PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 16 MAY 2020 7:09PM by PIB Delhi

http://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001Y3J3.jpgDescription: Coat of arms of India PNG images free download

 

 

 

 

 

(पिछले 24 घंटे में कोविड-19 से संबंधित जारी प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल है)

कोविड-19 के 85,940 पुष्ट मामलों में 30,150 लोग उपचार के बाद स्वस्थ हो गए हैं, इस प्रकार सुधार की दर 35.09 प्रतिशत हो गई।

कल तक कुल मामलों में 3,970 की बढ़ोतरी दर्ज की गई।

वित्त मंत्री ने आज रक्षा, कोयला, खदान, अंतरिक्ष और परमाणु ऊर्जा सहित 8 क्षेत्रों में नीतिगत सुधारों पर केन्द्रित उपायों की चौथी किस्त की घोषणा की।

कल वित्त मंत्री ने कृषि के लिए आधारभूत ढांचा लॉजिस्टिक को मजबूत बनाने, क्षमता निर्माण, नियमन और प्रशासनिक सुधारों से संबंधित उपायों की तीसरी किस्त की घोषणा की थी।

कोविड-19 से गरीबों को सुरक्षा देने के लिए विश्व बैंक ने भारत को 1 अरब डॉलर का सहयोग दिया है।

राज्यों से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि कामगार पैदल अपने घरों को नहीं जाएं, बल्कि बसें और श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के माध्यम से यात्रा करें।

अभी तक 6.28 करोड़ पीएमयूवाई लाभार्थियों को मुफ्त एलपीजी सिलेंडर मिल चुके हैं।

अभी तक जगह-जगह फंसे 14 लाख लोगों ने घर जाने के लिए श्रमिक ट्रेनों का उपयोग किया।

स्वास्थ्य सचिव ने कोविड-19 के अधिक मामलों वाले 30 नगर निगमों के साथ बातचीत की; कोविड-19 के नियंत्रण और प्रबंधन के लिए अपनाए जाने वाले उपायों की समीक्षा की; रोगियों के स्वस्थ होने की दर बढ़कर 35.09 प्रतिशत हो गई है

यह 30 नगरपालिका क्षेत्र निम्नलिखित राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों से हैं: महाराष्ट्र, तमिलनाडु, गुजरात, दिल्ली, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, पंजाब और ओडिशा। कोविड-19 मामलों का प्रबंधन करने के लिए, नगर निगमों के अधिकारियों और कर्मचारियों द्वारा अपनाए जा रहे उपायों की समीक्षा की गई। अब तक कुल 30,150 लोगों का उपचार किया जा चुका है। पिछले 24 घंटों में, 2,233 रोगी ठीक हो चुके हैं। इससे हमारी स्वस्थ होने की कुल दर 35.09 प्रतिशत हो गई है। वर्तमान में पुष्ट मामलों की कुल संख्या 85,940 है। कल से, भारत में कोविड-19 के पुष्ट मामलों की संख्या में 3,970 की वृद्धि दर्ज की गई है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624543

केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारतीय अर्थव्यवस्था को आवश्यरक संबल देने के लिए आत्मनिर्भर भारत अभियानकी चौथी कड़ी के बारे में विस्तृत प्रस्तुति दी

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624498

वित्त मंत्री ने कृषि, मत्स्य पालन और खाद्य प्रसंस्करण सेक्टरों के लिए कृषि अवसंरचना लॉजिस्टिक्स को मजबूत करने, क्षमता निर्माण, गवर्नेंस और प्रशासनिक सुधारों के लिए अहम उपायों की घोषणा की

केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कृषि, मत्स्य पालन और खाद्य प्रसंस्करण सेक्टरों के लिए कृषि अवसंरचना लॉजिस्टिक्स को मजबूत करने, क्षमता निर्माण, गवर्नेंस और प्रशासनिक सुधारों के लिए अहम उपायों के तीसरे भाग की घोषणा की। इन घोषणाओं में शामिल हैं- किसानों के लिए फार्म-गेट अवसंरचना के लिए 1 लाख करोड़ रुपये का कृषि अवसंरचना कोष; सूक्ष्म खाद्य उद्यमों (एमएफई) को औपचारिक रूप देने के लिए 10,000 करोड़ रुपये की योजना; प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (पीएमएमएसवाई) के जरिए मछुआरों के लिए 20,000 करोड़ रुपये; राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम; पशुपालन अवसंरचना विकास कोष की स्थापना के लिए - 15,000 करोड़ रुपयेहर्बल खेती को बढ़ावा देने के लिए 4,000 करोड़ रुपये का परिव्यय; मधुमक्खी पालन की पहल - 500 करोड़ रुपये; कृषि क्षेत्र के लिए गवर्नेंस और प्रशासनिक सुधार के लिए उपाय; किसानों को बेहतर मूल्य दिलाने के लिए आवश्यक वस्तु अधिनियम में संशोधन; किसानों को विपणन के विकल्प प्रदान करने के लिए कृषि विपणन सुधार; कृषि उपज मूल्य और गुणवत्ता आश्वासन।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624225

