PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 01 JUL 2020 6:17PM by PIB Delhi

 

Coat of arms of India PNG images free download

(पिछले 24 घंटे में जारी कोविड-19 से संबंधित प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल हैं)

 

देश में कोविड-19 के सक्रिय मामलों की तुलना में 1,27,864 ज्यादा लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड-19 के 13,157 मरीजों के स्वस्थ होने के साथ सुधार की दर बढ़कर 59.43 प्रतिशत के स्तर पर पहुंच गई। वहीं अभी तक कुल 3,47,978 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।      

2,20,114 सक्रिय मामले चिकित्सा निगरानी में बने हुए हैं।

देश में परीक्षण प्रयोगशाला नेटवर्क और मजबूत हो गया और प्रयोगशालाओं की संख्या 1,056 हो गई है।

पिछले 24 घंटों के दौरान 2,17,931 नमूनों का परीक्षण किया गया, जिससे अभी तक कुल 88,26,585 नमूनों का परीक्षण हो चुका है।

जून में 90,917 करोड़ रुपये का सकल जीएसटी राजस्व संग्रह हुआ।

आज चिकित्सक दिवस मनाया गया; प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और स्वास्थ्य मंत्री ने इस अवसर पर चिकित्सकों को शुभकामनाएं दीं।

पेट्रोलियम उत्पादों की मांग धीरे-धीरे नई सामान्य स्थिति की ओर पहुंच रही है।

 

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से कोविड-19 पर प्राप्त अपडेट: मरीजों के ठीक होने (रिकवरी) की दर बढ़कर दर 59.43 प्रतिशत हुई

आज कोविड-19 के सक्रिय मामलों की तुलना में कोविड से ठीक होने वालों की संख्या 1,27,864 अधिक हो गई है। इसके परिणामस्वरूप ठीक होने (रिकवरी) की दर बढ़कर 59.43 प्रतिशत पर पहुंच गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान, कोविड-19 के कुल 13,157 रोगी ठीक हो चुके हैं। इनकी कुल संख्या 3,47,978 हो चुकी है। वर्तमान में, 2,20,114 सक्रिय मामले हैं और सभी चिकित्सकीय देख-रेख में हैं। देश में टेस्टिंग लैब नेटवर्क को और मजबूत किया गया है। सरकारी क्षेत्र में 764 प्रयोगशालाओं और 292 निजी प्रयोगशालाओं के साथ, देश में 1056 प्रयोगशालाएं हैं। हर दिन जांचे गए नमूनों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है, पिछले 24 घंटों के दौरान कुल 2,17,931 नमूनों की जांच की गई। आज तक जांचे गए कुल नमूनों की संख्या 88,26,585 है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635705

कोविड-19 पर अपडेट

कुछ मीडिया रिपोर्टों के जरिये स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के संज्ञान में यह जानकारी आई है कि भारत सरकार द्वारा आपूर्ति किए वेंटिलेटरों में बाईलेवल पॉजिटिव एयरवे प्रेशर (बीआईपीएपी) मोड के उपलब्ध न होने का मुद्दा उठाया गया है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा दिल्ली के जीएनसीटी सहित राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को आपूर्ति किए गए मेक इन इंडियावेंटिलेटर आईसीयू के प्रयोजन के लिए है। इन कोविड वेंटिलेटरों के लिए तकनीकी विनिर्देश स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के डायरेक्टर जनरल हेल्थ सर्विसेज (डीजीएचएस) की अध्यक्षता में डोमेन नॉलेज एक्सपर्ट्स की एक तकनीकी समिति द्वारा निर्धारित हैं, जिसके अनुरूप वेंटिलेटरों की खरीद की गई और आपूर्ति की गई है। वेंटिलेटरों की खरीद और आपूर्ति इन विनिर्देशों के अनुपालन के साथ की गई है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635593

