PIB Headquarters

कोविड-19 पर पीआईबी का दैनिक बुलेटिन

Posted On: 27 AUG 2020 6:19PM by PIB Delhi

Description: Coat of arms of India PNG images free downloadDescription: http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image001CJ48.jpg

 

  • बीते 24 घंटों में 9 लाख से ज्यादा टेस्ट के साथ ही भारत में करीब 3.9 करोड़ टेस्ट हो चुके हैं।
  • ठीक होने वाले लोगों की कुल संख्या 2.5 मिलियन के आंकड़े को पार कर गई है; सक्रिय और ठीक हो चुके मामलों के बीच अंतर करीब 18 लाख का हो गया है।
  • कोविड-19 मरीजों के ठीक होने की दर आज 76.24 प्रतिशत हो गई।
  • मृत्यु दर घटकर 1.83 प्रतिशत हुई।
  • 7,25,991 सक्रिय मामले हैं, जो कुल पॉजिटिव केस का केवल 21.93 प्रतिशत हैं।
  • कैबिनेट सचिव ने कोविड से ज्यादा मौतों वालों 10 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के हालात की समीक्षा की।
  • भारत ने खासतौर पर मुश्किल वक्त में दुनिया के लिए एक भरोसेमंद सहयोगी के रूप में खुद को प्रदर्शित किया है: श्री पीयूष गोयल

 

(बीते 24 घंटे में कोविड-19 से संबंधित जारी प्रेस रिलीज, पीआईबी फील्ड कार्यालयों से मिली जानकारियां और पीआईबी द्वारा की गई तथ्यों की पड़ताल शामिल)

 

Description: http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image0054ROA.jpg

Description: http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image0064SGX.jpg

 

बीते 24 घंटों में भारत में 9 लाख से अधिक लोगों की कोविड जांच की गई, भारत में अब तक लगभग 3.9 करोड़ लोगों की कोविड जांच की गई; कोविड से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या 25 लाख से अधिक होने के साथ भारत ने एक और शिखर को छुआ

'परीक्षण, पहचान और उपचार' की नीति पर ध्यान केंद्रित करते हुए भारत में अब तक करीब 3.9 करोड़ लोगों की कोविड जांच हो चुकी है। पिछले 24 घंटे में 9,24,998 परीक्षण किए गए। इसके साथ ही अब तक कुल 3,85,76,510 परीक्षण हो चुके हैं। कोविड रोगियों के स्वस्थ होने और अस्पताल से छुट्टी मिलने तथा हल्के तथा मध्यम लक्षण वाले रोगियों के घर से एकांतवास में स्वस्थ होने के कारण देशभर में कोविड से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या 25 लाख से अधिक हो गई है। 25,23,771 रोगियों के स्वस्थ होने के पीछे केंद्र सरकार द्वारा बनाई गई नीति का प्रभावी क्रियान्वयन और राज्यों द्वारा इसका अनुपालन करना है। बीते 24 घंटे में 56,013 लोग कोविड से ठीक हुए हैं। भारत में कोविड से स्वस्थ होने की दर अब 76.24 प्रतिशत है। देश में सक्रिय 7,25,991 मामले के मुकाबले लगभग 18 लाख (17,97,780 लोग अभी स्वास्थ्य निगरानी में हैं) लोग स्वस्थ हो चुके हैं। कोविड से लोगों के लगातार बड़ी संख्या में स्वस्थ होने से अब कुल पॉजिटिव मामलों में से सक्रिय मामले 21.93 प्रतिशत रह गए हैं। राष्ट्रीय कोविड मृत्यु दर गिरकर 1.83 प्रतिशत रह गई है। कोविड से स्वस्थ होने के राष्ट्रीय औसत के अनुपात में 10 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों का प्रदर्शन बेहतर है। देश भर में कोविड की जांच करने वाली प्रयोगशालाओं की संख्या बढ़कर अब 1550 हो गई हैं। इनमें से 993 सरकारी और 557 निजी प्रयोगशालाएं हैं।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1648947

