PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 22 JUN 2020 6:33PM by PIB Delhi

 Description: Coat of arms of India PNG images free download

 

(पिछले 24 घंटे में जारी कोविड-19 से संबंधित प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल हैं)

 

डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट से प्रदर्शित होता है कि ऊंचे जनसंख्या घनत्व के बावजूद भारत प्रति लाख जनसंख्या पर सबसे कम मामलों वाले देशों में से एक है।

अभी तक कोविड-19 से 2,37,195 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं, जिसमें पिछले 24 घंटों के दौरान ठीक हुए 9,440 लोगों की संख्या शामिल है। इस प्रकार कोविड-19 के मरीजों की सुधार की दर 55.77 प्रतिशत हो गई है।

वर्तमान में देश में 1,74,387 सक्रिय मामले हैं और सभी मामले सक्रिय चिकित्सा देख-रेख में बने हुए हैं।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने एक बैठक की अध्यक्षता की, जिसमें दिल्ली में कोविड-19 के रोकथाम की रणनीति पर डॉ. वी. के. पॉल की रिपोर्ट प्रस्तुत की गई थी। 

Description: C:\Users\VARUN\Desktop\image005F16F.jpg

Description: C:\Users\VARUN\Desktop\Corona watch 22 june 2020.jpg

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से कोविड-19 पर प्राप्त अपडेट: दुनिया में भारत में प्रति लाख आबादी पर कोरोना संक्रमण के सबसे कम मामले हैं और ठीक हुए लोगों व सक्रिय मामलों के बीच के अंतर का बढ़ना भी जारी है

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की 21 जून, 2020 को जारी रिपोर्ट 153 से पता चलता है कि अधिक जनसंख्या घनत्व के बावजूद भारत प्रति लाख जनसंख्या पर कोरोना वायरस के सबसे कम मामलों वाले देशों में से एक है। भारत में प्रति लाख जनसंख्या पर कोरोना से संक्रमण के मामले 30.04 हैं जबकि वैश्विक औसत इसके तीन गुणा से अधिक 114.67 है। अमेरिका में प्रति लाख जनसंख्या पर 671.24 मामले हैं जबकि जर्मनी, स्पेन और ब्राजील के लिए यह आंकड़ा क्रमशः 583.88, 526.22 और 489.42 है। इस प्रकार यह निम्न आंकड़ा कोविड-19 की रोकथाम, नियंत्रण और प्रबंधन के लिए राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के साथ भारत सरकार के सिलसिलेवार और अग्र-सक्रिय दृष्टिकोण अपनाने का प्रमाण है।

Description: http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image001JVC1.jpg

अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित कुल 2,37,195 मरीज ठीक हो चुके हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड-19 के कुल 9,440 रोगी ठीक हो चुके हैं। कोविड-19 के रोगियों के ठीक होने (रिकवरी) की दर बढ़कर 55.77 प्रतिशत हो गई है। वर्तमान में, कोविड-19 के कुल 1,74,387 सक्रिय मामले हैं और सभी गहन चिकित्सा देख-रेख में है। इस बीमारी से ठीक हो चुके लोगों और कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या के बीच का अंतर लगातार बढ़ता जा रहा जिसे ग्राफ में देखा जा सकता है। आज ठीक हुए मरीजों की संख्या इस बीमारी के सक्रिय रोगियों की संख्या से 62,808 अधिक हो गई है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1633310

केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने एक बैठक की अध्यक्षता की, जिसमें दिल्ली में कोविड-19 के रोकथाम की रणनीति पर डॉ. वी. के. पॉल की रिपोर्ट प्रस्तुत की गई 

केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह के निर्देशानुसार 14 जून 2020 को दिल्ली के लिए कोविड-19 को नियंत्रित करने के लिए रणनीति पर एक रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए डॉ. विनोद पॉल की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया गया था। डॉ. पॉल की रिपोर्ट का प्रस्तुतिकरण कल गृहमंत्री की अध्यक्षता में हुई बैठक में किया गया। रोकथाम की रणनीति के प्रमुख बिन्दुः नियंत्रित क्षेत्रों का नए सिरे से परिसीमन और नियंत्रित क्षेत्रों के अंदर की गतिविधियों की सख्त निगरानी और नियंत्रण, संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए लोगों का पता लगाना और सभी संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए व्यक्तियों को क्वारंटाइन करना, जिसमें आरोग्य सेतु की भी मदद लेना, नियंत्रित क्षेत्रों के बाहर भी प्रत्येक घर का सूचीकरण और निगरानी जो दिल्ली के बारे में व्यापक जानकारी प्राप्त करने में मदद करेगा और कोविड-19 के पॉजिटिव मामलों को अस्पताल, कोविड देखभाल केंद्र या होम आइसोलेशन में रखना शामिल है। कोविड देखभाल केंद्रों का सही से संचालन और इसमें स्वयंसेवी संस्थाओं/गैर-सरकारी संगठनों की मदद लेने का भी सुझाव दिया है। दिल्ली में 27 जून 2020 से 10 जुलाई 2020 तक एक सीरोलॉजिकल सर्वे किया जाएगा, जिसमें 20,000 लोगों की सैम्पल टेस्टिंग होगी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1633259

