PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 05 MAY 2020 6:22PM by PIB Delhi

(बीते 24 घंटे में जारी कोविड-19 से संबंधित प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी फील्ड कार्यालयों से जानकारियां और पीआईबी द्वारा तथ्यों की पड़ताल शामिल)

  • कुल 46,433 पुष्ट मामलों में से 12,726 कोविड-19 मरीज ठीक हो चुके हैं, जिससे ठीक होने की दर 27.41 प्रतिशत हो गई है।
  • कल से 3900 नए मामले सामने आए और 195 मौतें हुईं।
  • मंत्रियों के समूह ने कोविड-19 को लेकर कंटेनमेंट रणनीति और प्रबंधन को लेकर व्यापक चर्चा की।
  • देश में पीपीई, मास्क, वेंटिलेटर्स, दवाइयां और दूसरे आवश्यक उपकरण पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत अब तक करोड़ों गरीबों को राहत पहुंचाई जा चुकी है।
  • प्रधानमंत्री ने एनएएम संपर्क समूह के ऑनलाइन शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया। उन्होंने कहा कि हमें मानव कल्याण को बढ़ावा देना है, अकेले आर्थिक विकास पर ध्यान केंद्रित नहीं करना है।
  • साल 2020-21 के लिए आईआईटी, एनआईआईटी और ट्रिपलआईटी के छात्रों की फीस में कोई बढ़ोतरी नहीं; जेईई-मेन की तारीखें घोषित।
  • व्हाट्सएप और ईमेल पर दवाओं के ऑर्डर स्वीकार कर रहे जनऔषधि केंद्र।

 

स्वास्थ् एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से कोविड-19 पर अपडेट

 

अभी तक कुल 12,726 लोगों का उपचार किया जा चुका है। इससे हमारी कुल सुधार दर 27.41 प्रतिशत तक पहुंच गई है। देश में कुल पुष्ट मामलों की संख्या 46,433 के स्तर पर पहुंच गई है। कल से भारत में कोविड-19 के पुष्ट मामलों की संख्या में 3,900 की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। अभी तक कुल 1,568 लोगों की मृत्यु हो चुकी है, जिसमें से 195 की मृत्यु 24 घंटों में हुई है। पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पुष्ट मामले सामने आने और सबसे ज्यादा लोगों की मृत्यु के साथ राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों को प्रभावी रूप से संपर्क निगरानी, सक्रिय मामलों की खोज और मामलों के चिकित्सकीय प्रबंधन की सलाह दी गई है।

 

विस्तार से यहां पढ़ें-

 

जीओएम ने कोविड-19 के प्रबंधन के लिए मौजूदा स्थिति, तैयारियों और कार्यों की समीक्षा की

 

