PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 04 MAY 2020 6:44PM by PIB Delhi

Coat of arms of India PNG images free download

 

(पिछले 24 घंटे में जारी कोविड-19 से संबंधित प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी फील्ड कार्यालयों से जानकारियां और पीआईबी द्वारा तथ्यों की पड़ताल शामिल है)

 

  • देश में कोविड-19 से 11,706 लोग ठीक हो गए हैं और रिकवरी रेट 27.52 प्रतिशत हो गया है।
  • कल से 2,553 मामले बढ़े हैं और कुल पुष्ट मामलों की संख्या बढ़कर 42,533 हो गई है।
  • 20 केंद्रीय स्वास्थ्य टीमें देश के उन जिलों में भेजी जा रही हैं, जहां से कोविड-19 के अधिकतम मामले आए हैं।
  • विदेश में फंसे भारतीय नागरिकों को चरणबद्ध तरीके से स्वदेश लाने में सरकार सहयोग करेगी।
  • सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा 2020 स्थगित।
  • केवीआईसी ने अपने खादी इंडिया ब्रांड के तहत नकली पीपीई किट्स बेचने वाली जालसाज निर्माता कंपनी के बारे में आगाह किया है।

 

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से कोविड-19 पर अपडेट

अब तक कुल 11,706 लोग ठीक हो चुके हैं। इससे हमारी ठीक होने की कुल दर 27.52% तक पहुंच गई है। वर्तमान में कुल पुष्ट मामलों की संख्या 42,533 है। कल से, भारत में कोविड-19 के पुष्ट मामलों की संख्या में 2,553 की वृद्धि दर्ज की गई है। सभी बंद किए जा चुके मामलों का आउटकम रेशो (ठीक हो चुके बनाम जिनकी मृत्यु हो चुकी), जो चिकित्सकीय ​​प्रबंधन को दर्शाता है, उनका 17 अप्रैल 2020 से विश्लेषण किया गया, और यह देखा गया कि 17 अप्रैल 2020 से पहले की तुलना में देश में सुधार हुआ है, उस समय आउटकम रेशो 80:20 था जबकि आज यह 90:10 है।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1621031

कोविड -19 के सर्वाधिक मामले वाले जिलों में केंद्रीय टीमों की तैनाती

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से बीस (20) केंद्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य टीमों का गठन किया गया है। इन टीमों को उन 20 जिलों में भेजा जा रहा है जहां से देश में कोविड ​​-19 के सर्वाधिक मामले सामने आ रहे हैं।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620818

विदेश में फंसे भारतीय नागरिकों को वापस लाने में सहायता करेगी भारत सरकार

भारत सरकार विदेश में फंसे भारतीय नागरिकों को चरणबद्ध तरीके से वापस लाने में सहयोग करेगी। यात्रा की व्यवस्था हवाई जहाज और नौसेना के जहाजों द्वारा की जाएगी। इस संबंध में मानक संचालन प्रोटोकॉल (SOP) तैयार किया गया है। दूतावास और भारतीय उच्चायोग ऐसे फंसे हुए भारतीय नागरिकों की सूची तैयार कर रहे हैं। इस सुविधा के लिए यात्रियों को भुगतान देना होगा। हवाई यात्रा के लिए गैर-अनुसूचित वाणिज्यिक उड़ानों का इंतज़ाम होगा। यह यात्राएं 7 मई से चरणबद्ध तरीके से प्रारम्भ होंगी। उड़ान भरने से पहले यात्रियों की मेडिकल स्क्रीनिंग की जाएगी। केवल लक्षण न दिखने वाले यात्रियों को ही यात्रा की अनुमति होगी।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620956

रक्तदान से लोगों की जान बचती है, चलिए हम रक्तदान के लिए जागरूकता बढ़ाएं और सुनिश्चित करें कि जरूरतमंदों को सुरक्षित और गुणवत्तापूर्ण रक्त समय पर और किफायती दर पर मिले: डॉ. हर्षवर्धन