चिकित्सक दिवस के मौके पर देश के चिकित्सक समुदाय को प्रधानमंत्री का सलाम

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने चिकित्सक दिवस पर देश के चिकित्सकों को उनकी असाधारण सेवाओं के लिए सलाम किया है। प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट संदेश में कहा "देश कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में असाधारण रूप से सेवाएं दे रहे सबसे आगे मोर्चे पर डटे हमारे चिकित्सकों को सलाम करता है। चिकित्सक दिवस पर शुभकामनाएं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635571

डॉ. हर्षवर्धन ने एनबीई के फैलोशिप प्रोग्राम फॉर इंटरनेशनल स्टूडेंट्स (एफपीआईएस) के लिए गुड क्लीनिकल प्रैक्टिस गाइडलाइंस हैंडबुक और प्रॉस्पेक्टस जारी किया

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड (एनबीई) के अंतरराष्ट्रीय छात्रों के फैलोशिप प्रोग्राम (एफपीआईएस) के लिए गुड क्लीनिकल प्रैक्टिस गाइडलाइंस हैंडबुक और प्रॉस्पेक्टस जारी किया। वेब प्लेटफॉर्म पर ई-बुक का विमोचन करते हुए, डॉ. हर्षवर्धन ने चिकित्सा समुदाय से अपने पेशे में नैतिक व्यवहार का पालन करने का संकल्प लेने का आह्वान किया। डॉ. हर्षवर्धन ने राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के अवसर पर डॉक्टरों को बधाई देते हुए डॉ. बीसी रॉय को श्रद्धांजलि अर्पित की, जिनके सम्मान में 1 जुलाई को पूरे देश में राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस के रूप में मनाया जाता है। उन्होंने कहा एक डॉक्टर बनना एक व्यक्तिगत उपलब्धि है जबकि एक अच्छा डॉक्टर बनना एक निरंतर चुनौती है। यह एकमात्र ऐसा पेशा है जहां पर कोई भी व्यक्ति एक ही समय में रोजी-रोटी कमा सकता है और पूरी मानवता की सेवा भी कर सकता है।उन्होंने कोविड महामारी के दौरान डॉक्टरों द्वारा की गई निःस्वार्थ सेवा के लिए गहरी कृतज्ञता व्यक्त की। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि वही हमारे असली हीरो हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635738

केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने डॉक्टर्स डेके अवसर पर बधाई देते हुए डॉक्टरों का आभार व्यक्त किया

डॉक्टर्स डे पर आज केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने एक ट्वीट के माध्यम से भारत के बहादुर डॉक्टरों का आभार व्यक्त किया है और धन्यवाद दिया है जोकि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में अग्रिम मोर्चे पर काम कर रहे हैं। केन्द्रीय गृह मंत्री ने अपने संदेश में कहा कि इस चुनौतीपूर्ण समय में राष्ट्र को सुरक्षित और स्वस्थ रखने के लिए डॉक्टरों की प्रतिबद्धता वास्तव में असाधारण है। केन्द्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि आज डॉक्टर्स डे पर पूरा राष्ट्र उनकी निष्ठा और बलिदान को सलाम करता है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635604

झारखंड के सहिया: सभी जगह सामुदायिक स्वास्थ्य कर्मियों के लिए प्रेरणा के स्रोत

झारखंड में सहियाके नाम से जानी जाने वाली आशाकर्मी विशेष रूप से आदिवासी क्षेत्रों में स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं में सहयोग कर रही हैं। राज्य में लगभग 42,000 सहिया हैं, जिन्हें 2260 सहिया साथियों (आशाकर्मियों), 582 ब्लॉक प्रशिक्षकों, 24 जिला सामुदायिक मोबलाइज़र और एक राज्य स्तरीय सामुदायिक प्रक्रिया संसाधन केंद्र की ओर से मदद मिलती है। मार्च 2020 से ही सहिया कोविड-19 से संबंधित विभिन्न गतिविधियों में सक्रिय रूप से जुड़ी हुई हैं। इनमें कोविड-19 के निवारक उपायों के बारे में जागरूकता पैदा करना, जैसे साबुन और पानी से लगातार हाथ धोना, सार्वजनिक स्थानों पर बाहर निकलते समय मास्क/फेस कवर का उपयोग करना, खांसी और छींकने आदि के दौरान उचित शिष्टाचार का पालन करना आदि शामिल हैं। वे कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग, लाइन लिस्टिंग और कोविड-19 मामलों का पता लगाने में भी सहयोग कर रही है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635643

