PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 05 JUN 2020 6:41PM by PIB Delhi

                                                 Description: Coat of arms of India PNG images free download

 

(पिछले 24 घंटे में जारी कोविड-19 से संबंधित प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल है)

पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 5,355 मरीज स्वस्थ हो गए, जिससे स्वस्थ होने वालों की कुल संख्या 1,09,462 हो गई है। इस प्रकार सुधार की दर 48.27 प्रतिशत हो गई है। वर्तमान में देश में 1,10,960 सक्रिय मामले हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने ऐसे सरकारी और अर्ध-सरकारी संस्थानों के परिचालन के लिए एसओपी जारी किए हैं, जहां कोविड के प्रसार की ज्यादा आशंकाएं हैं।

भारत ने टीके के लिए बने अंतर्राष्ट्रीय गठबंधन गावी के लिए 15 मिलियन अमेरिकी डॉलर के योगदान का संकल्प लिया।

इस साल पूरी दुनिया में डिजिटल प्लेटफॉर्मों के माध्यम से मनाया जाएगा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

Description: C:\Users\VARUN\Desktop\image004W4BI.jpg

 

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से कोविड-19 पर प्राप्त अपडेट

चूंकि भारत एक सुव्यवस्थित, पूर्व-निर्धारित एवं सक्रिय दृष्टिकोण के जरिए अपनी लॉकडाउन की जरूरतों को कम कर रहा है, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने सार्वजनिक और अर्द्ध-सार्वजनिक वातावरण, जहां कोविड के फैलने की आशंका अधिक है, के संचालन के लिए मानक संचालन प्रक्रियाओं (एसओपी) को अपनी साइट पर अपलोड कर दिया है। नये दिशा-निर्देशों का उद्देश्य सामाजिक एवं आर्थिक गतिविधि को दोबारा शुरू करते हुए कोविड के संक्रमण की श्रृंखला को नियंत्रित करने के लिए उपयुक्त व्यवहार की आदत डालना है।

पिछले 24 घंटों के दौरान, कोविड19 के कुल 5,355 रोगियों को ठीक किया गया है। इस प्रकार, अब तक, कुल 1,09,462 मरीज कोविड19 से ठीक हो चुके हैं। कोविड19 के रोगियों के ठीक होने की दर 48.27 प्रतिशत है। वर्तमान में, कोविड19 के 1,10,960 सक्रिय मामले हैं और सभी सक्रिय मामले चिकित्सीय देख-रेख में हैं।

अब सरकारी प्रयोगशालाओं की संख्या जहां बढ़कर 507 हो गई है, वहीँ निजी प्रयोगशालाओं की संख्या बढ़कर 217 हो गई है (कुल 727 प्रयोगशालाएं)। पिछले 24 घंटों में कुल 1,43,661 नमूनों की जांच की गयी। इस प्रकार, अब तक जांच किये गये संचयी नमूनों की कुल संख्या 43,86,379 है। 5 जून 2020 तक, 957 कोविड समर्पित अस्पतालों की उपलब्धता के साथ कोविड से जुड़ी स्वास्थ्यसेवा के बुनियादी ढांचे को मजबूत किया गया है। इन अस्पतालों में 1,66,460 आइसोलेशन बेड, 21,473 आईसीयू बेड एवं 72,497  ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड उपलब्ध हैं। कुल 1,32,593 आइसोलेशन बेड, 10,903 आईसीयू बेड एवं 45,562 ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड के साथ कुल 2,362 कोविड समर्पित स्वास्थ्य केंद्र भी चालू किए गए हैं। अब देश में कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए कुल 7,03,786 बेड के साथ 11,210 क्वारंटाइन सेंटर एवं 7,529 कोविड देखभाल केन्द्र उपलब्ध हैं।

Description: http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image005AO3Q.jpg

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें

प्रधानमंत्री ने वर्चुअल ग्लोबल वैक्सीन शिखर सम्मेलन 2020 को संबोधित कियाटीके के लिए बने अंतर्राष्ट्रीय गठबंधन गावीको भारत ने 15 मिलियन अमेरिकी डॉलर दिए