देश में वर्तमान स्थिति के बारे में बात करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कोविड-19 के मुश्किल समय के दौरान हम जरूरतमंद मरीजों को रक्त की महत्वपूर्ण आपूर्ति का प्रबंधन करने में सक्षम हैं। उन्होंने कहा कि स्वैच्छिक रक्तदान को बढ़ाने के लिए उन्होंने रेड क्रॉस के अधिकारियों की बैठक बुलाई और रेड क्रॉस सोसाइटी के कार्यकर्ताओं और उनके वाहनों के लिए 30,000 पास की व्यवस्था करके उनकी मदद की।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620989

डॉ. हर्षवर्धन ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मध्य प्रदेश में कोविड-19 के प्रबंधन के लिए तैयारियों और रोकथाम के उपायों की समीक्षा की

कोविड-19 के कारण राज्य में उच्च मृत्यु दर पर चिंता जाहिर करते हुए डॉ. हर्षवर्धन ने कहा, 'यह दुःखद है कि कुछ जिलों में मृत्यु दर राष्ट्रीय औसत की तुलना में काफी ज्यादा है।' उन्होंने सुझाव दिया कि राज्य को खोज, निगरानी और गंभीर तीव्र श्वसन संक्रमण (एसएआरआई)/ इन्फ्लुएंजा जैसी बीमारी (आईएलआई) के मामलों की टेस्टिंग के द्वारा गैर-प्रभावित जिलों पर भी ध्यान केंद्रित करने की जरूरत है, जिससे दूसरे क्षेत्रों में मामलों के प्रसार से बचा जा सकता है। उन्होंने राज्य को यह सुनिश्चित करने की सलाह दी कि कोविड-19 प्रबंधन पर जोर के चलते गैर-कोविड-19 सेवाएं प्रभावित न हों।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620979

भारत ने कोरोना योद्धाओं को किया सलाम; भारतीय नौसेना ने जमीन, वायु और समुद्र पर दी कोरोना योद्धाओं को सलामी

कोरोना योद्धाओं का अभिवादन करने और सलामी देने के लिए भारतीय नौसेना भी रविवार को पूरे देश के साथ शामिल हुई। कोविड-19 के खिलाफ हमारे कोरोना योद्धाओं- स्वास्थ्य पेशेवर, स्वास्थ्य कर्मचारी, पुलिसकर्मियों, सरकारी और मीडिया कर्मचारियों के दृढ़ निश्चय और अथक प्रयासों के लिए 3 मई, 2020 को पूरे देश ने उनके प्रति आभार प्रकट किया, वहीं भारतीय सैन्य बलों के प्रतिनिधि के रूप में जमीन, हवा और पानी में कई गतिविधियों के माध्यम से सलामी दी गई।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620823

रक्षा मंत्री ने ‘कोरोना वॉरियर्स को आर्म्ड फोर्सेज का सैल्‍यूट’ के लिए सशस्त्र बलों की प्रशंसा की

श्री राजनाथ सिंह ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लगातार संघर्ष कर रहे कोरोना योद्धाओं को सलाम करने के लिए देश के विभिन्न स्थानों पर थल, जल और वायु में सैकड़ों गतिविधियों को अंजाम देने के सशस्त्र बलों के प्रयासों की सराहना की है। सशस्त्र बलों ने भारत के कोरोना योद्धाओं के प्रति रविवार को अद्वितीय सैन्य तरीके से भव्य सम्मान प्रकट किया। श्रीनगर से तिरुवनंतपुरम और डिब्रूगढ़ से कच्छ तक सेना ने पुलिस स्मारकों पर पुष्पां‍जलि करने, स्वास्थ्य व्यावसायियों और आपातकालीन आपूर्ति संचालकों को सम्मानित करने और उनका अभिनंदन करने जैसी विभिन्न गतिविधियों को अंजाम दिया। सभी राज्यों के सैकड़ों शहरों में सेना की स्थानीय संरचनाओं द्वारा देशभर में मिलिट्री बैंड सहित छोटी और बड़ी सैन्य टीमों के साथ अस्पतालों का दौरा किया, जिन्होंने देशभक्ति की धुन बजाकर कोरोना के खिलाफ संघर्षरत देश के इन फ्रंटलाइन योद्धाओं के प्रति सम्मान प्रकट किया।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620812

कंपनियां 'खादी' ब्रांड का नाम इस्तेमाल करके नकली पीपीई किट बेच रही हैं, केवीआईसी कानूनी कार्रवाई पर विचार कर रहा

खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) के संज्ञान में आया है कि कुछ बेईमान व्यावसायिक कंपनियां व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) किट का निर्माण और बिक्री कर रही हैं और धोखे से केवीआईसी के पंजीकृत ट्रेडमार्क ’खादी इंडिया’ का उपयोग कर रही हैं। केवीआईसी ये बात स्पष्ट करता है कि अब तक उसने कोई पीपीई किट बाजार में नहीं उतारी है। यह स्पष्ट करना आवश्यक है कि केवीआईसी विशेष रूप से अपने उत्पादों के लिए दोहरे-घुमाव वाले हाथ से काते हुए, हाथ से बुने हुए खादी के कपड़े का उपयोग करता है और इसलिए पॉलिस्टर और पॉलीप्रोपाइलीन जैसे बिना बुने हुए मैटिरियल से बने ये किट न तो खादी के उत्पाद हैं और न ही केवीआईसी उत्पाद।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620973

अधिकार प्राप्त समूह 6 ने कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई में सीएसओ/एनजीओ/उद्योग/अंतरराष्ट्रीय संगठनों को भी किया शामिल

देश को प्रभावित करने वाली कोविड-19 वैश्विक महामारी के साथ एक अभूतपूर्व चुनौती का सामना करना पड़ रहा है, नीति आयोग के सीईओ की अध्यक्षता में भारत सरकार द्वारा गठित अधिकार प्राप्त समूह 6 (ईजी6) भारत सरकार के साथ सिविल सोसायटी के संगठनों, गैर-सरकारी संगठनों, विकास साझेदारों, उद्योग भागीदारों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों के साथ बेहतर तालमेल स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।

विस्तार से पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620908

डीआरडीओ ने यूवी कीटाणु शोधन टॉवर विकसित किया

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने भारी संक्रमण वाले क्षेत्रों के त्वरित और रसायन मुक्त कीटाणुशोधन के लिए एक अल्ट्रा वॉयलेट (यूवी) डिसइन्फेक्शन टॉवर विकसित किया है। यूवी ब्लास्टर नाम का यह उपकरण एक यूवी आधारित क्षेत्र सैनिटाइजर है, जिसे डीआरडीओ की दिल्ली स्थित प्रतिष्ठित प्रयोगशाला लेजर साइंस एंड टेक्नोलॉजी सेंटर (एलएएसटीईसी) ने डिजाइन और विकसित किया है।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620961

श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (जीईएम) पोर्टल पर “द सरस कलेक्शन” का शुभारंभ किया

केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज तथा कृषि और किसान कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने, आज नई दिल्ली में सरकारी ई-मार्केटप्लेस (जीईएम) पोर्टल पर "द सरस कलेक्शन" का शुभारंभ किया। जेईम और दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डीएवाई-एनआरएलएम), ग्रामीण विकास मंत्रालय की एक अनूठी पहल सरस संग्रह, ग्रामीण स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) द्वारा बनाए गए दैनिक उपयोग वाले उत्पादों को प्रदर्शित करता है और इसका उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में एसएचजी को केंद्र और राज्य सरकार के खरीदारों तक पहुंचने के लिए बाजार उपलब्ध कराना है।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620946

सरकार ने कोविड-19 से उत्पन्न स्थिति की पृष्ठभूमि में जनजातीय संग्रहकर्ताओं एवं कारीगरों की आजीविका और सुरक्षा के लिए तात्कालिक उपाय किए

जनजातीय कारीगरों के सामने आने वाली अभूतपूर्व कठिनाइयों को देखते हुए सरकार जनजातीय संग्रहकर्ताओं और जनजातीय कारीगरों को सहायता प्रदान करने के लिए तत्काल कई पहल कर रही है।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1621012

31 मई को होने वाली सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2020 स्थगित

प्रतिबंधों के विस्तार पर विचार करते हुए यूपीएससी ने फैसला किया है कि वर्तमान हालात में परीक्षाएं और साक्षात्कार फिर से शुरू करना संभव नहीं है। ऐसे में 31 मई, 2020 को प्रस्तावित सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2020 को स्थगित कर दिया गया है।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620935