जून में 90,917 करोड़ रुपये का सकल जीएसटी राजस्व का संग्रह हुआ

जून, 2020 में सकल जीएसटी (वस्तु  एवं सेवा कर) राजस्व संग्रह 90,917 करोड़ रुपये का हुआ जिसमें सीजीएसटी 18,980 करोड़ रुपये, एसजीएसटी 23,970 करोड़ रुपये, आईजीएसटी 40,302 करोड़ रुपये (वस्तुओं के आयात पर संग्रहीत 15,709 करोड़ रुपये सहित) और उपकर (सेस) 7,665 करोड़ रुपये (वस्तुओं के आयात पर संग्रहीत 607 करोड़ रुपये सहित) हैं। जून, 2020 में राजस्व पिछले साल के इसी महीने में अर्जित जीएसटी राजस्व का 91% है। कोविड-19 के कारण चालू वित्त वर्ष के दौरान राजस्व काफी प्रभावित हुआ है, जिसका एक कारण महामारी का व्यापक आर्थिक प्रभाव और दूसरा कारण महामारी को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा रिटर्न दाखिल करने और करों के भुगतान में दी गई ढील है। हालांकि, पिछले तीन महीनों के आंकड़े जीएसटी राजस्व में सुधार या बेहतरी दर्शाते हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635600

पेट्रोलियम उत्पादों की मांग धीरे-धीरे सामान्य हो रही है

भारत में पेट्रोलियम उत्पादों की खपत जो इस वर्ष मार्च और अप्रैल के अंतिम सप्ताह में गिर गई थी अब धीरे-धीरे सुधरकर जून में पूर्व लॉकडाउन के स्तर पर आ रही है। तेल विपणन कंपनियों इंडियन आयल कॉर्पोरेशन, भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन और हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन के बिक्री आंकड़ों से यह बात सामने आयी है। दुनिया के तीसरे सबसे बड़े तेल खपत वाले देश भारत में पेट्रोलियम उत्पादों की बिक्री कोविड महामारी की रोकथाम के लिए लगाए गए देशव्यापी लाकडाउन की वजह से 2007 के बाद से सबसे कम हो गई थी। क्रमिक रूप से लॉकडाउन में ढील दिए जाने और चरणबद्ध तरीके से अर्थव्यवस्था को अनलॉक करने की शुरुआत के साथ, औद्योगिक गतिविधि और लोगों की आवाजाही फिर से शुरू करने की अनुमति मिलने के साथ जून' 20 में कुल पेट्रोलियम उत्पादों की खपत 88% (11.8 एमएमटी) तक पहुंच गई जबकि जून 2019 में यह (13.4 एमएमटी) थी।  खपत में तेजी उत्पादन, औद्योगिक तथा परिवहन गतिविधियों का बढ़ना आर्थिक क्षेत्र से जुड़ी गतिविधियों में वृद्धि का संकेत है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635742

संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2020 और भारतीय वन सेवा परीक्षा, 2020

संघ लोक सेवा आयोग सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2020 और भारतीय वन सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2020 का आयोजन 4 अक्तूबर 2020 (रविवार) को पूरे भारत में संशोधित कार्यक्रम/और इसके तहत 5 जून 2020 को प्रकाशित आरटीएस के अनुसार करेगा। सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2020 [भारतीय वन सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2020] के उम्मीदवारों की बड़ी संख्या में परीक्षा केंद्रों को बदलने के लिए उनकी ओर से प्राप्त अनुरोधों को ध्यान में रखते हुए आयोग ने उन्हें दोबारा अपने पंसद का केन्द्र चुनने का विकल्प देने का फैसला किया है। इसके अलावा सिविल सेवा (मुख्य) परीक्षा, 2020 और भारतीय वन सेवा (मुख्य) परीक्षा, 2020 के लिए भी उम्मीदवारों को अपने पंसद का केन्द्र चुनने का विकल्प उपलब्ध कराया जा रहा है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635682

