PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 17 AUG 2020 6:26PM by PIB Delhi

Coat of arms of India PNG images free download

(पिछले 24 घंटों में जारी कोविड-19 से संबंधित प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल हैं)

देश में एक दिन में कोविड-19 के रोगियों के ठीक होने की संख्या सर्वाधिक 57,584 रही।

रोगियों के ठीक होने (रिकवरी) की दर 72 से अधिक हुई, जल्द ही देश में कोविड-19 से स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या 20 लाख से अधिक हो जायेगी।

देश में कोविड के सक्रिय मामले घटकर 6,76,900 रह गए हैं, जोकि कुल पॉजिटिव मामलों का 25.57 प्रतिशत है।

भारत ने 3 करोड़ से अधिक कोविड परीक्षण करके नया कीर्तिमान बनाया; प्रति दस लाख की आबादी पर परीक्षण (टीपीएम) की संख्या बढ़कर आज 21,769 हो गई है।

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि इस महामारी ने हमें अपने देश के लिए एक मजबूत सार्वजनिक स्वास्थ्य ढांचे पर पुनर्विचार करने और संरचनात्मक रूप से फिर से कल्पना करने का अवसर दिया है।

श्री नकवी ने कहा कि कोरोना से प्रभावित लोगों के लिए क्वारंटीन और आइसोलेशन सुविधाओं के लिए देश भर में 16 हज हाउस राज्य सरकारों को दिए गए हैं।

 

देश में एक दिन में कोविड-19 के रोगियों के ठीक होने की संख्या सर्वाधिक 57,584 रही, रोगियों के ठीक होने (रिकवरी) की दर 72 से अधिक हुई, जल्द ही देश में 20 लाख से ज्यादा लोग कोरोना के संक्रमण से मुक्त हो जाएंगे

आज, देश में एक दिन में कोविड-19 के रोगियों के ठीक होने की संख्या सर्वाधिक दर्ज की गई। पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना से सबसे ज्यादा 57,584 रोगी ठीक हुए और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। इसके साथ ही देश में रोगियों के ठीक होने की दर 72 प्रतिशत से अधिक हो चुकी है, जो अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है। अधिक संख्या में कोविड रोगियों के ठीक होने और उन्हें अस्पतालों व घरों में आइसोलेशन से छुट्टी दिए जाने (हल्के और मध्यम संक्रमण के मामलों में) के साथ, देश में कोविड से ठीक होने वाले लोगों की संख्या लगभग 20 लाख (19,19,842) तक पहुंच गई है। इसने यह सुनिश्चित किया है कि कोविड से ठीक होने वाले लोगों और कोविड के सक्रिय मामलों के बीच अंतर बढना जारी है। यह अंतर आज 12,42,942 हो चुका है। देश में कोविड के सक्रिय मामले घटकर 6,76,900 रह गए हैं, जोकि कुल पॉजिटिव मामलों का 25.57 प्रतिशत है। हल्के और मामूली संक्रमण का शुरुआती स्तर पर पता लगाने और ऐसे व्यक्तियों को तुरंत क्वारंटीन में रखे जाने तथा गंभीर मामलों का इलाज अस्पताल में करने के समय रहते किये गए उपायों ने कोविड के प्रभावी प्रबंधन में काफी मदद की है। कोरोना के मामलों में मृत्यु दर आज और घटकर 1.92 प्रतिशत रह गई है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

भारत ने 3 करोड़ से अधिक कोविड परीक्षण करके नया कीर्तिमान बनाया; प्रति दस लाख की आबादी पर परीक्षण (टीपीएम) में लगातार बढ़ोतरी हो रही है और आज यह संख्या 21,769 पर पहुंच गई है

भारत ने 3 करोड़ कोविड परीक्षण करने का नया कीर्तिमान बनाया है। पिछले 24 घंटों में 7,31,697 परीक्षण करने के साथ, भारत अपनी परीक्षण क्षमता प्रतिदिन 10 लाख तक बढ़ाने के संकल्प में जुटा है। इस उपलब्धि के आधार पर प्रति दस लाख की आबादी पर परीक्षण (टीपीएम) की संख्या बढ़कर 21,769 हो गई है। जबकि संचयी परीक्षण की जो संख्या 14 जुलाई 2020 को 1.2 करोड़ थी वह 16 अगस्त 2020 को बढ़कर 3.0 करोड़ हो गई है। मामलों की पॉजिटिव दर इसी अवधि के दौरान 7.5 प्रतिशत से बढ़कर 8.81 प्रतिशत हो गई है। परीक्षण रणनीति ही पूरे देश में तेजी से बढ़ रही नैदानिक प्रयोगशाला नेटवर्क की मुख्य। निर्धारक है। जनवरी 2020 में पुणे में एक प्रयोगशाला से बढ़कर आज देश में 1470 प्रयोगशालाएं हो गई हैं जिनमें 969 प्रयोगशालाएं सरकारी क्षेत्र में है और 501 निजी प्रयोगशालाएं हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