श्री मांडविया ने भारत के सबसे बड़े एक्सपो में से एक, पहले वर्चुअल हेल्थकेयर एंड हाइजीन एक्सपो 2020 का उद्घाटन किया

यह भारत की पहली सबसे बड़ी वर्चुअल प्रदर्शनी है, जो एक नई शुरुआत है। प्रदर्शनी के उद्घाटन के अवसर पर मंत्री ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत के लिए एक पारिस्थितिकी तंत्र का निर्माण किया जा रहा है, जिससे औषध क्षेत्र, स्वास्थ्य और स्वच्छता क्षेत्र में घरेलू उत्पादन को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी। स्वास्थ्य, स्वच्छता और स्वच्छीकरण, चिकित्सा से जुड़े वस्त्र एवं उपकरण, आयुष एवं स्वास्थ्य क्षेत्र कोविड-19 महामारी के खिलाफ हमारी कृतसंकल्प लड़ाई में बहुत ज्यादा महत्व रखते हैं। उन्होंने माननीय प्रधानमंत्री द्वारा 2014 से इस दिशा में घोषित की गई विभिन्न पहलों पर प्रकाश डाला जैसे कि प्रत्येक घर में शौचालय की उपलब्धता, 10 करोड़ परिवारों को स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के लिए आयुष्मान भारत”, "स्वच्छ भारत अभियान", "सुविधा सैनिटरी" नैपकिन आदि। उन्होंने जन औषधि केंद्रों के संदर्भ में भी बताया जहां पर सभी लोगों के लिए किफायती दामों में गुणवत्तापूर्ण दवाओं को उपलब्ध कराया जा रहा है। श्री मांडविया ने विस्तृत रूप से बताया कि कैसे नरेन्द्र मोदी सरकार के कृतसंकल्प दृष्टिकोण के कारण ये सभी पहल संभव हो सकी है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1633406

खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में नए अवसर खुल रहे हैं: हरसिमरत कौर बादल

केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने आज भारत सरकार के राष्ट्रीय निवेश संवर्धन और सुविधा एजेंसी, इंवेस्ट इंडिया द्वारा एक्सक्लूसिव इन्वेस्टमेंट फोरम के खाद्य प्रसंस्करण संस्करण का शुभारंभ किया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कोविड महामारी के कारण इस क्षेत्र के सामने अद्वितीय चुनौतियां आईं और यह लॉकडाउन की सफलता सुनिश्चित करने में लगातार बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। वर्तमान में यह क्षेत्र कुछ ऐसी चुनौतियों का सामना कर रहा है जिनका संबंध वैश्विक व्यापार से है जहां मांग में भारी गिरावट देखी जा रही है। श्रीमती बादल ने कहा कि ये चुनौतियां इस विशेष मंच जैसे नए अवसरों का मार्ग खोलने के लिए अग्रसर हैं जिसमें 180 से अधिक निवेशकों, 6 राज्य सरकारों और केंद्र सरकार के लिए एक ही समय में एक ही स्थान पर आना संभव बना दिया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1633428

ईपीएफओ ने पिछले दो वित्तीय वर्षों में 1.39 करोड़ ग्राहकों को जोड़ा

ईपीएफओ द्वारा हाल ही में प्रकाशित अनंतिम भुगतान रजिस्टर आंकड़े (पेरोल डेटा) ईपीएफओ में सितंबर, 2017 से भुगतान रजिस्टर के मिलान के बाद से इसकी लगातार बढ़ती ग्राहक संख्या में वृद्धि की प्रवृत्ति को उजागर करता है। कुल ग्राहक संख्या 28 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज करते हुए वर्ष 2018-19 में 61.12 लाख से बढ़कर 2019-20 में 78.58 लाख हो गई। वर्ष 2019-20 के दौरान ग्राहकों की उम्र के हिसाब से विश्लेषण बताता है कि पिछले वर्ष की तुलना में 26-28, 29-35 और 35 वर्ष से अधिक आयु समूह के ग्राहकों के कुल नामांकन में 50 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि हुई है। ऑनलाइन मोड में सेवा प्रदान करने की गुणवत्ता में तेजी से सुधार की वजह से देश भर के कर्मचारी ईपीएफओ की सेवाओं की ओर आकर्षित हुए हैं। इसके अलावा पीएफ के रूप में जमा राशि अब लॉक-इन मनी नहीं रह गई है, इसे जरूरत पड़ने पर निकाला जा सकता है। ईपीएफओ ने 3 दिनों के भीतर कोविड-19 के दौरान अग्रिमों मांगों को निपटाने का काम किया है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1633391

