स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय
azadi ka amrit mahotsav

दो महीने तक चलने वाला "हर घर दस्तक 2.0" अभियान आज से कोविड-19 टीकाकरण कवरेज में तेजी लाने और सभी पात्र लाभार्थियों को डोर-टू-डोर अभियानों के माध्यम से शामिल करने के लिए आज से शुरू हुआ


राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा वृद्धाश्रमों, स्कूलों/कॉलेजों, जेलों, ईंट भट्ठों के लिए केंद्रित अभियान चलाए जाएंगे

Posted On: 01 JUN 2022 1:16PM by PIB Delhi

राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोविड-19 टीकाकरण की गति और कवरेज में तेजी लाने के लिए "हर घर दस्तक अभियान 2.0" देश भर में शुरू हो गया है। 'मिशन मोड' में लागू होने के कारण, राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को सभी पात्र लाभार्थियों का टीकाकरण करके पूर्ण कोविड-19 टीकाकरण कवरेज की दिशा में गहन प्रयास करने की सलाह दी गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव श्री राजेश भूषण द्वारा सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को यह सूचित किया गया था। उन्होंने पिछले सप्ताह राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के स्वास्थ्य सचिवों और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के प्रबंध निदेशकों के साथ कोविड टीकाकरण की स्थिति की समीक्षा की थी।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image0031RRJ.jpg https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image00517WS.jpg https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image007596T.jpg

  

नवंबर 2021 में शुरू किए गए "हर घर दस्तक अभियान" के अनुभव और सीख को शामिल करते हुए, 'हर घर दस्तक 2.0' अभियान 1 जून 2022 से शुरू होकर 31 जुलाई 2022 तक चलेगा। 'हर घर दस्तक 2.0' अभियान का उद्देश्य डोर-टू-डोर अभियानों के माध्यम से पहले, दूसरे और एहतियाती खुराक के लिए पात्र आबादी समूह का टीकाकरण सुनिश्चित करना है। 60 वर्ष की आयु के व्यक्तियों के अधिकतम कवरेज को एहतियाती खुराक के साथ बेहतर बनाने पर भी मुख्य ध्यान दिया जाएगा, साथ ही वृद्धाश्रमों, स्कूलों/कॉलेजों के लिए केंद्रित अभियानों द्वारा 12-14 वर्ष के समूह में कवरेज की काफी धीमी गति के साथ-स्कूली बच्चों (12-18 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए केंद्रित कवरेज के लिए), जेलों, ईंट भट्ठों आदि को राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों से सभी पात्र लाभार्थियों की देय सूचियों के आधार पर संबंधित सूक्ष्म योजनाओं के साथ प्रभावी निगरानी करने का आग्रह किया गया है। उन्हें निजी अस्पतालों के साथ नियमित आधार पर 18-59 वर्ष आयु वर्ग के लिए एहतियाती खुराक प्रदान करने की समीक्षा करने का भी आग्रह किया गया है।

भारत सरकार द्वारा विस्तृत योजना और मजबूत प्रयासों के कारण राष्ट्रीय कोविड-19 टीकाकरण अभियान को अद्वितीय उपलब्धि मिली है। अब तक देश भर में 193.57 करोड़ कोविड टीके लगाए जा चुके हैं। 15 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के सभी व्यक्तियों में से 96.3 प्रतिशत लोगों ने कम से कम एक खुराक प्राप्त कर ली है और 86.3 प्रतिशत लोगों ने कोविड-19 वैक्सीन की दोनों खुराक प्राप्त कर ली हैं। 'हर घर दस्तक' टीकाकरण अभियान मिशन इंद्रधनुष की सफल रणनीति से प्रेरित है, जिसमें 3 नवंबर 2021 से घर-घर जाकर पहली और दूसरी खुराक के सभी छूटे हुए और बचे हुए पात्र लाभार्थियों तक पहुंचने के लिए प्रयास करना, जागरूकता और टीकाकरण गतिविधियां शामिल हैं। इस पहल ने वृद्धों, विकलांगों और यहां तक कि वैक्सीन लगवाने से हिचकिचाने वाली आबादी सहित हर एक लाभार्थी तक पहुंचकर कार्यक्रम की सफलता में बहुत योगदान दिया।

****

एमजी/एमए/एमकेएस/एसएस



(Release ID: 1831122) Visitor Counter : 315