PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 18 MAY 2020 6:33PM by PIB Delhi

 

 

(पिछले 24 घंटे में कोविड-19 से संबंधित जारी प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल है)

भारत में वर्तमान में कोविड-19 के 56,316 सक्रिय मामले हैं, जबकि अभी तक उपचार के बाद 36,824 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। इस प्रकार सुधार की दर 38.29 प्रतिशत हो गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने रेड/ऑरेंज/ग्रीन जोन के वर्गीकरण के लिए राज्यों को नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। राज्यों से एमओएचएफडब्ल्यू द्वारा साझा मानदंडों पर किए गए बहु घटकीय विश्लेषण पर आधारित उनके क्षेत्रीय आकलन के तहत जिलों/ नगर निकाय, या किसी अन्य प्रशासनिक इकाई का रेड/ऑरेंज/ग्रीन जोन के रूप में वर्गीकरण करने के लिए कहा है।

लॉकडाउन 31 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है; राज्यों को विभिन्न जोन और वहां गतिविधियों को अनुमति देने के बारे में फैसला लेना है; चुनिंदा गतिविधियां देश भर में प्रतिबंधित रखी गई हैं।

गृह मंत्रालय का राज्यों को निर्देश: उसके दिशा-निर्देशों में लागू बंदिशों में किसी भी प्रकार की नरमी नहीं की जा सकती है।

सीबीएसई की कक्षा दसवीं और बारहवीं की परीक्षाओं की तारीखों की घोषणा की गई।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से कोविड-19 पर प्राप्त अपडेट

भारत में वर्तमान में कुल सक्रिय मामलों की संख्या 56,316 है। अब तक कुल 36,824 लोग उपचार के बाद ठीक हो चुके हैं। कल से, भारत में कोविड-19 से संक्रमित 2,715 रोगी उपचार के बाद ठीक हो चुके हैं। इससे हमारी ठीक होने की कुल दर 38.29% तक पहुंच गई है। प्रति लाख आबादी के अनुसार पुष्ट मामलों के संदर्भ में, भारत में अब तक प्रति लाख जनसंख्या पर लगभग 7.1 मामले सामने आए हैं, जबकि पूरे विश्व में प्रति लाख आबादी पर 60 मामले सामने आए हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों को रेड/ऑरेंज/ ग्रीन जोनों का वर्गीकरण करने के लिए 17 मई 2020 को नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इन दिशा-निर्देशों के अनुसार, राज्यों को जिलों/ नगर निगमों को वर्गीकृत करने के लिए कहा गया है, या अगर उनके क्षेत्रीय आकलन के अनुसार उपखंड/वार्ड या किसी अन्य प्रशासनिक इकाई को रेड/ऑरेंज/ग्रीन जोन के रूप में अनुबद्ध किया गया है। इसे एमओएचएफडब्ल्यू द्वारा साझा किए गए मानदंडों के संयोजन के साथ बहुक्रियात्मक विश्लेषण के आधार पर किया जाना चाहिए, जिसमें कुल सक्रिय मामले, प्रति लाख आबादी पर सक्रिय मामले, मामलों के दोगुने होने की दर  (7 दिनों की अवधि में गणना), मामलों में मृत्यु दर, परीक्षण अनुपात और परीक्षण की पुष्टि दर शामिल हैं। राज्यों से कंटेनमेंट और बफर जोन को सावधानीपूर्वक परिसीमन करने के लिए कहा गया है। राज्यों से कहा गया है कि वे इन कंटेनमेंट जोनों में रोकथाम योजनाओं का कठोरता के साथ कार्यान्वयन सुनिश्चित करें। इसके अलावा, प्रत्येक कंटेनमेंट जोन के आसपास, एक बफर जोन को रेखांकित किया जाना चाहिए जिससे यह सुनिश्चित किया जा सके कि आसपास के क्षेत्रों में संक्रमण न फैले। बफर जोन में, स्वास्थ्य सुविधाओं में आईएलआई/ एसएआरआई मामलों की निगरानी के द्वारा मामलों की व्यापक निगरानी के लिए समन्वय स्थापित किया जाना चाहिए।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624957

 

