PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 31 JUL 2020 6:27PM by PIB Delhi

 

Coat of arms of India PNG images free download

 

 

 

 

 

 

(पिछले 24 घंटों में जारी कोविड-19 से संबंधित प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल हैं)

डॉ. हर्षवर्धन ने कोविड-19 पर मंत्रियों के समूह (जीओएम) की 19वीं बैठक की अध्यक्षता की।

भारत में ठीक होने (रिकवरी) की दर बढ़कर 64.54 प्रतिशत हुई।

पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के रिकॉर्ड 6,42,588 टेस्ट किए गए, इसके साथ ही देश में किए गए टेस्टों की कुल संख्या 1.88 करोड़ से अधिक हो गई है।

कोरोना के मामलों में मृत्यु दर में लगातार कमी आ रही है और वर्तमान में यह 2.18 प्रतिशत है जो दुनिया में सबसे कम में से एक है।

सरकार उद्योग जगत की ऋण पुनर्निर्धारणमांग पर आरबीआई के साथ मिलकर काम कर रही है: वित्त मंत्री

कोविड-19 के चलते कोल इंडिया के किसी भी कर्मचारी की मृत्यु को दुर्घटनावश मृत्यु माना जाएगा।

डॉ. हर्षवर्धन ने कोविड-19 पर मंत्रियों के समूह (जीओएम) की 19वीं बैठक की अध्यक्षता की; पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड-19 के रिकॉर्ड 6,42,588 टेस्ट किए गए

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज यहां वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कोविड-19 पर उच्च स्तरीय मंत्रियों के समूह (जीओएम) की 19वीं बैठक की अध्यक्षता की। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि  भारत ने एक मिलियन से अधिक रिकवरी के साथ एक बड़ी उपलब्धि अर्जित कर ली है जिससे ठीक होने (रिकवरी) की दर 64.54 प्रतिशत हो गई है। यह प्रदर्शित करता है कि चिकित्सा पर्यवेक्षण के तहत सक्रिय मामले केवल 33.27 प्रतिशत या लगभग कुल पॉजिटिव मामलों के एक तिहाई है। भारत में कोरोना के मामलों में मृत्यु दर में लगातार कमी आ रही है और वर्तमान में यह 2.18 प्रतिशत है जो दुनिया में सबसे कम में से एक है। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कुल सक्रिय मामलों में से केवल 0.28 प्रतिशत रोगी वेंटिलेटर पर हैं, 1.61 प्रतिशत रोगियों को आईसीयू सपोर्ट की आवश्यकता है और 2.32 प्रतिशत रोगी ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं।भारत की तेजी से बढ़ रही टेस्टिंग क्षमता के बारे में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने रेखांकित किया कि आज की तिथि तक 1331 लैब (911 सरकारी प्रयोगशालाएं एवं 420 निजी प्रयोगशालाएं) के नेटवर्क के जरिये भारत ने पिछले 24 घंटों के दौरान रिकॉर्ड 6,42,588 टेस्ट किए हैं। इससे किए गए टेस्टों की कुल संख्या 1.88 करोड़ से अधिक हो गई है। स्वास्थ्य देखभाल लॉजिस्टिक्स के लिहाज से, राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों तथा केंद्रीय संस्थानों को संचयी रूप से 268.25 लाख एन95 मास्क, 120.40 लाख पीपीई एवं 1083.77 लाख एचसीक्यू टैबलेट बांटे जा चुके हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1642652

सरकार उद्योग जगत की ऋण पुनर्निर्धारणमांग पर आरबीआई के साथ मिलकर काम कर रही है: वित्त मंत्री

केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने आज कहा कि सरकार कोविड-19 के कारण पड़ रहे प्रतिकूल प्रभावों को ध्यान में रखकर उद्योग जगत की ऋण पुनर्निर्धारण मांग पर आरबीआई के साथ मिलकर काम कर रही है। भारतीय वाणिज्य एवं उद्योग मंडल महासंघ (फिक्की) की राष्ट्रीय कार्यकारी समिति की बैठक (एनईसीएम) को संबोधित करते हुए श्रीमती सीतारमण ने कहा, ‘पुनर्निर्धारण पर फोकस है। वित्त मंत्रालय इस पर सक्रिय रूप से आरबीआई के साथ मिलकर काम कर रहा है। सैद्धांतिक रूप में, यह विचार कि पुनर्निर्धारण आवश्यक हो सकता है, इस पर गौर किया जा रहा है।व्यापार सौदों में पारस्परिकता की आवश्यकता पर विशेष जोर देते हुए श्रीमती सीतारमण ने कहा, ‘उन देशों के साथ पारस्परिकता व्यवस्थाएं करने के लिए कहा जा रहा है जिनके साथ अपने बाजार हमने खोल दिए हैं। हमारी व्यापार वार्ताओं में पारस्परिकता एक अत्यंत महत्वपूर्ण बिंदु या मुद्दा है।वित्त मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य सेवा और अन्य उत्पादों पर जीएसटी दरें कम करने का निर्णय जीएसटी परिषद द्वारा लिया जाएगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1642657

