में अग्रणी बनने का आग्रह किया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

सीबीएसई के दसवीं कक्षा के परिणाम घोषित, त्रिवेंद्रम क्षेत्र का पास प्रतिशत सबसे ज्यादा

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने आज दसवीं कक्षा के परिणाम घोषित किए। त्रिवेंद्रम ने 99.28% पास प्रतिशत के साथ सभी क्षेत्रों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। इसके बाद चेन्नई क्षेत्र 98.95% के साथ दूसरे स्थान पर रहा, जबकि बेंगलुरु 98.23% पास प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर रहा। परीक्षा में कुल 18,73,015 परीक्षार्थी उपस्थित हुए, जिनमें से 17,13,121 छात्र पास हुए। इस साल कुल 91.46 प्रतिशत छात्र पास हुए हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

केन्द्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से छह राज्यों के प्रतिनिधियों के साथ गरीब कल्याण रोजगार अभियान की प्रगति की समीक्षा की

केन्द्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से छह राज्यों के ग्रामीण विकास मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ गरीब कल्याण रोजगार अभियान की प्रगति की समीक्षा के लिए एक बैठक की। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 20 जून, 2020 को शुरू किया गया गरीब कल्याण रोजगार अभियान बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड, मध्य प्रदेश, ओडिशा और राजस्थान के 116 जिलों में चलाया जा रहा है। यह अभियान 125 दिन तक जारी रहेगा और इसमें 11 विभिन्न मंत्रालयों के अंतर्गत आने वाले 25 कार्यों को पूरा करने के लिए चिन्हित किया गया है। श्री तोमर ने कहा कि भारत सरकार का प्रयास कोरोना संकट के दौरान बड़ी संख्या में घर लौटे मजदूरों के लिए उनके मूल निवास स्थान पर ही रोजगार की व्यवस्था करना है। उन्होंने कहा कि अभियान न केवल प्रवासियों बल्कि प्रभावित ग्रामीण नागरिकों को भी रोजगार प्रदान कर रहा है। इससे उन्हें रोजगार मिलने के साथ ही देश की अर्थव्यवस्था को भी बल मिलेगा और गांवों में सार्वजनिक बुनियादी ढांचे का निर्माण और आजीविका के अवसरों का सृजन होगा। उन्होंने अभियान को और तेज करने तथा अधिकतम बुनियादी ढांचे के निर्माण पर जोर दिया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

श्री किरेन रिजिजू ने राज्यों से एनवाईकेएस, एनएसएस स्वयंसेवकों के माध्यम से आत्मनिर्भर भारत के बारे में जागरूकता फैलाने का आह्वान किया

केंद्रीय युवा मामले एवं खेल मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री किरेन रिजिजू ने कल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 18 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के युवा मामले एवं खेल विभाग के मंत्रियों के साथ-साथ वरिष्ठ अधिकारियों से संवाद किया। इस बैठक का आयोजन दो दिवसीय सम्मेलन के पहले भाग के रूप में किया गया, जिसमें सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा कोविड-19 के पश्चात, खेलों की बहाली और साथ ही साथ राज्य स्तर पर विभिन्न योजनाओं को बढ़ावा देने के लिए नेहरू युवा केंद्र संगठन (एनवाईकेएस) और राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) के ज्यादा स्वयंसेवकों को शामिल करने के लिए आगे की रूपरेखा साझा की जाएगी। बैठक को संबोधित करते हुए श्री रिजिजू ने कहा कि एनवाईकेएस और एनएसएस स्वयंसेवकों ने कोविड-19 के दौरान नागरिक प्रशासन के साथ मिलकर सराहनीय कार्य किया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में स्वयंसेवकों की संख्या 75 लाख है और हमने अनलॉक-2 में उसकी संख्या को बढ़ाकर एक करोड़ करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री पहले ही आत्मनिर्भर भारत की घोषणा कर चुके हैं। जैसे ही देश में स्थिति सामान्य होती है, हमारे स्वयंसेवक समाज के सभी वर्गों जैसे किसानों, छोटे व्यवसायियों और अन्य लोगों के बीच जागरूकता फैलायेंगे, जो कि प्रत्यक्ष लाभ के संदर्भ में हैं और जिन्हें आत्मनिर्भर बनकर प्राप्त किया जा सकता है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां

चंडीगढ़: केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ के प्रशासक ने श्रम सचिव को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि कोई भी व्यक्ति, जो कोविड के इलाज के बाद स्वस्थ्य हो गया है, उसे निजी या सरकारी क्षेत्र में अपनी नौकरी पर लौटने से मना न किया जाये। उन्होंने कहा कि ऐसे लोग बिल्कुल सुरक्षित हैं, क्योंकि उन्हें फिर से कोरोना होने की संभावना नहीं होती है।