लॉकडाउन 31 मई, 2020 तक बढ़ाया गया; राज्य ही विभिन्न जोन के साथ-साथ इन जोन में अनुमति दी जाने वाली गतिविधियों के बारे में निर्णय लेंगे; कुछ गतिविधियां अब भी पूरे देश में प्रतिबंधित रहेंगी

24 मार्च, 2020 से ही लागू लॉकडाउन के उपायों से कोविड-19’ के फैलाव को रोकने में काफी मदद मिली है। अत: इसे ध्यान में रखते हुए लॉकडाउन को 31 मई, 2020 तक और बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। नए दिशा-निर्देशों के तहत अब राज्य और केंद्र शासित प्रदेश ही स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा साझा किए गए मानदंडों को ध्यान में रखते हुए रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन का सीमांकन करेंगे। ये जोन दरअसल एक जिला या एक नगर निगम/नगर पालिका या यहां तक कि इससे भी छोटी प्रशासनिक इकाइयां जैसे कि उप-मंडल (सब-डिवीजन) इत्यादि हो सकते हैं, जैसा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा तय किया जाएगा। रेड और ऑरेंज जोन के अंतर्गतकंटेनमेंट एवं बफर जोन का सीमांकन स्थानीय अधिकारियों द्वारा स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए किया जाएगा। कंटेनमेंट जोन के भीतर, केवल आवश्यक गतिविधियों या कार्यों की ही अनुमति होगी। कुछ गतिविधियां अब भी पूरे देश में प्रतिबंधित रहेंगी। गैर-आवश्यक गतिविधियों के लिए शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक लोगों की आवाजाही पर रोक के लिए रात का कर्फ्यू जारी रहेगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624787

लॉकडाउन 4.0- राज्य/केंद्र शासित प्रदेश गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देशों में लगाए गए प्रतिबंधों में ढील नहीं दे सकते हैं, वे केवल उन्हें और भी अधिक सख्त बना सकते हैं: गृह मंत्रालय

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए 17.05.2020 को लॉकडाउन प्रतिबंधों के बारे में संशोधित दिशा-निर्देश जारी किए। चूंकि लॉकडाउन को 31.05.2020 तक बढ़ा दिया गया, इसलिए प्रतिबंधों में व्यापक छूट दी गई। गृह मंत्रालय ने राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को पुन: यह हिदायत दी है कि संशोधित दिशा-निर्देशों के तहत लॉकडाउन प्रतिबंधों में व्यापक छूट दिए जाने के बावजूद राज्य/केंद्र शासित प्रदेश गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देशों में लगाए गए प्रतिबंधों में ढील नहीं दे सकते हैं। यही नहीं, राज्य/केंद्र शासित प्रदेश वर्तमान स्थिति के जमीनी स्तर के विश्लेषण के आधार पर आवश्यक समझने पर कुछ अन्य गतिविधियों या कार्यों को निषिद्ध कर सकते हैं या पाबंदियां लगा सकते हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624857

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने दसवीं और बारहवीं कक्षा की शेष परीक्षाओं की तारीखों की घोषणा की

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने आज नई दिल्ली में सीबीएसई की दसवीं और बारहवीं कक्षा की शेष परीक्षाओं की तारीखों की घोषणा की। श्री पोखरियाल ने बताया कि दसवीं कक्षा की परीक्षाएं केवल उत्तर पूर्वी दिल्ली के छात्रों के लिए आयोजित की जाएंगी, जबकि बारहवीं कक्षा की परीक्षाएं उत्तर-पूर्वी दिल्ली सहित देश भर के छात्रों के लिए आयोजित की जाएंगी। सभी परीक्षाएं सुबह 10:30 से दोपहर 1:30 बजे के बीच होंगी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624967

मानव संसाधन मंत्री ने कहा एक राष्ट्र, एक डिजिटल मंचऔर एक कक्षा एक चैनलदेश के कोने-कोने तक गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की पहुंच सुनिश्चित करेगा

