वित्‍त मंत्रालय

मार्च में मासिक सकल जीएसटी राजस्व संग्रह 1.78 लाख करोड़ रुपये रहा जो अब तक का दूसरा सबसे बड़ा मासिक संग्रह है; इस प्रकार वर्ष-दर-वर्ष 11.5 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई (शुद्ध आधार पर 18.4 प्रतिशत)


वार्षिक सकल राजस्व 20.18 लाख करोड़ रुपये रहा, इस प्रकार 11.7 प्रतिशत (शुद्ध आधार पर 13.4 प्रतिशत) की वृद्धि दर्ज हुई

Posted On: 01 APR 2024 3:41PM by PIB Delhi

मार्च 2024 में सकल माल एवं सेवा कर (जीएसटी) राजस्व में वर्ष-दर-वर्ष 11.5 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 1.78 लाख करोड़ रुपये का रहा, जो अब तक का दूसरा सबसे बड़ा कर संग्रह है। यह उछाल घरेलू लेनदेन से जीएसटी संग्रह में 17.6 प्रतिशत की उल्लेखनीय वृद्धि के कारण आया। मार्च 2024 के लिए रिफंड का जीएसटी शुद्ध राजस्व 1.65 लाख करोड़ रुपये है जो पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 18.4 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है।

वित्तीय वर्ष 2023-24 में निरंतर मजबूत प्रदर्शन: वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए कुल सकल जीएसटी संग्रह 20.18 लाख करोड़ रुपये रहा यह पिछले वर्ष की तुलना में हुए 20 लाख करोड़ रुपये के राजस्‍व से अधिक है जो 11.7 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है। इस वित्तीय वर्ष का औसत मासिक संग्रह 1.68 लाख करोड़ रुपये है, जो पिछले वर्ष के औसत 1.5 लाख करोड़ रुपये से अधिक है। चालू वित्तीय वर्ष के लिए मार्च 2024 तक रिफंड का जीएसटी शुद्ध राजस्व 18.01 लाख करोड़ रुपये है, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 13.4 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है।

सभी घटकों में सकारात्मक प्रदर्शन:

मार्च 2024 के संग्रह का विवरण:

• केंद्रीय माल एवं सेवा कर (सीजीएसटी): 34,532 करोड़ रुपये;

• राज्य माल एवं सेवा कर (एसजीएसटी): 43,746 करोड़ रुपये;

• एकीकृत माल एवं सेवा कर (आईजीएसटी): 87,947 करोड़ रुपये, जिसमें आयातित वस्तुओं पर एकत्र 40,322 करोड़ रुपये भी शामिल हैं;

• उपकर: 12,259 करोड़ रुपये, जिसमें आयातित वस्तुओं पर एकत्र 996 करोड़ रुपये भी शामिल हैं।

पूरे वित्तीय वर्ष 2023-24 के संग्रह में इसी तरह के सकारात्मक रुझान देखे गए हैं:

• केंद्रीय माल एवं सेवा कर (सीजीएसटी): 3,75,710 करोड़ रुपये;

• राज्य माल एवं सेवा कर (एसजीएसटी): 4,71,195 करोड़ रुपये;

• एकीकृत माल एवं सेवा कर (आईजीएसटी): 10,26,790 करोड़ रुपये, जिसमें आयातित वस्तुओं पर एकत्र 4,83,086 करोड़ रुपये को दर्शाता हैं;

• उपकर: 1,44,554 करोड़ रुपये, जिसमें आयातित वस्तुओं पर एकत्र 11,915 करोड़ रुपये शामिल हैं।

अंतर-सरकारी समझौता: मार्च, 2024 के महीने में, केंद्र सरकार ने एकत्रित आईजीएसटी से सीजीएसटी को 43,264 करोड़ रुपये और एसजीएसटी को 37,704 करोड़ रुपये का निपटान किया। यह नियमित निपटान के बाद मार्च, 2024 के लिए सीजीएसटी के लिए 77,796 करोड़ रुपये और एसजीएसटी के लिए 81,450 करोड़ रुपये का कुल राजस्व है। वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए, केंद्र सरकार ने एकत्रित आईजीएसटी से सीजीएसटी को 4,87,039 करोड़ रुपये और एसजीएसटी को 4,12,028 करोड़ रुपये का निपटान किया।

नीचे दिया गया चार्ट चालू वर्ष के दौरान मासिक सकल जीएसटी राजस्व में रुझान दिखाता है। तालिका-1 मार्च, 2023 की तुलना में मार्च, 2024 के महीने के दौरान प्रत्येक राज्य में एकत्रित जीएसटी के राज्य-वार आंकड़े दर्शाती है। तालिका-2 मार्च, 2024 प्रत्येक राज्य के निपटान के बाद के जीएसटी राजस्व के राज्य-वार आंकड़े दर्शाती है।

चार्ट: जीएसटी संग्रह में रुझान

तालिका 1: मार्च, 2024 के दौरान जीएसटी राजस्व की राज्यवार वृद्धि[1]

राज्य/केन्द्र शासित प्रदेश

मार्च-23

मार्च-24

वृद्धि (%)

