PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का बुलेटिन

Posted On: 13 AUG 2021 6:53PM by PIB Delhi

 

  • राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान में अब तक टीके की 53 करोड़ से ज्यादा खुराक दी गयीं
  • सक्रिय मामले कुल मामलों का 1.20 प्रतिशत हैं; मार्च 2020 के बाद सबसे कम।
  • भारत में फिलहाल सक्रिय मामलों की संख्या 3,85,227 है।
  • संक्रमण से मुक्त होने की अब तक की सबसे ऊंची दर हासिल; फिलहाल 97.46 प्रतिशत
  • देश में अब तक कुल 3,13,02,345 लोग संक्रमण से मुक्त हुए
  • बीते 24 घंटे में 42,295 मरीज संक्रमण से मुक्त हुए
  • बीते 24 घंटे में भारत ने 40,120 नये मामले दर्ज किये
  • साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर 5 प्रतिशत से नीचे बनी हुई है, फिलहाल 2.13% प्रतिशत पर
  • दैनिक पॉजिटिविटी दर 2.04% प्रतिशत, पिछले 18 दिनों से 3 प्रतिशत से कम
  • जांच क्षमता में उल्लेखनीय बढ़त- 48.94 करोड़ जांच (कुल) की गयीं

#Unite2FightCorona

#IndiaFightsCorona

पत्र सूचना कार्यालय

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय

भारत सरकार

 

Image

 

कोविड-19 अपडेट

भारत में कोविड-19 टीकाकरण का कुल कवरेज 53 करोड़ के पार पहुंचा

पिछले 24 घंटों में टीके की 57 लाख से ज्यादा खुराकें दी गईं

भारत ने अब तक की सबसे ऊंची 97.46 प्रतिशत की रिकवरी दर अर्जित की

पिछले 24 घंटों में 40,120 दैनिक नये मामले दर्ज

भारत में सक्रिय मामले (3,85,227) कुल मामलों का 1.20 प्रतिशत

दैनिक पॉजिटिविटी दर (2.04%)  पिछले 18 दिनों से तीन प्रतिशत से कम

भारत का कुल कोविड-19 टीकाकरण कवरेज आज दोपहर 53 करोड़ के ऐतिहासिक स्तर को पार कर गया है। आज सुबह 7 बजे तक की अनंतिम रिपोर्ट के अनुसार 60,40,607 सत्रों के जरिये कुल मिलाकर 52,95,82,956टीके लगाए जा चुके थे। पिछले 24 घंटों में 57,31,574टीके लगाये गए हैं।

इसमें शामिल हैं:

एचसीडब्ल्यू

पहली खुराक

1,03,43,406

दूसरी खुराक

80,50,401

एफएलडब्ल्यू

पहली खुराक

1,82,54,407

दूसरी खुराक

1,19,88,029

18-44 आयु समूह

पहली खुराक

18,80,51,247

दूसरी खुराक

1,39,53,516

45 से 59 वर्ष का आयु समूह 

पहली खुराक

11,48,89,656

दूसरी खुराक

4,44,21,296

60 वर्ष से अधिक

पहली खुराक

8,00,90,640

दूसरी खुराक

3,95,40,358

कुल

52,95,82,956

 

सबके लिये कोविड-19टीकाकरण का नया अध्याय 21जून, 2021को शुरू हुआ था। केंद्र सरकार देशभर में कोविड-19टीकाकरण का दायरा बढ़ाने और इस प्रक्रिया में तेजी लाने के लिये कटिबद्ध है।

भारत की रिकवरी दर 97.46 प्रतिशत हो गई है। यह भारत में महामारी प्रारंभ होने के बाद से अब तक की सबसे अधिक रिकवरी दर है।

महामारी के आरंभ होने से लेकर अब तक जितने लोग संक्रमित हुए हैं, उनमें से 3,13,02,345व्यक्ति पहले ही कोविड-19से स्वस्थ हो चुके हैं तथा 42,295रोगी पिछले 24घंटों में स्वस्थ हुए हैं।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001ECTP.jpg

 

भारत में पिछले 24 घंटों में 40,120 दैनिक नए मामले दर्ज किए गए हैं।

पिछले 47दिनों से लगातार 50,000से कम नए दैनिक मामले दर्ज किए जा रहे हैं। यह केंद्र और राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के निरंतर और सहयोगात्मक प्रयासों का परिणाम है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002RQWV.jpg

भारत के सक्रिय मामले आज 3,85,227 हैं तथा सक्रिय मामले अब देश के कुल पॉजिटिव मामलों के 1.20 प्रतिशत है जो मार्च 2020 के बाद सबसे कम है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003QDWL.jpg