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन द्वारा आयोजित वर्चुअल ग्लोबल वैक्सीन शिखर सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे जिसमें 50 से अधिक देशों - व्यापारिक नेताओं, संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों, नागरिक समाज, सरकारी मंत्रियों, राष्ट्राध्यक्षों और देश के नेताओं ने भाग लिया। प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि भारत इस चुनौतीपूर्ण समय में विश्व के साथ एकजुट होकर खड़ा है। गावी, जोकि टीके के लिए बना अंतर्राष्ट्रीय गठबंधन है, को भारत ने 15 मिलियन डॉलर देने का वादा किया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि कोविड-19 महामारी ने कुछ मायनों में वैश्विक सहयोग की सीमाओं को उजागर कर दिया है और हाल के इतिहास में ऐसा पहली बार है कि मानव जाति को एक स्पष्ट समान शत्रु का सामना करना पड़ा है। प्रधानमंत्री ने यह बात दोहराई कि कम लागत पर गुणवत्तापूर्ण दवाओं एवं टीकों का उत्पादन करने की अपनी सिद्ध क्षमता, तेजी से बढ़ रहे टीकाकरण में अपने गहन घरेलू अनुभव और अपनी व्यापक वैज्ञानिक अनुसंधान प्रतिभा के साथ भारत पूरी दुनिया के साथ एकजुट होकर खड़ा है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें

केंद्र ने जीएसटी क्षतिपूर्ति के रूप में राज्यों को 36,400 करोड़ रुपये जारी किए

केंद्र सरकार ने कल राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को दिसंबर 2019 से फरवरी 2020 तक की अवधि के लिए जीएसटी क्षतिपूर्ति के तौर पर 36,400 करोड़ रुपये जारी किए हैं। सरकार ने कोविड-19 संकट के कारण पैदा हुई वर्तमान परिस्थिति का जायजा लेने के बाद क्षतिपूर्ति की राशि को जारी किया, जहां राज्य सरकारों के संसाधनों के बुरी तरह प्रभावित होने के बावजूद खर्च करने की आवश्यकता है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें

इस साल पूरी दुनिया में डिजिटल प्लेटफॉर्मों के माध्यम से मनाया जाएगा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

कोविड-19 की वजह से देश में मौजूदा स्वास्थ्य आपात स्थिति के मद्देनजर इस वर्ष अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पूरी दुनिया में डिजिटल प्लेटफॉर्मों के माध्यम से मनाया जाएगा। यह बात भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) के अध्यक्ष डॉ. विनय सहस्रबुद्धे ने आयुष मंत्रालय के साथ आज आयोजित संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कही। डॉ. सहस्रबुद्धे ने कहा कि इस वर्ष होने वाले आयोजन के दौरान लोगों के लिए योग की उपयोगिता, वैश्विक महामारी से निपटने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित करने और इस संकट के कुछ महत्वपूर्ण पहलुओं के प्रबंधन के तहत समुदाय को मजबूत करने पर प्रकाश डाला जाएगा। आयुष सचिव वैद्य राजेश कोटेचा भी संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में उपस्थित थे। कोविड-19 महामारी उत्पन्न करने वाले वायरस के अत्यधिक संक्रामक स्वररूप को देखते हुए कोई भी जन सभा या सम्मेलन आयोजित नहीं किया जाएगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक ने जागरूकता फैलाने के लिए सूचना पुस्तिका कोविड-19 के समय सुरक्षित ऑनलाइन लर्निंगलॉन्च की

राष्ट्रीय शैक्षणिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) एवं यूनेस्को के नई दिल्ली कार्यालय ने यह पुस्तिका तैयार की है। यह पुस्तिका मूलभूत रूप से क्या करें और क्या न करें के माध्यम से बच्चों, युवाओं को ऑनलाइन तरीके से सुरक्षित रखने में मददगार होगी जिससे माता-पिता और शिक्षक अपने बच्चों को सुरक्षित तरीके से इंटरनेट का उपयोग करना सिखाएंगे।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें

बहरीन एवं ओमान के 176 भारतीय नागरिकों ने कोच्चि के नौसेना बेस में क्वारंटाइन पूरा किया

बहरीन एवं ओमान के 176 भारतीय नागरिकों ने कोच्चि के नौसेना बेस में कल अपना अधिदेशित क्वारंटाइन पूरा किया। दक्षिणी नौसेना कमान कोविड केयर सेंटर (सीसीसी) के निवासी अब वापस देश के विभिन्न भागों की यात्रा करेंगे। सभी निवासियों को उनके ठहराव के दौरान आरटी-पीसीआर परीक्षणों से गुजरना पड़ा तथा डिस्चार्ज किए जाने से पूर्व वे निगेटिव पाये गए। ओमान से आए 49 भारतीय कल सीसीसी से रवाना होने वाले अंतिम लोग थे, जबकि बहरीन से आए 127 भारतीय 01 एवं 02 जून के बीच भारतीय नौसेना फैसिलिटी से जा चुके थे।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें

