स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय

कोविड 19 पर अपडेट

Posted On: 02 APR 2020 5:39PM by PIB Delhi

देश में कोविड-19 की रोकथाम, नियंत्रण और प्रबंधन के लिए भारत सरकार द्वारा राज्यों/ संघ शासित प्रदेशों के सहयोग से विभिन्न कार्य शुरू किए गए हैं। इन कार्यों की उच्चतम स्तर पर नियमित निगरानी की जा रही है।

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राज्यों/संघशासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की। राज्यों से इस संकट का जिला स्तर पर प्रबंधन करने  तथा परीक्षण, आइसोलेशन और क्‍वारंटीन सुविधाओं पर ध्यान देने आग्रह किया गया। राज्‍यों से सरकारी और निजी अस्पतालों से सेवानिवृत्त स्वास्थ्य कर्मि‍यों, गैर सरकारी संगठनों, एनएसएस और एनएसओ की भागीदारी के माध्यम से मौजूदा क्षमता को बढ़ाने के साथ-साथ चिकित्‍सा कार्यबल को बढ़ाने, अग्रिम मोर्चे पर डटे कर्मियों को ऑनलाइन प्रशिक्षण देने भी अनुरोध किया गया।

माननीय प्रधानमंत्री को राज्यों द्वारा अवगत कराया गया कि लॉकडाउन को सामाजिक दूरी के उपायों और कड़ी निगरानी के साथ लागू किया जा रहा है और विशेष रूप से प्रवासी कामगारों और अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों के सम्‍पर्क में आने वालों का पता लगाने के प्रयास किए जा रहे हैं। राज्यों ने यह भी बताया कि वे राहत शिविरों में मानसिक-सामाजिक सहायता और आवश्यक आपूर्ति के लिए पर्याप्त कल्याणकारी उपाय भी सुनिश्चित कर रहे हैं। राज्यों ने समर्पित कोविड-19 अस्पतालों, आईसीयू बेड, क्‍वारंटीन सुविधाओं, वेंटिलेटर और पीपीई की दिशा में हुई प्रगति के बारे में जानकारी दी।

माननीय उच्‍चतम नयायालय के आदेश के तहत राज्‍यों को लोगों के बीच दहशत फैलने से रोकने के लिए फेक न्‍यूज से निपटने के प्रभावी उपाय करने का निर्देश दिया गया है।

इसके अलावा, #COVID19 मरीजों के डायलिसिज के लिए स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय की ओर से दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। ये दिशानिर्देश वेबसाइट www.mohfw.gov.in पर उपलब्‍ध हैं। 

स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड न्यूरो-साइंस (निमहांस) की मदद से कोविड-19 फैलने के कारण वृद्धों और बच्‍चों में चिंता और तनाव की समस्‍या से निपटने के लिए मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य से संबंधित सामान्‍य सार्वजनिक उपायों की सिफारिश की है।  ये दिशानिर्देश वेबसाइट www.mohfw.gov.in/ पर उपलब्‍ध हैं।  बिहैव्यरल या व्‍यवहार संबंधी स्‍वास्‍थ्‍य से जुड़े किसी भी प्रश्‍न के लिए   एक टोल फ्री मानसिक-सामाजिक हेल्‍पलाइन नम्‍बर  08046110007 भी उपलब्‍ध है।

अब तक, कोविड-19 के 1965 मामलों की पुष्टि हो चुकी है और 50 मौतें हुई हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान, 328 नए मामलों की पुष्टि हुई है और 12 नई मौतें हुई हैं। 151 व्‍यक्तियों का इलाज किया जा चुका है/ स्‍वस्‍थ होने के बाद अस्‍पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। 

कोविड-19 से संबंधित तकनीकी मामलों के बारे में समस्‍त विश्‍वसनीय और अद्यतन जानकारी , दिशानिर्देश एवं परामर्श  के लिए कृपया नियमित रूप से : https://www.mohfw.gov.in/ देखें।

कोविड-19 से संबंधित तकनीकी प्रश्‍नों को technicalquery.covid19[at]gov[dot]in और अन्‍य प्रश्‍नों को ncov2019[at]gov[dot]in पर ई-मेल के माध्‍यम  से भेजा जा सकता है ।

कोविड-19 के बारे में किसी भी प्रश्‍न के बारे में कृपया स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय को हेल्‍पलाइन नम्‍बर : +91-11-23978046 या 1075 (टोल फ्री) पर सम्‍पर्क करें। राज्‍यों/संघशासित प्रदेशों के हैल्‍पलाइन नम्‍बरों की सूची https://www.mohfw.gov.in/pdf/coronvavirushelplinenumber.pdf पर भी उपलब्‍ध है।

*****

एएम/आरके



(Release ID: 1610478) Visitor Counter : 222