नीति आयोग

नीति आयोग और एडब्ल्यूएस ने भारत में फ्रंटियर टेक्नोलॉजीज क्लाउड इन्नोवेशन सेंटर का आरंभ किया

भारत में पहले अमेजॉन वेब सर्विसेज क्लाउड इनोवेशन की मदद से कृषि, स्वास्थ्य, शिक्षा, बुनियादी ढांचा और प्रशासन में आएगा उल्लेखनीय बदलाव

Posted On: 19 OCT 2020 5:47PM by PIB Delhi

डिजिटल इन्नोवेशन के माध्यम से सामाजिक चुनौतियों से निपटने के लिए नीति आयोग ने आज अमेजॉन वेब सर्विसेज के साथ मिलकर फ्रंटियर टेक्नोलॉजीज क्लाउड इन्नोवेशन सेंटर सीआईसी के स्थापना की घोषणा की। यह भारत में अपनी तरह की पहली शुरुआत है।

सीआईसी एडब्ल्यूएस के वैश्विक सीआईसी कार्यक्रम का हिस्सा है जो सरकारी संस्थाओं, गैर-लाभकारी एजेंसियों और शिक्षण संस्थानों को उभरती चुनौतियों का मुकाबला करने के लिए नई तकनीक तक पहुंच सुनिश्चित करने, नए विचारों और नवाचारों को स्वरूप देने के लिए एक साथ एक मंच पर आने का अवसर प्रदान करती है।

अमेज़न वेब सर्विसेज के वैश्विक सार्वजनिक क्षेत्र, अंतर्राष्ट्रीय विपणन के वाइस प्रेसिडेंट मैक्स पीटरसन ने कहा कि हम देख रहे हैं कि दुनिया भर के सार्वजनिक क्षेत्र के संस्थान जनता को दी जाने वाली सेवाओं को निरंतर बेहतर करने और नवाचार को बढ़ावा देने के लिए क्लाउड सर्विसेज का इस्तेमाल कर रही हैं। उन्होंने कहा कि हमारा क्लाउड इन्नोवेशन सेंटर कार्यक्रम सार्वजनिक क्षेत्र में नवाचार को बढ़ावा देने के उद्देश्य से डिजाइन किया गया है, जिसमें तकनीकी विशेषज्ञ एक साथ आते हैं। उन्होंने कहा कि नीति आयोग के साथ साझेदारी को लेकर हम उत्साहित हैं और भारत में सार्वजनिक क्षेत्र के लिए नीति आयोग के मिशन में मदद करने को तत्पर हैं।

हम एडब्ल्यूएस के साथ साझेदारी के प्रयास को लेकर खुश हैं। नीति आयोग फ्रंटियर टेक्नोलॉजीज सीआईसी, नवाचार और नव उद्यमों को बढ़ावा देने में मददगार होगा साथ ही क्लाउड आधारित एआई, आईओटी, रोबोटिक, ब्लॉकचेन इत्यादि उभरती प्रौद्योगिकियों के माध्यम से डिजिटल नवाचार को गति मिलेगी। अटल इन्नोवेशन मिशन के मिशन डायरेक्टर आर रमण ने भी कहा कि यह प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत के विचार और नीति आयोग तथा अटल इन्नोवेशन मिशन के भी अनुकूल है।

नीति आयोग में वरिष्ठ सलाहकार अन्ना राय ने कहा कि नीति आयोग फ्रंटियर टेक्नोलॉजीज का क्लाउड इन्नोवेशन सेंटर समस्याओं के निराकरण के लिए नए तरीके और नई परंपराएं निर्मित करने में सरकारी विभागों, स्टार्टअप और स्थानीय संगठनों को सक्षम बनाएगा। उन्होंने कहा कि एडब्ल्यूएस के सीआईसी कार्यक्रम के चलते अब हमारे पास उन्नत प्रौद्योगिकी की मदद से प्रयोग करने के अवसर होंगे और विश्वस्तरीय विशेषज्ञता तक हमारी पहुंच होगी, जो नागरिकों को बेहतर सेवाएं उपलब्ध कराने और देश की विशिष्ट आवश्यकताओं को पूरा करने में आवश्यक प्रौद्योगिकी के बारे में समझ विकसित करने में मददगार होगी।

नीति आयोग फ्रंटियर टेक्नोलॉजीज सीआईसी नागरिकों को बेहतर सेवाएं उपलब्ध कराने की दिशा में लगातार नवाचार हेतु उपलब्ध उन्नत तकनीकी की पहचान करने और उसे उपलब्ध कराने का काम करता है। यह केंद्र परियोजनाओं की प्राथमिकताओं की पहचान करेगा और साथ ही साथ जटिल मुद्दों के समाधान के लिए राज्य एवं जिला स्तर पर विषय के स्थानीय विशेषज्ञों से साझेदारी करेगा। स्थानीय कंपनियों, स्टार्टअप्स, शोधकर्ताओं और भारतीय विश्वविद्यालयों के पास एडब्ल्यूएस क्लाउड पर प्रायोगिक तौर पर तकनीकी का विकास करने के अवसर होंगे।

एआईएसपीएल सार्वजनिक क्षेत्र, एडब्ल्यूएस भारत और दक्षिण एशिया के क्षेत्रीय प्रमुख राहुल शर्मा ने कहा कि दुनिया को और बेहतर बनाने के लिए एडब्ल्यूएस क्लाउड की मदद से सार्वजनिक क्षेत्र के संस्थानों को अपने मिशन और योजनाओं को तेजी से लागू करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि हम भारत में सामाजिक और आर्थिक परिवर्तन का लक्ष्य हासिल करने के लिए प्रतिबद्ध हैं और देश में डिजिटल इन्नोवेशन को बढ़ावा देने की दिशा में अपने वैश्विक अनुभव साझा करने के लिए तत्पर हैं।

नीति आयोग फ्रंटियर टेक्नोलॉजीज सीआईसी ने एडब्ल्यूएस के वैश्विक नेटवर्क से साझेदारी की है जिसका विस्तार ऑस्ट्रेलिया, बहरीन, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, दक्षिण कोरिया और अमेरिका के सार्वजनिक क्षेत्र के क्लाउड इनोवेशन केंद्रों तक है। अमेजॉन वेब सर्विसेज क्लाउड इनोवेशन सेंटर प्रोग्राम के बारे में और अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें : https://aws.amazon.com/government-education/cloud-innovation-centers/ अमेजॉन इंटरनेट सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड को भारत में एडब्ल्यूएस क्लाउड सर्विसेज की पुनः बिक्री और विपणन के दायित्व दिए गए हैं।

***

एमजी/एएम/डीटी/डीसी



(Release ID: 1666042) Visitor Counter : 93