आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय

पीएम स्वनिधि योजना के अंतर्गत 15 लाख से ज्यादा ऋण आवेदन प्राप्त हुए

5.5 लाख से ज्यादा ऋणों को स्वीकृति प्रदान की गई

लगभग 2 लाख ऋणों का वितरण किया गया

ऋण स्वीकृत प्रक्रिया को सुगम बनाने और ऋणदाता संस्थाओं के संचालन में तेजी लाने के लिए सॉफ्टवेयर विकसित किया गया

Posted On: 24 SEP 2020 1:22PM by PIB Delhi

पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि (पीएम स्वनिधि) योजना के अंतर्गत अब तक 15 लाख से ज्यादा ऋण आवेदन प्राप्त किए जा चुके हैं। इनमें से साढ़े पांच लाख से ज्यादा ऋणों को स्वीकृति प्रदान की गई है और लगभग दो लाख ऋण वितरित किए गए हैं। आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि (पीएम स्वनिधि) योजना को लागू किया जा रहा है, जिससे कोविड-19 लॉकडाउन के बाद अपने व्यवसायों को फिर से शुरू करने के लिए 50 लाख स्ट्रीट वेंडर्स को गारंटी मुक्त कार्यशील पूंजी ऋण की सुविधा उपलब्ध कराई जा सके।

ऋण स्वीकृति प्रक्रिया को सुगम बनाने और ऋणदाताओं के संचालन में तेजी लाने के लिए, आवेदनों को सीधे बैंक की शाखाओं में भेजने का निर्णय लिया गया है, जिनकी पहचान वेंडरों द्वारा पसंदीदा ऋणदाताओं के रूप में की गई है या जिस बैंक में उनका बचत खाता है, 'पसंदीदा ऋणदाता' का संकेत नहीं दिए जाने की स्थिति में। इस प्रक्रिया से स्वीकृत ऋणों की संख्या को बढ़ावा मिलने और ऋण वितरण के समय में बहुत कटौती होने की उम्मीद है।

उपर्युक्त प्रक्रिया को सुगम बनाने के लिए एक सॉफ्टवेयर विकसित किया गया है, जिसे 11 सितंबर, 2020 से चालू कर दिया गया है। इस सॉफ्टवेयर का उपयोग करकेलगभग 3 लाख आवेदनों को बैंकों में भेजा जाएगा। इसके बाद से, आवेदनों को पसंदीदा ऋणदाताओं के लिए दैनिक आधार पर और जहां पर कोई पसंदीदा ऋणदाता नहीं दर्शाया गया है उन आवेदनों को साप्ताहिक आधार पर भेजा जाएगा।

इन उपायों के माध्यम से ऋणदाता संस्थाओं द्वारा प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के कार्यान्वयन में तेजी लाने की उम्मीद है, जिससे स्ट्रीट वेंडरों को इस योजना का लाभ प्राप्त हो सके और आत्मनिर्भर भारत का निर्माण हो सकें।

**.*

एमजी/एएम/एके/एसएस



(Release ID: 1658675) Visitor Counter : 46