नागरिक उड्डयन मंत्रालय

कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को समर्थन देने के लिए लाइफलाइन उडान के तहत हवाई उड़ानों ने देश भर में 541 टन से अधिक चिकित्सा सामग्री पहुंचाई

Posted On: 21 APR 2020 2:15PM by PIB Delhi

कोविड-19के खिलाफ भारत की लड़ाई को समर्थन देने के लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय (एमओसीए)के द्वारा देश के दूरदराज के हिस्सों में  आवश्यक चिकित्सा सामग्री के परिवहन के लिए लाइफलाइन उड़ानके तहत हवाई उड़ानें संचालित की जा रही हैं। कोविड-19 लॉकडाउन के दौरान एयर इंडिया, अलायंस एयर, भारतीय वायु सेना और निजी कंपनियों ने लाइफलाइन उड़ान के तहत 316 उड़ानों का संचालन किया है।इनमें से 196 उड़ानें एयर इंडिया और एलायंस एयर द्वारा संचालित की गई हैं। अब तक पहुँचाया गया कार्गो लगभग 541.33 टन है। लाइफलाइन उडान के तहत अब तक कुल तय की गई हवाई दूरी 3,14,965 किमी से अधिक है।

पवन हंस लिमिटेड समेत हेलीकॉप्टर सेवाएं जेएंडके, लद्दाख, द्वीपों और  पूर्वोत्तर क्षेत्र में परिचालन कर रही हैं और महत्वपूर्ण चिकित्सा सामग्री तथा मरीजों को पहुंचा रही हैं। 20 अप्रैल 2020 तक पवन हंस ने 6537 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए 1.90 टन माल ढोया है।

घरेलू लाइफलाइन उडान कार्गो में कोविड-19 से संबंधित अभिकर्मक (रीएजेंट), एंजाइम, चिकित्सा उपकरण, परीक्षण किट, व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई), मास्क, दस्ताने, एचएलएल और आईसीएमआर की अन्य सामग्री, राज्य / केन्द्र शासित प्रदेश सरकारों के कार्गो, डाक पैकेट आदि शामिल हैं।

घरेलू लाइफलाइन उड़ान के तहत हवाई उड़ानें हब और स्पोक मॉडल के आधार पर काम करती हैं। पूर्वोत्तर क्षेत्र, द्वीप क्षेत्रों और पर्वतीय राज्यों पर विशेष ध्यान केंद्रित किया गया है। एयर इंडिया और आईएएफ ने मुख्य रूप से जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, पूर्वोत्तर और अन्य द्वीप क्षेत्रों के लिए आपसी सहयोग किया।

कार्गो में मुख्य रूप से हल्के वजन और अधिक मात्र वाले सामान होते हैं जैसे मास्क, दस्ताने और अन्य उपभोग की जाने वाली सामग्री आदि। इसमें विमान के अपेक्षाकृत बड़े भंडारण स्थान का उपयोग होता है। यात्री के बैठने की जगह और ऊपर की केबिनों में उचित सावधानी बरतते हुए कार्गो को स्टोर करने के लिए विशेष अनुमति ली गई है।

लाइफलाइन उडान की उड़ानों से संबंधित सार्वजनिक जानकारी https://esahaj.gov.in/lifeline_udan/public_info पोर्टल पर प्रतिदिन अपडेट की जाती है।

लाइफलाइन उड़न की उड़ानों को राज्य सरकारों, डीजीसीए, एएआई, एएआईसीएलएएस, एआईएएसएल, पीपीपी हवाई अड्डों, निजी हवाई कम्पनियों और ग्राउंड हैंडलिंग एजेंसियों से उत्कृष्ट सहयोग मिला है।

घरेलू कार्गो कंपनियां स्पाइसजेट, ब्लू डार्ट और इंडिगो वाणिज्यिक आधार पर कार्गो उड़ानें संचालित कर रही हैं। स्पाइसजेट ने 24 मार्च से 20 अप्रैल 2020 के दौरान 447 कार्गो उड़ानों का संचालन किया, जिसमें 6,64,675 किलोमीटर की दूरी तय की गई और 3516 टन माल ढोया गया। इनमें से 143 अंतर्राष्ट्रीय मालवाहक उड़ानें थीं। ब्लू डार्ट ने 25 मार्च से 20 अप्रैल 2020 के दौरान 152 घरेलू कार्गो उड़ानें संचालित कीं जिसमें 1,49,333 किलोमीटर की दूरी तय की गई और 2407 टन माल ढोया गया। इंडिगो ने 3 से 20 अप्रैल 2020 के दौरान 33 कार्गो उड़ानों का संचालन किया है जिसमें 37,160 किमी की दूरी तय की गयी और लगभग 66 टन कार्गो ढोया गया। इसमें सरकार के लिए निशुल्क पहुंचाई जाने वाली चिकित्सा आपूर्ति भी शामिल है।

अंतर्राष्ट्रीय क्षेत्र- फार्मास्यूटिकल्स, चिकित्सा उपकरण और कोविड-19 राहत सामग्री के परिवहन के लिए पूर्व एशिया के साथ एक कार्गो एयर-ब्रिज की स्थापना की गई है। मेडिकल कार्गो की तिथि-वार मात्रा निम्नानुसार है:

क्रम संख्या

Date दिनांक

कहाँ से

मात्रा (टन में)

1

04.4.2020

शंघाई

21

2

07.4.2020

हांगकांग

06

3

09.4.2020

शंघाई

22

4

10.4.2020

शंघाई

18

5

11.4.2020

शंघाई

18

6

12.4.2020

शंघाई

24

7

14.4.2020

हांगकांग

11

8

14.4.2020

शंघाई

22

9

16.4.2020

शंघाई

22

10

16.4.2020

हांगकांग

17

11

16.4.2020

सियोल

05

12

17.4.2020

शंघाई

21

13

18.4.2020

शंघाई

17

14

18.4.2020

सियोल

14

15

18.4.2020

गुआंगझाऊ 

04

16

19.4.2020

शंघाई

19

17

20.4.2020

शंघाई

26

 

 

कुल

287

 

एयर इंडिया आवश्यकता के अनुसार महत्वपूर्ण चिकित्सा आपूर्ति के हस्तांतरण के लिए अन्य देशों के लिए समर्पित अनुसूचित कार्गो उड़ानों का संचालन करेगी।

***

एएम/जेके

 

 



(Release ID: 1616743) Visitor Counter : 77