कोविड-19 से भारत के सर्वाधिक गरीबों की सुरक्षा हेतु विश्व बैंक से 1 अरब डॉलर

भारत सरकार और विश्व बैंक ने कोविड-19 महामारी से गंभीर रूप से प्रभावित गरीबों और कमजोर परिवारों को सामाजिक सहायता प्रदान करने के भारत के प्रयासों में मदद हेतु भारत के कोविड-19 सामाजिक संरक्षण प्रतिक्रिया कार्यक्रम को प्रोत्साहन देने के लिए प्रस्तावित 1 बिलियन डॉलर के 750 मिलियन डॉलर पर हस्ताक्षर किए है। इसके साथ ही विश्व बैंक ने कोविड-19 महामारी का मुकाबला करने के लिए भारत को अब तक कुल दो अरब डॉलर देने की प्रतिबद्धता जताई है। पिछले महीने भारत के स्वास्थ्य क्षेत्र की मदद के लिए एक अरब अमरीकी डॉलर की सहायता देने की घोषणा की गई थी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624432

केन्द्रीय विद्युत मंत्रालय का राज्यों/केन्द्रशासित प्रदेशों को आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत 90,000 करोड़ रुपये का पैकेज देने के लिए पत्र

 

 

राज्यों/संघ शासित प्रदेशों को भेजे गए पत्र में लिख गया है कि आरईसी और पीएफसी डिस्कॉम को तत्काल ऋण मुहैया करायेंगे जोकि उदय स्कीम के तहत निर्धारित कार्यशील पूंजी की सीमाओं में आगे उधार लेने में सहायक होगा। इसके अलावा, उदय स्कीम के तहत जिन डिस्कॉम को कार्यशील पूंजी सीमाओं के भीतर उदय स्कीम का लाभ नहीं मिलता है, लेकिन बिजली की बकाया राशि के रूप में राज्य सरकार से प्राप्तियां होती हैं और सब्सिडी नहीं दी जाती है, वे राज्य सरकार से प्राप्तियों की सीमा तक ऐसे ऋण की पात्र होंगी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624496

मोदी सरकार का विश्वास- किसान कल्याण से ही भारत कल्याण; किसान सशक्त तो देश आत्मनिर्भर: श्री अमित शाह

श्री अमित शाह ने कहा मोदी सरकार का विश्वास है कि किसानों के कल्याण में भारत का कल्याण निहित है। किसानों को दी गई यह अभूतपूर्व सहायता मोदी जी की किसानों को सशक्त बनाकर देश को आत्मनिर्भर बनाने की दूरदर्शिता को दर्शाता है।श्री शाह ने कहा कि विषम परिस्थितियों में भी किसानों के प्रति प्रधानमंत्री मोदी की संवेदनशीलता सम्पूर्ण विश्व के लिए अनुकरणीय है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624164

श्री मनसुख मांडविया ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारतीय अर्थव्यवस्था को सहारा देने के लिए आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत घोषित अनेक उपायों का स्वागत किया

श्री मांडविया  ने कहा कि वित्त मंत्री ने अब तक तीन भागों में जिस वितरण की घोषणा की है, वह भारतीय अर्थव्यवस्था और इसके नागरिकों की दशा सुधारने में एक लंबा सफर तय करेगा, जो कोविड-19 महामारी से बहादुरी से लड़ रहे हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624318

गृह मंत्रालय ने राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों से प्रवासी श्रमिकों की पैदल घर वापसी न होने देने और सरकार द्वारा चलाई जा रही बसों और विशेष श्रमिक रेलगाड़ियों के माध्यम से ही उनकी घर वापसी सुनिश्चित करने को कहा

गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों को फिर से लिखा है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि यह प्रवासी श्रमिक अपनी घर वापसी के लिए पैदल यात्रा न करें। पत्र में कहा गया है कि रेल मंत्रालय प्रति दिन 100 से अधिक विशेष 'श्रमिक' स्पेशल ट्रेनों का संचालन कर रहा है और आवश्यकतानुसार अतिरिक्त रेलों की व्यवस्था करने के लिए तैयार है। राज्य/केंद्र शासित प्रदेशों की सरकारों को इन व्यवस्थाओं के बारे में लोगों को जागरूक किया जाना चाहिए और श्रमिकों को यह परामर्श भी दिया जाना चाहिए कि उन्हें बिल्कुल भी पैदल यात्रा न करते हुए, उनकी यात्रा को सुविधाजनक बनाने के लिए सरकार द्वारा विशेष रूप से चलाई जा रही बसों/रेलगाड़ियों के माध्यम से ही यात्रा करनी चाहिए।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624370

पीएमजीकेवाई के अंतर्गत पीएमयूवाई लाभार्थियों ने अब तक 6.28 करोड़ से अधिक मुफ्त सिलेंडरों का लाभ उठाया; डीबीटी के माध्यम से अब तक पीएमयूवाई लाभार्थियों के बैंक खाते में 8432 करोड़ रुपये हस्तांतरित किए गए

केन्द्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने वेबिनार के माध्यम से आज पीएमयूवाई लाभार्थियों, गैस वितरकों और ओएमसी अधिकारियों के साथ बातचीत की। श्री प्रधान ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (पीएमयूवाई) ने अपनी सफल यात्रा के चार साल पूरे कर लिए हैं। मंत्री ने कहा कि संकट के शुरुआती दिनों में, मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की घोषणा की, और एक महत्वपूर्ण घटक पीएमयूवाई लाभार्थियों को 3 महीने तक मुफ्त गैस सिलेंडर प्रदान करना था। उन्होंने कहा कि प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (डीबीटी) के जरिये उनके खातों में 8432 रुपये से अधिक अग्रिम राशि हस्तांतरित की गई है, ताकि इस सुविधा का लाभ उठाने में कोई कठिनाई न हो। अब तक, 6.28 करोड़ से अधिक पीएमयूवाई लाभार्थियों को मुफ्त सिलेंडर मिला है। पीएमयूवाई लाभार्थियों ने अभूतपूर्व संकट के इस समय में उनकी देखभाल के लिए सरकार का आभार व्यक्त किया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624371

14 लाख से अधिक फंसे हुए लोगों को 15 मई की आधी रात तक, यानी 15 दिन में उनके गृह राज्य पहुंचाया गया

15 मई 2020 तक, देश भर के विभिन्न राज्यों से कुल 1074श्रमिक स्पेशलट्रेनें चलाई गई। पिछले 15 दिनों में 14 लाख से अधिक फंसे हुए लोगों को उनके गृह राज्य पहुंचाया जा चुका है। इस बात पर गौर किया जाना चाहिए कि पिछले 3 दिन के दौरान प्रति दिन 2 लाख से अधिक लोगों को ले जाया गया है। आने वाले दिनों में इसके प्रति दिन 3 लाख यात्रियों तक पहुंचाने की उम्मीद है। ये 1074 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें विभिन्न राज्यों से चलाई गई।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-  https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624447

आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत 8 करोड़ प्रवासी मजदूरों और उनके परिवारों को मुफ्त खाद्यान्न उपलब्ध कराया जाएगा

केन्द्रीय उपभोक्ता कार्य, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री श्री राम विलास पासवान ने कहा कि कोविड-19 की इस अनिश्चित स्थिति के दौरान प्रवासियों की दुर्दशा को कम करने और उन्हें तथा उनके परिवारों को खाद्यान्न की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए, 8 एलएमटी खाद्यान्न राज्यों/संघ शासित प्रदेशों को आवंटित किया गया है और भारत सरकार राज्य के भीतर परिवहन, डीलरों के मार्जिन आदि सहित इस वितरण के मद में आने वाला पूरा खर्च वहन करेगी। अगस्त, 2020 तक कुल 23 राज्य/संघ शासित प्रदेश इस योजना का हिस्सा बन जाएंगे।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624526

रेरा का प्रभावी कार्यान्वयन खरीददार और विक्रेता के बीच विश्वास बहाल कर सकता है : हरदीप एस. पुरी