कोविड-19 की स्थिति में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं पीएम जन औषधि केंद्र: मनसुख मांडविया

रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री मनसुख मांडविया ने कहा है कि जन औषधि केंद्र कोविड-19 की स्थिति में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। प्रतिदिन लगभग 10 लाख लोग किफायती मूल्यों पर गुणवत्तापूर्ण दवाएं खरीदने 6000 जन औषधि केंद्रों पर जा रहे हैं। ये केंद्र हाइड्रोक्लोरोक्वीन भी बेच रहे हैं।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1621051

डॉ. हर्षवर्धन ने कोविड-19 की तैयारियों पर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के साथ किया संवाद

केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने डीएसटी के 50वें स्थापना दिवस के अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी स्वायत्त संस्थानों और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के अधीनस्थ कार्यालयों के प्रमुखों के साथ बातचीत की। बातचीत के दौरान उनकी एस एंड टी पहल, विशेष रूप से कोविड-19 प्रकोप से निपटने के लिए उनके प्रयासों के संबंध में चर्चा की गई। मंत्री महोदय ने इस अवसर पर कोविड-19 पर एक मल्टीमीडिया गाइड 'कोविड कथा' भी लॉन्च की।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620824

महाराष्ट्र में 34 केंद्रों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कपास की खरीद जारी; लॉकडाउन अवधि में कुल 36,500 क्विंटल की कपास की 6900 गाठें खरीदी गईं

25 मार्च, 2020 तक महाराष्ट्र में उत्पादित कुल कपास का लगभग 77.40 प्रतिशत बाजारों में पहुंच चुका है। भारतीय कपास निगम ने कपास उत्पादक किसानों से 4995 करोड़ रुपये मूल्य की 91.90 लाख क्विंटल के बराबर 18.66 लाख गांठें खरीदी हैं। किसानों से खरीदे गए कपास का बकाया भुगतान करने के लिए सीसीआई द्वारा कदम उठाए गए हैं। कुल खरीद में से 4,987 करोड़ रुपये की राशि का भुगतान किसानों को किया जा चुका है।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620930

देश के सभी हिस्सों में स्थानीय प्रशासन की कोविड​​-19 से उत्पन्न स्थिति के दौरान जनता की सहायता के लिए पहल जारी

फंसे हुए लोगों की मदद के लिए नियंत्रण कक्षों की स्थापना, यात्रा मार्गों का पता लगाना, लॉरी ड्राइवरों सहित राज्यों की सीमा पार करने वाले और क्वारंटीन में रखे गए लोगों से संपर्क जैसी पहल की जा रही है। इसमें संशय को दूर करना; व्यवस्था बनाना, उपचार और जैव-चिकित्सा अपशिष्ट के निपटान के लिए कार्य प्रक्रियाओं को निर्धारित करना और कृषि उपज की खरीद एवं बिक्री की व्यवस्था को सुनिश्चित करना शामिल है।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620859

सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता पुरस्कार के लिए नामांकन के आमंत्रण की अंतिम तिथि 30 जून, 2020 तक बढ़ाई गई

भारत सरकार ने भारत की एकता एवं अखंडता को बढ़ावा देने में उल्लेखनीय योगदान के लिए सरदार वल्लभभाई पटेल के नाम पर सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार के रूप में ‘सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता पुरस्कार’ की शुरुआत की है। इस पुरस्कार के जरिए इस क्षेत्र में विभिन्न व्यक्तियों या संस्थानों या संगठनों द्वारा किए गए उल्लेखनीय और प्रेरक योगदान को सराहा जाता है। इसके साथ ही यह पुरस्कार मजबूत और संयुक्त भारत के मूल्य पर विशेष बल देता है।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620820

 

पर्यटन मंत्रालय ने ‘देखो अपना देश’ वेबिनार श्रृंखला के तहत दार्जिलिंग की समृद्ध विरासत को रेखांकित करते हुए 'हिमालय के निकट बंगाल' विषय पर 14 वें वेबिनार का आयोजन किया

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620932

लॉकडाउन के दौरान राष्ट्रीय आधुनिक कला संग्रहालय ने अपने संग्रह से अनदेखी और दुर्लभ कलाकृतियों को दिखाने के लिए वर्चुअल प्रोग्राम 'एनजीएमए के संग्रह से' प्रस्तुत किया