डॉ. हर्षवर्धन ने डिजिटल माध्यम से सीआईआई पब्लिक हेल्थ कॉन्फ्रेंस के उद्घाटन सत्र को किया संबोधित

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने दो दिवसीय सीआईआई पब्लिक हेल्थ कॉन्फ्रेंस के उद्घाटन सत्र की वर्चुअल माध्यम से अध्यक्षता की। कोविड महामारी के बीच इस कार्यक्रम के आयोजन पर सीआईआई को धन्यवाद देते हुए उन्होंने दर्शकों को याद दिलाया कि इस महामारी ने हमें अपने देश के लिए एक मजबूत सार्वजनिक स्वास्थ्य ढांचे पर पुनर्विचार करने और संरचनात्मक रूप से फिर से कल्पना करने का अवसर दिया है।स्वास्थ्य के प्रति इस बड़े जोखिम की रोकथाम और उपचार में भारत की सफल रणनीति का उल्लेख करते हुए उन्होंने देश की सरकारी योजनाओं को एक व्यापक सामाजिक आंदोलन में तब्दील करने की क्षमता की सराहना की, जिससे ऐसे दौर में भारत से चेचक और पोलियो का पूर्ण उन्मूलन हुआ, जब भारत पोलियो के वैश्विक मामलों में 60 प्रतिशत अंशदान करता था।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

आईआईटी तथा उच्च शिक्षा के अन्य संस्थान समाज के लिए उपयोगी अनुसंधान करें: उपराष्ट्रपति

उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू ने आज आईआईटी सहित देश के उच्च शिक्षा संस्थानों से आग्रह किया कि वे समाज के लिए आवश्यक और उपयोगी अनुसंधान करें तथा पर्यावरण से लेकर स्वास्थ्य सम्बन्धी, सभी चुनौतियों का कारगर समाधान खोजने में सहयोग करें। आईआईटी दिल्ली के हीरक जयंती समारोह का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उद्घाटन करते हुए उन्होंने कहा कि भारतीय संस्थानों की विश्व में प्रतिष्ठा तभी स्थापित होगी जब वे राष्ट्र और समाज के सामने खड़ी चुनौतियां का कारगर समाधान देने में सक्षम हो सकेंगे। उन्होंने कहा, मुझे खुशी है कि देशभर की आईआईटी ने कोविड-19 से संबंधित कई परियोजनाएं शुरू की हैं, जिनमें कम लागत वाले वेंटिलेटर, पीपीई किट, टेस्टिंग किट, सैनिटाइजेशन, रोबोट और अऩ्य उपकरणों का विकास शामिल हैं और एआई (आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस) के अलावा महामारी के पैटर्न और रोग की गतिशीलता पर अध्ययन किए जा रहे हैं। कोविड-19 से उत्पन्न विभिन्न चुनौतियों का समाधान खोजने के दौरान, हमें भविष्य की किसी भी महामारी से निपटने के लिए बेहतर तरीके से तैयार रहना चाहिए। ऐसा होने के लिए, विभिन्न क्षेत्र के विशेषज्ञों के बीच सहयोग और तालमेल होना चाहिए।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

जनजातीय स्वास्थ्य और पोषण पोर्टल – ‘स्वास्थ्यतथा राष्ट्रीय प्रवासी पोर्टल और राष्ट्रीय जनजातीय फैलोशिप पोर्टल का शुभारंभ