केन्द्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने 17 मई को नई दिल्ली में शिक्षा क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए कई पहल करने की घोषणा की। मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंकने कहा कि "एक राष्ट्र, एक डिजिटल मंच" और "एक कक्षा एक चैनल" यह सुनिश्चित करेंगे कि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सामग्री देश के दूर-दराज के इलाकों में मौजूद छात्रों तक पहुंचे। उन्होंने कहा कि यह पहल देश में सब तक समान रूप से शिक्षा की पहुंच को बढ़ावा देगी और आने वाले समय में स्कूलों में नामाकंन के अनुपात में सुधार करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि दिव्यांग बच्चों के लिए भी उचित व्यवस्था करने पर विचार किया जा रहा है और ये उपाय नए भारत के निर्माण में एक नए प्रतिमान स्थापित करेंगे।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624929

नए आर्थिक सुधार भारत की अंतरिक्ष और परमाणु क्षमताओं को अपनी पूर्ण क्षमता का एहसास करने का एक अनूठा अवसर प्रदान करेंगे: डॉ. जितेंद्र सिंह

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कोविड-19 महामारी के मद्देनजर 20 लाख करोड़ का घोषित आर्थिक पैकेज अन्य बातों के अलावा, मेडिकल आइसोटोप का उपयोग कर कैंसर के किफायती उपचार को बढ़ावा देने और परमाणु ऊर्जा विभाग (डीएई) के तत्वावधान में पीपीपी (पब्लिक-प्राइवेट-पार्टिसिपेशन) मोड में एक विशेष रिएक्टर स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित करेगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624855

कोविड-19 से निपटने में भारत के प्रयासों को समर्थन देने के लिए टीडीबी ने प्रौद्योगिकियों को मंजूरी दी

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) के सांविधिक निकाय प्रौद्योगिकी विकास बोर्ड (टीडीबी), कोविड महामारी के रोकथाम के लिए वैज्ञानिकों, प्रौद्योगिकीविदों, उद्यमियों और उद्योगपतियों के प्रयासों का सक्रिय रूप से समर्थन कर रहा है। इसके लिए बोर्ड प्रौद्योगिकियों के व्यावसायीकरण के लिए वित्तीय सहायता दे रहा है। इसके अलावा, टीडीबी स्वास्थ्य देखभाल की आपात स्थिति से निपटने में देश के प्रयासों का समर्थन करने के लिए नए समाधान की भी खोज कर रहा है। पिछले कुछ हफ्तों में, टीडीबी ने अपनी मूल्यांकन प्रक्रिया के माध्यम से, विभिन्न क्षेत्रों से सम्बन्धित बड़ी संख्या में प्रस्तावों पर विचार किया है। अब तक, टीडीबी ने व्यावसायीकरण के लिए छह परियोजनाओं को मंजूरी दी है, जिसमें थर्मल स्कैनर, चिकित्सा उपकरण, मास्क और डायग्नोस्टिक किट शामिल हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624862

उपराष्ट्रपति ने कोरोना अनुभव से मिली सीख के साथ नई जीवनशैली अपनाने का आह्वान किया

उपराष्ट्रपति तथा राज्य सभा के सभापति श्री एम. वेंकैया नायडू ने लोगों से नई जीवन शैली अपनाने का आग्रह किया और कोरोना महामारी के अभी तक के अनुभवों से सीख लेते हुए, उन्होंने इस वायरस का सामना करने के लिए 12 सूत्र अपनाने का सुझाव दिया। इन आशंकाओं के बीच कि हमें इस वायरस के साथ अधिक समय तक रहना पड़ सकता है, उन्होंने जीवन और मानवता के प्रति नया दृष्टिकोण विकसित करने पर जोर दिया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624872

पर्यटन मंत्रालय ने "देखो अपना देश" वेबिनार श्रृंखला के तहत "उत्तराखंड एक स्वर्ग" शीर्षक से 20वें वेबिनार का आयोजन किया

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1624880

 

 