मंत्रियों के समूह ने कोविड-19 की कंटेनमेंट (नियंत्रण) रणनीति और प्रबंधन के पहलुओं और केंद्र व विभिन्न राज्यों द्वारा किए गए जा रहे उपायों पर भी विचार-विमर्श किया। जीओएम को अवगत कराया गया कि अब तक मृत्यु दर करीब 3.2 प्रतिशत है जब ठीक होने की दर 25 प्रतिशत से अधिक है, जिसे लॉकडाउन के साथ-साथ क्लस्टर प्रबंधन और कंटेनमेंट रणनीति के सकारात्मक प्रभाव के रूप में लिया जा सकता है। देश के विभिन्न हिस्सों में रोगियों से मिले नमूने से कोरोनावायरस के जीनोम अनुक्रमण पर अनुसंधान शुरू हो गया है। जीओएम को जरूरतों के हिसाब से पीपीई, मास्क, वेंटिलेटर, ड्रग्स और अन्य आवश्यक उपकरणों की पर्याप्तता और उपलब्धता के बारे में अवगत कराया गया। पीएमजीकेपी के तहत 4 मई 2020 तक 58.77 करोड़ लाभार्थियों को पहले महीने के लिए 29.38 लाख मीट्रिक टन और दूसरे महीने के हक में 11.63 करोड़ लाभार्थियों को 5.82 लाख मीट्रिक टन खाद्यान्न वितरित किया जा चुका है। अप्रैल-मई 2020 के दौरान 4.98 करोड़ पीएमयूवाई सिलेंडर बुक किए गए और 4.72 करोड़ की डिलिवरी की गई। 2020-21 के दौरान 8.18 करोड़ लाभार्थियों (किसानों) को 2,000 रुपये प्रति व्यक्ति के हिसाब से वित्तीय स्वीकृति दी गई। वरिष्ठ नागरिकों, विधवाओं और दिव्यांगों को सहयोग के रूप में 500 रुपये प्रति लाभार्थी के हिसाब से पहली किस्त सभी 2.812 करोड़ पात्र लाभार्थियों के लिए जारी की गई है। 20.05 करोड़ महिलाओं के प्रधानमंत्री जनधन खातों में 500 रुपये प्रति खाते के हिसाब से भेजे जा रहे हैं। ईपीएफओ के 9.27 लाख सदस्यों ने ऑनलाइन निकासी की सुविधा का फायदा उठाते हुए 2895 करोड़ रुपये निकाले।

 

यहां भी पढ़ें:

 

प्रधानमंत्री ने एनएएम संपर्क समूह के ऑनलाइन शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मौजूदा कोविड-19 वैश्विक महामारी के संकट पर चर्चा करने के लिए 4 मई, 2020 की शाम को आयोजित गुटनिरपेक्ष आंदोलन (एनएएम) संपर्क समूह के ऑनलाइन शिखर सम्मेलन में भाग लिया।

 

विस्तार से यहां पढ़ें-

 

कोविड-19 से निपटने को लेकर गुटनिरपेक्ष आंदोलन संपर्क समूह की वीडियो कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री का संबोधन

 

'आज, मानवता दशकों के सबसे गंभीर संकट का सामना कर रही है। ऐसे में गुटनिरपेक्ष आंदोलन वैश्विक एकजुटता को बढ़ावा देने में मददगार साबित हो सकता है। गुटनिरपेक्ष आंदोलन अक्सर दुनिया की नैतिक आवाज रहा है। इस भूमिका को बरकरार रखने के लिए, गुटनिरपेक्ष आंदोलन को आवश्यक रूप से समावेशी बने रहना होगा। हमें ऐसे अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों की आवश्यकता है, जो आज के विश्व का ज्यादा प्रतिनिधित्व करते हों। हमें सिर्फ आर्थिक प्रगति पर ही ध्यान केंद्रित नहीं करना चाहिए, बल्कि मानव कल्याण को बढ़ावा देने की जरूरत है। भारत लंबे अरसे से ऐसी पहलों का समर्थक रहा है।'

 

विस्तार से यहां पढ़ें:

 

केंद्रीय एचआरडी मंत्री ने वेबिनार के माध्यम से देशभर के विद्यार्थियों से किया संवाद

 

संवाद के दौरान केंद्रीय एचआरडी मंत्री ने लंबित प्रवेश परीक्षाओं की तारीखों की घोषणा की। उन्होंने बताया कि एनईईटी का आयोजन 26 जुलाई, 2020 को किया जाएगा। उन्होंने आगे बताया कि जेईई मुख्य परीक्षा 18, 20, 21, 22 और 23 जुलाई, 2020 को आयोजित होगी। उन्होंने कहा कि जेईई (एडवांस) परीक्षा अगस्त में हो सकती है। उन्होंने कहा कि यूजीसी नेट 2020 और सीबीएसई की 12वीं की बोर्ड परीक्षा की तारीखें भी जल्द ही घोषित की जाएंगी। शैक्षणिक वर्ष 2020-21 के लिए आईआईटी, आईआईआईटी और एनआईटी के शुल्क में कोई बढ़ोतरी नहीं की जाएगी।