पंजाब: 72 घंटे से कम समय के लिए पंजाब आने वाले लोगों को अब अनिवार्य घरेलू क्वारंटाइन से छूट दी गई है, और सीमा चेक पोस्ट पर उन्हें केवल एक औपचारिक वचन-पत्र प्रस्तुत करने की आवश्यकता है। यह रियायत प्रदान करने का निर्णय लिया गया है ताकि परीक्षा देने वाले छात्रों या व्यवसाय के लिए आने वालों को सुविधा प्रदान की जा सके, जो प्रवास के दौरान 72 घंटे से कम समय के लिए राज्य में रहेंगे। इस अवधि के दौरान, वे अपने स्वास्थ्य की निगरानी करने और आसपास के लोगों से दूरी बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध होंगे और कोविड-19 के किसी भी लक्षण से पीड़ित होने के मामले में निगरानी टीम के साथ बातचीत करेंगे और तुरंत 104 पर कॉल करेंगे।

हरियाणा: मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने कोविड-19 चुनौती को एक अवसर के रूप में लिया है और इस दौरान विभिन्न औद्योगिक और आर्थिक सुधारों की शुरुआत की है, जिसके परिणामस्वरूप 60 से अधिक बड़ी कंपनियों ने हरियाणा में निवेश करने में गहरी रुचि दिखाई है। इसके अलावा, राज्य सरकार ने कोरोना के बाद राज्य की अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए एक रोड-मैप तैयार किया है, जिसके तहत कई कार्य समूह गठित किए गए हैं। इन समूहों में विभिन्न क्षेत्रों के प्रमुख व्यक्तियों को शामिल किया गया है।

हिमाचल प्रदेश: मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि सरकार राज्य में कोविड-19 की रोकथाम के लिए प्रभावी कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि अनलॉक की प्रक्रिया के बाद राज्य में व्यापारिक और आर्थिक गतिविधियां शुरू हो गई हैं। अन्य राज्यों से औद्योगिक मजदूरों की वापसी भी शुरू हो गई है। हालांकि, अन्य राज्यों से आने वाले लोगों के कारण कोविड-19 रोगियों की संख्या में वृद्धि को ध्यान में रखते हुए, राज्य सरकार द्वारा औद्योगिक मजदूरों को संस्थागत क्वारंटाइन में या घर पर क्वारंटाइन में रखने का निर्णय लिया गया है। ठेकेदार और औद्योगिक संस्थान इसके लिए पूरी तरह से जिम्मेदार होंगे। कोविड-19 की रिपोर्ट नेगेटिव पाए जाने के बाद उन्हें काम करने की अनुमति दी जायेगी।

महाराष्ट्र: पिछले 24 घंटों के दौरान 6,741 कोविड-19 मामलों की रिपोर्ट के साथ, राज्य में कुल रिपोर्ट किए गए मामलों की संख्या 2,67,655 हो गई है। इनमें से 1.49 लाख मरीज ठीक हो गए हैं, जबकि राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 1,07,963 है। मंगलवार को मुंबई में, 969 नए पॉजिटिव रोगियों की पहचान की गई; 1011 मरीज़ ठीक हुए और 70 रोगियों की मौत हुई। इसके साथ, मुंबई में कोविड -19 मरीजों की संख्या 94,863 हो गई है; ठीक होने वाले रोगियों की कुल संख्या 66,633 है और 5402 लोगों की मौत हुई है। वर्तमान में, शहर में 22,828 सक्रिय रोगी हैं। मुंबई में कोविड-19 मामलों के दोगुने होने की दर कम होकर 52 दिन हो गयी है।

गुजरात: गुजरात से 951 नए मामले सामने आए हैं, राज्य में कुल मामलों की संख्या 43,723 हो गयी है। मंगलवार को 14 लोगों की जान चली गई। महामारी से अब तक कुल 2071 मरीजों की मौत हुई है। सूरत जिले में सबसे अधिक 291 मामले दर्ज किए गए, इसके बाद अहमदाबाद में 154 मामले सामने आये। कोविड-19 मामलों की बढ़ती संख्या को देखते हुए, कई दुकानें, बाजार और औद्योगिक इकाइयां सूरत के वस्त्र और हीरा उद्योग ने स्वेच्छा से अपने कारोबार बंद कर दिए हैं या अपने कामकाज के समय को कम कर दिया है। 35,000 से अधिक दुकानों वाले लगभग 25 कपड़ा बाजारों ने 20 जुलाई तक सम्पूर्ण बंद की घोषणा की है।

राजस्थान: राज्य में आज सुबह 235 नए पॉजिटिव मामलों की रिपोर्ट आयी, इसके साथ कोविड-19 मरीजों की कुल संख्या 25,806 हो गयी है। ठीक होने वाले मरीजों की कुल संख्या 19,199 हो गई है, जबकि सक्रिय मामले केवल 6,080 हैं। राजस्थान में 527 मरीजों की मौत हुई है।