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अंतर्गत अप्रैल-नवंबर, 2020 के दौरान खाद्यान्नों (चावल और गेहूं) और दालों के वितरण के लिए अनुमानित लागत लगभग 1,48,938 करोड़ रुपये है

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कल प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को नवंबर, 2020 के अंत तक बढ़ाने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा कि पीएमजीकेएवाई योजना को जुलाई से नवंबर, 2020 के अंत तक बढ़ा दिया गया है। इस पांच महीने की अवधि के दौरान 80 करोड़ से अधिक लोगों को प्रति माह प्रत्येक परिवार को 1 किलो मुफ्त साबूत चने के साथ प्रति सदस्य को 5 किलो मुफ्त गेहूं/चावल प्रदान किया जाएगा। इस प्रकार, खाद्यान्न (चावल और गेहूं) और दालों के वितरण की अनुमानित लागत लगभग 1,48,938 करोड़ रुपये होगी, जिसमें कुल अनुमानित व्यय रुपये 46,061 करोड़ का वहन भारत सरकार द्वारा खाद्यान्न सब्सिडी और अंतर-राज्य परिवहन, डीलर के मार्जिन सहित ईपीओएस के उपयोग पर खर्च के लिए किया जायेगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635733

केन्द्रीय गृह मंत्री ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार कर गरीबों को नवंबर तक मुफ्त राशन देने के लिए प्रधानमंत्री का अभिनंदन किया

श्री अमित शाह ने अपने ट्वीट संदेश में कहा कि गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार श्री नरेन्द्र मोदी जी की करोड़ों गरीबों के प्रति संवेदनशीलता और उनके कल्याण के प्रति कटिबद्धता को दर्शाता है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635410

केन्द्रीय कृषि और किसान कल्याiण मंत्री ने किसानों से अपील की कि वे खरीफ मौसम के दौरान अधिकतम फसल उत्पादन के लिए कृषि संबंधी सर्वश्रेष्ठ कार्य प्रणाली अपनाएं

केन्द्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने किसानों अपील की है कि वे खेती को एक लाभकारी कार्य बनाने के लिए खेत के प्रकार को ध्यान में रखते हुए विभिन्न प्रकार की फसलें उगाएं। देश के किसानों को एक पत्र में, श्री तोमर ने कहा कि देश के अधिकांश हिस्सों में मॉनसून की शुरुआत के साथ, कई जगहों पर फसलों की बुवाई पूरी हो चुकी है, और अन्य क्षेत्रों में प्रक्रिया जारी है। श्री तोमर ने अपने पत्र में कहा है कि वह किसानों से संवाद कर रहे हैं ताकि उन्हें उत्पादन बढ़ाने के लिए सर्वश्रेष्ठ कृषि पद्धतियों को अपनाने के लिए प्रेरित किया जा सके। कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान कृषक समुदाय की निष्ठा की सराहना करते हुए श्री तोमर ने कहा कि कृषि उत्पादन देश की अर्थव्यवस्था की धुरी बन गया है; कृषि और गांव आत्मनिर्भर भारत के केन्द्र में हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635645

कोविड-19 के चुनौतीपूर्ण समय में भी आरसीएफ ने कृषक समुदाय को उर्वरकों की उपलब्धता सुनिश्चित की है

आरसीएफ के संयंत्र प्रचालनगत रहे हैं और पर्याप्त मात्रा में इसके द्वारा उर्वरकों का उत्पादन किया गया। इसके विनिर्मित उर्वरकों के अतिरिक्त, आरसीएफ ने देश में वर्तमान खरीफ मौसम के लिए किसानों को दो लाख एमटी से अधिक ट्रेडेड कांप्लेक्स उर्वरक अर्थात डीएपी, एपीएस (20 : 20 :0 : 13) तथा एनपीके (10 : 26 : 26) उपलब्ध कराया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1635697