 

विस्तार से यहां पढ़ें:

 

प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि केंद्र लॉकडाउन के दौरान दवा खरीद को सुगम बनाने के लिए व्हाट्सएप और -मेल पर ऑर्डर स्वीकार कर रहे हैं

 

वर्तमान में देश के 726 जिलों में 6300 से अधिक पीएमबीजेके कार्यशील हैं जो किफायती मूल्य पर गुणवत्तापूर्ण दवाओं की आपूर्ति सुनिश्चित कर रहे हैं। ये दवाएं औसतन 50 से 90 प्रतिशत तक सस्ती हैं। अप्रैल, 2020 में लगभग 52 करोड़ रुपये के बराबर मूल्य की दवाओं की आपूर्ति पूरे देशभर में की गई है।

 

विस्तार से पढ़ें-

 

ईपीएफओ ने अपने पेंशनधारकों को 764 करोड़ रुपये जारी किए

 

ईपीएफओ के पास अपनी पेंशन योजना के तहत 65 लाख पेंशनधारक हैं। ईपीएफओ के सभी 135 क्षेत्रीय कार्यालयों ने राष्ट्रव्यापी कोविड-19 लॉकडाउन के कारण पेंशनधारकों को असुविधा से बचाने के लिए अग्रिम रूप से अप्रैल, 2020 के पेंशन भुगतान को प्रोसेस किया। ईपीएफओ के अधिकारियों और कर्मचारियों ने पूरे भारत में पेंशन वितरण को बैंकों की सभी नोडल शाखाओं में 764 करोड़ रुपये भेजने के लिए कई मुश्किलों का सामना किया। सभी बैंक शाखाओं को समय पर पेंशनधारकों के खातों में पेंशन क्रेडिट होना सुनिश्चित करने के निर्देश दे दिए गए हैं।

 

विस्तार से यहां पढ़ें-

 

रक्षा मंत्री ने कोविड-19 के खिलाफ देश की लड़ाई में एनसीसी के योगदान की समीक्षा की

 

श्री राजनाथ सिंह ने आज एक वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से कोविड-19 के प्रसार को रोकने में राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) के योगदान की समीक्षा की। अपनी प्रारंभिक टिप्पणी में रक्षा मंत्री ने कहा कि देश चुनौतीपूर्ण दौर से गुजर रहा है और कोविड-19 को रोकने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार ने कई प्रभावी उपाय किए हैं। एनसीसी कैडेट लॉजिस्टिक्स और आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन, आवश्यक खाद्य सामग्री, दवाओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने, यातायात संबंधी ड्यूटी में मदद कर रहे हैं। कुछ कैडेटों ने सोशल मीडिया के लिए कुछ शिक्षाप्रद वीडियो भी बनाए हैं जबक अन्य ने मास्क बनाए और उसे स्थानीय स्तर पर वितरित भी किया।

 

विस्तार से यहां पढ़ें-

 

डॉ. जितेंद्र सिंह ने 28 राज्यों और 9 केंद्रशासित प्रदेशों के साथ मिलकर 30 मार्च- 4 मई, 2020 की अवधि के दौरान डीएआरपीजी की कोविड-19 से संबंधित लोक शिकायत निवारण की प्रगति रिपोर्ट की समीक्षा की

 

इस अवधि में, डीएआरपीजी की राष्ट्रीय कोविड-19 लोक शिकायत से जुड़े पोर्टल (https://darpg.gov.in) ने 52,327 मामलों का निपटारा किया, जिनमें से केंद्रीय मंत्रालयों और विभागों द्वारा 41,626 मामलों का निवारण किया गया। केंद्र सरकार के कोविड-19 लोक शिकायत मामलों के लिए शिकायत निवारण का औसत समय 1.45 दिन/शिकायत लगा है।

 

विस्तार से यहां पढ़ें-

 