महाराष्ट्र में वन धन विकास केन्द्रों ने कोविड संकट के दौरान जनजातीय संग्रहकर्ताओं की सहायता करने के लिए अभिनव पहल की

जनजातीय कार्य मंत्रालय के ट्राइफेड द्वारा शुरू की गई योजना के अंतर्गत वन धन केन्द्रों की स्थापना की गई है, जो इस संकट के समय में आदिवासियों को उनकी आजीविका के सृजन में मदद कर रहे हैं। इस संकट से प्रभावित होने वालों में आदिवासी आबादी भी शामिल है, क्योंकि उनकी अधिकांश आय लघु वन उपज गतिविधियों से होती है जैसे कि संग्रह करना, आमतौर पर अप्रैल से जून के महीनों में काम अधिक होता है। महाराष्ट्र कोरोना वायरस के संकट से सबसे ज्यादा जूझ रहा है लेकिन इसके बावजूद राज्य में वन धन योजना सफलता की इबारत लिख रही है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें

सिविल सेवा परीक्षा 2019 के शेष उम्मीदवारों के व्यक्तित्व परीक्षण (साक्षात्कार) 20 जुलाई 2020 से होंगे

वर्तमान में जारी कोविड-19 महामारी के कारण उत्पन्न स्थिति की समीक्षा के लिए आज संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की एक विशेष बैठक आयोजित की गई। लॉकडाउन खुलने और केंद्र सरकार एवं राज्यी सरकारों द्वारा घोषित की जा रही उत्तरोत्तर ढील पर गौर करते हुए आयोग ने परीक्षाओं/भर्ती परीक्षाओं (आरटी) की संशोधित सारणी जारी करने का निर्णय लिया है। परीक्षाओं/भर्ती परीक्षाओं के संशोधित कैलेंडर का विवरण यूपीएससी की वेबसाइट पर प्रकाशित किया गया है। आयोग ने सिविल सेवा परीक्षा 2019 के शेष उम्मीदवारों के व्यक्तित्व परीक्षण (साक्षात्कार) 20 जुलाई 2020 से शुरू करने का भी निर्णय लिया है। उम्मीदवारों को व्यक्तिगत रूप से सूचित किया जाएगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें

भारत के नए व्यावसायिक स्थल के रूप में उभरा पूर्वोत्तर क्षेत्र : डॉ. जितेंद्र सिंह

केन्द्रीय पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और प्रधानमंत्री कार्यालय राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने आज कहा कि देश का पूर्वोत्तर क्षेत्र धीरे-धीरे लेकिन मजबूती से भारत के एक नये व्यावसायिक स्थल के रूप में उभर रहा है। कोविड के बाद आर्थिक, व्यापार, वैज्ञानिक शोध और कई अन्य क्षेत्रों में नई सफलताओं की संभावनाओं के साथ पूर्वोत्तर क्षेत्र देश के आर्थिक हब और स्टार्टअप्स के लिए पसंदीदा स्थल के रूप में उभरेगा। कोविड के बाद आर्थिक, व्यापार, वैज्ञानिक शोध और कई अन्य क्षेत्रों में नई सफलताओं की संभावनाओं के साथ पूर्वोत्तर क्षेत्र देश के आर्थिक हब और स्टार्टअप्स के लिए पसंदीदा स्थल के रूप में उभरेगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने मोदी सरकार 2.0 के अंतर्गत डीओपीपीडब्ल्यू की एक वर्ष की उपलब्धियों पर ई-पुस्तिका जारी की

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कल वीडियो कांफ्रेंसिंग (वीसी) के माध्यम से पेंशन एवं पेंशनभोगी कल्याण विभाग (डीओपीपीडब्ल्यू) की एक वर्ष की उपलब्धियों पर एक ई-पुस्तिका जारी की। उन्होंने कहा कि पेंशनभोगियों की चिंता और भय को दूर करने के लिए, यह विभाग अग्रणी डॉक्टरों के साथ कोविड पर एक वेबिनार आयोजित करने के साथ ही अपने कर्तव्य से भी आगे बढ़ गया। उन्होंने कहा कि इस विभाग को बुजुर्गों और सेवानिवृत्त लोगों की सेवा करने का एक अनूठा अवसर प्राप्त है जो अवसर किसी भी अन्य विभाग के पास मौजूद नहीं है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें

सीएसआईआर प्रयोगशाला देशव्यापी ग्रीष्मकालीन अनुसंधान प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन करेगी

