वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्रालय

अंतर्राष्ट्रीय व्यापार से संबंधित समस्याओं के लिए डीजीएफटी ‘कोविड-19 हेल्पडेस्क ’का संचालन शुरू

Posted On: 26 APR 2021 11:58AM by PIB Delhi

भारत सरकार के वाणिज्य विभाग और विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने कोविड-19 मामलों में आयी तेजी को देखते हुए निर्यात एवं आयात की स्थिति और व्यापार हितधारकों के सामने आने वाली कठिनाइयों की निगरानी करने का काम शुरू किया है। डीजीएफटी ने तदनुसार अंतर्राष्ट्रीय व्यापार से जुड़े मुद्दों में मदद करने और उनका उपयुक्त हल तलाशने के लिए कोविड-19 हेल्पडेस्कचालू किया है।

यह 'कोविड-19 हेल्पडेस्क' वाणिज्य विभाग/डीजीएफटी, आयात एवं निर्यात के लाइसेंस से जुड़ी समस्याओं, सीमा शुल्क मंजूरी में होने वाली देरी और उससे पैदा होने वाली जटिलताओं, आयात/ निर्यात प्रलेखन मुद्दों, बैंकिंग मामलों आदि से संबंधित मुद्दों पर ध्यान देगा। हेल्पडेस्क केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के अन्य मंत्रालयों/विभागों/एजेंसियों से जुड़े मुद्दों का पता लगाएगा, उनका संकलन करेगा और उनसे मदद जुटानेएवं संभव हल प्रदान करने के लिए समन्वय करेगा।

सभी हितधारक, विशेष रूप से निर्यातकऔर आयातकनिम्नलिखित चरणों काइस्तेमाल करते हुए डीजीएफटीवेबसाइट पर जानकारी डाल सकते हैं और अपनी उन समस्याओं से जुड़ी जानकारी डाल सकते हैं जिन्हें लेकर उन्हें मदद चाहिए –

 

  1. डीजीएफटी कीवेबसाइट (https://dgft.gov.in) https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001DUDX.pngसेवाएंhttps://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001DUDX.pngहेल्पडेस्क सेवा पर जाएं
  2. नया अनुरोध तैयार करेंऔर कोविड-19के रूप में श्रेणी का चयन करें।
  3. उपयुक्त उप-श्रेणी का चयन करें, दूसरे जरूरी विवरण दर्ज करें और सबमिट करें।

 

 

वैकल्पिक रूप से, कोई व्यक्ति,विषय शीर्षक: कोविड-19 हेल्पडेस्कके साथ ईमेल आईडी: dgftedi[at]nic[dot]in पर अपनी समस्याएं भेज सकता है या टोल फ्री नंबर: 1800-111-550 पर कॉल कर सकता है।

डीजीएफटी  हेल्पडेस्क सेवाओं के तहत स्टेटस ट्रैकर का इस्तेमाल करके समस्या के हल और फीडबैक की स्थिति का पता लगाया जा सकता है। इन टिकटों की स्थिति अपडेट होने पर ईमेल और एसएमएस भी भेजे जाएंगे।

एमजी/एएम/पीके



(Release ID: 1714091) Visitor Counter : 423