PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 14 AUG 2020 6:29PM by PIB Delhi

Coat of arms of India PNG images free download

(पिछले 24 घंटों में जारी कोविड-19 से संबंधित प्रेस विज्ञप्तियां, पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा जांचे गए तथ्य शामिल हैं)

ठीक होने की दर आज 71.17 प्रतिशत है, कोविड-19 से ठीक होने वाले रोगियों की संख्या बढ़कर 17.5 लाख से अधिक हो गई है।

भारत ने एक ही दिन में रिकॉर्ड लगभग 8.5 लाख कोविड परीक्षण किए।

कोरोना के मामलों में मृत्यु दर और घटकर 1.95 प्रतिशत हुई।

सक्रिय मामलों की संख्या 6,61,595 है।

भारत ने केवल एक महीने के अंदर 23 लाख पीपीई किट के निर्यात के साथ वैश्विक स्तर पर अपनी मौजूदगी दर्ज की।

केन्द्र सरकार ने राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों/केन्द्रीय संस्थानों को 1.28 करोड़ पीपीई किट वितरित की।

स्वतंत्रता दिवस समारोह के अवसर पर कोविड-19 के मद्देनजर लाल किले पर कल विशेष सुरक्षा व्यवस्था की गई।

भारत में एक ही दिन में रिकॉर्ड लगभग 8.5 लाख परीक्षण किए गए; कोविड-19 बीमारी से ठीक होने का सिलसिला तेज, ठीक होने की दर 71.17 प्रतिशत पर पहुंची; कोरोना के मामलों में मृत्यु दर और घटकर 1.95 प्रतिशत हुई

परीक्षण सुविधाओं में लगातार बढ़ोतरी करने के परिणामस्वरूप, भारत ने एक ही दिन में अब तक के सबसे अधिक कोविड परीक्षण करके एक नए स्तर को छू लिया है। पिछले 24 घंटों में रिकॉर्ड 8,48,728 परीक्षण किए गए। इसके साथ ही अब तक कुल 2,76,94,416 परीक्षण किए जा चुके हैं। डब्ल्यूएचओ ने सलाह दी है कि एक देश को प्रति दस लाख की आबादी पर 140 परीक्षण करने की आवश्यकता है। जबकि भारत में प्रति दस लाख की आबादी पर राष्ट्रीय औसत 603 परीक्षण/दिन है, 34 राज्य/केन्द्र शासित प्रदेशों ने इस आंकड़े को पार कर लिया है। आज की तारीख में प्रयोगशालाओं के इस नेटवर्क में सरकारी क्षेत्र की 958 और निजी क्षेत्र की 493 प्रयोगशालाओं के साथ कुल 1451 प्रयोगशालाएं शामिल हैं। तेजी से बड़े स्तर पर परीक्षण, समग्र निगरानी और प्रभावी उपचार की कार्यनीति के सफल कार्यान्वयन की वजह से इस बीमारी से ठीक होने की दर में निरंतर सुधार सुनिश्चित हुआ है, जो आज बढ़कर 71.17 प्रतिशत पर पहुंच गई है। कोविड-19 से ठीक होने वाले रोगियों की संख्या बढ़कर 17.5 लाख (17,51,555) से अधिक हो गई है। कोविड-19 से ठीक होने वालों की संख्या इस बीमारी के सक्रिय मामलों (6,61,595) से लगभग 11 लाख (10,89,960) से अधिक है। मानक देखभाल उपचार प्रोटोकॉल के माध्यम से प्रभावी नैदानिक प्रबंधन की वजह से कोविड रोगियों के बीच मृत्यु दर में सुधार और निरंतर गिरावट सुनिश्चित हुई है। कोरोना के मामलों में मृत्यु दर (केस फेटलिटी रेट) आज 1.95 प्रतिशत दर्ज की गई है और इस तरह मृत्यु दर में गिरावट का सिलसिला जारी है।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1645864

भारत ने केवल एक महीने के अंदर 23 लाख पीपीई किट के निर्यात के साथ वैश्विक स्तर पर अपनी मौजूदगी दर्ज की; केन्द्र सरकार ने राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों को 1.28 करोड़ से अधिक पीपीई किट वितरित की