जनजातीय मामलों के मंत्रालय द्वारा आज कई पहलों की घोषणा की गई हैं जिनमें जनजातीय स्वास्थ्य एवं पोषण पोर्टल स्वास्थ्यऔर स्वास्थ्य तथा पोषण पर ई-न्यूजलेटर आलेख’, राष्ट्रीय प्रवासी पोर्टल और राष्ट्रीय जनजातीय फैलोशिप पोर्टल शामिल हैं। इस आयोजन के दौरान श्री अर्जुन मुंडा ने कहा कि सभी के लिए स्वास्थ्य सेवा की उपलब्धता हमारे प्रधानमंत्री की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है। हालांकि समय के साथ-साथ सार्वजनिक स्वास्थ्य मानकों में काफी सुधार हुआ है लेकिन जनजातीय और गैर-जनजातीय आबादी के बीच अंतर बना हुआ है। हम इस अंतर को पाटने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

मुख्तार अब्बास नकवी : भारत के लिए कोरोना काल, "सेवा, संयम और संकल्प" का सकारात्मक समय साबित हुआ है जो कि पूरे विश्व की मानवता के लिए एक उदाहरण बना है

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री श्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि भारत के लिए कोरोना काल, "सेवा, संयम और संकल्प" का सकारात्मक समय साबित हुआ है जो कि पूरे विश्व की मानवता के लिए एक उदाहरण बना है। अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय के राष्ट्रीय अल्पसंख्यक विकास एवं वित्त निगम (एनएमडीएफसी) द्वारा नई दिल्ली के होली फैमिली अस्पताल को दी गई सभी स्वास्थ्य सुविधाओं से युक्त, अत्याधुनिक मोबाइल क्लीनिक को हरी झंडी दिखाने के अवसर पर श्री नकवी ने कहा कि कोरोना काल में लोगों की जीवनशैली और कार्य संस्कृति में महत्वपूर्ण बदलाव आया है। लोग अब समाज के प्रति सेवा और जिम्मेदारियों के लिए अधिक प्रतिबद्ध हैं। श्री नकवी ने कहा कि इस संकट के समय में लोगों के सकारात्मक संकल्प और सरकार की मजबूत इच्छाशक्ति का नतीजा रहा कि भारत, स्वास्थ्य के क्षेत्र में आत्मनिर्भरता के पायदान पर तेजी से आगे बढ़ रहा है। भारत न केवल एन-95 मास्क, पीपीई, वेंटिलेटर एवं अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी उपकरणों के उत्पादन में आत्मनिर्भर बना बल्कि दूसरे देशों की मदद भी की। श्री नकवी ने बताया कि अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय के कौशल विकास कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षित 1500 से ज्यादा स्वास्थ्य सहायक, कोरोना से प्रभावित लोगों की सेवा में लगे हैं। इन प्रशिक्षित स्वास्थ्य सहायकों में 50 प्रतिशत लड़कियां हैं जो कि देश के विभिन्न अस्पतालों एवं स्वास्थ्य केंद्रों में कोरोना मरीजों की सेवा में मदद कर रही हैं। देश भर में 16 हज हाउस को क्वारंटाइन एवं आइसोलेशन सुविधा हेतु विभिन्न राज्य सरकारों को दिया गया है, जिसका राज्य सरकारें आवश्यकता के अनुसार इस्तेमाल कर रही हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां

हरियाणा : मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि राज्य सरकार ने हरियाणा में कृषि को जोखिम मुक्त करने और कृषि उपज की बिक्री को सरल बनाने के लिए मेरी फसल मेरा ब्यौरापोर्टल की शुरुआत की है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के दौरान किसानों की रबी फसल का एक-एक दाना इस पोर्टल की मदद से खरीदा जाएगा। पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए किसानों को उनकी फसल का भुगतान सीधे बैंक खाते में किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में स्वास्थ्य सुविधाओ को ओर बेहतर बनाने के लिए प्रभावी कदम उठाए गए हैं। कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए पर्याप्त संख्या में कोविड अस्पताल, परीक्षण प्रयोगशाला, आइसोलेशन वार्ड, प्लाज्मा बैंक और स्वास्थ्य उपकरणों की व्यवस्था की गई है। इसके परिणामस्वरूप राज्य में कोविड के 83 प्रतिशत से अधिक रोगी स्वस्थ हो चुके हैं।

अरुणाचल प्रदेश : बीते 24 घंटो में राज्य में कोविड-19 के 43 नए मामले सामने आए और 37 लोग ठीक हुए। राज्य में इस समय 888 सक्रिय मामले हैं।

