वित्‍त मंत्रालय

सितंबर 2022 के दौरान सकल जीएसटी राजस्व संग्रह 1,47,686 करोड़ रुपए रहा


मासिक आधार पर होने वाला जीएसटी राजस्व संग्रह 7 माह से लगातार 1.4 लाख करोड़ रुपए से अधिक रहा

सितंबर 2022 में हुआ जीएसटी राजस्व संग्रह सितंबर 2021 की तुलना में 26 प्रतिशत अधिक रहा

30 सितंबर को एनआईसी द्वारा संचालित जीएसटी पोर्टल पोर्टल पर बिना किसी गड़बड़ी के 1.1 करोड़ से अधिक ई-वे बिल और ई-चालान, संयुक्त (72.94 लाख ई-चालान और 37.74 लाख ई-वे बिल) सृजित हुए

Posted On: 01 OCT 2022 12:59PM by PIB Delhi

सितंबर  2022 के महीने में एकत्र किया गया सकल जीएसटी राजस्व 1,47,686  करोड़ रुपए रहा, जिसमें से सीजीएसटी 25,271 करोड़ रुपए, एसजीएसटी 31,813 करोड़ रुपए, आईजीएसटी 80,464 करोड़ रुपए (माल के आयात पर एकत्रित 41,215 करोड़ रुपए सहित) और 10,137 करोड़ रुपए (माल के आयात पर एकत्रित 856करोड़ रुपए सहित) उपकर है।

 सरकार ने आईजीएसटी से 31,880 करोड़ रुपए सीजीएसटी के लिए और  27,403 करोड़ रुपए एसजीएसटी के लिए तय किए हैं। नियमित निपटान के बाद सितंबर 2022 के महीने में केंद्र और राज्यों का कुल राजस्व सीजीएसटी के लिए 57,151 करोड़ रुपए और एसजीएसटी के लिए  59,216 करोड़ रुपए है।

 सितंबर 2022 के महीने में एकत्र जीएसटी राजस्व पिछले वर्ष के इसी महीने में एकत्रित जीएसटी राजस्व से 26 प्रतिशत अधिक है। इस महीने के दौरान, माल के आयात से प्राप्त राजस्व 39 प्रतिशत अधिक था और घरेलू लेनदेन (सेवाओं के आयात सहित) से एकत्रित राजस्व पिछले वर्ष के इसी महीने के दौरान इन स्रोतों से प्राप्त राजस्व की तुलना में 22 प्रतिशत अधिक है।

 लगातार 7 महीने से मासिक जीएसटी राजस्व संग्रह 1.4 लाख करोड़ रुपए के आंकड़े को पार कर रहा है। सितंबर के महीने तक जीएसटी संग्रह की प्रगति पिछले वर्ष की इस अवधि की तुलना में 27 प्रतिशत अधिक रही है। और इस तरह इसमें काफी अच्छा उछाल बना हुआ है। अगस्त 2022 के महीने में 7.7 करोड़ ई-वे बिल सृजित हुए, जो जुलाई 2022 में 7.5 करोड़ से कुछ ही अधिक थे।

 इस महीने में 20 सितंबर को 49,453 करोड़ रुपये का दूसरा सबसे बड़ा एकल दिन संग्रह देखा गया, जिसमें दूसरे सबसे अधिक 8.77 लाख चालान दर्ज किए गए। इससे पहले 20 जुलाई 2022 को 9.58 लाख चालान के माध्यम से 57,846 करोड़ का संग्रह किया गया, जो वित्त वर्ष के अंतिम से संबंधित रिटर्न से जुड़ा हुआ था।  यह स्पष्ट रूप से दर्शाता है कि जीएसटीएन द्वारा संचालित जीएसटी पोर्टल पूरी तरह से स्थिर हो गया है और गड़बड़ मुक्त है। सितंबर में एक और मील का पत्थर पार हो गया जब 30 सितंबर, 2022 को एनआईसी द्वारा संचालित पोर्टल पर बिना किसी गड़बड़ी के 1.1 करोड़ से अधिक ई-वे बिल और ई-चालान, संयुक्त (72.94 लाख ई-चालान और 37.74 लाख ई-वे बिल) तैयार हुए।

 नीचे दिया गया चार्ट चालू वर्ष के दौरान मासिक सकल जीएसटी राजस्व में रुझान दिखाता है। तालिका सितंबर 2021 की तुलना में सितंबर 2022 के महीने के दौरान प्रत्येक राज्य में एकत्र किए गए जीएसटी के राज्य-वार आंकड़े दिखाती है।

 

सितंबर 2022 के दौरान जीएसटी राजस्व में हुई राज्यवार प्रगतिः

 

राज्य

सितंबर-21

सितंबर-22

वृद्धि

जम्मू कश्मीर

377

428

13%

हिमाचल प्रदेश

680

712

5%

पंजाब

1,402

1,710

22%

चंडीगढ़

152

206

35%

उत्तराखंड

1,131

1,300

15%

हरियाणा

5,577

7,403

33%

दिल्ली

3,605

4,741

32%

राजस्थान

2,959

3,307

12%

उत्तर प्रदेश

5,692

7,004

23%

बिहार

876

1,466

67%

सिक्किम

260

285

9%

अरुणाचल प्रदेश

55

64

16%

नागालैंड

30

49

61%

मणिपुर

33

38

17%

मिजोरम

20

24

22%

त्रिपुरा

50

65

29%

मेघालय

120

161

35%

असम

968

1,157

20%

पश्चिम बंगाल

3,778

4,804

27%

झारखंड

2,198

2,463

12%

ओडिशा

3,326

3,765

13%

छत्तीसगढ़

2,233

2,269

2%

मध्य प्रदेश

2,329

2,711

16%

गुजरात

7,780

9,020

16%

दमन और दीव

0

0

-38%

दादरा तथा नगर हवेली

304

312

3%

महाराष्ट्र

16,584

21,403

29%

कर्नाटक

7,783

9,760

25%

गोवा

319

429

35%

लक्ष्यद्वीप

0

3

731%

केरल

1,764

2,246

27%

तमिलनाडु

7,842

8,637

10%

पुदुचेरी

160

188

18%

अंडमान और निकोबार द्वीप समूह

20

33

69%

तेलांगना

3,494

3,915

12%

आंध्र प्रदेश

2,595

3,132

21%

लद्दाख

15

19

27%

अन्य क्षेत्र

132

202

53%

केंद्रीय अधिकार क्षेत्र

191

182

-5%

कुल योग

86,832

1,05,615

22%

 

 

****

एमजी /एएम /केजे



(Release ID: 1864248) Visitor Counter : 239