वित्‍त मंत्रालय

आईएफएससीए ने आईएफएससी में आरईआईटी और आईएनवीआईटी के लिए नियामक ढांचा निर्धारित किया

Posted On: 21 OCT 2020 6:38PM by PIB Delhi

गुजरात अंतरराष्ट्रीय फाइनेंस टेक-सिटी अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र (जीआईएफटी आईएफएससी) में वित्तीय उत्पादों और सेवाओं को विकसित करने के उद्देश्य से अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (आईएफएससीए) ने आईएफएससी में रियल एस्टेट इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट्स (आरईआईटी) और इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट्स (आईएनवीआईटी) के लिए नियामक ढांचा तय किया है।

आईएफएससीए ने जीआईएफटी आईएफएससी में स्टॉक एक्सचेंजों पर सूचीबद्ध करने के लिए एफएटीएफ के अनुरूप न्यायाधिकार क्षेत्र में आरईआईटी और आईएनवीआईटी जैसे वैश्विक प्रतिभागियों को अनुमति दी है। इसके अतिरिक्त आईएनवीआईटी को निजी प्लेसमेंट के माध्यम से भी धन जुटाने की अनुमति दी गई है।

आईएफएससी में पंजीकृत आरईआईटी और आईएनवीआईटी को आईएफएससी, भारत और अन्य विदेशी न्यायाधिकार क्षेत्र में क्रमश: रियल एस्टेट परिसंपत्तियों और बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में निवेश करने की अनुमति दी गई है, जो वैश्विक वित्तीय केंद्रों में उपलब्ध कराए गए तंत्र के अनुरूप है।

इसके अलावा, आरईआईटी और आईएनवीआईटी जो पहले से ही आईएफएससी के अलावा किसी भी वैध न्यायाधिकार क्षेत्र में सूचीबद्ध हैं (वर्तमान में अमेरिका, जापान, दक्षिण कोरिया, यूके ब्रिटिश ओवरसीज क्षेत्रों को छोड़कर, फ्रांस, जर्मनी, कनाडा और भारत) या भारत को आईएफएससी में मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों पर सूचीबद्ध करने और व्यापार करने की अनुमति दी गई है, जो उनके गृह अधिकार क्षेत्र से संबंधित नियमों के अनुपालन में हो।

आईएफएससी में आरईआईटी और आईएनवीआईटी की लिस्टिंग आईएफएससी में स्टॉक एक्सचेंजों की आवश्यकताओं के अनुसार होगी।

आईएफएससी की इकाइयां अंतरराष्ट्रीय अधिकार क्षेत्र में रियल एस्टेट और इन्फ्रास्ट्रक्चर क्षेत्र के विकास में भाग ले सकती हैं और लाभ उठा सकती हैं।

आरईआईटी और आईएनवीआईटी से संबंधित प्रणाली के बारे में ज्यादा जानकारी आईएफएससीए की वेबसाइट URL:https://ifsca.gov.in/Circular पर उपलब्ध है।

*****

एसजी/एएम/एएस/डीए



(Release ID: 1666655) Visitor Counter : 134