आवास एवं शहरी कार्य मंत्री श्री हरदीप एस पुरी ने कहा कि रेरा के प्रमुख उद्देश्यों में से एक खरीदार और विक्रेता के बीच विश्वास बहाल करने में मदद करना है और यह विश्वास केवल रेरा के सही और प्रभावी कार्यान्वयन द्वारा ही बहाल किया जा सकता है। वर्तमान कोविड-19 महामारी के कारण चुनौतियों और रियल एस्टेट क्षेत्र पर इसके प्रभाव के बारे में मंत्री ने कहा कि कोविड-19 ने रियल एस्टेट क्षेत्र को कमजोर किया है और परियोजना में देरी का कारण बनी है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन की शुरुआती अवधि के दौरान निर्माण गतिविधियों को रोक दिया गया था। स्थिति की समीक्षा करने के बाद सरकार ने 20 अप्रैल, 2020 से निर्माण गतिविधियों को प्रभावी बनाने के लिए कुछ उपाय किए हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624419

ऑपरेशन समुद्र सेतु का दूसरा चरण- आईएनएस जलाश्व भारतीय नागरिकों के साथ माले से रवाना

भारतीय नौसेना के जहाज जलाश्व ने 15 मई, 2020 को मालदीव की राजधानी माले के बंदरगाह पर ऑपरेशन समुद्र सेतु के तहत 588 भारतीय नागरिकों को जहाज पर चढ़ाने का काम पूरा कर लिया। ऑपरेशन समुद्र सेतु विदेश की धरती से अपने नागरिकों को समुद्र के जरिए स्वदेश लाने की भारत की राष्ट्रीय कोशिश में भारतीय नौसेना का एक अहम योगदान है। इन 588 लोगों में से 6 गर्भवती महिलाएं और 21 बच्चे हैं। जहाज आज सुबह माले से कोच्चि के लिए रवाना हो गया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624338

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने एनबीटी द्वारा प्रकाशित कोरोना अध्यIयन श्रृंखला के तहत 'साइको-सोशल इम्पैक्ट ऑफ पैनडेमिक एंड लॉकडाउन एंड हाउ टू कोप विद' पर सात पुस्तकों का ई-विमोचन किया

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने कोरोना अध्ययन श्रृंखला के तहत एनबीटी इंडिया द्वारा प्रकाशित 'साइको-सोशल इम्पैक्ट ऑफ पैनडेमिक एंड लॉकडाउन एंड हाउ टू कोप विद' यानी वैश्विक महामारी एवं लॉकडाउन के मनोवैज्ञानिक-सामाजिक प्रभाव और उससे कैसे निपटें, शीर्षक के तहत सात पुस्तकों के प्रिंट और ई-संस्करणों का ई-विमोचन किया। इस अवसर पर बोलते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 'इन दिनों दुनिया जिन विकट परिस्थितियों से जूझ रही है उनसे निपटने के लिए एनबीटी  पुस्तकों के उल्लेखनीय और अनोखे सेट को सामने लाया है। मुझे उम्मीद है कि ये पुस्तकें लोगों के मानसिक स्वास्थ्य के लिए काफी मददगार साबित होंगी।'

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624510

वैज्ञानिकों ने कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए मोबाइल इनडोर डिस्इंफेक्शन स्प्रेयर विकसित किया

ये स्प्रेयर मैपिंग फीचरों तथा एक्सटेंडेबल आर्म्स से भी सुसज्जित हैं जिससे कि छुपे हुए क्षेत्रों तक पहुंच सकें और व्यापक रूप से सफाई कर सकें। इस प्रौद्योगिकी की प्रासंगिकता वर्तमान कोविड-19 संकट के बाद भी बनी रहेगी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624376

सीएसआईआर ने कोविड-19 से निपटने के लिए नैदानिक समाधान और जोखिम स्तरीकरण रणनीतियां विकसित करने के उद्देश्य से इंटेल इंडिया और आईआईआईटी-हैदराबाद के साथ सहयोग किया

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624336

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां

असम : गुवाहाटी में आलूगोदाम मामले से संबंधित दो अन्य लोग कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। असम के स्वास्थ्य मंत्री ने एक ट्वीट के माध्यम से कहा कि कुल मामले बढ़कर 91 हो गए हैं।

मणिपुर : कोविड परीक्षण क्षमता बढ़ाने के लिए मणिपुर में आरआईएमएस और जेएनआईएमएस अस्पतालों में ट्र्यूनैट मशीनें स्थापित कर दी गई हैं। राज्य में दो सक्रिय मामलों की हालत स्थिर बनी हुई है। दोनों के नजदीकी संपर्कों की लगातार निगरानी की जा रही है।