देश में पीपीई किट की मांग को पूरा करने के साथ ही घरेलू उत्पादन क्षमता मजबूत हो जाने के मद्देनजर, जुलाई 2020 में विदेश व्यापार महानिदेशक (डीजीएफटी) की संशोधित अधिसूचना में पीपीई किट के निर्यात की अनुमति दी गई। इस छूट के परिणामस्वरूप, जुलाई के महीने में, भारत ने पांच देशों को 23 लाख पीपीई किट का निर्यात किया। इनमें अमेरिका, ब्रिटेन, संयुक्त अरब अमीरात, सेनेगल और स्लोवेनिया देश शामिल हैं। इससे भारत को पीपीई के वैश्विक निर्यात बाजार में अपनी जगह बनाने में काफी मदद मिली है। आत्मानिर्भर भारत अभियान में सन्निहित मेक इन इंडियाकी भावना के परिणामस्वरूप पीपीई किट सहित विभिन्न चिकित्सा उपकरणों के उत्पादन में देश सक्षम और आत्मनिर्भर बन सका है। केन्द्र सरकार जहां राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों की सरकारों को पीपीई किट, एन-95 मास्क, वेंटिलेटर आदि की आपूर्ति कर रही है, वहीं राज्य भी सीधे इन चिकित्सा उत्पादों की खरीद कर रहे हैं। मार्च से अगस्त 2020 के बीच, उन्होंने अपने स्वयं के बजटीय संसाधनों से 1.40 करोड़ स्वदेशी पीपीई किट खरीदी हैं। इसी अवधि के दौरान, केंद्र सरकार ने राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों/केंद्रीय संस्थानों को 1.28 करोड़ पीपीई किट नि:शुल्क वितरित की हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1645779

डॉ. हर्षवर्धन ने अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में स्वैच्छिक रक्तदान अभियान का उद्घाटन किया

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में स्वैच्छिक रक्तदान अभियान का उद्घाटन किया। उन्होंने डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मचारियों को प्रोत्साहित किया कि वे स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर बड़ी संख्या में आकर रक्तदान करें और मरीजों की जान बचाने में योगदान दें। एम्स की इस पहल का स्वागत करते हुए डॉ. हर्षवर्धन ने कहा हमारे 73वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर आयोजित यह स्वैच्छिक रक्तदान शिविर अपने कर्तव्यों का पालन करने के दौरान कोविड  से मरने वाले स्वास्थ्य योद्धाओं और कारगिल शहीदों के लिए एक श्रद्धांजलि है। हमें इस महामारी में लोगों का जीवन बचाते हुए डॉक्टर, नर्स या पैरामेडिकल स्टॉफ सहित कोविड योद्धाओं द्वारा दिए गए सर्वोच्च बलिदान को याद रखना चाहिए।इस आयोजन के अवसर पर एम्स में फ्रंट लाइन स्वास्थ्यकर्मी कोविड योद्धा स्वर्गीय श्री हीरालाल के परिवार के सदस्यों तथा कारगिल शहीद नायक राजबीर सिंह के परिवार के सदस्यों को उनके परिवारजनों के बलिदान के लिए सम्मानित किया गया।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1645769

रक्षा मंत्रालय द्वारा स्वतंत्रता दिवस समारोह के अवसर पर कोविड-19 के मद्देनजर लाल किले पर कल विशेष सुरक्षा व्यवस्था की गई