कोविड-19 के चलते कोल इंडिया के किसी भी कर्मचारी की मृत्यु को दुर्घटनावश मृत्यु माना जाएगा: श्री प्रह्लाद जोशी

केन्द्रीय कोयला एवं खान मंत्री श्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि कोरोना महामारी के चलते कोल इंडिया के कर्मचारियों की मृत्यु को दुर्घटना में हुई मृत्यु माना जाएगा और कर्मचारी के परिजनों को ऐसे सभी वित्तीय लाभ मिलेंगे जो उन्हें ड्यूटी के दौरान दुर्घटनावश मृत्यु की स्थिति में मिलते हैं। झारखंड की एक दिवसीय यात्रा के दौरान रांची में मीडिया के साथ संवाद में श्री जोशी ने कहा कि इस फैसले से कोल इंडिया के 4 लाख स्थायी और संविदा कर्मचारियों को फायदा होगा। अभी तक कोविड से मरने वाले कर्मचारियों के परिजनों को भी इससे सुरक्षा मिलेगी। श्री जोशी ने कहा, “कोविड महामारी के दौरान कोल इंडिया के कर्मचारियों ने अपनी जान को खतरे में डालकर शानदार प्रदर्शन किया है। यही वजह है कि मैं उन्हें कोयला योद्धा (कोल वारियर्स) कहता हूं। मैंने राष्ट्र के प्रति उनकी अमूल्य सेवाओं को सम्मान देने के लिए ही इस लाभ का ऐलान किया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1642524

एमईआईएस मुद्दों के शीघ्र समाधान के लिए वाणिज्य मंत्रालय काम कर रहा है- श्री गोयल

आत्मनिर्भर भारत के लिए ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के मुद्दे पर सीआईआई नेशनल डिजिटल कॉन्फ्रेंस का कल उद्घाटन करते हुए मंत्री ने जोर देकर कहा कि औद्योगिक मंजूरी के लिए एक एकल खिड़की प्रणाली जल्द ही लागू होगी। उन्होंने उद्योग और सरकार, दोनों, से भागीदार के रूप में काम करने का आग्रह किया और कर चोरी करने और नियमों का उल्लंघन करने वालों की पहचान करने में उद्योग को सरकार की सक्रिय रूप से मदद करने का आग्रह किया। कोविड-19 की स्थिति पर मंत्री ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था में वापस उछाल आ रहा है और लगाये गये प्रतिबंध अस्थायी थे और अब उन प्रतिबंधों में ढील दी जा रही है। उन्होंने कहा कि कोविड संकट के दौरान देश के सेवा क्षेत्र ने वैश्विक ग्राहकों की सेवा को जारी रखा। उन्होंने कहा कि भारत का निर्यात पिछले वर्ष के स्तर का लगभग 88 प्रतिशत है जबकि आयात पिछले वर्ष की समान अवधि का लगभग 75 प्रतिशत है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1642353

सीएसआईआर द्वारा विकसित कोविड-19 प्रौद्योगिकियों तथा उत्पादों का एक कंपेन्डियम जारी किया