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने आकांक्षीजिलों में स्वास्थ्य सुविधाओं की समीक्षा की

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने कल "आकांक्षी" जिलों में कोविड-19 की स्थिति और स्वास्थ्य सुविधा की समीक्षा की, जिसमें पूर्वोत्तर क्षेत्र पर विशेष ध्यान दिया गया। उन्होंने बताया कि कोविड महामारी को ध्यान में रखते हुए पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय ने पूर्वोत्तर के आठ राज्यों में स्वास्थ्य सुविधा को बढ़ावा देने के लिए, विशेष रूप से संक्रामक रोगों के प्रबंधन के लिए बुनियादी ढांचे के विकास हेतु 190 करोड़ रुपये की मंजूरी प्रदान करने का फैसला किया है। एक वर्चुअल बैठक को संबोधित करते हुए, जिसमें स्वास्थ्य सचिवों के साथ-साथ पूर्वोत्तर के 14 आकांक्षी जिलों के उपायुक्तों और स्वास्थ्य अधिकारियों ने हिस्सा लिया, डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि आकांक्षी जिलों की अवधारणा 49 प्रमुख संकेतकों पर आधारित थी, जिनमें स्वास्थ्य सेवा की स्थिति एक महत्वपूर्ण घटक थी। मंत्री ने यह भी कहा कि पूर्वोत्तर राज्यों को स्वास्थ्य संबंधी परियोजनाओं के लिए प्रस्ताव भेजने का विकल्प प्रदान किया गया है जिससे उन्हें डोनर मंत्रालय के अंतर्गत नॉर्थ ईस्ट स्पेशल इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट स्कीम से 500 करोड़ रुपये तक की राशि मिल सके।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1633243

ऑपरेशन समुद्र सेतु- आईएनएस एरावत भारतीयों को लेकर मालदीव से रवाना हुआ

अपने नागरिकों को समुद्र द्वारा विदेशी तटों से वापस लाने के भारत सरकार के ऑपरेशन वंदे भारत के तत्वाधान में भारतीय नौसेना के योगदान-ऑपरेशन समुद्र सेतु के तहत भारतीय नौसेना का जहाज एरावत कल मालदीव में माले के बंदरगाह पर पहुंचा। जहाज कुल 198 भारतीय नागरिकों को मालदीव के माले से लेकर तमिलनाडु के तूतीकोरिन के लिए रवाना हुआ। ऑपरेशन समुद्रसेतु के तहत नौसेना का जहाज पांचवी बार माले पहुंचा है। अब तक भारतीय नौसेना अकेले मालदीव से 2386  भारतीयों को वापस देश ले आयी है। इस जहाज में 195 लोग तमिलनाडु के हैं जबकि बाकी पुडुचेरी के हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1633284

 

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिलीं जानकारियां

पंजाब: पंजाब सरकार निजी अस्पतालों के कोविड अस्पताल में भर्ती और उपचार की दरों की अधिकतम सीमा तय करेगी, जिसका पालन नहीं करने वालों को बंदी जैसी कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा। निजी अस्पतालों द्वारा भारी भरकम शुल्क वसूले जाने की शिकायतों पर सख्त रुख अपनाते हुए मुख्यमंत्री ने ऐसे कदमों को जन विरोधी और राष्ट्र विरोधीकरार दिया है। उन्होंने आगाह किया कि निजी संस्थानों को लोगों की जान की कीमत पर ऐसे शर्मनाक मुनाफाखोरी से संबंधित कार्य करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

हरियाणा : छठे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर बोलते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार वर्ष 2015 से ही भव्य स्तर पर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का आयोजन करती आ रही है, जिसके तहत राज्य स्तरीय कार्यक्रम के अलावा जिला स्तर पर भी कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता था जिसमें बड़ी संख्या में लोग सामूहिक रूप से योग का प्रदर्शन किया करते थे और दूसरों को अपने जीवन में योग को अपनाने के लिए प्रेरित किया करते थे। लेकिन इस बार, कोविड-19 के कारण कार्यक्रमों और आयोजन करने के बजाय लोगों से घर पर ही योग करने का आह्वान किया गया, क्योंकि इस तरीके को अपनाकर ही हम इस महामारी को हरा सकते हैं।