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां

पंजाब : पंजाब सरकार ने निजी विद्यालयों को 2019-20 में वसूले गए शुल्क की तुलना में 2020-21 के शुल्क में कोई बढ़ोतरी नहीं किए जाने का परामर्श दिया है। इस संबंध में राज्य के सभी निजी गैर सहायता प्राप्त विद्यालयों के प्रबंधन/ प्रधानाचार्यों को पत्र भेजा गया है। पिछले चार दिनों से प्रतिदिन नए मामलों में गिरावट के बीच पंजाब के मुख्यमंत्री ने सख्त कर्फ्यू हटाकर राज्य में 31 मई तक लॉकडाउन लगाने की घोषणा की, वहीं 18 मई से गैर नियंत्रण (नॉन-कॉन्टेनमेंट) क्षेत्रों में सीमित सार्वजनिक परिवहन और अधिकतम संभावित छूट देने के संकेत दिए हैं।

हरियाणा : हरियाणा के मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण द्वारा घोषित केन्द्र के 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की आखिरी किस्त का स्वागत किया, वहीं उन्होंने 2020-21 में सकल घरेलू उत्पाद की तुलना में उधारी सीमा 3 प्रतिशत से बढ़ाकर 5 प्रतिशत किए जाने पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का आभार प्रकट किया। इससे राज्य सरकार को अतिरिक्त संसाधन मिलेंगे। इस फैसले से निश्चित रूप से हरियाणा सरकार द्वारा किए गए प्रयासों को प्रोत्साहन मिलेगा और कोविड-19 के चलते प्रभावित विभिन्न क्षेत्रों के लिए तय लक्ष्यों को तेजी से हासिल करने में सहायता मिलेगी।

हिमाचल प्रदेश : मुख्यमंत्री ने आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा घोषित आखिरी किस्त की सराहना की। वर्ष 2020-21 के लिए मनरेगा के अंतर्गत बजटीय आवंटन में 61,000 करोड़ रुपये के मौजूदा प्रावधान में 40,000 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के फैसले का स्वागत करते हुए उन्होंने कहा कि इससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के अलावा लोगों के लिए रोजगार सुनिश्चित करने की दिशा में लंबा सफर तय होगा। मुख्यमंत्री ने जीएसडीपी की तुलना में राज्यों की उधारी सीमा को 3 प्रतिशत से बढ़ाकर 5 प्रतिशत किए जाने के केन्द्र सरकार के फैसले का भी स्वागत किया। उन्होंने कहा कि इससे राज्य को अपने संसाधन विकसित करने में सहायता मिलेगी।

महाराष्ट्र : महाराष्ट्र में कोविड-19 के किसी एक दिन में सबसे ज्यादा 2,347 पॉजिटिव मामले दर्ज किए गए, जिससे राज्य का कुल आंकड़ा 33,053 के स्तर पर पहुंच गया। ताजा रिपोर्ट के अनुसार, वर्तमान में राज्य में कुल 24,161 सक्रिय मामले हैं, अभी तक उपचार के बाद 7,688 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। बेस्ट इम्प्लॉइज एक्शन कमेटी ने चालकों, आवश्यक सेवाएं देने वाले कार्यबल के लिए सुविधाओं में कमी के विरोध में आंदोलन शुरू कर दिया है। बेस्ट प्रशासन ने दावा किया कि इस आंदोलन से सड़क परिवहन प्रभावित नहीं होगा, क्योंकि राज्य परिवहन बसें अभी तक चल रही हैं। इसके अलावा नवी मुंबई में एपीएमसी बाजार कोविड-19 पॉजिटिव मामलों में बढोतरी के चलते पिछले सोमवार को बंद किए जाने के बाद एक बार फिर से खोल दिया गया है।

गुजरात : कोविड-19 के 391 नए मामले सामने आने के बाद कुल पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 11,379 के स्तर पर पहुंच गया। अभी तक कुल 4,499 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। भले ही राज्य में कोविड-19 के मामले लगातार बढ़ रहे हैं, लेकिन सुधार की दर में भी बढ़ोतरी हो रही है और यह राज्य में बढ़कर 39.53 प्रतिशत हो गई है। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राज्य में नियंत्रण क्षेत्रों और गैर नियंत्रण क्षेत्रों की विस्तृत स्थिति जानने के लिए जिलाधिकारियों, नगर आयुक्तों, डीडीओ और विभिन्न वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक की।