उत्तर-पूर्व विज्ञान और प्रौद्योगिकी संस्थान (एनईआईएसटी) कोविड-19 महामारी के कारण राष्ट्र के अकादमिक परिदृश्य में बनी स्थिरता में सुधार करने की दिशा में काम कर रहा है। जोरहाट स्थित सीएसआईआर-एनईआईएसटी देशव्यापी ग्रीष्मकालीन अनुसंधान प्रशिक्षण कार्यक्रम (सीएसआईआर-एसआरटीपी-2020) का आयोजन और संचालन करेगा। देश भर में फैली 38 सीएसआइआर प्रयोगशालाओं की फैकल्टी और मेंटरों के माध्यम से इस ऑनलाइन कार्यक्रम (सीएसआईआर-एसआरटीपी-2020) को चलाया जायेगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें

डीएसटी कोविड-19 के खिलाफ विज्ञान और प्रौद्योगिकी का उपयोग करके अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति को सशक्त बना रहा है

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) का साइंस फॉर इक्विटी एम्पावरमेंट एंड डेवलपमेंट (सीड) डिवीजन, कई नॉलेज संस्थानों (केआई) और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी (एसएंडटी) पर आधारित गैर-सरकारी संगठनों (एनजीओ) को अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति समुदायों के समग्र विकास के लिए अनुदान-सहायता प्रदान कर रहा है, जिससे राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की गंभीर स्थिति के कारण समुदायों की प्रभावित हुई आजीविका और आर्थिक स्थिति में राहत और सुधार प्रदान किया जा सके।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां