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां

चंडीगढ़ : संघ शासित प्रदेश चंडीगढ़ के प्रशासक ने निर्देश दिए कि बाहर से आने वाले मरीजों की ज्यादा गहनता से जांच की जानी चाहिए, जिसके बाद ही शुरुआती चरण में ही मामले पता लगाए जा सकते हैं। उन्होंने स्वास्थ्य अधिकारियों को गर्भवती महिलाओं, वरिष्ठ नागरिकों और बच्चों जैसे कमजोर वर्गों पर ध्यान केन्द्रित करने के निर्देश दिए। उन्होंने सलाह दी कि नागरिकों को अपने पड़ोस में किसी को कोरोना के लक्षण दिखने पर इसकी सूचना तुरंत देनी चाहिए, जिससे जल्द से जल्द उपचार शुरू किया जा सके।

पंजाब : पंजाब सरकार ने 01 जुलाई 2020 से 30 जुलाई 2020 तक चलने वाले अनलॉक 2के लिए चरणबद्ध तरीके से गतिविधियों को खोले जाने के लिए दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं और संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों के बाहर के क्षेत्रों में ज्यादा गतिविधियों को खोलने का फैसला किया है। सामाजिक दूरी सुनिश्चित करते हुए, सभी गतिविधियों के लिए हमेशा कम से कम 6 फुट (दो गज की दूरी) की दूरी बनाए रखी जाएगी। इस क्रम में, यदि किसी स्वीकृत गतिविधि के चलते भीड़-भाड़ जैसी स्थिति पैदा हो, तो कार्यालयों और प्रतिष्ठानों के समय में बदलाव, पालियों में संचालन, रोटेशन जैसे आवश्यक कदम उठाए जाने चाहिए और सुनिश्चित करना चाहिए कि सामाजिक दूरी के नियमों के साथ कोई समझौता नहीं हो। कार्य स्थलों सहित सार्वजनिक स्थलों में सभी लोगों द्वारा मास्क पहनना अनिवार्य किया जाएगा और इसकी सख्ती से निगरानी और पालन किया जाना चाहिए।

हिमाचल प्रदेश : मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के इस साल नवंबर के अंत तक विस्तार से संबंधित घोषणा की सराहना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री की 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को पांच महीने के लिए परिवार में प्रति सदस्य मुफ्त 5 किग्रा चावल/गेहूं के रूप में मुफ्त राशन के साथ ही प्रति परिवार एक किग्रा चना देने की घोषणा इस संकट के दौर में इन लोगों के लिए वरदान साबित होगी।

हरियाणा : उप मुख्यमंत्री ने आत्मनिर्भर पैकेज के अंतर्गत पशुपालन और संबंधित सेवाओं विशेषकर मुर्गी पालन को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उपक्रमों की श्रेणी में एकीकृत करने और साथ ही कोविड-19 महामारी को ध्यान में रखते हुए केन्द्रीय वित्त मंत्रालय के माध्यम से इस क्षेत्र को कर्ज उपलब्ध कराने के लिए बैंकों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए जाने का अनुरोध किया है।

केरल : राज्य मंत्रिमंडल ने आज बसों के किराये में बढ़ोतरी को मंजूरी दे दी है; किरायों में यह बढ़ोतरी कोविड संकट कम होने तक लागू रहेगी। अनलॉक 2.0 के लिए केन्द्र सरकार के दिशा-निर्देशों को स्वीकार करते हुए केरल ने लॉकडाउन की बंदिशों में ढील देने का एक आदेश जारी किया है। केरल सरकार राज्य में प्रवेश पर जगराता पोर्टल पर पंजीकरण कराने की शर्त को जारी रखेगी। 31 जुलाई तक संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों में सख्त लॉकडाउन जारी रहेगा। वहीं, वायनाड में कट्टुनिकर जनजाति से आने वाली एक 40 वर्षीय महिला जांच में पॉजिटिव पाई गई, जो जनजातीय बहुल पंचायत में वायरस संक्रमित पाई गई पहली मरीज है। केरल के नौ अन्य लोगों की राज्य के बाहर कोरोना वायरस के चलते मौत हो गई है। राज्य में कल कोरोना वायरस के 131 नए पॉजिटिव मामलों की पुष्टि हुई। इनमें से 10 मामले स्थानीय संक्रमण से संबंधित थे। वर्तमान में राज्य के विभिन्न अस्पतालों में 2,112 मरीजों का उपचार चल रहा है।