लाइफलाइन उड़ान के अंतर्गत एयर इंडिया, अलायंस एयर, आईएएफ और निजी विमानन कंपनियों ने 443 उड़ानों का किया संचालन

 

एयर इंडिया, अलायंस एयर, आईएएफ और निजी विमानन कंपनियों द्वारा लाइफलाइन उड़ान के तहत 443 उड़ानें संचालित की गई हैं। अभी तक लगभग 821.07 टन कार्गो की ढुलाई की जा चुकी है और 4,34,531 किमी से अधिक हवाई दूरी तय की गई है। पवन हंस लिमिटेड सहित अन्य हेलीकॉप्टर सेवाएं जम्मू एवं कश्मीर, लद्दाख, द्वीपों और पूर्वोत्तर क्षेत्र में महत्वपूर्ण चिकित्सा कार्गो और रोगियों को पहुंचा रही है। पवन हंस ने 3 मई, 2020 तक 7,729 किमी की दूरी तय करते हुए 2.27 टन कार्गो की ढुलाई की है।

 

विस्तार से यहां पढ़ें-

 

एक आयात प्रतिस्थापन नीति पर विचार: श्री नितिन गडकरी

 

केंद्रीय एमएसएमई और सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी ने आज जानकारी दी कि कोविड-19 महामारी द्वारा उत्पन्न नई आर्थिक स्थिति के बाद एक आयात प्रतिस्थापन नीति पर विचार किया जा रहा है। उन्होंने विभिन्न हितधारकों से नवोन्मेषों एवं लागत में कमी लाकर गुणवत्ता में सुधार के जरिए ज्ञान को संपदा में रूपांतरित करने का आह्वान किया। 

 

विस्तार से यहां पढ़ें-

 

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय एक कृषि एमएसएमई नीति पर काम कर रहा है: श्री नितिन गडकरी

 

केंद्रीय मंत्री ने उल्लेख किया कि घरेलू उत्पादन से विदेशी आयात की जगह लेने के लिए निर्यात में वृद्धि के साथ-साथ आयात प्रतिस्थापन पर ध्यान देने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि इस उद्योग को अपने ज्ञान को धन में बदलने के लिए नवाचार, उद्यमिता, विज्ञान और प्रौद्योगिकी, अनुसंधान कौशल और अनुभवों पर अधिक ध्यान केंद्रित करना चाहिए। मंत्री महोदय ने याद दिलाया कि जापान सरकार ने चीन से जापानी निवेशों को बाहर निकालने और अन्यत्र स्थानांतरित करने के लिए अपने उद्योगों को विशेष पैकेज देने की पेशकश की है। उन्होंने कहा कि भारत के लिए ये एक ऐसा अवसर है जिसे उसे जाने नहीं देना चाहिए।

 

विस्तार से यहां पढ़ें-

 

श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने कोल्ड चेन परियोजनाओं के प्रमोटरों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए बातचीत की

 

श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने कोविड-19 संकट से निपटने के लिए एकीकृत कोल्ड चेन नेटवर्क की सामूहिक ताकत का लाभ उठाने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि महामारी ने खाद्य उत्पादों की मौजूदा आपूर्ति श्रृंखला के लिए एक गंभीर चुनौती पेश की है। कॉन्फ्रेंस में लॉकडाउन के दौरान फ्रोजेन सब्जियों और प्रसंस्कृत डेयरी उत्पादों के जमा होते स्टॉक और इनके लिए रेस्तरां, समारोह, होटल आदि पारंपरिक बाजार न मिलना तथा इन उत्पादों के निर्यात में कठिनाई जैसे मुद्दों पर भी चर्चा की गई।

 

विस्तार से यहां पढ़ें-

 

कोविड19 संकट ने दिखाया कि डीएसटी कैसे गहन विज्ञान के आर्किटेक्ट के रूप में तेजी से विकसित हो रहा है: प्रो. आशुतोष शर्मा

 