  • पंजाब : महामारी के प्रसार की रोकथाम के लिए कोविड-19 मरीजों के बारे में समय से पता लगाने के लिए जनसंख्या की जांच की प्रक्रिया को मजबूत बनाने के क्रम में पंजाब सरकार ने पैनलबद्ध निजी अस्पतालों/क्लीनिकों और निजी प्रयोगशालाओं द्वारा भेजे जाने वाले कोविड-19 के नमूनों की आरटी-पीसीआर जांच मुफ्त में करने का फैसला किया है। निजी अस्पतालों को प्रोटोकॉल के तहत नमूनों के लॉजिस्टिक और संग्रह, उनकी पैकिंग तथा नजदीक के सरकारी स्वास्थ्य केन्द्र तक भेजने की व्यवस्था खुद ही करनी होगी।
  • हरियाणा : कोविड-19 संकट के इस चुनौतीपूर्ण दौर के बीच कारोबार पर विपरीत असर न्यूनतम करने में विभिन्न संगठनों को समर्थन देने के लिए हरियाणा सरकार स्टार्ट अप इंडिया के साथ भागीदारी में वर्चुअल मेंटरशिप वर्कशॉप सीरीज के साथ आगे आई है। इसका मुख्य उद्देश्य स्टार्टअप्स की संभावनाओं को व्यापक बनाना और विशेष रूप से वैश्विक संकट के इस दौर में उनका आत्म-विश्वास बढ़ाना है। यह तीन महीने तक चलने वाला कार्यक्रम है, जो नए स्टार्टअप्स को उद्योग के विशेषज्ञों के साथ संवाद करने, उनके ज्ञान तथा विशेषज्ञता से अपना कारोबार शुरू करने/बढ़ाने की रणनीतियां विकसित करने के बारे में सीखने का अवसर मिलता है। कार्यक्रम में सामूहिक सत्रों और वन-टू-वन सत्र भी शामिल हैं।
  • केरल : आईएमए ने अनलॉक 1.0 के तहत राज्य में पूजा के लिए धार्मिक स्थलों और मॉल्स खोले जाने को लेकर राज्य सरकार को आगाह करते हुए संकेत दिया कि इससे अज्ञात स्रोतों से मामलों की संख्या में बढ़ोतरी हो सकती है और सामुदायिक संक्रमण की स्थिति भी बन सकती है। राज्य सरकार ने आज केन्द्र सरकार द्वारा जारी एसओपी के आधार पर अनलॉक 1.0 के लिए अपने दिशा-निर्देश जारी किए। कोझिकोड में एक गर्भवती महिला के जांच में कोविड पॉजिटिव पाए जाने के बाद चिकित्सकों के साथ कई कर्मचारियों को क्वारंटाइन में भेज दिया गया है। कोझिकोड के जिलाधिकारी ने मावूर पंचायत में कई लोगों में कोविड-19 की पुष्टि होने के बाद पूरी पंचायत को ही संक्रमण प्रभावित क्षेत्र घोषित करने का आदेश जारी कर दिया है। कल राज्य में कोविड-19 के 94 नए मामलों की पुष्टि हुई। इस प्रकार कुल मामलों की संख्या बढ़कर 1,588 हो गई और विभिन्न अस्पतालों में 884 मरीजों का उपचार चल रहा है।
  • तमिलनाडु : कोविड-19 की रोकथाम के लिए चेन्नई में 15 जोन्स की निगरानी का काम तमिलनाडु के पांच मंत्रियों को सौंपा गया है। राज्य सरकार ने निजी अस्पतालों में होने वाले कोविड-19 के उपचार को मुख्यमंत्री की समग्र स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत कर दिया है और उपचार के लिए दरों पर एक सीमा लगा दी है। तमिलनाडु में कल 1,384 मामले दर्ज किए गए और 12 लोगों की मृत्यु हो गई; चेन्नई में 1,072 पॉजिटिव मामले सामने आए। कल तक कुल मामले : 27,256, सक्रिय मामले : 12,132, मृत्यु : 220, डिस्चार्ज : 14901। चेन्नई में सक्रिय मामले 9,066 के स्तर पर हैं।
  • कर्नाटक : ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार महाराष्ट्र से लौटे प्रवासी कामगारों को मनरेगा के अंतर्गत रोजगार उपलब्ध कराने के लिए तैयार है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्लाज्मा थैरेपी से जिस दूसरे मरीज का उपचार किया गया था, वह स्वस्थ हो गया है और उसे आईसीयू से बाहर भेज दिया गया है। कल 257 नए मामले सामने आए, 106 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया और चार लोगों की मृत्यु हो गई। कल तक कुल पॉजिटिव मामले : 4,320, सक्रिय मामले : 2,651, मृत्यु : 57, स्वस्थ हुए : 1,610।
  • आंध्र प्रदेश : एपीटीडीसी होटल सहित सभी होटल, रेस्टोरेंट का परिचालन 8 जून से शुरू होने जा रहा है, जिनके लिए राज्य सरकार ने एसओपी जारी कर दी हैं। तिरुमाला दर्शन 11 जून से शुरू होने जा रहे हैं और प्रति दिन सिर्फ 6,000 श्रद्धालुओं को ही दर्शन की अनुमति होगी। मुख्यमंत्री ने विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर एपी पर्यावरण प्रबंधन एजेंसी के तहत राज्य सरकार को कचरा हस्तांतरित करने के लिए एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का शुभारम्भ किया। 9,831 नमूनों के परीक्षण के बाद पिछले 24 घंटों में 50 नए मामले सामने आए, 21 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया और दो लोगों की मृत्यु हो गई। कुल मामले : 3,427, सक्रिय मामले : 1,060, स्वस्थ हुए : 2,294, मृत्यु : 73 पॉजिटिव पाए गए प्रवासियों की संख्या बढ़कर 700 हो गई, जिनमें से 442 अभी भी सक्रिय हैं। विदेश से लौटे लोगों से संबंधित कुल 123 मामलों में 119 अभी भी सक्रिय हैं। अभी तक 4,23,564 नमूनों का परीक्षण हो चुका है।
  • तेलंगाना : सरकार के वंदे भारत मिशन का तीसरा चरण शुरू करने की तैयारियों के साथ ही अपने शहर जाने का इंतजार कर रहे सैकड़ों लोगों ने सहायता के लिए अधिकारियों से संपर्क किया है। सरकारी अस्पतालों में काम कर रहे 37 चिकित्सकों के कोविड-19 जांच में पॉजिटिव पाए जाने को गंभीरता से लेते हुए तेलंगाना उच्च न्यायालय ने आश्चर्य किया और कहा कि ऐसे में वे कैसे कोरोना वायरस की रोकथाम कर सकते हैं, जबकि सरकार अपने चिकित्सकों, नर्सों, पैरामैडिकल स्टाफ और अन्य स्वास्थ्य कर्मचारियों के हित में व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) और अन्य सुरक्षा सामग्री की आपूर्ति का दावा कर रही थी। 3 जून को कुल मामले बढ़कर 3,147 हो गए। अभी तक 448 प्रवासी और विदेश से लौटे लोग जांच में पॉजिटिव पाए जा चुके हैं।

 

Description: C:\Users\VARUN\Desktop\image013L87U.jpg

 

***************

एसजी/एएम/एमपी/एसके

 



(Release ID: 1629815) Visitor Counter : 73


Read this release in: English , Urdu , Marathi , Assamese , Manipuri , Bengali , Punjabi , Gujarati , Tamil , Telugu , Kannada , Malayalam