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, पृथ्वी विज्ञान एवं स्वास्थ्य तथा परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने घोषणा की है कि डीबीटी एवं सीएसआईआर के भारतीय वैज्ञानिकों ने 1000 से अधिक सार्स-सीओवी-2 वायरल जीनोमों को सेक्वेंस किया है जो इसे देश में सबसे बड़ा प्रयास बनाता है। उन्होंने कहा कि, ‘ यह भारत में व्याप्त स्ट्रेनों एवं म्यूटेशन स्पेक्ट्रम को समझने में मदद करेगा जिससे नैदानिकों, औषधियों एवं टीकों में सहायता मिलेगी।डॉ. हर्षवर्धन आज यहां एक कार्यक्रम में सीएसआईआर द्वारा विकसित कोविड-19 प्रौद्योगिकियों तथा उत्पादों के एक कंपेन्डियम को जारी करने के दौरान बोल रहे थे। उन्होंने कहा सीएसआईआर द्वारा संकलित कंपेंडियम एक ही स्थान पर प्रौद्योगिकियों तथा उत्पादों को अधिकृत करता है तथा उद्योग एवं अन्य एजेन्सियां को जो कोविड-19 के लिए समाधान ढूंढ रहे हैं, उन्हें आसानी से मदद कर सकता है।डॉ. हर्षवर्धन ने उद्योग के साथ साझीदारी में सबसे पहले रोगियों को कोविड-19 के खिलाफ रिपर्पस्ड दवाओं जैसे कि सिप्ला की फेविपिरावीर, उपलब्ध कराने में सीएसआईआर की भूमिका की भी सराहना की। उन्होंने जोर देकर कहा कि इस प्रकार के प्रयास से दवाओं को किफायती बनाकर कोविड-19 के रोगियों को लाभ पहुंचाएंगे।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleaseIframePage.aspx?PRID=1642544

पिछले वर्ष की तुलना में खरीफ फसलों के बुवाई रकबे में कुल 13.92 प्रतिशत की वृद्धि

भारत सरकार के कृषि, सहकारिता और किसान कल्याण विभाग द्वारा कोविड-19 महामारी के दौरान किसानों और कृषि गतिविधियों की सुविधा के लिए कई उपाय किये जा रहे हैं। खरीफ फसलों के बुवाई रकबे में संतोषजनक वृद्धि हुई है। खरीफ फसलों का बुवाई रकबा- पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 774.38 लाख हेक्टेयर क्षेत्र की तुलना में इस वर्ष 31 जुलाई, 2020 तक खरीफ फसलों का बुवाई रकबा 882.18 लाख हेक्टेयर है, इस प्रकार देश में पिछले वर्ष की तुलना में बुवाई रकबे में 13.92 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इसलिए, कुल मिलाकर, खरीफ फसलों के तहत बुवाई क्षेत्र कवरेज की प्रगति पर कोविड-19 का कोई प्रभाव नहीं पड़ा है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1642737

कोविड19 के खिलाफ लड़ाई में फर्टिलाइज़र्स एंड केमिकल्स ट्रावनकोर लिमिटेड (फेक्ट) केरल सरकार की सहायता कर रहा है

रसायन और उर्वरक मंत्रालय के तहत सार्वजनिक उद्यम, फर्टिलाइज़र्स एंड केमिकल्स ट्रावनकोर लिमिटेड (फेक्ट) कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में केरल सरकार का समर्थन कर रहा है। कंपनी ने अपना मुख्य सभागार, एम के के नायर हॉल एलोर नगर पालिका को आवंटित किया है, ताकि इसे 100 बिस्तरों वाले कोविड फर्स्ट-लाइन ट्रीटमेंट सेंटर (सीएफएलटीसी) के रूप में परिणत किया जा सके। इस उद्देश्य के लिए, कंपनी ने अपनी सीएसआर पहल के तहत बेड, बिस्तर, गद्दे आदि की भी आपूर्ति की है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1642605

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां

केरल: राज्य सरकार ने निजी अस्पतालों में कोविड उपचार के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। जो लोग राज्य की करुणा योजना के सदस्य नहीं हैं और किसी अन्य स्वास्थ्य बीमा के तहत नहीं आते हैं, वे अपनी जेब से भुगतान करेंगे। आज राज्य के कासरगोड और एर्नाकुलम जिलों में कोविड-19 से दो और मौतें हुई। परिवहन मंत्री ए के ससीन्द्रन ने कहा कि कन्टेनमेंट जोनों के बाहर लंबी दूरी की केएसआरटीसी बसें कल से, सेवा शुरू कर देंगी। कुल 206 लंबी दूरी की बस सेवाएं पुराने टिकट दर पर उपलब्ध होंगी। केरल आज कोविड-19 से जुड़ी सभी सावधानियों को बनाए रखते हुए बकरीद मना रहा है। कल राज्य में कोविड-19 के 506 नए सक्रिय मामलों की पुष्टि की गई। कुल 10,056 मरीजों का इलाज चल रहा है और विभिन्न जिलों में कुल 1.4 लाख लोग निगरानी में हैं।