देश भर में टेस्टिंग क्षमता में उल्लेखनीय रूप से बढ़ोतरी के साथ, देश में पिछले 24घंटों में 19,70,495टेस्ट किए गए। कुल मिला कर, भारत में अब तक 48.94करोड़ से अधिक (48,94,70,779)जांच की जा चुकी हैं।

एक तरफ जहां, टेस्टिंग क्षमता देश भर बढ़ा दी गई है, साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर वर्तमान में 2.13 प्रतिशत है और दैनिक पॉजिटिविटी दर आज 2.04 प्रतिशत है। दैनिक पॉजिटिविटी दर अब लगातार 18 दिनों से 3 प्रतिशत से कम बनी हुई है और लगातार 67 दिनों से 5 प्रतिशत से कम बनी हुई है।

जानकारी के लिये: https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1745357

 

कोविड-19 टीकाकरण अपडेट

राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को टीके की 55.01 करोड़ से अधिक खुराकें दी गईं

राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों तथा निजी अस्पतालों के पास अब भी टीके की 2.82 करोड़ से अधिक अतिरिक्त और बिना इस्तेमाल की हुई खुराकें मौजूद, जिन्हें लगाया जाना है।

देशव्यापी टीकाकरण अभियान के हिस्से के रूप में केंद्र सरकार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नि:शुल्क कोविड वैक्सीन प्रदान करके उन्हें समर्थन दे रही है। टीकों की सर्व-उपलब्धता के नये चरण में, केंद्र सरकार वैक्सीन निर्माताओं से 75 प्रतिशत टीके खरीदकर उन्हें राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नि:शुल्क प्रदान करेगी।

 

टीके की खुराकें 

 

(13 अगस्त, 2021 तक)

 

आपूर्ति की गई

 

55,01,93,040

 

प्रक्रिया में

 

59,16,920

 

खपत

 

52,59,93,669

 

शेष उपलब्ध

 

2,82,57,130

 

केंद्र सरकार द्वारा सभी प्रकार के स्रोतों से अब तक वैक्सीन की 55.01 करोड़ से अधिक (55,01,93,040)खुराकें राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को प्रदान की गई हैं। इसके अलावा 59,16,920 खुराकें भेजे जाने की तैयारी है।

इन खुराकों में से बरबाद हो जाने वाली खुराकों को मिलाकर कुल 52,59,93,669 खुराकों की खपत हो चुकी है (आज सुबह आठ बजे तक उपलब्ध आंकड़ों के हिसाब से)।

राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों तथा निजी अस्पतालों के पास कोविड-19 टीके की अभी 2.82 करोड़ से अधिक (2,82,57,130)अतिरिक्त और बिना इस्तेमाल की हुई खुराकें बची हैं, जिन्हें लगाया जाना है।

जानकारी के लिये: https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1745384

 

राष्ट्रीय महिला आयोग ने राज्यों के मुख्य सचिवों से अपील की है कि वे टीकाकरण में लैंगिंक अंतर को कम करने के लिए जरूरी कदम उठाएं

सार्वजनिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता पैदा करने की जरूरत है ताकि प्राथमिकता के आधार परअधिक से अधिक महिलाओं का टीकाकरण किया जा सके: अध्यक्ष, राष्ट्रीय महिला आयोग

'केंद्र देश के कोने-कोने तक पहुंचने के लिए सघन टीकाकरण अभियान चला रहा है'

राष्ट्रीय महिला आयोग ने एक मीडिया रिपोर्ट का संज्ञान लेते हुए राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को पत्र लिख कर कहा है कि रिपोर्ट के अनुसार महिलाओं में कोविड-19 का टीका कम लग रहा है। ऐसे में आयोग ने आग्रह किया है कि वह ऐसे कदम उठाएं, जिससे इस लैंगिक अंतर को खत्म किया जा सके और महिलाएं भी टीकाकरण अभियान में पीछे नहीं रहे। दो लिंगों के बीच टीकाकरण कवरेज में अंतर आयोग के लिए बहुत चिंता का विषय है। और इसलिए अध्यक्ष सुश्री रेखा शर्मा ने पत्र में उल्लेख किया है कि टीकाकरण बूथों पर टीके के लिए आने वाली महिलाओं के अनुपात को बढ़ाने की तत्काल आवश्यकता है। जिससे इस अंतर को ठीक किया जा सके।

जानकारी के लिये:https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1745456

जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी) और जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद (बीआईआरएसी) के सहयोग से भारत बायोटेक द्वारा विकसित नाक के जरिए दिए जाने वाले पहले टीके (नैसल वैक्सीन) को चरण 2/3परीक्षण के लिए नियामक की मंजूरी मिली