मिजोरम : मिजोरम के चर्चों ने चर्च हॉलों को क्वारंटाइन सुविधाओं के रूप में इस्तेमाल करने, पूर्ण संस्थागत क्वारंटाइन अवधि के दौरान अपने कोष से खाना उपलब्ध कराने के राज्य सरकार के अनुरोध को स्वीकार कर लिया है।

नागालैंड : अस्पताल में भर्ती कराई गई नागा लड़की की बेंगलुरु में मृत्यु हो गई। परीक्षण के लिए नमूने भेज दिए गए हैं और रिपोर्ट मिलने का इंतजार है। दीमापुर डीसी ने कोरोना वायरस महामारी के बीच गुटका और तम्बाकू उत्पादों की बिक्री, सार्वजनिक स्थलों पर थूकने पर प्रतिबंध का आदेश जारी किया है।

सिक्किम : खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों का विभाग स्थानीय नागरिकों की शिकायतों के क्रम में दुकानों में खाद्य सामग्रियों की ज्यादा कीमत वसूले जाने की निगरानी कर रहा है।

केरल : स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोविड संक्रमण का तीसरा चरण ज्यादा खतरनाक है और एक छोटी सी लापरवाही से कोविड-19 मरीजों की संख्या में खासी बढ़ोतरी हो सकती है। राज्य में कोविड के मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए विशेषज्ञों की राय है कि कोरोना वायरस का नई तरह का संभावित हमला हो सकता है जिससे अनुवांशिक उत्परिवर्तन जैसी घटना देखने को मिल सकती है; भारी बारिश के चलते तापमान में कमी के कारण संक्रमण की दर भी बढ़ सकती है। वहीं चेन्नई से आए एक मरीज के कारण 15 लोगों में संक्रमण का मामला सामने आया है। राज्य में कल 16 अतिरिक्त मामले सामने आए। वायनाड सबसे ज्यादा 19 मामलों के साथ चिंता की बड़ी वजह बना हुआ है। जिले में एक पंचायत को पूरी तरह बंद कर दिया गया है। इसके अलावा, आज वंदे भारत मिशन 2.0 के तहत खाड़ी देशों से तीन अन्य उड़ानें आज रात राज्य में आ जाएंगी। केरल ने भी केरल के लोगों को ट्रेन के माध्यम से दिल्ली से वापस लाने के लिए दिल्ली सरकार को एनओसी दे दी है।

तमिलनाडु : राज्य के शिक्षा मंत्री ने कहा कि कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षाओं के लिए स्थापित किए जाने वाले 12,000 केन्द्रों में परीक्षा कक्ष में व्यक्तिगत दूरी सुनिश्चित करने के लिए हर कमरे में सिर्फ 10 विद्यार्थियों को बैठने की ही अनुमति दी जाएगी। लॉकडाउन के दौरान टैसमैक आउटलेट्स बंद करने के मद्रास उच्च न्यायालय के आदेश पर उच्चतम न्यायालय के स्थगनादेश के बाद चेन्नई, तिरुवल्लूर और नियंत्रण क्षेत्रों को छोड़कर पूरे तमिलनाडु में शराब की दुकानें खोल दी गईं। राज्य में 434 लोगों के पॉजिटिव सामने आने के बाद कोविड के कुल मामले 10,000 से ज्यादा हो गए; सक्रिय मामले : 7435, मृत्यु : 71, डिस्चार्ज हुए : 2240; चेन्नई में सक्रिय मामलों की संख्या 5637 के स्तर पर बनी हुई है।

कर्नाटक : मुख्यमंत्री ने आज बगैर सहायता प्राप्त शैक्षणिक संस्थानों के साथ आज बैठक की और लॉकडाउन अवधि के दौरान शैक्षणिक कर्मचारियों को पूरे वेतन का भुगतान करने के लिए कहा। इसके अलावा उद्योग मंत्री ने उद्योगों से नए नियमों से सामंजस्य बिठाते हुए पूरी क्षमता से परिचालन करने का अनुरोध किया। आज दोपहर 12 बजे तक 23 नए मामले दर्ज किए गए; जिसमें से बेंगलुरु में 14, हासन में 3 और मांड्या, बगलकोट, उडुपी, दावनगेरे, धारवाड़ और बेल्लारी में 1-1 मामला सामने आया। राज्य में कुल पॉजिटिव मामले 1079 के स्तर पर पहुंच गए। सक्रिय मामले : 548, स्वस्थ हुए : 494, मृत्यु : 36।

