PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 14 JUL 2020 7:14PM by PIB Delhi

Coat of arms of India PNG images free download

 

 

 

 

 

 

(पिछले 24 घंटे में जारी कोविड-19 से संबंधित प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल हैं)

पिछले 24 घंटों में कोविड-19 से 17, 989 लोग स्वस्थ हुए, इसके साथ ही कोविड-19 के रोगियों के ठीक होने की कुल संख्या 5,71,459 हो गई और ठीक होने (रिकवरी) की दर बढ़कर 63.02 प्रतिशत हुई।

सक्रिय मामलों की संख्या 3,11,565 है और वे सभी चिकित्सा देख-रेख में हैं।

भारत में मृत्यु दर घटकर 2.62 प्रतिशत रह गई है।

अब परीक्षण प्रयोगशालाओं की संख्या 1206 हो गई है।

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि संकट को अवसर में बदल रहे।

भारतीय रेलवे ने सुरक्षित सफर सुनिश्चित करने के लिए कोरोना काल के बाद के लिए विशेष कोच बनाया।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से कोविड-19 पर प्राप्त अपडेट

सरकारी क्षेत्र की 853 प्रयोगशालाओं और 353 निजी प्रयोगशालाओं के साथ अब कुल परीक्षण प्रयोगशालाओं की संख्या 1206 हो गई है। पिछले घंटों के दौरान 2,86,247 नमूनों की जांच की गई। अब तक जांचे गए नमूनों की कुल संख्या 1,20,92,503 है। प्रति दस लाख पर किए जाने वाले परीक्षणों की संख्या निरंतर बढ़ रही है। आज यह संख्या बढ़कर 8762.7 हो गई है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 से 17, 989 लोग स्वस्थ हुए है, इसके साथ ही कोविड-19 के रोगियों के ठीक होने की कुल संख्या 5,71,459 हो गई और ठीक होने (रिकवरी) की दर आज बढ़कर 63.02 प्रतिशत हो गई है। सक्रिय मामलों की संख्या 3,11, 565 है और वे सभी होम आइसोलेशन या अस्पताल की देख-रेख में चिकित्सा करा रहे हैं। सक्रिय मामलों की तुलना में ठीक होने वाले मामलों की संख्या 2,59,894 से अधिक हो गई है। कोविड-19 के मरीजों के प्रभावी नैदानिक प्रबंधन के कारण भारत में मृत्यु दर घटकर 2.62 प्रतिशत हो गई है।

संकट को अवसर में बदल रहे- डॉ. हर्षवर्धन ने आस्ट्रेलिया के स्वास्थ्य मंत्री के साथ कोविड के प्रबंधन सहित द्विपक्षीय स्वास्थ्य सहयोग पर चर्चा की

 केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज द्विपक्षीय स्वास्थ्य सहयोग पर चर्चा करने के लिए आस्ट्रेलिया के स्वास्थ्य मंत्री श्री ग्रेगरी हंट के साथ डिजिटल माध्यम से बातचीत की। महामारी के नियंत्रण एवं प्रबंधन में भारत के चिकित्सा समुदाय की भूमिका की व्याख्या करते हुए डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि भारत के चिकित्सा पेशेवरों, पैरामेडिक्स एवं वैज्ञानिकों ने कोविड-19 को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उन्होंने बताया कि वे दवाओं की खोज एवं उपलब्ध दवाओं के नए उपयोग में सहायता प्रदान कर रहे हैं। उन्होंने रोगों की शुरुआत में ही वायरस को भी पृथक किया है और जिनोम सेक्वंसिंग का उपयोग करके वायरस का अध्ययन कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जनवरी 2020 में वायरस की जांच करने के लिए जहां केवल एक ही प्रयोगशाला थी, अब भारत में 1200 से अधिक प्रयोगशालाएं हैं जो व्यापक टेस्टिंग के जरिये लोगों को सुविधाएं पहुंचा रही हैं। भारत के दवा विनिर्माताओं ने भारत को 140 देशों में हाइड्रॉक्सी-क्लोरोक्वीन की आपूर्ति करने में सक्षम बनाया है। स्वास्थ्य मंत्रियों ने स्वास्थ्य एवं अन्य समान हितों के क्षेत्र में संयुक्त रूप से कार्य जारी रखने पर सहमति जताई।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