विस्तार से यहां पढ़ें-

 

पीआईबी फील्ड कार्यालयों से मिली जानकारियां

  • चंडीगढ़- चंडीगढ़ प्रशासक ने वरिष्ठ अधिकारियों को बापूधाम कॉलोनी, सेक्टर 30-बी और अन्य कंटेनमेंट जोन पर ध्यान केंद्रित करने का निर्देश दिया है। उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं के निदेशक से क्षेत्र में स्क्रीनिंग और संदिग्ध मामलों की टेस्टिंग के लिए एक विशेष अभियान शुरू करने को भी कहा है। उन्होंने कर्मचारियों को सलाह दी है कि संक्रमण के जोखिम को कम करने के लिए फील्ड पर जाते समय सुरक्षात्मक गियर (चीजें या उपकरण) का इस्तेमाल करें।
  • पंजाब- स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने कोरोना वायरस के मद्देनजर बुजुर्गों और वरिष्ठ नागरिकों की विशेष देखभाल के लिए एक एडवाइजरी जारी की है। यह एडवाइजरी कोरोना वायरस के खिलाफ कम प्रतिरक्षा होने के कारण 60 साल या उससे अधिक उम्र के बुजुर्गों के लिए हैं, जो सांस की बीमारी, हृदय, किडनी और लिवर की बीमारियों से पीड़ित होते हैं। लॉकडाउन जारी रहने के बीच बहुत छोटे, सूक्ष्म, कुटीर और छोटे उद्योगों की स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री ने परिवार या आस-पड़ोस के श्रमिकों की मदद से इन्हें संचालित करने की केंद्र से अनुमति मांगी है।
  • हरियाणा- आयुष मंत्रालय के दिशानिर्देशों का पालन करते हुए आयुष विभाग कोरोना वॉरियर्स की प्रतिरक्षा को बढ़ाने में मदद के लिए दवाओं का वितरण कर रहा है।
  • हिमाचल प्रदेश- आर्ट ऑफ लिविंग द्वारा दान की गई खाद्य सामग्री और आवश्यक वस्तुओं वाली राहत सामग्री से लदे तीन ट्रकों को मुख्यमंत्री ने फ्री वितरण के लिए हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने कहा कि यह परोपकारी कार्य दूसरे संगठनों को भी आगे आने और समाज के लिए योगदान करने को प्रेरित करेगा।
  • केरल- राज्य सरकार ने हाई कोर्ट से कहा है कि वह विदेश से आने वालों को संस्थागत की जगह होम क्वारंटीन करने के लिए केंद्र से क्वारंटीन निर्देश में ढील देने की अपील करेगी। खाड़ी में फंसे केरल के लोगों को लेकर पहला विमान 7 मई को यहां पहुंचेगा। अकेले केरल के लिए 15 सेवाएं होंगी। छह एंट्री प्वाइंट्स पर पड़ोसी राज्यों से लौट रहे मलयाली लोगों की काफी भीड़ देखी जा रही है। इस बीच, केरल हाई कोर्ट ने कर्मचारियों का वेतन भुगतान स्थगित करने को लेकर जारी राज्य सरकार के अध्यादेश पर रोक लगाने से इनकार कर दिया। कुल पुष्ट मामले- 499, सक्रिय मामले- 34, ठीक हुए 465 लोग और कुल 4 मौतें हुईं।
  • तमिलनाडु- अम्मा कैंटीन, एविन मिल्क प्लांट के कामगार पॉजिटिव पाए गए हैं। सोमवार को लॉकडाउन से आंशिक ढील दिए जाने के बाद चेन्नई की सड़कों पर सैंकड़ों की संख्या में लोग आ गए। चेन्नई अस्पताल के बेड भर गए, ऐसे में लक्षण न दिखाई देने वाले और स्थिर मरीजों को प्राइवेट कॉलेजों और चेन्नई ट्रेड सेंटर में स्थापित देखभाल केंद्रों में ले जाया गया है। राज्य में 600 से अधिक केस कोयम्बेडु बाजार में मिले हैं। कल तक कुल मामले- 3550, सक्रिय मामले- 2107 और 31 मौतें हुई हैं।