तमिलनाडु : राज्य सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में धार्मिक स्थलों के लिए एसओपी जारी किए हैं, जो बुधवार यानी 1 जुलाई से पूजा के लिए खोल दिए गए; हालांकि कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी के कारण इन स्थलों को चेन्नई और मदुरई, कांचीपुरम, थिरुवल्लूर और चेंगापत्तू जैसे जिलों में नहीं खोला गया है। छह दिन के सफर के बाद ईरान में फंसे 687 भारतीयों को लेकर आईएनएस जलाश्व थूथुकुदी पहुंच गया, जिनमें 652 लोग तमिलनाडु के थे। कल राज्य में 3,943 नए मामले सामने सामने आए, 2,325 लोग स्वस्थ हो गए और 60 लोगों की मृत्यु हो गई। कुल मामले : 90167, सक्रिय मामले : 38889, मृत्यु : 1201, चेन्नई में सक्रिय मामले : 22610।

कर्नाटक : राज्य सरकार ने मंगलवार को अनलॉक 2.0 के दिशा-निर्देश जारी कर दिए, जो 31 जुलाई तक लागू रहेंगे। जुलाई में रात का कर्फ्यू रात 8 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेगा; सरकारी कार्यालयों में सप्ताह में पांच दिन काम होगा; स्कूल बंद रहेंगे। राज्य सरकार बेंगलुरु और उडुपी में 15 जुलाई से सीरो-सर्वेक्षण कराएगी; पायलट अध्ययन के बाद पूरे कर्नाटक को इससे कवर किया जाएगा। मंगलवार को कर्नाटक में 20 लोगों की मृत्यु हो गई, जो किसी एक दिन में मौत का सबसे ऊंचा आकंड़ा है। कोविड के 947 नए मामले सामने आए और कल 235 मामले दर्ज किए गए थे। कुल पॉजिटिव मामले : 15242, सक्रिय मामले : 7074, मृत्यु : 246, डिस्चार्ज : 7918।

आंध्र प्रदेश : राज्य में स्वास्थ्य आधारभूत सुविधाओं को बढ़ावा देते हुए मुख्यमंत्री ने 108 और 104 नंबर वाली नई 1,088 एम्बुलेंस का शुभारम्भ किया, जिसका उद्देश्य विशेष रूप से कोविड-19 के दौर में लोगों को तेजी से स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराना है। उच्च न्यायालय ने सभी निचली अदालतों में कार्यवाही निलंबित करने का आदेश जारी किया। हालांकि, अपने दिशा-निर्देश में उच्च न्यायालय ने आपात स्थिति में ऑनलाइन याचिका दाखिल करने के लिए कहा है। प्रकासम जिले में 10 पुलिसकर्मी और एक आयुष चिकित्सा अधिकारी कोरोना जांच में पॉजिटिव पाए गए। 28,239 नमूनों की जांच के बाद पिछले 24 घंटों के दौरान 657 नए मामले सामने आए, 342 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया और छह लोगों की मृत्यु हो गई। 657 मामलों में 39 अंतर राज्यीय मामले हैं और सात विदेश से आए लोगों से संबंधित हैं। कुल मामले : 15252, सक्रिय मामले : 8071, डिस्चार्ज : 6988, मृत्यु : 193।

तेलंगाना : दक्षिण मध्य रेलवे ने कोविड-19 उपचार के लिए रेलवे अस्पताल को तैयार कर दिया है; मरीजों के उपचार के लिए अस्पताल में आईसीएमआर के नियमों के तहत व्यवस्थाएं की जा रही हैं। तेलंगाना सरकार ने संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों में 31 जुलाई तक लॉकडाउन में विस्तार के साथ ही संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों से बाहर के इलाकों में जांच परखकर गतिविधियां खोलने का आदेश जारी किया है। कल तक कुल मामले : 16339, सक्रिय मामले : 8785, मृत्यु : 260, डिस्चार्ज : 7294।