आंध्र प्रदेश : राज्य सरकार ने शराब का अवैध परिवहन और उत्पादन तथा बालू की अवैध ढुलाई पर रोक लगाने के लिए एक विशेष प्रवर्तन ब्यूरो (शराब और बालू) की स्थापना का फैसला किया है। सरकार से अनुमति नहीं मिलने के कारण एपीएसआरटीसी ने आंध्र प्रदेश में हैदराबाद से विभिन्न स्थानों को अपनी बस सेवा को टाल दिया है। राज्य में रेड जोन क्षेत्रों में रहने वाले परिवारों को आवश्यक वस्तुओं और अन्य सामानों का वितरण किया जा रहा है। पिछले 24 घंटों में 9,628 नमूनों के परीक्षण के बाद 48 नए मामले सामने आए, एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई और स्वस्थ होने पर 101 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया। दूसरे राज्यों से लोगों में 150 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। कुल मामले : 2205, सक्रिय : 803, स्वस्थ हुए : 1353, मृत्यु : 49। (ओडिशा : 10, महाराष्ट्र : 101, गुजरात : 26, कर्नाटक : 1, पश्चिम बंगाल : 1, राजस्थान : 101)। पॉजिटिव मामलों में अग्रणी जिले : कुर्नूल (608), गुंटूर (413) और कृष्णा (367)।

तेलंगाना :  वंदे भारत मिशन के अंतर्गत विदेश में फंसे भारतीय नागरिकों को स्वदेश लाने की कवायद के तहत एयर इंडिया की एक उड़ान दिल्ली होते हुए नेवार्क (यूएसए) से शनिवार को हैदराबाद अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंची, जिसमें 121 यात्री सवार थे। 15 मई को तेलंगाना में कुल मामले 1,454 के स्तर पर हैं। कुल 959 लोग स्वस्थ हो गए, सक्रिय मामले 461 के स्तर पर हैं और 34 लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

महाराष्ट्र : राज्य में 1,576 नए मामले सामने आने के साथ कुल संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 29,100 के स्तर पर पहुंच गई। ताजा आंकड़ों के अनुसार, वर्तमान में राज्य में कुल सक्रिय मामले 21,467 हैं। महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण और उपचार के संबंध में सरकार के साथ-साथ निजी अस्पतालों के बीच समन्वय के लिए राज्य और जिला स्तर पर क्रमशः मुख्य सचिव और जिलाधिकारियों की अध्यक्षता में समितियों की स्थापना की गई है। वे स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की सामाजिक सुरक्षा पर भी विचार करेंगे।

गुजरात : कोविड-19 के 340 मामले सामने आने से राज्य में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 9,931 हो गई। अहमदाबाद में 261 मामलों की पुष्टि हुई। सूरत में 2,000 से ज्यादा पावर लूम इकाइयों का परिचालन शुरू हो गया। व्यापारियों को लॉकडाउन 4 के दौरान बाजार खुलने की उम्मीद है।

राजस्थान : आज दोपहर 2 बजे तक कोविड-19 के 177 नए मामले दर्ज किए गए। इन पॉजिटिव मामलों में से जयपुर से 122 हैं, जबकि डूंगरपुर से 21 हैं। इस प्रकार राज्य में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 4,924 हो गई, 2,785 मरीज उपचार के बाद ठीक हो गए और अभी तक 2,480 मरीज डिस्चार्ज किए जा चुके हैं।

मध्य प्रदेश : ताजा रिपोर्ट के अनुसार, कोविड-19 के 169 नए मामले सामने आने के साथ मध्य प्रदेश में कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 4,595 हो गई। हॉटस्पॉट इंदौर में 69 नए मामले दर्ज किए गए। ताजा आंकड़ों के अनुसार, कल 112 मरीज उपचार के बाद स्वस्थ हो गए और 2,073 सक्रिय मामले हैं। विभिन्न राज्यों अभी तक 3.12 लाख प्रवासी कामगार राज्य में वापस लौट चुके हैं। इनमें से 86 हजार कामगार 72 ट्रेनों से वापस लौटे, जबकि 2 लाख 26 हजार कामगार बसों और परिवहन के अन्य माध्यमों से वापस लौटे।

गोवा : राज्य में लौटे 154 नाविकों को वास्को द गामा के 4 होटलों में क्वारंटाइन में भेज दिया गया है। वहीं एक स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि मडगांव के ईएसआई अस्पताल में भर्ती सभी आठ कोविड-19 मरीजों को अच्छा उपचार मिल रहा है।

पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य

 

 

एएम/एमपी/एसके



(Release ID: 1624640) Visitor Counter : 194