  • कर्नाटक- आज 8 नए मामलों की पुष्टि हुई; बेंगलोर में 3, बगलकोट में 2 और बेल्लारी, दक्षिण कन्नड़ व उत्तरा कन्नड़ में 1-1 केस आए हैं। विजयपुरा में आज कोविड-19 से एक 62 साल की महिला ने दम तोड़ दिया। अबतक कुल मामले- 659, मौतें- 28 और 324 लोग ठीक हो गए हैं।
  • आंध्र प्रदेश- राज्य ने शराब की कीमतों में 50 प्रतिशत की और बढ़ोतरी की; पहले दाम 25 प्रतिशत बढ़े थे; व्यवसाय के घंटे कम हुए। राज्य ने सभी ऑरेंज और ग्रीन जोन में सब-रजिस्ट्रार कार्यालयों को फिर से खोल दिया; लोगों की भीड़ टालने के लिए टोकन सिस्टम अपनाया गया है। 67 नए कोविड केस दर्ज किए गए हैं, जिसमें से 14 गुजरात से लौटे हैं। 65 लोगों को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है और पिछले 24 घंटों में एक व्यक्ति की मौत हुई है। कुल मामले 1717 हो गए हैं। सक्रिय मामले- 1094, ठीक हुए- 589 और 34 मौतें हुई हैं। ज्यादा केस वाले जिले हैं- कुरनूल (516), गुंटूर (351), कृष्णा (286)।
  • तेलंगाना- काफी ढील के साथ देशव्यापी लॉकडाउन का तीसरा चरण सोमवार से शुरू होने के बाद राज्य कंटेनमेंट जोन के तहत क्षेत्रों को कम करेगा। 1200 से ज्यादा प्रवासी कामगारों को लेकर बिहार के खगड़िया जाने के लिए आज सुबह 3.05 बजे हैदराबाद के घाटकेसर से एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन रवाना हुई। कामगारों को लेकर शहर से जाने वाली यह दूसरी विशेष ट्रेन है। अब तक कुल कोविड मामले 1085, सक्रिय मामले 471, ठीक हुए 585 और 29 लोगों की मृत्यु हुई है।
  • महाराष्ट्र- सोमवार को महाराष्ट्र में कोविड-19 मामलों की कुल संख्या बढ़कर 14,541 हो गई, जिसमें रिकॉर्ड 1,567 केस दर्ज किए गए। राज्य के स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि पिछले हफ्ते के मामलों के बैकलॉग के कारण यह बढ़ोतरी दिखी है। राज्य में मृतकों का आंकड़ा सोमवार को 35 और बढ़कर 583 तक पहुंच गया। राज्य के अधिकारियों के मुताबिक मुंबई में अब तक 9,310 केस सामने आए हैं और 361 लोगों की मौत हो चुकी है। एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी धारावी में ही 42 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जिससे यहां कुल मामले 632 और मौतों की संख्या 20 हो चुकी है। कोविड19 से बुरी तरह प्रभावित महाराष्ट्र की सरकार ने मार्च 2021 तक पूंजी वाले सभी नए कार्यों को रोकने की घोषणा की है। सरकार ने नई विकास परियोजनाओं की मंजूरी और नई खरीद के लिए निविदाओं पर रोक के लिए विभागों को आदेश दिया है। इसने अगले आदेश तक सभी नई भर्तियों को भी रोक दिया है।
  • गुजरात- 376 नए केस और 29 मौतों की ताजा रिपोर्ट के साथ ही गुजरात में कोविड-19 संक्रमण की दर उच्च बनी हुई है। राज्य के आंकड़ों के अनुसार अब 5,804 केस और मौतों की संख्या 319 हो गई है जबकि 1,195 लोग ठीक हो गए हैं, जिसमें से 153 मरीजों को सोमवार को छुट्टी दी गई।