 

कैबिनेट सचिव ने कोविड की वजह से 10 उच्च मृत्यु दर वाले राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों की समीक्षा की; राज्यों से कोविड प्रसार को सीमित करने और मृत्यु दर को 1 प्रतिशत से कम पर लाने का आग्रह

कैबिनेट सचिव ने आज 9 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश के मुख्य सचिवों और स्वास्थ्य सचिवों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की। इस वीडियो कॉन्फ्रेंस में महाराष्ट्र, तमिलनाडु, कर्नाटक, तेलंगाना, गुजरात, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, पंजाब, आंध्र प्रदेश और जम्मू एवं कश्मीर राज्य के मुख्य सचिव और स्वास्थ्य सचिव शामिल हुए। इन राज्यों/केंद्र शासित प्रदेश में कोविड प्रबंधन और प्रतिक्रिया कार्यनीति की समीक्षा और चर्चा करने के लिए यह बैठक बुलाई गई थी। इन 10 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेश को सलाह दी गई है कि वे अपने सभी जिलों में प्रभावी कंटेनमेंट, पहचान और निगरानी के जरिए मृत्यु दर को 1 प्रतिशत से कम रखने की दिशा में कदम उठाएं।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleseDetail.aspx?PRID=1648979

 

भारत ने खुद को विश्व के लिए विश्वसनीय भागीदार के रूप में प्रदर्शित किया, विशेष रूप से दबाव के समय में: श्री पीयूष गोयल

वाणिज्य और उद्योग मंत्री श्री पीयूष गोयल ने कहा कि सहयोग, मिलकर काम करना और प्रतिबद्धता, भारत और आसियान देशों के बीच रणनीतिक साझेदारी का मार्गदर्शन करेंगे। आसियान-भारत व्यापार परिषद की वर्चुअल बैठक को संबोधित करते हुए, श्री गोयल ने कहा कि कोविड-19 महामारी के दौर ने भारत को एक अनोखा अवसर प्रदान किया और उसने खुद को दुनिया के सामने एक विश्वसनीय भागीदार के रूप में प्रदर्शित किया। उन्होंने कहा कि महामारी के शुरुआती दिनों में, कोविड-19 से लड़ने के लिए भारत अपनी जरूरतों के लिए दुनिया के सामने गया, लेकिन बहुत अधिक खिंचाव देखने को नहीं मिला, क्योंकि हर कोई अपनी आवश्यकताओं के अनुसार चल रहा था। लेकिन, दूसरी ओर, भारत ने दवाइयां प्रदान करने की क्षमता के साथ, दुनिया के लिए फार्मेसी के रूप में कार्य किया। हमने दुनिया के 150 से अधिक देशों में, विशेष रूप से कम विकसित राष्ट्रों के लिए, दुनिया के हर हिस्से में दवाओं की आपूर्ति की। शुरू में प्रतिबंध लगाए गए थे लेकिन यह सुनिश्चित करने के नेक इरादे के साथ था कि गरीब राष्ट्र दवाओं से वंचित न रहें। इस सब से पता चलता है कि भारत एक सशक्त देश है, एक विश्वसनीय साथी और सचमुच में एक मित्र है।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1648998

 

रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने एनसीसी प्रशिक्षण के लिए मोबाइल ऐप लॉन्‍च किया

रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने आज यहां डायरेक्टोरेट जनरल नेशनल कैडेट कॉर्प्‍स (डीजीएनसीसी) मोबाइल प्रशिक्षण ऐप लॉन्‍च किया। यह ऐप एनसीसी कैडेटों के देशव्यापी ऑनलाइन प्रशिक्षण के संचालन में सहायता करेगा। एनसीसी कैडेटों को अपने संबोधन में रक्षा मंत्री ने कहा कि यह ऐप उनके लिए डिजिटल तरीके से सीखने तथा प्रत्यक्ष रूप से संवाद पर प्रतिबंध के कारण कोविड-19 द्वारा पेश की गई चुनौतियों का सामना करने में उपयोगी होगा। उन्होंने कहा कि अगर कोई दृढ़ संकल्प और आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़ता है तो वह सभी प्रकार की बाधाओं को पार करने और जीवन में सफलता प्राप्त करने में सक्षम हो जाएगा। श्री राजनाथ सिंह ने एक लाख से अधिक एनसीसी कैडेटों के योगदान की सराहना की जिन्होंने महामारी के खिलाफ लड़ाई में विभिन्न दायित्वों के निर्वहन के द्वारा अग्रिम पंक्ति के कोरोना योद्धाओं की सहायता की। डीजीएनसीसी मोबाइल प्रशिक्षण ऐप का उद्देश्य एनसीसी कैडेटों को एक प्लेटफार्म पर समस्त प्रशिक्षण सामग्री (सिलेबस, संक्षेपिका, प्रशिक्षण वीडियो एवं अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न) उपलब्ध कराना है। इस ऐप को एक सवाल-जवाब का विकल्प शामिल करने के द्वारा परस्पर संवादमूलक बनाया गया है। इस विकल्प का उपयोग करने के द्वारा कोई भी कैडेट प्रशिक्षण सिलेबस के बारे में प्रश्न पूछ सकता है और उसका उत्तर योग्य इंस्ट्रक्टरों के एक पैनल द्वारा दिया जाएगा।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1648925

 

सशस्त्र बल न्यायाधिकरण की मुख्य न्यायपीठ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से क्षेत्रीय न्यायपीठों से संबंधित मामलों के सुनवाई की शुरुआत की

सशस्त्र बल न्यायाधिकरण (एएफटी) के अध्यक्ष, न्यायमूर्ति राजेंद्र मेनन ने कल सशस्त्र बल न्यायाधिकरण की सभी दस क्षेत्रीय न्यायपीठों के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुनवाई का उद्घाटन किया। सशस्त्र बल न्यायाधिकरण का मुख्य न्यायपीठ ही एकमात्र ऐसा न्यायालय है जहां पर 8 जून, 2020 से सामान्य रूप से सुनवाई की जा रही है। मुख्य न्यायपीठ में सामान्य रूप से सुनवाई, सशस्त्र बलों के लिए दूरदराज वाले इलाकों में रहने और सुरक्षा संबंधी विभिन्न मुद्दों का पालन करने वालों को ध्यान में रखते हुए और सशस्त्र बलों के कर्मियों, सेवानिवृत्त और सेवारत लोगों की परेशानियों और सीमाओं को ध्यान में रखते हुए की जा रही है। वीडियो कॉफ्रेंसिंग के माध्यम से सुनवाई की इस प्रक्रिया के साथ ही सशस्त्र बलों के उन कर्मियों को बहुत ज्यादा राहत मिली है, जिनके आवेदन विभिन्न क्षेत्रीय न्यायपीठों में न्याय का इंतजार कर रहे हैं। न्यायिक सदस्य न्यायमूर्ति मोहम्मद ताहिर और प्रशासनिक सदस्य वाइस एडमिरल पी मुरुगेसन (सेवानिवृत्त) और लेफ्टिनेंट जनरल सीए कृष्णन (सेवानिवृत्त) वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से क्षेत्रीय पीठों के आवेदनों पर सुनवाई करेंगे।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1648819

उपराष्ट्रपति ने युवाओं में उद्यमशीलता प्रतिभा को प्रोत्साहन दिए जाने का आह्वान किया

उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू ने आने वाले समय में भारत को ‘आत्मनिर्भर’ बनाने के लिए राष्ट्र के युवाओं में उद्यमशीलता को प्रोत्साहन देने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि हमें देश के हर नागरिक की उद्यमशीलता प्रतिभा और तकनीक कौशल को बाहर निकालना चाहिए तथा आत्मनिर्भर बनने और व्यापक स्तर पर मानवता की सेवा के लिए स्थानीय संसाधनों का उपयोग करना चाहिए। वह सामाजिक उत्थान और भूदान आंदोलन के लिए गांधी जी के दर्शन के प्रसार में आचार्य विनोबा भावे के योगदान पर आयोजित वेबिनार को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने एक सशक्त भारत, स्वाभिमानी भारत और आत्मनिर्भर भारत बनाने का आह्वान किया। कोविड-19 संकट का उल्लेख करते हुए उपराष्ट्रपति ने कहा कि इस मुश्किल दौर में हमें एकजुट होकर न सिर्फ वायरस के प्रसार को रोकने, बल्कि लॉकडाउन से बुरी तरह प्रभावित लोगों को गांधीवादी तरीके से सहायता व सांत्वना देने के प्रयास करने चाहिए।

विस्तार से यहां पढ़ें- https://pib.gov.in/PressReleasePage.aspx?PRID=1649048

 