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1620925

पीआईबी फील्ड कार्यालयों से प्राप्त जानकारियां

  • केरल- बढ़े हुए लॉकडाउन के लिए राज्य ने नए दिशा-निर्देश जारी किए। सीएम ने देश के दूसरे हिस्सों से केरलवासियों को लाने के लिए पीएम से विशेष ट्रेनें आवंटित करने का आग्रह किया। 30 हजार मलयाली लोगों को ई-पास प्रणाली के माध्यम से दूसरे राज्यों से लौटने की अनुमति दी गई। बिहार के अनुमति नहीं देने के कारण प्रवासी श्रमिकों को लेकर पटना जाने वाली 5 स्पेशल ट्रेनें रद्द कर दी गईं। पश्चिम बंगाल ने केरल से दो ट्रेनों के लिए इजाजत दे दी है। कल तक कुल पुष्ट मामले- 499, सक्रिय मामले- 95 हैं।
  • तमिलनाडु- राज्य पेट्रोल और डीजल की कीमतों में क्रमश: 3.25 रुपये और 2.50 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी करेगा। चेन्नई के अस्पताल ने स्थिर कोविड-19 मरीजों को क्वारंटीन सेंटरों में स्थानांतरित किया। कुड्डालोर में कोयम्बेडु क्लस्टर से 114 कोविड-19 मामले और विल्लुपुरम से 39  केस सामने आए हैं। कल तक कुल मामले- 3023, सक्रिय मामले- 1611, मौतें- 30 और 1379 लोगों को अस्पताल से छुट्टी मिल गई। चेन्नई में सबसे ज्यादा 1458 मामले दर्ज किए गए।
  • कर्नाटक- राज्य ने प्रवासी श्रमिकों के लिए मुफ्त बस सेवा दो और दिनों के लिए बढ़ाई। आज 28 नए मामले सामने आए: दावणगेरे में 21, कलबुर्गी और मांड्या में 2-2 और चिक्काबल्लापुर, हावेरी और विजयपुरा में 1-1 मामले आए। कलबुर्गी में आज एक मौत (56, पुरुष) हो गई। अब तक कुल मामले- 642, मौतें- 26 और 304 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।
  • आंध्र प्रदेश- राज्य ने 108 एंबुलेंस को आपातकालीन स्थितियों के लिए उन्नत लाइफ सपोर्ट (एएलएस) एंबुलेंस में बदलने का फैसला किया। राज्य ने गांवों में सेवा दे रहे 19,584 सफाई कर्मियों को विशेष किट प्रदान करने के लिए 3.84 करोड़ रुपये जारी किए। पिछले 24 घंटों में 67 नए कोविड मामले आए, 36 लोग ठीक हुए और कोई भी मौत नहीं हुई। कुल मामले बढ़कर 1650 पहुंचे। सक्रिय केस- 1062, ठीक हुए- 524 और 33 लोगों की मौत हुई। सबसे ज्यादा पॉजिटिव केस आने वाले जिलों में कुरनूल (491), गुंटूर (338) और कृष्णा (278) शामिल हैं।
  • तेलंगाना – कोविड-19 लॉकडाउन एग्जिट प्लान के हिस्से के रूप में कुछ क्षेत्रों में नियमों में ढील देने से संबंधित मुद्दों पर राज्य मंत्रिमंडल कल चर्चा करेगा। फंसे हुए प्रवासी कामगारों ने हैदराबाद की सड़कों पर प्रदर्शन किया और घर भेजने की मांग की। सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने की कोशिश के तहत टोलीचोकी में प्रवासी श्रमिकों के विरोध को लेकर फर्जी खबर फैलाने के लिए दो लोगों पर केस दर्ज। अब तक कुल कोविड मामले 1082, सक्रिय केस 508, ठीक हुए 545 लोग और 29 लोगों की मौत हो गई।