अरुणाचल प्रदेश : अरुणाचल के मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस पर अपने संदेश में कहा कि कोविड-19 महामारी वैश्विक समुदायों को प्रभावित कर रही है, ऐसे में हमारे सभी चिकित्सक और अग्रणी स्वास्थ्य कर्मचारी जिंदगियों की रक्षा में रात और दिन काम कर रहे हैं। उनकी सुरक्षा के लिए प्रार्थना करनी चाहिए, क्योंकि वे वायरस से समाज की रक्षा के लिए अपने आपको खतरे में डालते हैं।

असम : असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट के माध्यम से कहा कि अब असम में 13 कोविड-19 परीक्षण प्रयोगशालाएं हैं और 6 अन्य जल्द ही काम करने लगेंगी।

मणिपुर : मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने आज चिकित्सक दिवस के अवसर पर ऐसे सभी चिकित्सकों को हार्दिक शुभकामनाएं और सलामी दी, जो कोविड-19 के खिलाफ आगे बढ़कर काम कर रहे हैं और लोगों की जान बचाने में लगे हुए हैं।

मिजोरम : आज मिजोरम में एक मरीज को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया। अब राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 37 के स्तर पर है। कुल कोविड-19 के मामले बढ़कर 160 हो गए, जबकि 123 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरामथंगा ने पीएमजीकेवाई के विस्तार के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय मंत्री राम विलास पासवान के प्रति आभार प्रकट किया है।

नागालैंड : राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस पर नागालैंड के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने चिकित्सकों के प्रति आभार प्रकट किया; कहा कि उन्होंने विशेष रूप से महामारी से लड़ाई के इस अप्रत्याशित दौर में समय से उपचार उपलब्ध कराकर हमारे लोगों के लिए सेवाएं दी हैं और बलिदान दिया है, जो वास्तव में सराहनीय है।

सिक्किम : सिक्किम के मुख्यमंत्री ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में अग्रणी स्वास्थ्य कर्मचारियों को उनकी निःस्वार्थ सेवा और समर्पण के लिए प्यार, सम्मान और सराहना की निशानी के रूप वित्तीय प्रोत्साहन देने की घोषणा की है। उन्होंने चिकित्सकों को 20,000 रुपये, नर्सिंग कर्मचारियों को 10,000 रुपये और सहायक कर्मचारियों को 5,000 रुपये की एकमुश्त प्रोत्साहन राशि देने की घोषणा की है।

महाराष्ट्र : राज्य में कोविड-19 मरीजों की संख्या 1,74,761 के स्तर पर पहुंच गई। मंगलवार को 4,878 नए मरीज पॉजिटिव पाए गए, जबकि 1,951 मरीज स्वस्थ हो गए। अभी तक राज्य में 90,911 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। राज्य में कुल सक्रिय मामले 75,979 के स्तर पर हैं। ग्रेटर मुंबई क्षेत्र में मंगलवार को 903 पॉजिटिव मरीज पाए गए, 625 स्वस्थ हो गए और 36 लोगों की मृत्यु हो गई। अब मुंबई में कुल मामले 77,197 के स्तर पर हैं, वहीं कुल 44,170 लोग स्वस्थ हो चुके हैं और 4,554 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। दूसरी तरफ, राज्य के 11 कारागारों में 361 कैदी जांच में पॉजिटिव पाए जा चुके हैं, जिसमें 106 सक्रिय मामले हैं। इन कारागारों में 94 कारागारकर्मी जांच में पॉजिटिव पाए जा चुके हैं, वहीं चार लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