भारतीय रेलवे ने सुरक्षित सफर सुनिश्चित करने के लिए कोरोना काल के बाद के लिए विशेष कोचबनाया

भारतीय रेलवे ने कोविड-19 वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कई कदम उठाने के साथ-साथ अनेक उल्लेखनीय उपाय किए हैं। कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को बड़े जोर-शोर से निरंतर जारी रखते हुए भारतीय रेलवे की उत्पादन इकाई रेल कोच फैक्ट्री (कपूरथला) ने एक पोस्ट कोविड कोचविकसित किया है। कोरोना काल के बाद के इस विशेष कोचकी डिजाइनिंग को बेहतरीन करते हुए कोविड मुक्त यात्री सफर के लिए कोच में हैंड्स-फ्री सुविधाओं, कॉपर कोटिंग युक्त रेलिंग व चिटकनी और प्लाज्मा एयर प्यूरीफायर के अलावा टाइटेनियम डाई-ऑक्साइड कोटिंग भी की गई है। पोस्ट कोविड कोचमें अनेक हैंड्स-फ्री सुविधाएं हैं जैसे कि पैर से संचालित पानी का नल एवं साबुन निकालने की मशीन, पैर से संचालित शौचालय द्वार (बाहर), पैर से संचालित फ्लश वाल्व, पैर से संचालित शौचालय के दरवाजे की चिटकनी, टॉयलेट के बाहर स्थित वॉश बेसिन में पैर से संचालित पानी का नल एवं साबुन निकालने की मशीन और डिब्बे के दरवाजे पर बांह से संचालित हैंडल।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने डिजिटल शिक्षा पर प्राज्ञातादिशा-निर्देश जारी किए

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने आज नई दिल्ली में ऑनलाइन माध्यम से डिजिटल शिक्षा पर प्राज्ञाता’ (पीआरएजीवाईएटीए) दिशा-निर्देश जारी किए। प्राज्ञाता दिशा-निर्देशों में ऑनलाइन/डिजिटल शिक्षा के आठ चरण- योजना-समीक्षा- व्यवस्था- मार्गदर्शन- याक (बात)- असाइन- ट्रैक- सराहना शामिल हैं। ये आठ चरण उदाहरणों के साथ चरणबद्ध तरीके से डिजिटल शिक्षा की योजना और कार्यान्वयन का मार्गदर्शन करते हैं। इस अवसर पर मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंकने कहा कि कोविड-19 महामारी की वजह से सभी स्कूल बंद हैं और इससे देश भर के स्कूलों में नामांकित 240 मिलियन से अधिक बच्चे प्रभावित हो रहे हैं। स्कूलों के इस तरह आगे भी बंद रहने से बच्चों के सीखने का नुकसान हो सकता है। श्री पोखरियाल ने कहा कि शिक्षा पर महामारी के प्रभाव को कम करने के लिए स्कूलों को न केवल अब पढ़ाने और सिखाने के तरीके को बदलकर फिर से शिक्षा प्रदान करने के नए मॉडल तैयार करने होंगे,बल्कि घर पर स्कूली शिक्षा और स्कूल में स्कूली शिक्षा के एक स्वस्थ मिश्रण के माध्यम से बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने की एक उपयुक्त विधि भी पेश करनी होगी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

वित्त मंत्री ने पीएमजीकेपी के अंतर्गत कोविड-19 से लड़ाई में जुटे स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए घोषित बीमा योजना के कार्यान्वयन की समीक्षा की

केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने कल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से एक बैठक करके प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (पीएमजीकेपी) के अंतर्गत कोविड-19 से लड़ाई में जुटे स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए घोषित बीमा योजना के कार्यान्वयन की समीक्षा की। बैठक के दौरान वित्त मंत्री ने त्वरित निस्तारण के महत्व को रेखांकित किया और जल्द से जल्द नामित लोगों तक लाभ पहुंचने की आवश्यकता पर जोर दिया। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अधिकारियों ने दावों के निस्तारण में तेजी लाने के लिए राज्य नोडल अधिकारियों द्वारा अपनाई गई व्यवस्था के बारे में विस्तार से बताया, साथ ही मृतक के परिवार तक पहुंच कायम करने के साथ ही कानूनी उत्तराधिकारी से प्रमाण पत्र हासिल करने में सामने आ रही समस्याओं के बारे में बताया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की समीक्षा की

केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने कल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) के कार्यान्वयन की समीक्षा के लिए हुई एक बैठक की अध्यक्षता की। केन्द्रीय वित्त मंत्री ने इस योजना के स्वैच्छिक होने के कारण सभी किसानों के बीच इसका प्रसार सुनिश्चित करने के लिए जागरूकता गतिविधियां चलाने और दावों का समयबद्ध निस्तारण सुनिश्चित करने के लिए प्रीमियम सब्सिडी जारी करने की आवश्यकता को रेखांकित किया। श्रीमती सीतारमण ने सुझाव दिया कि किसानों को जल्द से जल्द लंबित दावों के भुगतान सुनिश्चित करने के लिए राज्यों के साथ सख्त निगरानी की जरूरत है, जहां सब्सिडी लंबित है। उन राज्यों में इस पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है जो खरीफ 2020 में योजना को कार्यान्वित नहीं कर रहे हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

सीबीएसई के बारहवीं कक्षा के परिणाम घोषित; सीबीएसई ने 'अनुत्तीर्ण' शब्द को 'आवश्यक पुनरावृत्ति' शब्द से बदलने का निर्णय किया

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने कल बारहवीं कक्षा के परिणाम घोषित कर दिए। त्रिवेंद्रम ने 97.67 प्रतिशत उत्तीर्ण प्रतिशत के साथ लगभग सभी क्षेत्रों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया, इसके पश्चात बेंगलुरु 97.05 प्रतिशत के साथ दूसरे स्थान पर रहा। कुल 11,92,961 छात्रों ने परीक्षा दी, जिनमें से 10,59,080 छात्र उत्तीर्ण हुए। इस वर्ष का कुल उत्तीर्ण प्रतिशत 88.78 प्रतिशत दर्ज किया गया है जो पिछले वर्ष के उत्तीर्ण प्रतिशत की तुलना में करीब 5.38 प्रतिशत अधिक है। सीबीएसई की 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं 15 फरवरी 2020 से 30 मार्च 2020 तक आयोजित की जानी थीं। कोविड-19 महामारी के प्रसार के कारण, सीबीएसई को 19 मार्च 2020 से 30 मार्च 2020 तक 12 विषयों के साथ-साथ उत्तर-पूर्वी दिल्ली के छात्रों के लिए 11 विषयों में होने वाली परीक्षा रद्द करनी पड़ी। इन परीक्षाओं को 01 से 15 जुलाई 2020 तक फिर से आयोजित कराने का कार्यक्रम बनाया गया था। अनिश्चितताओं और अभूतपूर्व स्थिति और छात्रों के स्वास्थ्य एवं हित को ध्यान में रखते हुए, भारत के उच्चतम न्यायालय ने 26 जून 2020 को आदेश पारित करते हुए परिणामों की गणना करने के लिए सीबीएसई की मूल्यांकन योजना को स्वीकृति दे दी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां

पंजाब: कोविड के खिलाफ अपनी लड़ाई को आगे बढ़ाते हुए, पंजाब सरकार ने सभी सार्वजनिक समारोहों पर पूरी तरह से रोक लगा दी है और एक जगह पर पांच लोगों से ज्यादा जमा नहीं होने का निर्देश दिया है। विवाह/अन्य सामाजिक कार्यों में मौजूदा 50 के बजाय 30 लोग ही शामिल हो सकते हैं। प्रतिबन्ध का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ अनिवार्य प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। राज्य सरकार ने निगरानी तेज करने के लिए आईआईटी चेन्नई के विशेषज्ञों के साथ भी साझेदारी की है, ताकि भविष्य में बड़ी संख्या में लोगों को संक्रमित करने वाले (सुपर-स्प्रेडर) सभाओं की पहचान करने के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग किया जा सके। 