तमिलनाडु: राज्य ने लॉकडाउन को 31 अगस्त तक बढ़ा दिया है, लेकिन प्रतिबंधों में ढील दी है। कुल 20,204 छोटे मंदिर,जिनकी वार्षिक आय 10,000 रुपये से कम है, और गांवों/ ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित हैं, उन्हें सार्वजनिक रूप से खोलने की अनुमति दी गयी है। 1 अगस्त से निजी कंपनियों एवं अन्य उद्योगों को 75 प्रतिशत कार्यबल के साथ काम करने की अनुमति दी गयी हैजबकि सार्वजनिक परिवहन पर लगाए गए प्रतिबंध ने अन्य लोगों के अलावा दैनिक मजदूरों, छोटे व्यापारियों और गली के विक्रेताओं को नाराज किया है। राज्य ने कल एक दिन में कोविड से हुई सबसे अधिक 97 मौतें दर्ज की। कल कुल 5,864 नए मामले सामने आए तथा 5295 लोगों के स्वस्थ होने की सूचना है। अब तक के कुल मामले: 2,39,978; सक्रिय मामले: 57,962; मृत्यु: 3,838; चेन्नई में सक्रिय मामले: 12,735.

कर्नाटक: आज मुख्यमंत्री ने गृहमंत्री के साथ राज्यपाल से मुलाकात की और कर्नाटक राज्य में कोविड-19 की वर्तमान स्थिति के बारे में चर्चा की और राज्य सरकार द्वारा कोविड को नियंत्रित करने के लिए किए गए कार्यों के बारे में जानकारी दी। राज्यपाल ने मुख्यमंत्री को परीक्षणों की गति बढ़ाने के लिए आवश्यक व्यवस्था करने और कोविड को नियंत्रित करने के लिए आयुर्वेद और होम्योपैथी दवा का उपयोग करने का सुझाव दिया। बीबीएमपी गणेश उत्सव के बारे में दिशा-निर्देश जारी करेगा। अनलॉक 3.0 के बारे में गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देशों के आधार पर, राज्य ने नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं जो 1 अगस्त से लागू होंगे। इस बीच, बीबीएमपी ने कोविड रोगियों के लिए 50प्रतिशत बेड उपलब्ध नहीं कराने पर शहर के 19 अस्पतालों का लाइसेंस रद्द कर दिया है। कल कुल 6,128 नए मामले सामने आये, 3,793 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी और 83 मौतें हुईं। बेंगलुरु शहर में कुल 2,233 मामले। कुल मामले: 1,18,632; सक्रिय मामले: 69,700; मृत्यु: 2,230।

आंध्र प्रदेश: राज्य एक अगस्त से उन लोगों के लिए स्वचालित रूप से निकलने वाले ई-पास को जारी करने पर विचार कर रहा है, जो सड़क के जरिए आंध्र प्रदेश में प्रवेश करना चाहते हैं। एम्बुलेंस चालक दल (ड्राइवर और आपातकालीन चिकित्सा तकनीशियनों) के कुल 108 सदस्यों में से 61, जो रोगियों को अस्पतालों और क्वारंटाइन केंद्रों में पहुंचाने में प्रमुख भूमिका निभा रहे थे, कोविड-19 पॉजिटिव पाये गये। कल कुल 10,167 नए मामले आये, 4618 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दी गयी और 68 मौतें हुईं। कुल मामले: 1,30,557; सक्रिय मामले: 69,252; मृत्यु: 1,281; अस्पताल से छुट्टी: 60,024.

तेलंगाना: तेलंगाना में महबूबनगर में सबसे अधिक संख्या में 191 कन्टेनमेंट जोन हैं। इसकी तुलना में, ग्रेटर हैदराबाद, जहां से अधिकांश पॉजिटिव मामले आये हैं, राज्य चिकित्सा बुलेटिन के अनुसार 92 कन्टेनमेंट जोन हैं। तेलंगाना में पिछले 24 घंटों में 1,986 के नए मामले, 816 लोग स्वस्थ हुए और 14 मौतें हुईं। इन 1986 मामलों में से, 586 मामले जीएचएमसी में दर्ज किए गए। अब तक के कुल मामले: 62,703; सक्रिय मामले: 16,796; मृत्यु 519; अस्पताल से छुट्टी: 45,388.