असम : राज्य सरकार ने गरीबी उन्मूलन कार्यक्रम ओरुणदोईके कार्यान्वयन के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इस कार्यक्रम के तहत प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के 15 हजार निर्धन परिवारों को हर माह 830 रुपए प्रत्यक्ष नकद हस्तांतरण के द्वारा दिए जाएंगे। इस कार्यक्रम का लाभ 19 लाख से अधिक परिवारों को मिलेगा।

मणिपुर : राज्य में कोविड-19 के 179 नए मामले सामने आए हैं, जिसमें से 111 मामले केंद्रीय सुरक्षा बलों के कर्मियो से संबंधित हैं। राज्य में 1,921 सक्रिय मामले हैं और बीमारी से स्वस्थ होने की दर 57 प्रतिशत है।

मिजोरम : राज्य में कल कोविड-19 के 12 ओर मामले सामने आए। राज्य में कोविड-19 के कुल मामले 789 हैं और 418 सक्रिय मामले हैं।

नागालैंड : राज्य के स्वास्थ्य मंत्री श्री पांगन्यू फोम ने कहा कि नागालैंड में 15,843 लोगो की क्षमता वाले कुल 261 क्वारन्टीन केंद्र स्थापित किए गए हैं। इनमें से 206 सरकारी हैं और 55 सशुल्क केंद्र हैं। दीमापुर में कड़े नियमों के तहत दुकानें फिर से खोली गई हैं।

सिक्किम : राज्य में 19 नए मामले सामने आने के बाद कुल सक्रिय मामले 493 हो गए हैं। राज्य में अब तक कोविड-19 के 1,167 मामले सामने आए हैं जिसमें ने 673 रोगियों को पूर्ण रूप से ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

केरल : राज्य में दोपहर तक कोविड-19 से 9 लोगों की मृत्यु होने के बाद मरने वाले लोगों की संख्या 165 हो गई है। राजधानी स्थित केंद्रीय जेल में वायरस का संक्रमण तेजी से जारी है तथा आज और 110 बंदी और 4 अधिकारी संक्रमित पाए गए। केंद्रीय जेल में कोरोना के अब कुल 477 मामले हो गए हैं। राजधानी के बाहरी हिस्सों में भी कोविड के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। विभिन्न कलस्टर में पुलिसकर्मियों सहित करीब 25 लोग कोरोना पाजिटिव पाए गए।  राज्य चुनाव आयुक्त ने कहा है कि कोविड महामारी के चलते स्थानीय निकाय चुनाव स्थगित नहीं किए जाएगें। आज मलयालम नववर्ष के अवसर पर देवासम बोर्ड के अंतर्गत मंदिरो में श्रद्धालुओं को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए प्रवेश करने दिया गया। राज्य में कल 1,530 पॉजिटिव मामले सामने आए। राज्य में उपचार प्राप्त कर रहे रोगियों की संख्या 15 हजार से अधिक हो गयी है। 1,62,217 लोग विभिन्न जिलों में निगरानी में हैं।

तमिलनाडु : पुडुचेरी में 8 हजार से अधिक मामले होने के साथ ही अब अस्पताल की तुलना में अधिक रोगी घर में आइसोलेशन में हैं। 1596 कोविड रोगी अस्पताल में उपचार करा रहे हैं, जबकि 1692 लोग घर में आइसोलेशन में हैं। कोयम्बटूर में सीबी-सीआईडी कार्यालय को कोविड-19 के दो मामले सामने आने के बाद धूमन के लिए बंद कर दिया गया है। तमिलनाडु में एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाने के लिए लोग ई-पास आटो-जेनरेट कर सकेंगे। सरकार ने इस बारे में लोगो से प्रामाणिक मामलों के लिए ही आवेदन करने का अनुरोध किया गया है। राज्य में कल 5,950 नए मामले सामने आए, 6019 मरीज ठीक हुए और 125 लोगो की मृत्यु हुई। राज्य में अब कुल मामले : 3,38,055, सक्रिय मामले : 54,109, मृत्यु : 5,766, अस्पताल से छुट्टी दे दी गई : 2,78,270, चेन्नई में सक्रिय मामले : 11,498.