जम्मू एवं कश्मीर

477

601

26%

हिमाचल प्रदेश

739

852

15%

पंजाब

1,735

2,090

20%

चंडीगढ़

202

238

18%

उत्तराखंड

1,523

1,730

14%

हरियाणा

7,780

9,545

23%

दिल्ली

4,840

5,820

20%

राजस्थान

4,154

4,798

15%

उत्‍तर प्रदेश

7,613

9,087

19%

बिहार

1,744

1,991

14%

सिक्किम

262

303

16%

अरुणाचल प्रदेश

144

168

16%

नगालैंड

58

83

43%

मणिपुर

65

69

6%

मिजोरम

70

50

-29%

त्रिपुरा

90

121

34%

मेघालय

202

213

6%

असम

1,280

1,543

21%

पश्चिम बंगाल

5,092

5,473

7%

झारखंड

3,083

3,243

5%

ओडिशा

4,749

5,109

8%

छत्तीसगढ

3,017

3,143

4%

मध्य प्रदेश

3,346

3,974

19%

गुजरात

9,919

11,392

15%

दादरा नगर हवेली और दमन एवं दीव

309

452

46%

महाराष्ट्र

22,695

27,688

22%

कर्नाटक

10,360

13,014

26%

गोवा

515

565

10%

लक्षद्वीप

3

2

-18%

केरल

2,354

2,598

10%

तमिलनाडु

9,245

11,017

19%

पुदुचेरी

204

221

9%

अंडमान व निकोबार द्वीप समूह

37

32

-14%

तेलंगाना

4,804

5,399

12%

आंध्र प्रदेश

3,532

4,082

16%

लद्दाख

23

41

82%

अन्य क्षेत्र

249

196

-21%

केंद्र क्षेत्राधिकार

142

220

55%

कुल योग

1,16,659

1,37,166

18%

 

तालिका-2: आईजीएसटी का एसजीएसटी और एसजीएसटी हिस्सा राज्यों/केंद्र-शासित प्रदेशों को अप्रैल-मार्च में दिया गया (करोड़ रुपये में)

 

निपटान से पूर्व एसजीएसटी

निपटान पश्चात एसजीएसटी [2]

 

राज्य/केन्द्र शासित  प्रदेश

2022-23

2023-24

विकास

2022-23

2023-24

विकास

जम्मू एवं कश्मीर

2,350

2,945

25%

7,272

8,093

11%

हिमाचल प्रदेश

2,346

2,597

11%

5,543

5,584

1%

पंजाब

7,660

8,406

10%

19,422

22,106

14%

चंडीगढ़

629

689

10%

2,124

2,314

9%

उत्तराखंड

4,787

5,415

13%

7,554

8,403

11%

रियाणा

18,143

20,334

12%

30,952

34,901

13%

दिल्ली

13,619

15,647

15%

28,284

32,165

14%

राजस्थान

15,636

17,531

12%

35,014

39,140

12%

उत्‍तर प्रदेश

27,366

32,534

19%

66,052

76,649

16%

बिहार

7,543

8,535

13%

23,384

27,622

18%

सिक्किम

301

420

39%

839

951

13%

अरुणाचल प्रदेश

494

628

27%

1,623

1,902

17%

नगालैंड

228

307

35%

964

1,057

10%

मणिपुर

321

346

8%

1,439

1,095

-24%

मिजोरम

230

273

19%

892

963

8%

त्रिपुरा

435

512

18%

1,463

1,583

8%

मेघालय

489

607

24%

1,490

1,713

15%

असम

5,180

6,010

16%

12,639

14,691

16%

पश्चिम बंगाल

21,514

23,436

9%

39,052

41,976

7%

झारखंड

7,813

8,840

13%

11,490

12,456

8%

ओडिशा

14,211

16,455

16%

19,613

24,942

27%

छत्तीसगढ

7,489

8,175

9%

11,417

13,895

22%

मध्य प्रदेश

10,937

13,072

20%

27,825

33,800

21%

गुजरात

37,802

42,371

12%

58,009

64,002

10%

दादरा नगर हवेली

दमन और दीव

637

661

4%

1,183

1,083

-8%

महाराष्ट्र

85,532

1,00,843

18%

1,29,129

1,49,115

15%

कर्नाटक

35,429

40,969

16%

65,579

75,187

15%

गोवा

2,018

2,352

17%

3,593

4,120

15%

लक्षद्वीप

10

19

93%

47

82

75%

केरल

12,311

13,967

13%

29,188

30,873

6%

तमिलनाडु

36,353

41,082

13%

58,194

65,834

13%

पुदुचेरी

463

509

10%

1,161

1,366

18%

अंडमान निकोबार

द्वीप समूह

183

206

12%

484

528

9%

तेलंगाना

16,877

20,012

19%

38,008

40,650

7%

आंध्र प्रदेश

12,542

14,008

12%

28,589

31,606

11%

लद्दाख

171

250

46%

517

653

26%

अन्य क्षेत्र

201

231

15%

721

1,123

56%

कुल योग

4,10,251

4,71,195

15%

7,70,747

8,74,223

13%

               

 

****

एमजी/एआर/आईपीएस/एसएस

...............................................................................................................................................

[1] इसमें माल के आयात पर जीएसटी शामिल नहीं है

[2] निपटान के बाद का जीएसटी राज्यों/केंद्र-शासित प्रदेशों के जीएसटी राजस्व और आईजीएसटी के एसजीएसटी हिस्से का संचयी हिस्सा है जो राज्यों/केंद्र-शासित प्रदेशों को दिया जाता है।

...............................................................................................................................................

***



(Release ID: 2016840) Visitor Counter : 307