इलेक्ट्रानिक्स एवं आईटी मंत्रालय
azadi ka amrit mahotsav g20-india-2023

केंद्र सरकार ने एक जून से संशोधित सेमीकॉन इंडिया कार्यक्रम के अनुसार सेमीकंडक्टर और डिस्प्ले फैब स्थापित करने के लिए आवेदन आमंत्रित किए


भारत सेमीकंडक्टर मिशन (आईएसएम) के पोर्टल के जरिये ऑनलाइन आवेदन जमा किए जाएंगे

Posted On: 31 MAY 2023 11:33AM by PIB Delhi

केंद्र सरकार ने संशोधित सेमीकॉन इंडिया कार्यक्रम के तहत एक जून, 2023 से भारत में सेमीकंडक्टर फैब्स और डिस्प्ले फैब्स की स्थापना के लिए नये आवेदन आमंत्रित करने का फैसला किया है। आवेदन भारत सेमीकंडक्टर मिशन द्वारा लिये जाएंगे। उल्लेखनीय है कि मिशन भारत में सेमीकंडक्टर और डिस्प्ले विनिर्माण इको-प्रणाली के विकास के लिए संशोधित सेमीकॉन इंडिया कार्यक्रम को लागू करने की जिम्मेदार नामित एक नोडल एजेंसी है।

संशोधित कार्यक्रम के तहत भारत में सेमीकंडक्टर फैब्स की स्थापना के लिए कंपनियों/संघों/संयुक्त उपक्रमों को परियोजना लागत का 50 प्रतिशत वित्तीय प्रोत्साहन के रूप में उपलब्ध है। यह किसी भी प्रारूप (परिपक्व प्रारूप सहित) के लिये उपलब्ध होगा। इसी प्रकार भारत में विशिष्ट प्रौद्योगिकियों के डिस्प्ले फैब स्थापित करने के लिए परियोजना लागत का 50 प्रतिशत वित्तीय प्रोत्साहन उपलब्ध है।

"भारत में कंपाउंड सेमीकंडक्टर्स/सिलिकॉन फोटोनिक्स/सेंसर फैब/डिस्क्रीट सेमीकंडक्टर्स फैब और सेमीकंडक्टर एटीपीपी/ओएसएटी सुविधाओं की स्थापना के लिए संशोधित योजना" के लिए आवेदन दिसंबर 2024 तक जमा किए जा सकते हैं। डिजाइन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना के लिए भी दिसंबर 2024 आवेदन किए जा सकते हैं। अब तक डीएलआई योजना के तहत 26 आवेदन प्राप्त हुए हैं और पांच आवेदनों को मंजूरी दी गई है।

सरकार ने भारत में सेमीकंडक्टर और डिस्प्ले विनिर्माण इको-प्रणाली के विकास के लिए दिसंबर 2021 में 76,000  करोड़ रुपये के परिव्यय के साथ सेमीकॉन इंडिया कार्यक्रम शुरू किया था। सेमीकंडक्टर फैब्स की स्थापना की योजना और डिस्प्ले फैब (पूर्व योजनायें) की स्थापना के लिए योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले सभी आवेदकों को अपने प्रस्तावों में उपयुक्त संशोधन शामिल करने के बाद सेमीकंडक्टर फैब्स और डिस्प्ले फैब्स की स्थापना के लिए संशोधित योजना के अंतर्गत आवेदन प्रस्तुत करने की अनुमति दी जाती है।

****

एमजी/एमएस/आरपी/एकेपी



(Release ID: 1928534) Visitor Counter : 323