महाराष्ट्र : राज्य में कोविड-19 मरीजों की संख्या बढ़कर 1,32,075 हो गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 3,870 नए मरीज पॉजिटिव पाए गए। लगभग 1,591 मरीज स्वस्थ हो गए, जिससे इस बीमारी से ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर 65,744 हो गई। कुल सक्रिय मामलों की संख्या 60,147 हो गई है। बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने शाहजी राजे भोसले खेल परिसर, अंधेरी में मिशन जीरो रैपिड एक्शन प्लान की शुरुआत की। इसके अलावा मरीजों की शुरुआती जांच के लिए 50 मोबाइल डिस्पेंसरी वैन 2-3 हफ्तों के लिए मुलुंड, भंडप, अंधेरी, मलाड, बोरीवली, दहिसर और कांदीवली का दौरा करेंगी।

गुजरात : गुजरात में रविवार को 580 नए मामलों के साथ कोविड-19 के मरीजों में भारी बढ़ोतरी दर्ज की गई और 25 लोगों की मृत्यु हो गई। इस प्रकार संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 27,317 हो गए और अभी तक कुल 1,664 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। 655 लोगों के डिस्चार्ज होने के साथ अभी तक कुल 19,357 लोग डिस्चार्ज हो चुके हैं।

राजस्थान : आज 67 नए मामले दर्ज किए गए, जिससे राज्य में कोविड-19 पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 14,997 हो गई। हालांकि अभी तक 11,661 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और 349 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। वर्तमान में राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 2,987 है।

मध्य प्रदेश : 179 नए मरीज कोविड-19 जांच में पॉजिटिव पाए गए, जिससे राज्य में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 11,903 के स्तर पर पहुंच गई। वहीं रविवार तक 9,015 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और 515 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। सक्रिय मामलों की संख्या 2,373 के स्तर पर है। इंदौर में कुल मामले 4,329 और भोपाल में मामले 2,504 हो चुके हैं।

छत्तीसगढ़ : रविवार को कुल 139 नए मामले दर्ज किए गए, जिससे राज्य में कोविड-19 संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 2,273 हो गया। राज्य में वर्तमान में कुल 841 सक्रिय मामले हैं।

गोवा : उत्तरी गोवा में एक 85 वर्षीय बुजर्ग की कोविड से मृत्यु हो गई, जो गोवा में इस वायरस से मौत का पहला मामला है। 64 नए मामलों की पहचान के साथ राज्य में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 818 हो गए हैं।

केरल : केरल की स्वास्थ्य मंत्री के. के. शैलजा ने कहा कि अभी तक राज्य में कोविड-19 संक्रमण सामुदायिक प्रसार की स्थिति में नहीं पहुंचा है और विदेश से केरल के लिए आ रही उड़ानों से बीमार लोगों को आने की अनुमति नहीं देने का फैसला अन्य स्वस्थ यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के उद्देश्य से लिया गया है। राज्य के सहकारिता मंत्री के. सुरेंद्रन ने कहा कि पंचायत स्तर पर संस्थागत क्वारंटाइन केन्द्र खोले जाएंगे। चार्टर्ड उड़ानों में सोने की तस्करी कर रहे चार लोगों को करिपुर हवाई अड्डे से गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा ओमान में केरल के एक अन्य व्यक्ति की कोविड-19 से मृत्यु हो गई। कल 133 नए मामले सामने आने के साथ राज्य में कोविड के मामलों का ग्राफ लगातार बढ़ता नजर आ रहा है। राज्य में अब सक्रिय मामले बढ़कर 1,490 हो गए हैं।

तमिलनाडु : कुछ नमूनों की जांच के क्रम में पुडुचेरी में कोविड-19 के नए मामले घटकर 17 रह गए, जिससे संघ शासित क्षेत्र में मरीजों की कुल संख्या 383 हो गई है। वहीं रविवार को तमिलनाडु में कोविड के 2,532 नए मामले सामने आए, जो किसी एक दिन में संक्रमण का सबसे ऊंचा आंकड़ा है; 1,438 मरीज स्वस्थ हो गए और 53 लोगों की मृत्यु हो गई। 1,493 नए मामले तो सिर्फ चेन्नई में ही सामने आए। कुल मामले : 59377, सक्रिय मामले : 25863, मृत्यु : 757, डिस्चार्ज : 32754, नमूनों की जांच : 861211, चेन्नई में सक्रिय मामले : 1783।

