स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय

कोविड-19 टीकाकरण: मिथक बनाम तथ्य

कोविड​​-19 टीकाकरण को पुरुषों और महिलाओं की प्रजनन-क्षमता में कमी आने से जोड़ने का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं मिला

स्तनपान कराने वाली सभी महिलाओं के लिए कोविड-19 टीकाकरण की सिफारिश की गई है

Posted On: 30 JUN 2021 3:27PM by PIB Delhi

प्रजननआयु वाली आबादी के बीच कोविड​​-19 टीकाकरण के कारण प्रजनन-क्षमता में कमी आने की चिंता पर आधारित कुछ मीडिया रिपोर्टें आई हैं। इसके अलावा यह भी सवाल उठाया गया है कि क्या स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए कोविड-19 टीकाकरण सुरक्षित है।

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (एमओएचएफडब्लू)ने अपनी वेबसाइट (https://www.mohfw.gov.in/pdf/FAQsforHCWs&FLWs.pdf) पर अक्सर पूछे जाने वाले सवालों के तहत स्पष्ट किया है कि उपलब्ध टीकों में से कोई भी प्रजनन क्षमता को प्रभावित नहीं करता है। सभी टीकों और उनके घटकों का परीक्षण पहले जानवरों पर और इसके बाद मनुष्यों में किया जाता है, जिससे यह आकलन किया जा सके कि उनके इस तरह के कोई दुष्प्रभाव हैं या नहीं। टीकों को उनकी सुरक्षा और प्रभावकारिता सुनिश्चित होने के बाद ही उपयोग के लिए अधिकृत किया जाता है।

इसके अलावा, कोविड​​-19 टीकाकरण के कारण प्रजनन क्षमता में कमी आने के प्रचलित मिथक को रोकने के लिए भारत सरकार ने स्पष्ट (https://twitter.com/PIBFactCheck/status/1396805590442119175) किया है कि कोविड​​-19 टीकाकरण के कारण पुरुषों और महिलाओं की प्रजनन क्षमता में कमी आने का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं मिला है। टीकों को सुरक्षित और प्रभावी पाया गया है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001KGOQ.jpg

 

हाल ही में एक साक्षात्कार में, टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) के कोविड-19 कार्यकारी समूह के अध्यक्ष डॉ. एन. के अरोड़ा ने इन आशंकाओं और आरोपों का खंडन किया है। उन्होंने कहा कि भारत और विदेशों में पोलियो के टीके लगाने के दौरान भी गलत सूचना पैदा की गई थी कि जिन बच्चों को यह टीका लग रहा है, उन्हें भविष्य में प्रजनन क्षमता में कमी का सामना करना पड़ सकता है। उन्होंने आगे यह आश्वासन दिया कि सभी टीके गहन वैज्ञानिक अनुसंधानों से गुजरते हैं और किसी भी टीके का इस तरह का दुष्प्रभाव नहीं होता है।

(https://pib.gov.in/PressReleseDetailm.aspx?PRID=1730219)

नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड​​-19 (एनईजीवीएसी) ने स्तनपान कराने वाली सभी महिलाओं के लिए कोविड​​-19 टीकाकरण की सिफारिश की है और टीकाकरण से पहले या बाद में स्तनपान को रोकने की जरूरत न होने के साथ इसे सुरक्षित बतायाहै।

(https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1719925)

***

एमजी/एएम/एचकेपी/डीसी



(Release ID: 1731494) Visitor Counter : 358