  • चंडीगढ़- यूटी चंडीगढ़ में निर्धारित कंटेनमेंट क्षेत्र सख्त परिधि नियंत्रण और स्पष्ट प्रवेश और निकास गेट के साथ पूरी तरह से सील किए जाएंगे। फल और सब्जियों की आपूर्ति बनाए रखने और चिकित्सा आपात स्थिति के लिए ही केवल लोगों की आवाजाही की अनुमति दी जाएगी। लोगों और गाड़ियों की अनियंत्रित आवाजाही नहीं होगी। कंटेनमेंट क्षेत्र की परिधि में आने और बाहर जाने वाले लोगों का विवरण दर्ज किया जाएगा। प्रोटोकॉल के अनुसार कंटेनमेंट क्षेत्र के भीतर रहने वाले सभी लोगों की गहन स्क्रीनिंग और सभी संदिग्ध मामलों की जांच की जाएगी। कंटेनमेंट क्षेत्र के भीतर किसी दुकान, कार्यालय, कारोबारी फैक्ट्रियों, औषधालयों को काम करने की अनुमति नहीं होगी।
  • पंजाब- कोविड के खिलाफ अपनी लड़ाई में पंजाब सरकार ने एक मील का पत्थर तय किया है, जिसमें आरटी-पीसीआर टेस्ट की कुल संख्या 20 हजार के आंकड़े को पार कर गई। राज्य ने मोबाइल सैंपल कलेक्टिंग कियोस्क, पूल टेस्टिंग आदि जैसी आधुनिक जांच तकनीकों का इस्तेमाल किया है। राज्य में पूल टेस्टिंग जांच की क्षमता को बढ़ाने के लिए शुरू की गई है। 30 अप्रैल 2020 तक 5788 पूल सैंपल का टेस्ट किया गया। पंजाब ने राज्य में रहने वाले प्रवासियों को पंजीकृत करने की पहल की है। इस उद्देश्य के लिए एक विशेष ऑनलाइन पोर्टल तैयार किया गया है। राज्य ने 6.44 लाख से अधिक प्रवासियों को सफलतापूर्वक पंजीकृत किया है जो अपने गृह राज्यों को लौटना चाहते हैं।
  • हरियाणा- हरियाणा सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है कि भारत के अन्य राज्यों के सभी खेतिहर और प्रवासी श्रमिकों को, जो हरियाणा में फंसे हुए हैं, को उनके घरों तक जल्द से जल्द सुरक्षित और व्यवस्थित तरीके से पहुंचाया जाए। यह निर्णय लिया गया है कि सीमावर्ती राज्यों उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के खेतिहर मजदूरों को बसों से उनके घर भेजा जाएगा और बिहार, झारखंड और मध्य प्रदेश के लोगों को हरियाणा के अलग-अलग स्टेशनों से स्पेशल श्रमिक ट्रेनों से भेजा जाएगा। बाकी बचे राज्यों के प्रवासी श्रमिकों की वापसी, जो अपेक्षाकृत कम संख्या में है, नई दिल्ली से स्पेशल ट्रेनों से सुनिश्चित की जाएगी।
  • हिमाचल प्रदेश- मुख्यमंत्री ने कहा है कि राज्य सरकार के सामूहिक प्रयासों और लोगों के सक्रिय सहयोग के कारण हिमाचल प्रदेश जल्द ही कोरोना मुख्त राज्य बनने की ओर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि सबसे महत्वपूर्ण है कि राज्य में आने वाले हर व्यक्ति पर कड़ी नजर रखी जाए। उन्होंने कहा कि राज्य में प्रवेश करने वाले लोगों के लिए आरोग्यसेतु ऐप को डाउनलोड करना अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि पंचायती राज संस्थानों और शहरी स्थानीय निकायों के निर्वाचित प्रतिनिधियों की यह जिम्मेदारी होगी कि वे सुनिश्चित करें कि उनके गांव में आने वाला हर व्यक्ति क्वारंटीन में ही रहे।
  • अरुणाचल प्रदेश- राज्य सरकार ने सार्वजनिक स्थलों और कार्यस्थलों के लिए विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं। सीएम ने आग्रह किया है कि टीका बनने तक सभी नागरिक कोविड19 के खिलाफ निवारक उपायों का पालन करें।
  • असम- स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने बोंगईगांव जिले में कोविड-19 के हालात का जायजा लेने के लिए कंटेनमेंट जोनों और क्वारंटीन सेंटर का दौरा किया।