गुजरात : पिछले 24 घंटों के दौरान 626 नए मामले सामने आने के साथ राज्य में कोविड-19 के मामले बढ़कर 32,446 के स्तर पर पहुंच गए। राज्य में कोविड-19 के चलते 20 मरीजों की मृत्यु हो गई, जिससे इस वायरस से मरने वालों की संख्या 1,848 के स्तर पर पहुंच गई। सूरत शहर से अधिकतम 183 मामले सामने आए, जो पहली बार नए मामलों में अहमदाबाद से आगे निकल गया। अहमदाबाद शहर में 182 नए मामले दर्ज किए गए। पिछले 24 घंटों में स्वस्थ होने के बाद विभिन्न अस्पतालों से 422 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया। इसके साथ कोविड-19 से स्वस्थ होने वाले मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 23,670 हो गई। राज्य में अभी तक 3 लाख 73 हजार से ज्यादा परीक्षण हो चुके हैं। वहीं, अनलॉक 2.0 के लिए आज से नए दिशा-निर्देश लागू हो गए, जिसमें गैर संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों में रात 8 बजे तक दुकानें खुली रहेंगी, वहीं होटल और रेस्टोरेंट रात 9 बजे तक खुले रहेंगे। आईआईटी गांधीनगर ने छाती के एक्सरे से कोविड-19 का पता लगाने वाला एक आर्टीफिशियल इंटेलिजेंस आधारित एक टूल विकसित किया है। इस टूल को चिकित्सा जांच से पहले एक त्वरित शुरुआती निदान में उपयोग किया जा सकता है।

राजस्थान : मंगलवार को 78 नए मामले सामने आने के साथ राज्य में कोविड-19 के मरीजों की संख्या बढ़कर 18,092 हो गई। वहीं अभी तक कुल 14,232 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। अलवर जिले में 29 नए मामले दर्ज किए गए, जबकि 25 मामले जयपुर से थे।

मध्य प्रदेश : मंगलवार को 223 नए सामने आने के साथ राज्य में कोविड-19 के मरीजों की संख्या बढ़कर 13,593 हो गई। राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या 2,626 के स्तर पर है, जबकि कुल 10,395 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और 572 लोगों की मौत हो चुकी है। हॉटस्पॉट इंदौर में मंगलवार को 45 नए मामले दर्ज किए गए और तीन लोगों की मृत्यु हो गई, जिससे शहर में कोविड-19 के मरीजों की संख्या बढ़कर 4,709 हो गई। राजधानी भोपाल में मंगलवार को 25 नए मामले सामने आए और 3 लोगों की मृत्यु हो गई। इस प्रकार भोपाल में कोविड-19 के मरीजों की संख्या 2,789 के स्तर पर है। मुरैना जिले में 59 नए मामले दर्ज किए गए, वहीं ग्वालियर में 14 और भिंड में 12 नए मामले दर्ज किए गए। आज किल कोरोना अभियान का शुभारम्भ किया गया, जिसका उद्देश्य कोविड-19 के मद्देनजर राज्य के प्रत्येक परिवार तक पहुंच कायम करना है। आज से इस महीने की 15 तारीख तक 11,400 से ज्यादा टीम घर-घर जाकर सर्वेक्षण करेंगी। राज्य में विकसित ऐप सार्थक को सर्वेक्षण में उपयोग किया जाएगा।

छत्तीसगढ़ : मंगलवार को राज्य में 63 नए मरीज सामने आए और 100 लोग स्वस्थ हो गए, जिससे राज्य में कोविड-19 के कुल मामले बढ़कर 2,858 के स्तर पर पहुंच गए। सक्रिय मरीजों की संख्या 595 के स्तर पर है, जबकि कुल 2,250 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

गोवा : मंगलवार को 64 नए मरीजों का पहचान हुई, जिससे राज्य में कोविड-19 के मरीजों की संख्या बढ़कर 1,315 हो गई। अब राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 716 हो गई है। मंगलवार को 72 मरीज स्वस्थ हो गए, जिससे राज्य में स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या बढ़कर 596 हो गई। 

पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य

 

 

************

एसजी/एएम/एमपी/एसके

 



(Release ID: 1635877) Visitor Counter : 70


Read this release in: English , Marathi , Assamese , Manipuri , Bengali , Punjabi , Gujarati , Telugu , Kannada , Malayalam