अरुणाचल प्रदेश: अरुणाचल प्रदेश के ईटानगर स्थित राजभवन में राज्यपाल, उनके परिवार के सदस्यों तथा राज्यपाल सचिवालय के अधिकारियों और सदस्यों के कोविड19 परीक्षण किये गए।

असम: असम के मुख्यमंत्री श्री सर्बानंद सोनोवाल ने आज जल संसाधन विभाग की चल रही परियोजनाओं और कार्यों की समीक्षा की; इसका उद्देश्य असम के जोनाई स्थित ओकलैंड में बाढ़ और कटाव से प्रभावित क्षेत्र को संरक्षित करना है।

मणिपुर: मणिपुर पुलिस ने लॉकडाउन के उल्लंघन के खिलाफ अपने अभियान के दौरान, मास्क नहीं पहनने वाले व सार्वजनिक दूरी बनाये नहीं रखने वाले 411 व्यक्तियों पर कार्रवाई की और 310 वाहनों को रोका। जुर्माने के रूप में 60,750 रुपये की राशि वसूल की गयी।

मिजोरम: मिज़ोरम में आज ठीक हुए आठ कोविड-19 मरीज़ों को छुट्टी दे दी गई। अब राज्य में सक्रिय मामले 74 हैं जबकि अब तक 159 ठीक हो चुके हैं।

नगालैंड: कोहिमा जिला प्रशासन सभी नियंत्रित क्षेत्रों में कोविड-19 संक्रमण के संचरण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए तथा मामले का जल्द पता लगाने के लिए सक्रिय निगरानी कर रहा है।

सिक्किम: मुख्यमंत्री श्री प्रेम सिंह तमांग ने आज रोंगली उपखंड में कोविड-19 के बढ़ते मामलों और तात्कालिक उपायों पर चर्चा करने के लिए राज्य टास्क फोर्स की एक आपात बैठक बुलाई। इस बैठक में कैबिनेट मंत्रियों, मुख्य सचिव, डीजीपी और विभागों के प्रमुखों ने भाग लिया। सिक्किम सरकार ने कोविड19 की रोकथाम के लिए नए उपायों की घोषणा की। जिम और बार बंद रहेंगे, अंतर जिला और जिले के अन्दर सभी आवाजाही पर रोक लगा दी गयी है। दो-पहिया वाहनों सहित सभी निजी वाहनों पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। हालांकि, केवल स्थानीय आवाजाही के लिए टैक्सी का चलना जारी रहेगा। नियम तत्काल प्रभाव से लागू हो गए हैं और ये 31 जुलाई तक जारी रहेंगे।

महाराष्ट्र: पिछले 24 घंटों में राज्य में 6,497 नए रोगी कोविड19 पॉजिटिव पाए गए हैं। वर्तमान में कोविड19 मरीजों की संख्या 2,60,924 है। इसके अलावा, 193 और मरीजों की संक्रमण के कारण मौत हो गयी और इसके साथ ही मरने वालों की संख्या बढ़कर 10,482 हो गई है। पूरे राज्य में सक्रिय रोगियों की वर्तमान संख्या 1,05,637 है। कोविड -19 मामलों के तेजी से बढ़ने के मद्देनजर पुणे और पिंपरी- चिंचवाड़ क्षेत्र में कल आधी रात से लॉकडाउन फिर से लगा दिया गया है।

गुजरात: गुजरात में पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड-19 के 902 नए मामले दर्ज किए हैं। राज्य में अब तक कुल मामलों की संख्या 42,808 हो गई है।  राज्य में कुल 10,945 सक्रिय मामलों में से 74 रोगियों की स्थिति गंभीर है और वे वेंटिलेटर पर हैं। राज्य ने अब तक 4.70 लाख परीक्षण किए हैं।