रक्षा मंत्रालय ने 15 अगस्त, 2020 को स्वतंत्रता दिवस समारोह के अवसर पर लाल किले पर ध्वजारोहण कार्यक्रम के लिए विशेष प्रबंध किए हैं। कार्यक्रम के दौरान, कोविड-19 परिदृश्य से संबंधित सावधानियों और राष्ट्रीय समारोह की शुचिता एवं गरिमा के बीच संतुलन बनाए रखने की भी पूर्ण व्यवस्था की गई है। निर्बाध आवाजाही और भीड़ को कम रखने की व्यवस्था के अंतर्गत उचित दूरी पर बैठने और आने-जाने की सुविधा के लिए लकड़ी के फर्श को गलीचों से ढंका गया है। सभी आमंत्रित अतिथियों के लिए सुगम मार्ग सुनिश्चित करने और लोगों को कतार में खड़े रहने से बचाने के लिए अतिरिक्त मेटल डिटेक्टरों वाले मार्गों की पर्याप्त दूरी के साथ व्यवस्था की गई है। वाहनों के प्रवेश और निकास को सुचारु रूप से सुनिश्चित करने के लिए अधिकांश पार्किंग क्षेत्रों को ईंट से ढंकते हुए पक्का किया गया है। गार्ड ऑफ ऑनर में शामिल सुरक्षाकर्मियों को सुरक्षा के मद्देनजर क्वारंटीन में रखा गया हैं। बैठने के लिए दिशानिर्देशक नियम "दो गज की दूरी" (अथवा समारोह के दौरान बैठने वाले किन्हीं दो मेहमानों के बीच 6 फीट की दूरी) रखी गई है। आमंत्रित अतिथियों को कोविड संबंधित सुरक्षा उपायों के प्रति संवेदनशील बनाने के लिए, प्रत्येक निमंत्रण कार्ड के साथ कोविड संबंधित दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए विशिष्ट सलाह जारी की गई है। प्रवेश के दौरान, किसी भी व्यक्ति में कोविड-19 से संबंधित कोई भी लक्षण मिलने पर पर्याप्त चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए चार बूथ स्थापित किए गए हैं। इन चारों स्थलों पर एम्बुलेंस भी तैनात रहेंगी।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1645724

आयुष मंत्रालय द्वारा शुरू किये गए "आयुष फॉर इम्युनिटी" अभियान को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर उत्साहजनक प्रतिक्रिया मिली

आयुष मंत्रालय ने वेबिनार के माध्यम से आज "आयुष फॉर इम्युनिटी" के नाम से तीन महीने का अभियान शुरू किया। वेबिनार में 50 हजार से अधिक लोगों ने भाग लिया। आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर ने इस अवसर पर दिए मुख्य भाषण में कहा कि आयुष चिकित्सा समाधान पूरे विश्व को स्वस्थ और खुशहाल बना सकते हैं। वेबिनार का आयोजन मंत्रालय के नए डिजिटल संचार मंच आयुष वर्चुअल कन्वेंशन सेंटर (एवीसीसी) पर किया गया। इस आयोजन को आयुष मंत्रालय के आधिकारिक फेसबुक हैंडल पर लाइव स्ट्रीम किया गया और कुल 60,000 लोगों ने इसको लाइव देखा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1645859

वित्त मंत्री ने पूंजीगत खर्च पर सीपीएसई की तीसरी समीक्षा बैठक की

केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने चालू वित्त वर्ष में पूंजीगत खर्च की समीक्षा करने के लिए आज शिपिंग, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, आवासन व शहरी कार्य एवं रक्षा मंत्रालयों और दूरसंचार विभाग के सचिवों तथा इन मंत्रालयों से संबंधित 7 सीपीएसई (केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम) के सीएमडी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस की। यह कोविड-19 महामारी के मद्देनजर आर्थिक विकास को नई गति देने के लिए विभिन्न हितधारकों के साथ वित्त मंत्री की बैठकों की मौजूदा श्रृंखला में तीसरी बैठक थी। वित्त मंत्री ने संबंधित सचिवों से सीपीएसई के कार्य-प्रदर्शन की बारीकी से निगरानी करने को कहा, ताकि वित्त वर्ष 2020-21 की दूसरी तिमाही के आखिर तक पूंजीगत परिव्यय के 50 प्रतिशत तक पूंजीगत खर्च सुनिश्चित किया जा सके और इसके लिए उचित योजना बनाई जा सके। उन्होंने कहा कि सीपीएसई के बेहतर प्रदर्शन करने से अर्थव्यवस्था को कोविड-19 के प्रभाव से उबरने में काफी हद तक मदद मिल सकती है। सीपीएसई ने विशेषकर कोविड-19 महामारी के कारण अपने समक्ष मौजूद विभिन्न बाधाओं पर चर्चा की। वित्त मंत्री ने कहा कि असाधारण परिस्थितियों में असाधारण प्रयासों की आवश्यकता होती है और सामूहिक प्रयासों से हम न केवल बेहतर प्रदर्शन करेंगे, बल्कि भारतीय अर्थव्यवस्था की भी व्यापक मदद बेहतर परिणाम हासिल करने में करेंगे।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1645876

