कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्रालय

इस वर्ष खरीफ फसलों का बुवाई क्षेत्र पिछले वर्ष की तुलना में 21.2 प्रतिशत अधिक है

17.07.2020 तक खरीफ फसलों की बुवाई 691.86 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में की गई है, जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि में बुवाई का रकबा 570.86 लाख हेक्टेयर क्षेत्र था

Posted On: 17 JUL 2020 4:03PM by PIB Delhi

देश में 16.07.2020 तक 308.4 मिमी की सामान्य बारिश के मुकाबले 338.3 मिमी बारिश हुई (यानी) 01.06.2020 से 16.07.2020 तक की अवधि के दौरान (+) 10 प्रतिशत अधिक बारिश हुई। सीडब्ल्यूसी की रिपोर्ट के अनुसार 16.07.2020 तक, देश में 123 जलाशयों में उपलब्ध पानी का ताजा भंडारण पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान उपलब्ध पानी का 150 प्रतिशत और पिछले दस वर्षों के औसत संग्रहण का 133 प्रतिशत है।

17.07.2020 तक, पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान 570.86 लाख हेक्टेयर क्षेत्रफल के मुकाबले इस बार कुल खरीफ फसलों को 691.86 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बोया गया। इस प्रकार पिछले वर्ष की तुलना में इस साल बुवाई क्षेत्र में 21.20 प्रतिशत की बढ़ोतरी है।

खरीफ फसलों के अंतर्गत बुवाई क्षेत्र निम्नानुसार है:

  • किसानों ने पिछले वर्ष के 142.06 लाख हेक्टेयर क्षेत्र के मुकाबले इस साल 168.47 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में धान की बुवाई की है, यानी रकबे में 18.59 प्रतिशत की वृद्धि।
  • किसानों ने पिछले साल के 61.70 लाख हेक्टेयर क्षेत्र के मुकाबले इस साल 81.66 लाख हेक्टेयर में दलहन की खेती की है यानी रकबे में 32.35 प्रतिशत की वृद्धि।
  • किसानों ने पिछले वर्ष के 103.00 लाख हेक्टेयर क्षेत्र के मुकाबले इस साल 115.60 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में मोटे अनाज की बुवाई की है यानी रकबे में 12.23 प्रतिशत की वृद्धि।
  • किसानों ने पिछले साल के 110.09 लाख हेक्टेयर क्षेत्र के मुकाबले इस साल 154.95 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में तिलहन की खेती की है यानी रकबे में 40.75 प्रतिशत की वृद्धि।
  • किसानों ने पिछले साल 50.82 लाख हेक्टेयर क्षेत्र के मुकाबले इस साल 51.29 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में गन्ने की खेती की है यानी रकबे में 0.92 प्रतिशत की वृद्धि।
  • किसानों ने पिछले साल 96.35 लाख हेक्टेयर क्षेत्र के मुकाबले इस साल 113.01 लाख हेक्टेयर क्षेत्र पर कपास की खेती की है यानी रकबे में 17.28 प्रतिशत की वृद्धि और,
  • किसानों ने पिछले साल 6.84 लाख हेक्टेयर क्षेत्र के मुकाबले इस साल 6.88 लाख हेक्टेयर क्षेत्र पर जूट और मेस्टा की खेती की है यानी रकबे में 0.70 प्रतिशत की वृद्धि।

इससे जाहिर है कि आज की तारीख तक खरीफ फसलों की बुवाई के रकबे पर कोविड -19 का कोई प्रभाव नहीं पड़ा है।

विवरण के लिए लिंक पर क्लिक करें

 

****

एसजी/एएम/एके/डीसी



(Release ID: 1639354) Visitor Counter : 212