पंजाब: कोविड के संक्रमण एवं मौतों के बढ़ते मामलों के बीच, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा जरूरतमंद लोगों को प्लाज्मा नि:शुल्क प्रदान किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग को कड़ाई से यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि कोविड मरीजों से प्लाज्मा थैरेपी के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाये और किसी को भी प्लाज्मा, जो कि कोरोना वायरस के लिए कोई इलाज नहीं होने की स्थिति में कई मामलों में जीवन रक्षक साबित हुआ है, खरीदने या बेचने की अनुमति नहीं है।

हरियाणा: कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए, महिला एवं बाल विकास विभाग ने राज्य में स्थापित आश्रय घरों में रहने वाले प्रवासी श्रमिकों के लिए नियमित परामर्श, ध्यान, योग कार्यशालाएं आयोजित कीं। इन आश्रय घरों में रहने वाले बच्चों के मनोरंजन के लिए गतिविधियां भी आयोजित की गईं। कुल 7,572 प्रवासी श्रमिकों, 5,628 महिलाओं एवं 11,184 बच्चों को फेस मास्क, पेपर नैपकिन, सैनिटाइज़र, सैनिटरी नैपकिन, डायपर तथा साबुन के अलावा पंजिरी’, दूध, फल, और बिस्कुट सहित भोजन प्रदान किया गया।

महाराष्ट्र: राज्य में गुरुवार को 11,147 कोविड पॉजिटिव मामलों के सामने आने के साथ कुल मामलों की संख्या 4.11 लाख से अधिक हो गई। राज्य में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 1.48 लाख है, जबकि पिछले 24 घंटों के दौरान कुल 8,860 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दी गयी। मुंबई ने एक बार फिर 1,208 ताजा मामलों के साथ 1,000 का आंकड़ा पार किया। शहर में अब कुल 20,158 सक्रिय मामले हैं। पुणे नगर निगम और पुणे में 1,889 नए मामले दर्ज किए गए। अब पांच सबसे बुरी तरह प्रभावित जिलों में से तीन - मुंबई, ठाणे और नवी मुंबईमहाराष्ट्र में हैं। चेन्नई एवं बेंगलुर दो अन्य सबसे प्रभावित जिले हैं।

गुजरात: गुजरात में, पिछले 24 घंटों में कुल 1,159 मामलों आने के साथ ही कोविड-19 के मामलों की कुल संख्या 60,000 के आंकड़े को पार कर गई है। यह अभी तक की एक दिन में दर्ज होने वाली सबसे अधिक संख्या है। गुरुवार को कोविड 19 के कारण 22 रोगियों के जान गंवाने के साथ इस महामारी के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर 2,418 हो गई। इसके अलावा, पिछले 24 घंटों में राज्य के विभिन्न अस्पतालों से 879 रोगियों को छुट्टी दी गई, जिससे कुल स्वस्थ हुए मामलों की संख्या 44,074 तक पहुंच गयी। राज्य में कुल 13,793 सक्रिय रोगी हैं और मरीजों के स्वस्थ होने की दर 73.11 प्रतिशत है। राज्य सरकार ने घोषणा की है कि 100 -बिस्तरों वाले अस्पताल में 5 बिस्तरें और 100 से अधिक बिस्तरों वाले अस्पतालों में 10 बिस्तरें कोविड की देखभाल में शामिल डॉक्टरों एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के लिए आरक्षित होंगे। यदि अग्रणीकार्यकर्ताओं के लिए आरक्षित बिस्तर खाली हैं, तो उन्हें आम जनता के लिए आवंटित किया जा सकता है।

राजस्थान: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने घोषणा की है कि राज्य के सभी धार्मिक स्थल 1 सितंबर से फिर से खुलेंगे। गृह विभाग इस संबंध में आवश्यक निर्देश जारी करेगा। राज्य में 11,319 सक्रिय मामले हैं, जिनमें कल दर्ज किए गए 362 नए सकारात्मक मामले भी शामिल हैं।

मध्यप्रदेश: मध्यप्रदेश में गुरुवार को 834 नए मामले सामने आने के साथ राज्य में रोगियों की कुल संख्या 30,968 हो गयी। अधिकतम मामले (233) भोपाल से सामने आए और उसके बाद इंदौर (84) और बड़वानी (73) से।

छत्तीसगढ़: राज्य में 256 नए रोगियों के सामने आने के साथ कोविड-19 मामलों की कुल संख्या 8,856 तक पहुंच गयी, जबकि सक्रिय रोगियों की कुल संख्या अभी 2,884 है।

 

Description: Image

*****

एसजी/एएम/एसके/वीएस 



(Release ID: 1642824) Visitor Counter : 39