राजस्थान : आज दोपहर 2 बजे तक कोविड-19 के 173 नए मामले सामने आए, जिससे राज्य में पॉजिटिव मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 5,375 के स्तर पर पहुंच गई। आज डूंगरपुर में 64 नए मामले दर्ज किए गए। अभी तक कुल 3,072 मरीज उपचार के बाद स्वस्थ हो चुके हैं, वहीं 2,718 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया है।

मध्य प्रदेश : कोविड-19 के 187 नए मामले सामने आने से राज्य में मरीजों का कुल आंकड़ा 4,977 तक पहुंच गया। अभी तक स्वस्थ होने वालों का आंकड़ा 2,403 तक पहुंच गया। ताजा रिपोर्ट के अनुसार, राज्य में कुल 2,326 सक्रिय मामले हैं।

गोवा : कल कोविड-19 के 9 नए मामले दर्ज किए गए, जिसे गोवा में कोविड-19 के मामले बढ़कर 22 हो गए। कोविड-19 के नए मरीजों में से आठ लोग महाराष्ट्र से सड़क मार्ग के द्वारा गोवा पहुंचे थे, वहीं एक कर्नाटक से गोवा आया था। सभी मरीजों का ईएसआई अस्पताल में उपचार किया जा रहा है।

छत्तीसगढ़ : 19 नए मामले सामने आने से छत्तीसगढ़ में कोविड पॉजिटिव मामलों की संख्या 86 हो गई। राज्य में अभी तक कोविड से संबंधित कोई मृत्यु दर्ज नहीं की गई है।

केरल : लॉकडाउन के नियमों को लचीला किया गया : रेड जोन को छोड़कर दूसरे जिलों में छोटी दूरी की बस सेवाओं और ऑटो रिक्शा का परिचालन किया जाएगा। अंतर-जिला परिवहन के लिए संबंधित विभागों से पास लेने की आवश्यकता होगी। बुधवार से बेवको बेवरेज आउटलेट, बार (मद्यशाला) के विशेष काउंटर और बीयर तथा वाइन पार्लर खुल जाएंगे; एक मोबाइल ऐप के माध्यम से शराब की खरीद के लिए टोकन जारी किए जाएंगे। शेष एसएसएलसी और +2 राज्य बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन जून में किया जाएगा। आज शाम प्रवासी कामगारों को लेकर कोट्टायम से पहली विशेष ट्रेन पश्चिम बंगाल के लिए रवाना हो जाएगी। शाम को अबूधाबी और दोहा से दो उड़ान यहां पहुंच जाएंगी। अभी तक राज्य में 101 कोविड पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं और 23 हॉट स्पॉट हैं।

तमिलनाडु : सरकार ने कहा कि राज्य पर अम्फनचक्रवात का कोई असर नहीं पड़ेगा, लेकिन भारतीय मौसम विभाग के साथ स्थिति पर लगातार नजर रखी जा रही है। रविवार को संक्रमण के 639 नए मामलों के साथ राज्य में कोविड मरीजों का आंकड़ा 11,000 से ऊपर पहुंच गया और चार लोगों की मृत्यु हो गई। नए मामलों में देश के अन्य हिस्सों से लौटकर आए 81 लोग शामिल हैं। इस प्रकार कुल मामले बढ़कर 11,224 हो गए, जिनमें से 6,971 सक्रिय मामले हैं और इनमें 6,750 चेन्नई में हैं।

कर्नाटक : आज दोपहर 12 बजे तक 84 नए मामले सामने आ गए। कोविड के कुल मामले 1231 के स्तर पर पहुंच गए, 37 लोगों की मृत्यु हो गई, 521 लोग स्वस्थ हो गए और सक्रिय मामलों की संख्या 672 के स्तर पर बनी हुई है। राज्य में लॉकडाउन के नियमों को लचीला किए जाने की घोषणा की गई : कल से 30 प्रतिशत क्षमता के साथ सभी केएसआरटीसी और बीएमटीसी की बसों का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा, ऑटो और कैब को दो यात्रियों के साथ परिचालन की अनुमति होगी, सैलून और पार्क सुबह 7 से 9 बजे तक और शाम को 5 से 7 बजे तक खुलेंगे। मॉल्स और सार्वजनिक सभा पर बंदिशें और रात को कर्फ्यू जारी रहेगा।