राजस्थान: मंगलवार सुबह 98 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में कोविड -19 मरीजों की संख्या 25,000 से अधिक हो गयी है। कुल मामलों की संख्या  25,034 है। अभी 5,759 सक्रिय मामले हैं।

मध्य प्रदेश: सोमवार को 575 नए पॉजिटिव मामले सामने आये और 10 मौतें हुई। यह राज्य में अब तक एक दिन में सबसे अधिक संख्या है; कोविड-19 के मरीजों की कुल संख्या 18,207 हो गयी है। जहां वर्तमान में 4,336 सक्रिय रोगी हैं, वहीं 13,208 मरीज अब तक संक्रमण से ठीक हो चुके हैं। ग्वालियर नया हॉटस्पॉट बन गया है, जहां 110 नए मामले सामने आए हैं, जबकि इंदौर में 92 और भोपाल में 88 मामले सामने आए हैं।

छत्तीसगढ़: सोमवार को राज्य में अब तक एक दिन में सबसे अधिक संख्या, 184 नए कोरोना पॉजिटिव रोगियों की सूचना मिली है; राज्य में पॉजिटिव मामलों की संख्या 4265 हो गयी है। 1044 सक्रिय मामले हैं। सबसे ज्यादा 87 मामले रायपुर के थे, इसके बाद 26 मामले राजनांदगांव और 25 दुर्ग के थे।

गोवा: 130 नए पॉजिटिव मामलों की पहचान की गई है; राज्य में कोविड-19 रोगियों की संख्या 2,583 हो गयी है। वर्तमान में, राज्य में 1,026 सक्रिय रोगी हैं।

केरल: राज्य के अलप्पुझा मेडिकल कॉलेज में कोविड-19 की वजह से एक और मौत हुई है; मृतक गल्फ से एक लौटा हुआ व्यक्ति है और इसके साथ ही राज्य में कुल 34 मौतें हुई हैं। अलाप्पुझा, त्रिशूर, पलक्कड़ और कन्नूर जिलों को अलर्ट रहने के लिए कहा गया है क्योंकि स्थानीय संचरण के मामले बढ़ रहे हैं; इन स्थानों में ज्यादा क्लस्टर बनाए जा सकते हैं। एर्नाकुलम के चेल्लानम पंचायत में रैपिड रिस्पांस टीम तैनात की गई है जहां 35 और पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। कोच्चि और त्रिवेंद्रम में दो-दो डॉक्टरों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। इस बीच, केरल उच्च न्यायालय में एक याचिका दायर की गई है, जिसमें कोविड -19 महामारी के दौरान विरोध प्रदर्शनों पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है। कल 449 नए मामले सामने आए, जिनमें से 144 संपर्क से और 18 अज्ञात स्रोत से संक्रमित थे। राज्य में सक्रिय मामले 4,028 हैं। 713 व्यक्तियों को कल अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जो अब तक का सबसे अधिक है।

तमिलनाडु: पुडुचेरी में कोविड-19 परीक्षण की संख्या को बढ़ाने की योजना है प्रति लाख आबादी पर 3,000 नमूनों की जांच की जायेगी; कुल रोगियों की संख्या 1,531 हो गयी है; आज केंद्र शासित प्रदेश में कोविड-19 के 63 नए मामले सामने आए। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री व सीएमओ कार्यालय के कर्मचारियों की कोविड-19 रिपोर्ट नेगेटिव आयी है;  हाल ही में, तीन मंत्रियों समेत 11 विधायकों और सीएमओ में कुछ कर्मचारियों की कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आयी थी। कोयम्बटूर में अगस्त तक 4,000 मामलों के सामने आने का अनुमान है, हालांकि जिले में 9 जुलाई को केवल 1000 रोगी थे; क्लस्टर्स और यात्री  कोयम्बटूर के मामलों में वृद्धि के लिए जिम्मेदार हैं। कल 4328 नए मामले आये और 66 मौतें हुईं। कुल मामले: 1,42,798; सक्रिय मामले: 48,196; मौत: 2032; चेन्नई में सक्रिय मामले: 16,601.