मध्य प्रदेश: मंगलवार को एक दिन में सबसे अधिक 798 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं, राज्य में कोविड-19 रोगियों की संख्या 19,005 हो गयी है। मध्य प्रदेश में 4757 सक्रिय रोगी हैं, ठीक होने वाले रोगियों की संख्या 13,575 है और 673 लोगों की मृत्यु हुई है। सबसे अधिक 190 मरीज ग्वालियर में, उसके बाद भोपाल में 103 मरीज और मुरैना में 98 मरीज मिले।

छत्तीसगढ़: 105 नए पॉजिटिव मरीजों की पहचान की गई है, राज्य में कोविड -19 रोगियों की संख्या 4,379 हो गयी है। सक्रिय रोगियों की वर्तमान संख्या 1,084 है।

गोवा: मंगलवार को 170 नए रोगियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी, राज्य में कोविड-19 रोगियों की संख्या 2,753 हो गयी है। ठीक होने वाले मरीजों की वर्तमान संख्या 1,607 है और कोविड-19 से 18 लोगों की मौत हुई है। सक्रिय रोगियों की संख्या 1,128 है। मुख्यमंत्री श्री प्रमोद सावंत ने बुधवार को कहा कि राज्य में कोविड -19 मामलों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर शुक्रवार से गोवा में सख्त प्रावधानों के साथ तीन दिवसीय लॉकडाउन लागू किया जायेगा। बढ़ते कोविड -19 मामलों को देखते हुए गोवा में रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक 'जनता कर्फ्यू' लगाया जाएगा। केवल चिकित्सा सेवाओं की अनुमति होगी।

अरुणाचल प्रदेश: अरुणाचल प्रदेश में, नोमाई जिला प्रशासन ने कोविड -19 की रोकथाम के लिए आज रात 10 बजे से 23 जुलाई (5 बजे) तक नौ दिन का लॉकडाउन लगाया है। अरुणाचल प्रदेश के स्वास्थ्य सचिव ने कहा है कि ईटानगर में न्यू एमएलए अपार्टमेंट में प्रस्तावित क्वारंटाइन केंद्र, न केवल कोविड-19 रोगियों के लिए बल्कि सभी प्रकार के गंभीर रोगियों के लिए है।

असम: असम के सीएम श्री सर्बानंद सोनोवाल ने आज टेकराजबरी एचएस स्कूल स्थित बाढ़ राहत शिविर में रहने वाले लोगों से मुलाकात की। राज्य के विभिन्न बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में असम सरकार द्वारा स्थापित 198 राहत शिविरों में वर्तमान में लगभग 44,000 लोग रह रहे हैं।

मणिपुर: गठबंधन के द्वारा कोविड-19 पर जागरूकता कार्यक्रम। यूनाइटेड पीपुल्स एडमिनिस्ट्रेटिव काउंसिल के साथ मिलकर काकचिंग जिला समिति द्वारा मल्हीपुर के पल्लेल बाजार में ड्रग्स और अल्कोहल के खिलाफ जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया।

मिजोरम: मिजोरम बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन (एमबीएसई) ने कल कक्षा 12वीं कक्षा के नतीजे घोषित किए। 78.52 फीसदी छात्रों ने परीक्षा पास की।

केरल: केरल उच्च न्यायालय ने आज 31 जुलाई तक राज्य में सभी विरोध प्रदर्शन, हड़ताल और जुलूस पर प्रतिबंध लगा दिया। न्यायालय ने राज्य सरकार से यह भी आग्रह किया कि वह केंद्र द्वारा कोविड -19 महामारी के संबंध में दिए गए निर्देशों को सख्ती से लागू करे। कोझीकोड में बढ़ते कोविड  मामलों के मद्देनजर जिला कलेक्टर ने रविवार को अगले नोटिस तक के लिए पूर्ण लॉकडाउन का आदेश जारी किया है। कोझीकोड के थुनेरी में 53 कोविड  के मामले दर्ज किए जाने के एक दिन बाद - जहां तिहरा लॉकडाउन लागू है- आज 43 और नए मामले सामने आए हैं। दो बंदरगाह भी बंद कर दिए गए हैं। राज्य में आज एक और कोविड मरीज़ की मौत की सूचना मिली, इस प्रकार अब तक  कुल 35 लोगों की मौत हुई है। राज्य ने कल रिकॉर्ड 608 नए मामले दर्ज किए, जिनमें से 396 संपर्क के मामले थे। वर्तमान में, 4,454 रोगी उपचार में हैं और विभिन्न जिलों में 1,81,847 लोग निगरानी में हैं।