  • मेघालय- सीएम ने 5 मई से दूसरे राज्यों से घर लौट रहे फंसे हुए लोगों को ध्यान में रखते हुए आवश्यक तैयारियों को लेकर सिविल अस्पताल शिलांग के डॉक्टरों के साथ समीक्षा बैठक की।
  • मणिपुर- सीएम ने कहा कि ग्रीन जोन में होने का फायदा उठाते हुए सरकार ने लुवांगसांगबंग पहाड़ियों पर फल देने वाले पौधों का रोपण शुरू कर दिया है।
  • मिजोरम- सरकार ने एक अध्यादेश जारी कर राज्य में सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाना और सामाजिक दूरी को बनाए रखना अनिवार्य कर दिया है, ऐसा न करना अपराध माना जाएगा।
  • नगालैंड- प्रधान सचिव का कहना है कि बाहर फंसे 16,526 लोगों को अब तक 6.47 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की गई है।
  • सिक्किम- कोविड19 के खिलाफ जंग में अग्रिम पंक्ति में काम कर रहे मीडियाकर्मियों के इस्तेमाल के लिए राज्यपाल ने फेस मास्क और सैनिटाइजर की एक खेप सिक्किम प्रेस क्लब के महासचिव को सौंपी है।
  • त्रिपुरा- राज्य सरकार 33 हजार प्रवासी कामगारों में से ज्यादातर को उनके राज्यों में ट्रेन से भेजेंगी।
  • महाराष्ट्र- राज्य में कोरोना वायरस के 678 नए मामले सामने आए, जिससे कुल संख्या 12,974 पहुंच गई और 548 लोगों की मौत हो चुकी है। मुंबई में संक्रमण के 441 नए मामले आए हैं और 21 मौतें हुई हैं। अकेले मुंबई में कुल मामले 8,800 पहुंच गए। 10,223 पॉजिटिव मामलों के साथ मुंबई महानगर क्षेत्र से ही राज्य के कुल पॉजिटिव मामलों का 80 फीसदी मिले हैं।
  • गुजरात- गुजरात में रिपोर्ट किए गए पॉजिटिव मामलों की संख्या 5,428 पहुंच गई है और मृतकों का आंकड़ा 290 हो गया है, जो महाराष्ट्र के बाद देश में दूसरे स्थान पर है। हालांकि वायरस संक्रमण से अब तक 1,042 लोग ठीक भी हो चुके हैं।
  • राजस्थान- जयपुर में आज कोविड-19 के मामलों ने 1,000 के आंकड़े को पार कर लिया। यहां 12 नए मामले सामने आए हैं, जिससे संख्या 1,005 पहुंच गई। वहीं, राज्य में कोरोना के मामले 3,000 के आंकड़े को पार करते हुए 3,009 पर पहुंच गए हैं। राज्य में अब तक कुल 75 मौतें हुई हैं जिसमें से अकेले जयपुर में 45 की जान गई।
  • मध्य प्रदेश- मध्य प्रदेश में उज्जैन एक नया कोविड19 हॉटस्पॉट बन रहा है। सीएम ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए तुरंत डॉक्टरों की एक विशेष टीम भेजने का आदेश दिया है। उज्जैन में 150 पॉजिटिव केस आए हैं और 30 मौतें हुई हैं, जो मृत्युदर के लिहाज से राज्य में सबसे ज्यादा है। 1,568 मामलों के साथ इंदौर सबसे अधिक प्रभावित शहर है।
  • गोवा- पंचायत स्तर के डेटा कलेक्शन के आधार पर राज्य कार्यकारी समिति ने कहा है कि 24 मार्च को लॉकडाउन के बाद से गोवा में फंसे 90 प्रतिशत प्रवासी कामगार अपने मूल स्थानों की ओर लौटना चाहते हैं। इस सूची में पड़ोसी राज्य कर्नाटक के सबसे ज्यादा और उसके बाद यूपी और बिहार से हैं।

 

पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image004D2DZ.jpg

 

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image005OTSD.jpg

 

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image00681DX.jpg

 

एएम/एएस

 



(Release ID: 1621127) Visitor Counter : 173