आंध्र प्रदेश : केन्द्र के दिशा-निर्देशों के बाद राज्य में 31 मई तक के लिए लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है; रेड जोन्स में सख्ती जारी रहेगी। 22 मई को एमएसएमई को सहायता के लिए 904.89 करोड़ रुपये के पैकेज की पहली किस्त जारी कर दी गई। पिछले 24 घंटों में 52 नए मामले दर्ज किए गए, कोई मृत्यु नहीं हुई और 94 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया। अन्य राज्यों से लौटकर पॉजिटिव पाए गए 150 मामलों में से 125 मामले सक्रिय हैं और स्वस्थ होने के बाद 2 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया। कुल मामले : 2282, सक्रिय मामले : 705, स्वस्थ हुए : 1527, मृत्यु : 50. पॉजिटिव मामलों में अग्रणी राज्य : कुर्नूल (615), गुंटूर (417), कृष्णा (382)

तेलंगाना : सरकारी अस्पतालों में सभी सेवाएं चालू कर दी गईं; गांधी अस्पताल, चेस्ट अस्पताल नोडल कोविड-19 केन्द्रों के रूप में काम करते रहेंगे। मंचेरियल जिले में कोविड-19 के सात नए प्रवासी मजदूर पॉजिटिव पाए गए और मुंबई से लौटे दो लोग आज राजन्ना-सिरसिल्ला में पॉजिटिव पाए गए। आज कुल 9 प्रवासी पॉजिटिव सामने आए। कल तक कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,551 थी।

अरुणाचल प्रदेश : राज्य परिवहन की बसों ने आज अंतर जिला यात्रा के लिए परिचालन शुरू कर दिया है। सड़क पर सिर्फ 50 प्रतिशत बसों का परिचालन होगा।

असम : असम में मुंबई से लौटे एक कोविड-19 कैंसर मरीज की मृत्यु हो गई; गोलाघाट में दो अन्य लोग जांच में पॉजिटिव पाए गए; कुल मामले 104, सक्रिय मामले 58 हो गए और 3 लोगों की मृत्यु हो गई।

मणिपुर : मणिपुर में सरकारी क्वारंटाइन केन्द्र में 1208 लोग हैं और सामुदायिक क्वारंटाइन केन्द्रों में 4165 लोग हैं।

मेघालय : मेघालय के एक मात्र कोविड-19 पॉजिटिव व्यक्ति का दूसरा परीक्षण कराया गया और जांच रिपोर्ट निगेटिव आई। मुख्यमंत्री कॉनरेड संगमा ने कहा कि मरीज को स्वस्थ घोषित किया जा सकता है।

मिजोरम : मिजोरम में अभी तक लॉकडाउन/ कर्फ्यू के उल्लंघन के 131 मामले दर्ज किए जा चुके हैं। 19 मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं और 87 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

नागालैंड : सरकार ने 18 मई से राज्य में प्रवेश करने वाले लोगों के लिए 14 दिन के लिए संस्थागत क्वारंटाइन और उसके बाद 14 दिन के लिए अनिवार्य होम क्वारंटाइन पर रहने का आदेश जारी किया है। दीमापुर डीसी ने 5 अतिरिक्त क्वारंटाइन केन्द्रों की मांग की। इन केन्द्रों में ईदगाह मदरसा, जैन भवन, हिंदू मंदिर सामुदायिक भवन, गुरुद्वारा लॉज और दुर्गा मंदिर लॉज शामिल हैं।

सिक्किम : मुख्य सचिव ने देश के विभिन्न हिस्सों से सिक्किम के लोगों की निकासी के कार्य की प्रगति की समीक्षा के लिए राज्य कार्य बल की बैठक की अध्यक्षता की।

त्रिपुरा : फंसे हुए नागरिकों को लेकर एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन चेन्नई से अगरतला पहुंच गई। एक अन्य ट्रेन के बेंगलुरु से अगरतला पहुंचने की उम्मीद है।

पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image004WO3W.jpg

 

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image007C2IM.jpg

 

*****

एएम/एमपी/एसके

 



(Release ID: 1625020) Visitor Counter : 116