पीआईबी फील्ड कार्यालयों से मिली जानकारियां

  • चंडीगढ़- केंद्र शासित चंडीगढ़ के प्रशासक ने पीजीआईएमईआर के निदेशक को सलाह दी है कि यदि नेहरू अस्पताल एक्सटेंशन में हल्के और स्थिर केस हैं तो उन्हें अन्य स्थानों पर स्थानांतरित किया जा सकता है जिससे बेड केवल गंभीर रोगियों के लिए आरक्षित रहे। उन्होंने कोविड संक्रमण और अन्य मॉनसून संबंधी बीमारियों को फैलने से रोकने के लिए आयुक्त, एमसी को शहर के विभिन्न क्षेत्रों में नियमित रूप से सेनिटाइजेशन कराने के लिए निर्देशित किया।
  • पंजाब- कोविड महामारी और उसके कारण लागू किए गए लॉकडाउन से सरकार को हुए भारी राजस्व घाटे का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में पंजाब कैबिनेट ने भारत सरकार से इस मुश्किल वक्त में राज्य को मदद के लिए उचित मुआवजा देने की मांग की है।
  • केरल- राज्य सरकार ने ओणम त्योहार को लेकर सार्वजनिक स्थानों पर भीड़भाड़ रोकने के लिए विशेष दिशानिर्देश जारी किए हैं। ओणम से संबंधित कार्यक्रमों में सार्वजनिक स्थलों पर लोगों के जमा होने और उत्सव मनाने पर सख्त प्रतिबंध लगाया गया है। ओणम के दौरान आमतौर पर लगने वाली प्रदर्शनी और शॉपिंग फेस्टिवल को भी रोक दिया गया है। आदेश में लोगों से साफतौर पर कहा गया है कि सार्वजनिक स्थानों पर फूलों की सजावट करने से बचें और राज्य के बाहर से फूल न खरीदें। इस बीच, चार और लोगों की मौत के बाद राज्य में मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 301 हो गया है। केरल में कल कोविड-19 के एक दिन में रेकॉर्ड 2,476 मामले सामने आए। इस समय राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 22,344 है और 1,89,781 लोगों को राज्य में निगरानी में रखा गया है।
  • तमिलनाडु- पुदुचेरी में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 511 नए केस आए और 10 लोगों की मौत हो गई। इसके साथ ही गुरुवार को कुल मामले बढ़कर 12,434 हो गए जिसमें से 4,483 सक्रिय केस हैं और कुल 190 लोगों की मौत हो चुकी है। 2,356 कोविड-19 पॉजिटिव लोग होम आइसोलेशन में हैं जबकि 2,127 लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया है। मदुरै में स्वास्थ्य अधिकारी इस बात को लेकर चिंतित है कि ई-पास के नियमों में ढील देने से जिले में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि हो सकती है। स्वचालित अनुमोदन प्रणाली के जरिए एक दिन में औसतन 9,000 आवेदन स्वीकृत किए जा रहे हैं। राज्य सरकार के रुख को स्पष्ट करते हुए स्कूल शिक्षा मंत्री केए सेंगोट्टइयान ने बुधवार को कहा कि वे तमिलनाडु के छात्रों को एनईईटी से छूट देने को कई उपाय कर रहे हैं।
  • कर्नाटक- चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने कहा है कि कर्नाटक ने कोरोना वायरस से लड़ने के साथ-साथ ज्यादा आर्थिक गतिविधियों को खोल दिया है और महामारी के बीच बेंगलुरु भारत का सबसे ज्यादा खुला शहर है। निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम एसोसिएशन ने कहा है कि उसके सदस्य अपने कर्मचारियों को वेतन देने में असमर्थ हैं क्योंकि राज्य सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों से संबंधित कोविड-19 रोगियों के बिलों की प्रतिपूर्ति नहीं की है। हाई कोर्ट ने राज्य सरकार से गैर-स्वास्थ्य मोर्चे पर काम करने वालों को राहत नहीं देने का कारण बताने को कहा है। कर्नाटक में अब तक राज्य की 108 प्रयोगशालाओं में 25,80,621 परीक्षण किए गए हैं। कल 8,580 केस आए और 7,249 लोग ठीक हो गए थे जिसमें 3,284 केस बेंगलुरु से थे। राज्य में रिकवरी रेट 70.47 प्रतिशत हो गई है।
  • आंध्र प्रदेश- राज्य सरकार ने कोविड-19 टेस्ट की कीमतों में कटौती का महत्वपूर्ण फैसला लिया है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से इस संबंध में आदेश जारी हो गए हैं। सरकारी अस्पतालों से टेस्टिंग लैब को भेजे गए नमूनों के लिए अब तक 2400 रुपये लिए जाते थे जो अब 1600 रुपये हो गए हैं, जबकि प्राइवेट अस्पतालों से भेजे गए नमूनों की जांच पर 2900 रुपये की जगह 1900 ही लिए जा सकेंगे। सरकार ने बताया है कि बड़े पैमाने पर उत्पादन के कारण टेस्ट किट्स की कीमतें पहले की तुलना में घटी हैं। सरकार के ताजा बुलेटिन के अनुसार कोरोना पॉजिटिव होने की दर राज्य में 11.19 प्रतिशत है जबकि राष्ट्रीय औसत 8.59 प्रतिशत है।