मुख्य सूचना आयुक्त श्री बिमल जुल्का ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह को कोविड महामारी के दौरान सीआईसी की कार्यप्रणाली के विषय में जानकारी दी

भारत के मुख्य सूचना आयुक्त बिमल जुल्का के साथ केंद्रीय सूचना आयोग (सीआईसी) के कामकाज की समीक्षा के पश्चात डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि महामारी के दौरान आयोग का कार्य एक दिन के लिए भी बाधित नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि सही मायनों में इसका श्रेय आयोग और उसके अधिकारियों को जाता है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष 15 मई को महामारी की मध्य स्थिति में भी, केंद्रीय सूचना आयोग ने वर्चुअल माध्यम से नव गठित केन्द्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर क्षेत्र से आरटीआई की सुनवाई और उन्हें निपटाने का कार्य प्रारंभ किया। डॉ. जितेन्द्र सिंह ने कहा महामारी के दौरान हर महीने निपटाए जाने वाले मामलों की संख्या पिछले वर्ष के इसी महीने के बराबर रही और एक शानदार उदाहरण यह भी है कि केंद्रीय सूचना आयोग द्वारा जून 2019 में निपटाए गए 1297 मामलों की तुलना में इस वर्ष जून 2020 में आरटीआई मामलों की संख्या 1785 थी अर्थात कोविड महामारी की बाधाओं के बावजूद इस समयावधि में मामलों के निपटाने का स्तर पिछले वर्ष की तुलना में महत्वपूर्ण रूप से अधिक रहा। श्री जुल्का ने डॉ. जितेंद्र सिंह को जानकारी दी कि लॉकडाउन और आंशिक लॉकडाउन के दौरान सीआईसी सुनवाई की सुविधा के लिए उठाए गए विभिन्न कदमों में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, ऑडियो कॉन्फ्रेंसिंग, रिटर्न जमा करने की सुविधा, वेबसाइट पर उप रजिस्ट्रारों के संपर्क विवरण अपलोड करना, आवश्यकतानुसार ई-पोस्ट के माध्यम से नोटिस जारी करना, ऑनलाइन पंजीकरण और नए मामलों की उसी दिन जांच करना आदि शामिल हैं।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1646030

बैडमिंटन खिलाड़ी एन. सिक्की रेड्डी एवं फिजियोथेरेपिस्ट किरण सी. हैदराबाद में जांच में कोविड पॉजिटिव पाए गए

बैडमिंटन खिलाड़ी एन. सिक्की रेड्डी एवं फिजियोथेरेपिस्ट किरण सी. जो हैदराबाद में पुलेला गोपीचंद राष्ट्रीय बैडमिंटन अकादमी के शिविर में भाग लेने आए थे, जांच में कोविड पॉजिटिव पाए गए हैं। इसकी जानकारी तब मिली जब उन्होंने एसएआई की अनिवार्य कोविड जांच कराई जो वहां आने वाले सभी खिलाड़ियों, कोचों एवं सपोर्ट स्टॉफ को करानी पड़ती है।  सिक्की और किरण दोनों में रोग के लक्षण नहीं पाए गए थे। सिक्की एवं किरण के संपर्क में आए सभी प्राथमिक संपर्कों का पता लगाया गया और उनकी फिर से आरटी पीसीआर जांच कराई जा रही है। हैदराबाद से इसकी जानकारी देते हुए राष्ट्रीय बैडमिंटन के मुख्य कोच पुलेला गोपीचंद ने कहा, “प्रोटोकॉल के अनुसार सभी आवश्यक सावधानियां बरती जा रही हैं जिससे कि जैसे ही संभव हो, खिलाड़ी सुरक्षित रूप से प्रशिक्षण के लिए वापस यहां आ सकें।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1645683