तमिलनाडु: पुडुचेरी में 67 नए मामलों की रिपोर्ट आयी है, कोविड से तीन और मरीजों की मौत हुई ; कुल रोगियों की संख्या 1,596 हो गयी है। तमिलनाडु सरकार ने आईसीएमआर के चेन्नई इंस्टीट्यूट में बीसीजी परीक्षण के लिए सहमति दी है। स्वास्थ्य मंत्री श्री सी विजय भास्कर ने कहा कि बीसीजी द्वारा बुजुर्गों का टीकाकरण करने से कोविड -19 की तीव्रता, अस्पतालों में दाखिला और मृत्यु दर में कमी लाने में मदद मिलेगी। चेन्नई में कोविड के मामले नियंत्रण में हैं, जबकि तमिलनाडु के अन्य हिस्सों में मामलों में वृद्धि देखी जा रही है; मदुरै, तिरुवल्लुर और विरुधुनगर में कल क्रमश: 450, 360 और 328 मामले दर्ज किए गए। कल 4526 नए मामले आये और 66 मौतें हुईं। चेन्नई में 1078 मामले दर्ज किए गए। अब तक के कुल मामले: 1,47,324; सक्रिय मामले: 47,912; चेन्नई में सक्रिय मामले: 15,814।

कर्नाटक: बेंगलुरु शहरी और बेंगलुरु ग्रामीण जिलों में सात दिनों के लॉकडाउन को सख्ती से लागू किया जा रहा है। शिवमोगा जिले में भी कल से शुरू होकर अगले आदेश तक लॉकडाउन जारी रहेगा। राज्य सरकार ने निजी अस्पतालों में बिस्तर आवंटन बोर्ड अनिवार्य रूप से प्रदर्शित करने का आदेश दिया; आदेश का पालन न करने वालों को दण्डित किया जायेगा। कर्नाटक उच्च न्यायलय ने राज्य से पूछा है कि क्या लॉकडाउन के दौरान ड्यूटी पर रहने वाले लोक सेवकों के लिए कोविड जांच की कोई विशेष सुविधा है। राज्य में 1419 नर्स, 506 लैब तकनीशियन, 916 फार्मासिस्ट और डी-ग्रुप के रिक्त पदों को जल्द भरने की प्रक्रिया शुरू की जायेगी। कल 2496 नए मामले आये, और 87 मरीजों की मौत हुई; बेंगलुरु शहर में 1267 मामले दर्ज किये गए। कुल पॉजिटिव मामले: 44,077; सक्रिय मामले: 25,839; मृत्यु: 842.

आंध्र प्रदेश: एसवीआईएमएस सुपर-स्पेशियलिटी अस्पताल, तिरुपति ने चालीस से अधिक चिकित्सा और पैरामेडिकल कर्मियों के कोविड-19 से संक्रमित होने के बाद पांच दिनों के लिए अपनी आउट-पेशेंट सेवा बंद कर दी है। प्रतिदिन 100 से अधिक मामलों की रिपोर्ट को देखते हुए, तिरुपति नागरिक प्रशासन ने 18 डिवीजनों में पूर्ण लॉकडाउन लगाया है। श्रमिक वर्ग की चिंता के कारण, एपीएसआरटीसी ने राज्य में कंडक्टर-लेस बस सेवाओं को वापस ले लिया, जो कोरोनवायरस के प्रसार को रोकने के लिए डिजिटल लेन-देन के आधार पर शुरू की गई थी। विजयवाड़ा में गन्नवरम हवाई अड्डे में ड्यूटी कर रहे एपीएसपी कांस्टेबल के 26 सदस्यों की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। विभिन्न अस्पतालों में उनका इलाज किया जा रहा है। कल नए मामले -1916, छुट्टी दे दी गयी (डिस्चार्ज) - 952 और 43 की सूचना। कुल मामले: 33,019; सक्रिय मामले: 15,144; मृत्यु: 408.

तेलंगाना: जिला अस्पताल और तेलंगाना आयुर्विज्ञान संस्थान कोविड-19 का उपचार शुरू करेंगे। हैदराबाद के निज़ाम इंस्टीट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज (एनआईएमएस) में कोरोना वायरस वैक्सीन, कोवक्सिन के लिए नैदानिक परीक्षण करने की प्रक्रिया शुरू हुई। देश का पहला स्वदेशी कोविड -19 कोवक्सिन वैक्सीन भारत बायोटेक द्वारा आईसीएमआर और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के सहयोग से विकसित की गई है। दर्ज किए गए कुल मामले: 37,745; सक्रिय मामले: 12,531; मौत 375; छुट्टी दे दी गयी (डिस्चार्ज): 24,840.

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image0072MTI.jpg

***

एसजी/एएम/एसके/जेके



(Release ID: 1639002) Visitor Counter : 52