 

भारत बायोटेक का इंट्रानैसल वैक्सीन नाक के जरिए दिया जाने वाला टीका है जिसे चरण 2/3 के परीक्षणों के लिए नियामक अनुमोदन प्राप्त हुआ है। यह भारत में मानव नैदानिक ​​परीक्षणों से गुजरने वाला अपनी तरह का पहला कोविड -19 खुराक है। बीबीवी 154 एक नाक के जरिए दिया जाने योग्य प्रतिकृति-अल्पता (इंट्रानैसल रेप्लिकेशन-डेफिसिएन्ट) वाले चिंपैंजी एडेनोवायरस एसएआरएस–सीओवी-2 वेक्टरीकृत वैक्सीन है। बीबीआईएल के पास अमेरिका के सेंट लुइस में वाशिंगटन विश्वविद्यालय से इसके लिए इन-लाइसेंस तकनीक प्राप्त है।

जानकारी के लिये:https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1745591

 

इंडियन इम्यूनोलॉजिकल्स को कोवैक्सीन की उत्पादन क्षमता में विस्तार के लिए जैव प्रौद्योगिकी विभाग से मिशन कोविड सुरक्षा परियोजना के अंतर्गत विनिर्माण लाइसेंस मिला

भारत सरकार द्वारा घोषित मिशन कोविड सुरक्षा के तहत जैव प्रौद्योगिकी विभाग और जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद (बीआईआरएसी) ने स्वदेशी कोविड टीकों के विकास और उत्पादन में तेजी लाने के लिए आत्मनिर्भर भारत 3.0 के अंतर्गत कोवैक्सीन की उत्पादन क्षमता बढ़ाने के लिए एक परियोजना प्रारम्भ की है।

इंडियन इम्यूनोलॉजिकल्स लिमिटेड, हैदराबाद, इस परियोजना के तहत केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) से ऋण लाइसेंस प्राप्त करने वाली पहली ऐसी निर्माण सुविधा  है जो भारत बायोटेक को अपनी इस पुनर्निर्मित सुविधा में उत्पादित कोवैक्सीन औषधि  पदार्थ की आपूर्ति करेगी। इंडियन इम्यूनोलॉजिकल्स आज 13 अगस्त 2021 को भारत बायोटेक को वाणिज्यिक कोवैक्सीन औषधि संघटक (ड्रग सब्सटेंस) की पहली खेप की आपूर्ति करेगा। शुरू में इस संयन्त्र में प्रति माह 20-30 लाख खुराक का उत्पादन होगा, और इसके बाद अगले कुछ सप्ताहों में कारकापटला में अपनी नई सुविधा से यह कम्पनी 40- लाख खुराक का उत्पादन करने लगेगी।

जानकारी के लिये:https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1745543

 

भारत में विश्व स्वास्थ्य संगठनकी वर्तमान मुख्य वैज्ञानिक डॉ. सौम्या स्वामीनाथन ने केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात की और कोविड महामारी से संबंधित विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की

भारत ने अब तक का सबसे तेज और सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान चलाया है: डॉ जितेंद्र सिंह

 

भारत में विश्व स्वास्थ्य संगठन- डब्ल्यू.एच.ओ. की वर्तमान मुख्य वैज्ञानिक डॉ सौम्या स्वामीनाथन ने आज केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकीराज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पृथ्वी विज्ञान; राज्य मंत्री, प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत, पेंशन, परमाणु ऊर्जा एवं अंतरिक्ष राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात कर विभिन्न विषयों पर बातचीत की।

आसानी से उपलब्धता और पहुंच के माध्यम से सामूहिक टीकाकरण के महत्व पर जोर देते हुए डॉ. सौम्या ने कहा किभले ही टीका वायरस के विभिन्न रूपों के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करने में पूर्ण रूप से सक्षम न हो, लेकिन यह निश्चित रूप से कोरोना वायरस से मृत्यु और इसकी जटिलताओं के जोखिम को काफी हद तक कम कर सकता है। श्री जितेंद्र सिंह ने उन्हें बताया किप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के व्यक्तिगत हस्तक्षेप तथा उनके द्वारा दिन-प्रतिदिन की निगरानी के साथ, भारत ने सबसे तेज और सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान चलाया है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान पर समाज के सभी वर्गों के लोग सहयोग के लिए आगे आ रहे हैं।

जानकारी के लिये:https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1745278

 

महत्वपूर्ण ट्वीट्स

.*********

एमजी/एएम/एसएस/एसएस
 



(Release ID: 1745708) Visitor Counter : 128