शिपिंग मंत्रालय ने क्रूज जहाजों के लिए बंदरगाह टैरिफ दरों में 60 से 70 प्रतिशत तक कटौती की है

शिपिंग मंत्रालय ने क्रूज जहाजों के लिए टैरिफ दरों को तर्कसंगत बनाया है। टैरिफ दरों में छूट के निवल प्रभाव से बंदरगाह दरों में तत्काल 60 से 70 प्रतिशत कमी आएगी, जिससे कोविड-19 महामारी की स्थिति में अर्थव्यवस्था की मदद के लिए सरकार की नीति के अनुरूप देश में क्रूज उद्योग को काफी राहत मिलेगी। केन्द्रीय शिपिंग राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री मनसुख मंडाविया ने कहा इससे भारत में क्रूज पर्यटन के लिए बड़ी सहायता मिलेगी, जो कोविड-19 महामारी के प्रतिकूल आर्थिक प्रभाव के कारण जबरदस्त रूप से प्रभावित हुआ है। यह बड़ी मात्रा में विदेशी मुद्रा अर्जित करने तथा देश में क्रूज पर्यटन क्षेत्र में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से बड़ी संख्या में तटवर्ती रोजगार के अवसर जुटाएगा।

अधिक जानकारी के लिए पढ़ें-https://www.pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1645845

पीआईबी के क्षेत्रीय कार्यालयों से मिली जानकारियां

अरुणाचल प्रदेश : कोविड-19 के कारण राज्य में एक और व्यक्ति की मृत्यु हुई है। अब तक कोविड-19 से चार लोगों की मौत हुई है। अरुणाचल प्रदेश में मिले 82 नए मामलों में से 17 ईटानगर राजधानी क्षेत्र, 14 पश्चिमी कामिंग, 12 पूर्वी सियांग जिले से मिले हैं। राज्य में इस समय 790 सक्रिय मामले हैं।

असम : राज्य में कल 2,174 रोगियों को अस्पताल से घर भेजा गया। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि अब तक कुल 49,383 लोगों को घर भेजा गया है और 22,240 सक्रिय मामले हैं।

मणिपुर : मुख्यमंत्री ने इंफाल स्थित रोमी बैग इंडस्ट्रीज की फ्रंटलाइन कोविड योद्धाओं को वितरित करने के लिए 100 पीपीई किट दान के लिए प्रंशसा की है। इन पीपीई किट का निर्माण मणिपुर में हुआ है और ये डीआरडीओ-डीआरडीई द्वारा अनुमोदित हैं।

मेघालय : राज्य सरकार स्वास्थ्य विभाग उपकेंद्र, पीएचसी और सीएचसी को सशक्त बनाने के लिए विश्व बैंक के साथ एक ऋण समझौते पर हस्ताक्षर की प्रक्रिया में है। मुख्यमंत्री कॉनराड संगमा ने स्वास्थ्य विभाग को सितंबर और अक्टूबर 2020 तक स्वास्थ्य आधारभूत ढांचा विकास परियोजना को शुरू करने का निर्देश दिया है।

मिजोरम : राज्य में कल कोविड-19 के आठ नए मामले सामने आए। राज्य में कुल मामले 657 और सक्रिय मामले 314 हैं।

नागालैंड : मुख्यमंत्री ने कहा है कि सरकार कोविड-19 को रोकने और इस पर नियंत्रण करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। उन्होंने लोगो से प्रभावित लोगों और फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं से भेदभाव न करने का अनुरोध किया है। दीमापुर में सोमवार से सभी दुकानें खुल जाएगीं, लेकिन सैलून और रेस्टोरेंट बंद रहेंगे। 

सिक्किम : सिक्किम में 31 अगस्त तक सरकारी और निजी सभी शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे। राज्य के शिक्षा मंत्री श्री के एन लेप्चा ने कहा कि उचित समय पर स्थिति की फिर से समीक्षा की जाएगी। मुख्यमंत्री ने विशेष रूप से शिक्षित बेरोजगारों को स्वरोजगार के समान अवसर उपलब्ध कराने के लिए एक नई सब्सिडी योजना कुशल युवा स्टार्ट-अप योजना की शुरुआत की।