  • तेलंगाना- पिछले 24 घंटों में 2795 नए मामले आए, 872 लोग ठीक हुए और 8 लोगों की मौत हुई। 2795 नए केस में से 449 मरीज जीएमएमसी से बढ़े हैं। कुल मामले- 1,14,483 और सक्रिय मामले- 27,600 और मौतें 788 हो चुकी हैं जबकि 86,095 लोग ठीक हो चुके हैं। तेलंगाना में अकेले अगस्त महीने में ही लगभग 50 हजार कोविड-19 केस होने का अनुमान है। केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने कृषि के क्षेत्र में राज्य की कई पहलों की सराहना की है, विशेष तौर पर 'रिठु बंधु' योजना और किसान समन्वय समितियों की।
  • अरुणाचल प्रदेश- राज्य में बुधवार को 143 और लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। अब सक्रिय मामले 987 और रिकवरी रेट 72 प्रतिशत है।
  • असम- राज्य में बुधवार को 2179 और लोगों का कोविड-19 टेस्ट पॉजिटिव आया है जबकि 2148 लोग ठीक हो गए। इस तरह कुल मामले बढ़कर 96771 हो गए, सक्रिय मामले 19532, कुल 76962 लोग ठीक हुए और 274 मौतें हुईं।
  • मणिपुर- राज्य में 141 और लोग कोविड-19 पॉजिटिव आए हैं और 17 लोग ठीक हो गए हैं। सक्रिय मामले 1731 हैं और रिकवरी रेट 68 प्रतिशत है।
  • मिजोरम- 500 से ज्यादा ग्राम सभाओं और 70 से ज्यादा स्थानीय परिषदों के आज राज्य में चुनाव कराए गए। कोविड-19 टैली बढ़कर 974 पहुंच गई है। कुल सक्रिय मामले 499 हैं।
  • नगालैंड- राज्य में नए कोविड-19 पॉजिटिव केस मिलने के बाद कोहिमा में सात और इलाकों को सील कर दिया गया है। एसबीआई ने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग और नगालैंड पुलिस विभाग को बुधवार को 3 वेंटिलेटर दान किए। इससे पहले एसबीआई ने राज्य सरकार को 500 पीपीई किट दान किया था।
  • सिक्किम- राज्य में 56 और लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। 388 सक्रिय केस हैं और 1151 लोग अस्पताल से अपने घर जा चुके हैं।
  • महाराष्ट्र- राज्य में बुधवार को रिकॉर्ड 14,888 नए कोरोना केस सामने आए जिससे कुल मामले बढ़कर 7.18 लाख पहुंच गए। राज्य में सक्रिय केस की संख्या बढ़कर 1.72 लाख हो गई है। राज्य की राजधानी मुंबई में कई दिनों के अंतराल पर 1854 केस आए हैं। इस बीच, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि मुंबई में सफलतापूर्वक लागू की गई 'चेज द वायरस' रणनीति को दूसरे हिस्सों में भी लागू करेगी। इस रणनीति के तहत मरीजों के डॉक्टरों के पास पहुंचने का इंतजार किए बगैर स्वास्थ्य टीम खुद लोगों तक पहुंचती है।
  • गुजरात- पिछले 24 घंटे में राज्य में 1197 नए कोविड-19 केस आए जिससे कुल मामले 90 हजार के आंकड़े को पार कर गए। सबसे ज्यादा 168 नए मामले सूरत से आए हैं। अहमदाबाद सिटी में 144 केस, वडोदरा सिटी में 90 केस दर्ज किए गए हैं। गुजरात में रिकवरी रेट 80.22 प्रतिशत है जबकि सक्रिय मामलों की संख्या 14,884 है।
  • राजस्थान- राज्य में पूजास्थल 7 सितंबर से आम जनता के लिए दोबारा खुल जाएंगे। कल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई समीक्षा बैठक में इसको लेकर फैसला किया गया। सामाजिक दूरी के नियमों का पालन किया जाएगा और समय-समय पर धार्मिक स्थलों को सैनिटाइज करना होगा। राज्य में सक्रिय कोविड केस 14646 हैं।
  • छत्तीसगढ़- राज्य सरकार ने आज अंतर-राज्य सरकारी परिवहन और संपूर्ण भारत पर्यटक परमिट के तहत आने वाले वाहनों को फिर से बहाल कर दिया। परिवहन विभाग ने विस्तृत दिशानिर्देश जारी किए हैं जिसमें कहा गया है कि बसें सिर्फ निर्धारित जगहों पर ही रुकेंगी। यात्रा के लिए ई-पास जरूरी नहीं है लेकिन हर यात्री के बारे में जानकारी रखने की जरूरत है जिससे आवश्यकता पड़ने पर कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के लिए जिला प्रशासन के सामने इसे रखा जा सके।
  • गोवा- बुधवार शाम को गोवा में कोविड के कुल मामले 15 हजार के आंकड़े को पार कर गए। इस तरह से गोवा भारत का पहला राज्य बन गया जहां की कुल आबादी के 1 प्रतिशत लोगों में संक्रमण फैल चुका है। गोवा में जून से अगस्त के बीच में 15,027 केस सामने आए। इससे पहले अप्रैल और मई के महीने में गोवा कोरोना फ्री था।

 

Description: http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image007WR2R.jpg

***

एमजी/एएम/एएस/एसएस



(Release ID: 1649140) Visitor Counter : 16