कर्नाटक : राज्य के कोविड-19 वार रूम से प्राप्त आंकड़ो के अनुसार लक्षण संबंधी रोगियों में पॉजिटिविटी दर 34.8 प्रतिशत है, जबकि वायरस के बिना लक्षण वाले वाहक लोगों में यह दर 13.4 प्रतिशत है। कर्नाटक में रविवार को कोविड-19 से 124 लोगों की मृत्यु हुई। राज्य में अब तक 3,947 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। इसके अलावा कोविड-19 के 7,040 नए मामले सामने आए हैं, जिसके बाद राज्य में कुल मामलों की संख्या बढ़कर 2,26,966 हो गई है। रविवार को सामने आए 7,040 मामलों में 2,131 मामले बेंगलुरु शहरी क्षेत्र में मिले।

आंध्रप्रदेश : राज्य में कोरोना वायरस के मामले बढ़ने के कारण पर्यटक स्थल लोगों के लिए  अभी भी बंद हैं। आंध्रप्रदेश राज्य पर्यटन विकास निगम के प्रबंध निदेशक के अनुसार इस संबंध में राज्य सरकार से एसओपी की अनुमति लंबित है। जुलाई में राज्य के पर्यटन मंत्री ने पर्यटक स्थलों को अगस्त के पहले सप्ताह से खोलने की घोषणा की थी। कडप्पा जिले में कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। जिले में बीमारी से अब तक 187 लोगों की मृत्यु हुई है जिसमें से 72 लोगों की मृत्यु पिछले दो सप्ताह में हुई है। जिले में कोरोना वायरस पॉजिटिव मामले 16 हजार से अधिक हो गए हैं। राज्य में 2,01,234 से अधिक मरीज ठीक हो चुके हैं। कल 8,012 नए मामले सामने आए और 88 लोगों की मृत्यु हुई। कुल मामले : 2,89,829, सक्रिय मामले : 85,945, मृत्यु : 2650.

तेलंगाना : सूचना प्रौद्योगिकी और उद्योग विभाग के प्रधान सचिव श्री जयेश रंजन ने कहा है कि महामारी के शुरुआती दौर में वेंटिलेटर के आयात को लेकर कठिनाई का सामना करना पड़ा था लेकिन अब हैदराबाद में वेंटिलेटर को लेकर बड़ी संख्या में नवाचार के चलते शहर से शीघ्र इनका निर्यात शुरू हो सकता है। पिछले 24 घंटो में कोविड-19 के 894 नए मामले सामने आए, 2006 मरीज ठीक हुए और 10 लोगों की मृत्यु हुई। 894 मामलों में से 147 मामले जीएचएमसी में दर्ज हुए। कुल मामले : 92,255, सक्रिय मामले : 21,420, मृत्यु : 703, अस्पताल से छुट्टी दे दी गई : 70,132.

महाराष्ट्र : राज्य के अंदरुनी जिलों में कोविड के मामले बढ़ने के बाद सरकार ने रोगियो के उपचार के लिए मनकापुर में 1000 बिस्तरों वाले विशाल अस्पताल की स्थापना करने का निर्णय लिया है। इससे सरकारी अस्पताल में बिस्तरों की कमी का सामना कर रहे संपूर्ण विदर्भ क्षेत्र के रोगियों को सुविधा मिलेगी। राज्य में कोविड-19 के अब तक 5.95 लाख से अधिक मामले सामने आए हैं जिसमें से 4.17 लाख लोग स्वस्थ हो चुके है और अब राज्य में सक्रिय मामलों के 1.58 लाख मरीज हैं। 

राजस्थान : राजस्थान उच्च न्यायालय में सभी कार्य अगले तीन दिन, बुधवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया हैं। ये निर्णय उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति इंद्रजीत महंती के पहले कोविड-19 परीक्षण के फिर से पॉजिटिव होने के बाद लिया गया है। राज्य में कोविड-19 के 14,451 सक्रिय मामले हैं।

मध्यप्रदेश : राज्य में रविवार को कोविड-19 के 1,022 नए मामले दर्ज किए गए और 685 रोगियों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। राज्य में इस समय 10,312 सक्रिय मामले हैं।

छत्तीसगढ़ : रविवार को कोविड-19 के 576 नए मामले सामने आने के बाद छत्तीसगढ़ में कुल मामले 15,621 हो गए हैं। रविवार को संक्रमण से 8 लोगों की मृत्यु होने के बाद राज्य में कोविड-19 से अब तक 142 लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

*****

एमजी/एएम/एसके/एजे



(Release ID: 1646663) Visitor Counter : 18