कर्नाटक: बेंगलुरु शहरी और बेंगलुरु ग्रामीण जिलों में आज रात 8 बजे से लॉकडाउन प्रभावी हो गया है। दक्षिण कन्नड़, धारवाड़ और कलबुर्गी जिलों मंब लॉकडाउन कल से लागू होगा। राज्य ने त्योहारों के सभी सार्वजनिक उत्सवों पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। इस बीच राज्य सरकार ने निजी अस्पतालों और मेडिकल कॉलेज को चेतावनी दी है कि यदि कोविड रोगियों के इलाज से इनकार किया जायेगा तो उन पर आपराधिक मामले दायर किये जायेंगे। बीबीएमपी ने कोविड रोगियों की सहायता के लिए वास्तविक समय पर बिस्तर उपलब्धता सूचना प्रणाली शुरू की है। कल 2738 नए मामले आये और 73 मौतें हुईं; बैंगलोर शहर में 1315 मामले दर्ज किये गए। कुल पॉजिटिव मामले: 41,518; सक्रिय मामले: 24,572; मौत: 757।

आंध्र प्रदेश: राज्य ने 14 दिनों के लिए सख्त घरेलू क्वारंटाइन की सलाह देते हुए, देश के विभिन्न हिस्सों और विदेश से राज्य में आने वाले लोगों के लिए क्वारंटाइन के नए दिशा-निर्देश जारी किए। कर्नाटक और तेलंगाना राज्यों को उच्च जोखिम के रूप में वर्गीकृत किया गया है। राज्य ने व्यक्तियों की आवाजाही के लिए अभी तक अंतर-राज्य सीमाएं नहीं खोली हैं; राज्य में प्रवेश के लिए ई-पास प्राप्त करना अभी भी अनिवार्य है। आंध्र प्रदेश डीजीपी ने ऑपरेशन मुस्कान, कोविड-19लॉन्च किया, जिसका उद्देश्य बाल श्रम का उन्मूलन है, इसके जरिए कोविड को नियंत्रित किया जायेगा और सड़क पर रहने वाले बच्चों को वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए विशेष ध्यान दिया जायेगा। पिछले 24 घंटों के दौरान 1916 नए मामले आये; 952 को छुट्टी (डिस्चार्ज) दे दी गयी और 43 मौतें दर्ज की गयीं। कुल मामले: 33,019, सक्रिय मामले: 15,144; छुट्टी दे दी गयी: 17,467; मौत :408.

तेलंगाना: तेलंगाना उच्च न्यायालय ने कोविड-19 के लिए सामूहिक परीक्षण नहीं करने पर राज्य सरकार को फटकार लगाई और सार्वजनिक स्वास्थ्य निदेशक डॉ. जी श्रीनिवासराव को अदालत में उपस्थित होने व जवाब देने का आदेश दिया है। हालांकि, तेलंगाना में बहुत देरी के बाद, तेजी से एंटीजन परीक्षण शुरू हो गया है, लेकिन राज्य आईसीएमआर प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन नहीं कर रहा है। आईसीएमआर ने सुझाव दिया है कि जो लोग एंटीजन टेस्ट में नेगेटिव आते हैं, उनकी आरटी-पीसीआर टेस्ट किया जाना चाहिए, सरकार ने लक्षण वाले लोगों को फिर से जांच करवाने के बजाय आइसोलेशन में रहने सम्बन्धी सुझाव देने का फैसला किया है। कल तक रिपोर्ट किए गए कुल मामले: 36,221; सक्रिय मामले: 12,178; मौत: 365; छुट्टी दे दी (डिस्चार्ज) : 23,679.

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image0072MTI.jpg 

एसजी/एएम/एसके/जेके



(Release ID: 1638694) Visitor Counter : 59