कर्नाटक : मुख्यमंत्री द्वारा बुलाई गई एक आपात बैठक में फैसला लिया गया कि ऐसे क्लस्टर्स में लॉकडाउन को सख्ती से लागू किया जाएगा, जहां ज्यादा संख्या में मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें विशेष रूप से के. आर. मार्केट और सिद्दापुरा, वीवी पुरम, कालासिपाल्या जैसे आस-पास के इलाके शामिल हैं। अगर जरूरत पड़ी तो क्वारंटाइन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। यह भी फैसला लिया गया कि सभी वार्डों में फीवर (बुखार) क्लीनिकों की स्थापना की जाएगी। पुलिस अधिकारियों से संबंधित कोरोना के मामले बढ़ने और बेंगलुरु में कोविड के चलते तीन पुलिसकर्मियों की मृत्यु के बाद शहर के पुलिस आयुक्त ने 55 वर्ष से ज्यादा उम्र के सभी पुलिसकर्मियों को काम पर नहीं आने के आदेश दिए हैं। कल 453 नए मामले सामने आए, 225 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया और पांच लोगों की मृत्यु हो गई। कुल पॉजिटिव मामले : 9150, सक्रिय मामले : 3391, मृत्यु : 137, डिस्चार्ज : 5618।

आंध्र प्रदेश : कल 439 नए मामले सामने आए, 151 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया और पांच लोगों की मृत्यु हो गई। कुल मामले : 7059, सक्रिय मामले : 3599, स्वस्थ हुए : 3354, मृत्यु : 106।

तेलंगाना : राज्य में कोविड के रिकॉर्ड नए मामले दर्ज किए गए, जिसमें सबसे ज्यादा मामले हैदराबाद से सामने आए; अभी तक कुल 7,802 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 3,861 सक्रिय मामले हैं, 3,731 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। 22 मार्च को लॉकडाउन से पहले राज्य में 22 मामले दर्ज किए गए थे, 23 मार्च और 14 अप्रैल तक चले लॉकडाउन 1 के दौरान 622 मामले सामने आए थे। उसके बाद 15 अप्रैल से 3 मई तक चले लॉकडाउन 2 के दौरान 3,438 मामले सामने आए, और फिर 4 मई से 17 मई तक चले लॉकडाउन 3 के दौरान 439 मामले दर्ज किए गए। यह रुझान आगे भी जारी रहा और 18 मई से 31 मई तक चले लॉकडाउन 4 के दौरान 1,147 नए मामले सामने आए। वर्तमान में जारी अनलॉक 1 के दौरान तेलंगाना राज्य में 5,104 मामले दर्ज किए जा चुके हैं। तेलंगाना सरकार ने कोविड के मामले बढ़ने के कारण हर जिले में प्रति दिन 50 औचक परीक्षण किए जाने के आदेश दिए हैं।

मेघालय : कोविड-19 महामारी के चलते 2 महीने तक बंद रहने के बाद मेघालय में लिउदुह को एक बार फिर से खोल दिया गया है। इसके अलावा रेस्टोरेंट, कैफे, नाई की दुकानें और ब्यूटी पार्लर भी खोल दिए गए हैं। 

मणिपुर :  101 पॉजिटिव मामलों के साथ मणिपुर में तमेंगलोंग जिला राज्य का सबसे ज्यादा संक्रमण से प्रभावित जिला बन गया, इसके बाद कांगपोकपी में 95 और चूराचांदपुर में 94 मामले सामने आ चुके हैं। पहले लॉकडाउन की शुरुआत के बाद से मणिपुर में राज्य की सीमाओं पर कुल 2.76 लाख लोगों की जांच की जा चुकी है।

मिजोरम : केन्द्र सरकार ने भूकम्प के बाद मिजोरम को पूरे सहयोग का भरोसा दिलाया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह और डोनर मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने आज मुख्यमंत्री जोरामथंगा से बात की।

नागालैंड : नागालैंड की राजधानी कोहिमा में वाहनों के लिए सम विषम नियम लागू कर दिया है, जिसका उद्देश्य वाहनों की गैर आवश्यक आवाजाही को न्यूनतम करना है। हालांकि, वर्णित आवश्यक सेवाओं में लगे वाहनों को आवाजाही से छूट दी गई है।

 

 

 

Description: Image

*****

एसजी/एएम/एमपी/एसके



(Release ID: 1633489) Visitor Counter : 61