स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय

कोविड -19 पर अपडेट

Posted On: 26 MAY 2020 5:26PM by PIB Delhi

      एक श्रेणीबद्ध, पूर्व-तैयारी और सक्रिय दृष्टिकोण के माध्यम से, भारत सरकार कोविड–19 की रोकथाम, नियंत्रण और प्रबंधन के लिए राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों के साथ मिलकर कई कदम उठा रही है। उच्चतम स्तर पर इनकी नियमित रूप से समीक्षा और निगरानी की जा रही है।

      प्रशासन का ध्यान रोकथाम और नियंत्रण के उपायों पर है, ताकि संक्रमण के प्रसार को सीमित किया जा सके। संक्रमण से बचने के लिए हाथ की स्वच्छता, श्वसन स्वच्छता और अक्सर छुए जाने वाली सतहों की प्रभावी स्वच्छता महत्वपूर्ण है। इस संकट से निपटने के लिए उचित व्यवहार सुनिश्चित करने की आवश्यकता है। इसमें मास्क/फेस कवर का नियमित उपयोग और बुजुर्गों एवं कमजोर लोगों की सुरक्षा के लिए काम करना भी शामिल है। एक-दूसरे से दूरी बनाये रखना ही वह सामाजिक टीका है, जो वर्तमान में कोरोनावायरस के खिलाफ दुनिया के पास उपलब्ध है।

      भारत ने अपनी परीक्षण क्षमता में तेजी से वृद्धि की है और यह बढ़ती  आवश्यकताओं को पूरा करने के अनुरूप है। भारत अब प्रति दिन लगभग 1.1 लाख नमूनों का परीक्षण कर रहा है। प्रयोगशालाओं, पारियों, आरटी-पीसीआर मशीनों और स्वास्थकर्मियों की संख्या में वृद्धि से क्षमता में वृद्धि हुई है। कोविड–19 संक्रमण के परीक्षण के लिए भारत में कुल 612 प्रयोगशालाएं हैं, जिसमें 430 आईसीएमआर द्वारा और 182निजी क्षेत्र द्वारा संचालित हैं। लक्षण वाले प्रवासी श्रमिकों की तुरंत जांच और बिना लक्षण वाले के लिए क्वारंटाइन संबंधी दिशा-निर्देश राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों को जारी किए गए हैं। अधिकांश राज्य/केन्द्र शासित प्रदेश नेशनल ट्यूबरकुलोसिस एलिमिनेशन प्रोग्राम (एनटीईपी) के साथ काम कर रहे हैं, जो कोविड-19 परीक्षण के लिए ट्रूनैटमशीनों का उपयोग कर सकते हैं। आरटी-पीसीआर-किट, वीटीएम, स्वैब और आरएनए एक्सट्रैक्शन किट के स्वदेशी निर्माताओं की पहचान की गई है और पिछले कुछ महीनों में उनके उत्पादन के लिए सुविधा प्रदान की गयी है।

      देश में ठीक (रिकवरी) होने की दर में सुधार जारी है और वर्तमान में यह 41.61 प्रतिशत है। कोविड-19 से अब तक कुल 60,490 मरीज ठीक हो चुके हैं। देश में कोविड-19 से सम्बंधित मृत्यु दर भी 3.30 प्रतिशत(15 अप्रैल को) से कम होकर 2.87 प्रतिशतरह गयी है, जो वर्तमान में दुनिया में सबसे कममृत्यु दरों में एक है। महामारी के घातक होने का वैश्विक औसत दर वर्तमान में लगभग 6.45 प्रतिशत है।

      प्रति लाख जनसंख्या पर मौत का विश्लेषण बताता है कि भारत में प्रति लाख आबादी पर 0.3 मौत होती हैं, जो दुनिया के लिए प्रति लाख जनसंख्या में 4.4 मौत के आंकड़ों के मुकाबले में सबसे कम में से एक है। प्रति लाख आबादी पर हुई मौत और संक्रमण से अपेक्षाकृत कम मृत्यु से सम्बंधित आंकड़े, समय पर मामले की पहचान और मामलों के नैदानिक ​​प्रबंधन को दिखाते हैं।

      कोविड-19 संबंधित तकनीकी मुद्दों पर सभी प्रामाणिक और अद्यतन जानकारी, दिशा-निर्देश और सलाह के लिए नियमित रूप से देखें:https://www.mohfw.gov.in/ और@MoHFW_INDIA

      कोविड-19 से संबंधित तकनीकी प्रश्न technquery.covid19@gov.inपर और अन्य प्रश्न@CovidIndiaSevaतथा ncov2019@gov.inपर भेजे जा सकते हैं।

      कोविड- 19 पर किसी भी प्रश्न के लिए स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के हेल्पलाइन नंबर: + 91-11-23978046 या 1075 (टोल-फ्री) पर कॉल करें। कोविड-19 के लिए  राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों के हेल्पलाइन नंबरों की सूची https://www.mohfw.gov.in/pdf/coronvavirushelplinenumber.pdfपर उपलब्ध है।

***

एसजी/एएम/जेके/एसएस



(Release ID: 1627001) Visitor Counter : 89