केरल : मल्लापुरम जिला कलेक्टर और एसपी के कोविड-19 पॉजिटिव होने के बाद उनकी प्राथमिक संपर्क सूची में आने के कारण मुख्यमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री सहित चार मंत्री, विधानसभा अध्यक्ष और पुलिस प्रमुख स्वतः एकांतवास में चले गए हैं। मल्लापुरम में कलेक्ट्रेट के कोविड कलस्टर में बदलने के कारण स्थिति चिंताजनक बनी हुई है। यहां जिलाधिकारी, उपजिलाधिकारी और 20 राजस्व अधिकारी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें से कई करीपुर विमान दुर्घटना स्थल में राहत कार्यों में शामिल थे। इस बीच राज्य सरकार ने भीड़ के कारण बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए स्वतंत्रता दिवस समारोह के समय को सिर्फ 15 मिनट रखने का फैसला लिया है। कार्यक्रम स्थल पर आम जनता को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। राज्य में कोविड से तीन और लोगों की मृत्यु हुई है। केंद्रीय जेल में 63 ओर बंदियो के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। इसके साथ इस बीमारी से अब तक 164 कैदी प्रभावित हो चुके हैं। जेल मुख्यालय को तीन दिनों के लिए बंद कर दिया गया है। राज्य में कल 1,564 कोविड के नए मामले दर्ज किए गए। 13,839 रोगियों का इलाज चल रहा है और 1.53 लाख लोग विभिन्न जिलों में निगरानी में हैं।

तमिलनाडु : पुडुचेरी में शुक्रवार को कोविड-19 के 328 नए मामले सामने आए और 4 लोगो की मौत हुई। इसके साथ ही कुल मामले 6680, सक्रिय मामले 2750 और मरने वालों की संख्या 106 हो गई। तमिलनाडु सरकार ने ई-पास प्रणाली को सरल बना दिया है। 17 अगस्त से आधार द्वारा आवेदन करने पर ई-पास तुरंत जारी किया जाएगा। कोविड-19 से हाल ही में ठीक हुए 40 पुलिसकर्मियों ने राजीव गांधी सरकारी साधारण अस्पताल में प्लाज्मा दान किया। तमिलनाडु में कुल 5,835 नए मामले, 5,146 स्वस्थ हुए मामले और 119 लोगों की मौत हुई। कुल मामले : 3,20,355, सक्रिय मामले : 53,499, मृत्यु : 5,397, अस्पताल से छुट्टी दी गई : 2,61,459 और चेन्नई में सक्रिय मामले 10,868 हैं।

कर्नाटक : इस वर्ष के स्वतंत्रता दिवस समारोह को छोटे रूप में मनाया जाएगा और किसी सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जाएगा। बेंगलुरु शहर में कल आयोजित होने वाले कार्यक्रम में 75 कोरोना योद्धा व कोरोना से ठीक होने वाले 25 लोग विशेष आमंत्रित सदस्य के रूप में भाग लेंगे। कर्नाटक मेडिकल परिषद ने डॉक्टरों को चेतावनी दी है कि बिना कोविड संक्रमण वाले रोगियों का इलाज करें नहीं तो उनके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। कर्नाटक उच्च न्यायालय ने सरकार से तमिलनाडु सीमा पर रोक के मुद्दे पर स्पष्टीकरण मांगा है। राज्य में कल कोविड पॉजिटिव मामलो की संख्या 2 लाख से अधिक हो गई। राज्य में कुल सक्रिय मामले 78,337 हैं और 3,613 लोगों की कोविड-19 से मृत्यु हुई है।

आंध्रप्रदेश : आंध्रप्रदेश के पूर्व मंत्री और टीडीपी नेता के अच्चेन्नायडू कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। वो गुंटूर के रमेश अस्पताल में अपना उपचार करा रहे थे। अच्चेन्नायडू हाल ही में ईएसआई हॉस्पिटल घोटाले में गबन के आरोप में गिरफ्तार हुए थे। राज्य सरकार ने कोरोना से प्रभावित मंदिर के कर्मचारियों को स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया है। विशाखापट्टनम में आज कोरोना जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। कल 9,996 नए मामले, 9,499 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दी गई और 82 लोगों की मौत हुई। कुल मामले : 2,64,142, सक्रिय मामले : 90,840, मौत : 2,378.