  • राजस्थान- स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार राजस्थान में 5 मई को सुबह 8 बजे तक कोरोनावायरस के 175 नए मामले सामने आए। इससे प्रदेश में कोरोना वायरस के कुल मामले बढ़कर 3,061 हो गए हैं। आज तक संक्रमित कुल लोगों में से 1,394 लोग ठीक हुए हैं और 77 लोगों की मौत हो गई। शराब की दुकानों के बाहर भीड़ दिखने के एक दिन बाद जयपुर आबकारी विभाग ने एक ताजा निर्देश जारी कर शराब की दुकान के मालिकों से कहा है कि वे ग्राहकों को कूपन बांटें जिससे वे अपनी बारी के हिसाब से दुकान पर पहुंचें और सामाजिक दूरी भी सुनिश्चित करें।
  • मध्य प्रदेश- मध्य प्रदेश में कोविड पॉजिटिव मामलों की संख्या 2,952 पहुंच गई है। 165 लोगों की मौत हुई है और 798 लोग ठीक हो चुके हैं। इंदौर सबसे प्रभावित शहर है, उसके बाद राजधानी भोपाल है। मृत्यु दर में तेज वृद्धि के कारण उज्जैन एक नए हॉटस्पॉट के रूप में उभरा है।
  • अरुणाचल प्रदेश- सरकार ने फंसे हुए लोगों की घर वापसी में आवागमन की सुविधा के लिए नियुक्त नोडल अधिकारियों के फोन नंबरों की सूची जारी की है। इसके साथ ही कोविड19 से संबंधित किसी भी अपडेट और मदद के लिए वेबसाइट covid19.itanagarsmartcity.in/index.php भी शुरू की गई है।
  • असम- स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्व सरमा ने ट्वीट किया कि गुवाहाटी के सरूसजाई स्टेडियम में क्वारंटीन किए गए 124 कोटा स्टूडेंट्स के पहले बैच को कोविड19 टेस्ट निगेटिव आने के बाद छुट्टी दे दी गई है। 
  • मणिपुर- सीएम ने राज्य में खाद्यान्न की आत्मनिर्भरता सुनिश्चित करने के तरीकों पर चर्चा के लिए कृषि और बागवानी विभाग के टास्क फोर्स की बैठक की।
  • मणिपुर- सरकार ने ज्यादा लोगों को प्रशिक्षण और आवश्यक उपकरणों की खरीद कर कोविड19 की टेस्टिंग क्षमता बढ़ाने का फैसला किया है।
  • मिजोरम- असम, मेघालय, त्रिपुरा और मणिपुर राज्यों से लौटे लॉन्गटलाई जिले के 173 लोगों को निर्धारित केंद्र पर क्वारंटीन किया गया है।
  • नगालैंड- कोहिमा और दीमापुर में सिविल सचिवालय और निदेशालय उपसचिव/निदेशक स्तर और उससे ऊपर के तथा जिलों में कार्यालय के प्रमुख और उससे ठीक नीचे के जूनियर स्टाफ के साथ कार्य करेंगे। संशोधित दिशानिर्देश में नगालैंड राज्य के भीतर एक से दूसरे जिले में आवाजाही, कुछ शर्तों के साथ टैक्सी और रिक्शा चलाने की अनुमति दी गई है। यात्री बसों पर प्रतिबंध जारी है।
  • त्रिपुरा- सरकार ने दूसरे राज्यों में फंसे और लौटने के इच्छुक अपने नागरिकों के पंजीकरण के  लिए एक नया पोर्टल covid19.tripura.gov.in लॉन्च किया है।

 

फैक्ट चेक

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image0048JB4.jpg

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image005C0N4.jpg

एएम/एएस



(Release ID: 1621561) Visitor Counter : 38