तेलंगाना : हैदराबाद के कॉर्पोरेट हॉस्पिटल अपने 50 प्रतिशत बेड सरकार को सौपेंगे। राज्य में पहली बार सिद्धीपेट में मोबाइल कोविड-19 प्रयोगशाला का उद्घाटन किया गया। पिछले 24 घंटे में 1921 नए मामले, 1210 लोग स्वस्थ और 9 लोगों की मृत्यु हुई। 1921 मामलों में 356 मामले जीएचएमसी में दर्ज किए गए। कुल मामले : 88,396, सक्रिय मामले : 23,438, मृत्यु : 674, अस्पताल से छुट्टी दी गई : 64,284.

महाराष्ट्र : नागरिक उड्डयन मंत्रालय और महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में कोविड-19 का और प्रसार रोकने के लिए एकांतवास के नियमों में छूट दी है। यात्रा से 72 घंटे पहले स्वतः घोषणा कर यात्री संस्थागत एकांतवास से छूट पा सकते हैं। ऐसे यात्रियों को यात्रा के 96 घंटो के भीतर नेगेटिव आरटी-पीसीआर परीक्षण का प्रमाण अपलोड करना होगा। राज्य में बृहस्पतिवार को कोविड-19 के 11,813 नए मामले सामने आए और 9,115 लोग स्वस्थ हुए।

गुजरात : अहमदाबाद म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन ने 30 से अधिक लोगों वाले सभी संस्थानों में कोविड समन्वयक की नियुक्ति को अनिवार्य कर दिया है। इस आदेश के अनुसार समन्वयक सभी प्रोटोकॉल और एसओपी के लिए जवाबदेह होंगे। 30 से कम कर्मचारियों वाले संस्थानों में मालिक जवाबदेह रहेंगे। गुजरात में बृहस्पतिवार को कोविड-19 के 1,092 नए मामले सामने आए और 1,046 व्यक्ति स्वस्थ हुए। राज्य में 14,310 सक्रिय मामले हैं।

मध्यप्रदेश : राज्य में राजनेताओं के कोविड-19 से प्रभावित होने का सिलसिला जारी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और अन्य मंत्रियों के प्रभावित होने के बाद बृहस्पतिवार को हाल में निर्वाचित राज्यसभा सांसद सुमैर सिंह सोलंकी और निवारी से बीजेपी विधायक अनिल जैन कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए। भोपाल में एक स्थानीय बीजेपी नेता और प्रवक्ता दुर्गेश केसवानी भी कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए।

छत्तीसगढ़ : नयी टेस्टिंग सुविधा के शुभारंभ के साथ राज्य में कोविड-19 के प्रतिदिन 11 हजार टेस्ट हो रहे हैं। छत्तीसगढ़ में अब तक 3.9 लाख टेस्ट हो चुके हैं जिनसे 13,960 पॉजिटिव मामलो का पता चला है। राज्य में 4,187 सक्रिय मामले हैं।

गोवा : राज्य सरकार ने आज अपनी कोविड-19 उपचार सुविधा में बदलाव करने की घोषणा की। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने कहा कि इसके अंतर्गत गोवा मेडिकल कॉलेज और हास्पिटल (जीएमसीएच) में बेहद नाजुक रोगियों को तीन वार्ड की सुविधा दी जाएगी। दो अन्य निर्धारित हॉस्पिटल मडगांव (दक्षिण गोवा) में ईएसआई हॉस्पिटल और पोंडा (उत्तरी गोवा) में सब डिस्ट्रिक हॉस्पिटल लक्षणहीन या कम लक्षणों वाले रोगियों का इलाज किया जाएगा। गोवा में इस समय 3,491 सक्रिय मामले हैं और स्वस्थ होने की दर 72 प्रतिशत है।

****

एमजी/एएम/एसके/एजे



(Release ID: 1646036) Visitor Counter : 25