रक्षा मंत्रालय

रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह और जर्मनी के रक्षा मंत्री ने द्विपक्षीय रक्षा सहयोग, विशेष रूप से औद्योगिक साझेदारी बढ़ाने के बारे में बातचीत की


श्री राजनाथ सिंह ने उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु रक्षा गलियारों में जर्मनी निवेश को आमंत्रित किया

भारत के कुशल कार्यबल और प्रतियोगी लागत के साथ जर्मनी की उच्च प्रौद्योगिकियों और निवेश हमारे संबंधों को और अधिक मजबूत बना सकते हैं

Posted On: 06 JUN 2023 2:24PM by PIB Delhi

रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने 06 जून, 2023 को नई दिल्ली में जर्मनी के रक्षा मंत्री श्री बोरिस पिस्टोरियस के साथ द्विपक्षीय बैठक की। दोनों मंत्रियों ने मौजूदा द्विपक्षीय रक्षा सहयोग गतिविधियों की समीक्षा की और विशेष रूप से रक्षा औद्योगिक साझेदारी में सहयोग को बढ़ाने के तरीकों का पता लगाया।

रक्षा मंत्री ने उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु में दो रक्षा औद्योगिक गलियारों में जर्मनी निवेश की संभावनाओं सहित रक्षा उत्पादन क्षेत्र में व्याप्त अवसरों पर प्रकाश डाला। भारतीय रक्षा उद्योग जर्मन रक्षा उद्योग की आपूर्ति श्रृंखलाओं में भाग ले सकता है और आपूर्ति श्रृंखला के लचीलेपन में योगदान देने के अलावा इको-सिस्टम में भी मूल्य संवर्धन कर सकता है।

श्री राजनाथ सिंह ने इस बात पर जोर दिया कि भारत और जर्मनी साझा लक्ष्यों और शक्ति की पूरकता के बारे में अधिक परस्पर लाभकारी संबंध स्थापित कर सकते हैं, जिनमें भारत से कुशल कार्यबल और प्रतियोगी लागत तथा जर्मनी से उच्च प्रौद्योगिकियां और निवेश शामिल हैं।

भारत और जर्मनी के बीच वर्ष 2000 से रणनीतिक साझेदारी चल रही है, जिसे 2011 से शासनाध्यक्षों के स्तर पर अंतर-सरकारी परामर्शों के माध्यम से मजबूत किया जा रहा है।

रक्षा सचिव श्री गिरिधर अरामाने और चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल अनिल चौहान सहित रक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने प्रतिनिधिमंडल स्तर की बैठक में भाग लिया। इस बैठक में जर्मनी की ओर से रक्षा मंत्रालय के विदेश सचिव श्री बेनेडिक्ट ज़िमर के अलावा वरिष्ठ अधिकारी और भारत में जर्मनी के राजदूत भी उपस्थित रहे।  वर्ष 2015 के बाद किसी जर्मन रक्षा मंत्री की यह पहली भारत यात्रा है।

द्विपक्षीय बैठक से पहले माननीय अतिथि को तीनों सेनाओं द्वारा गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

बाद में श्री बोरिस पिस्टोरियस, इनोवेशन फॉर डिफेंस एक्सीलेंस (आईडीईएक्स) द्वारा आईआईटी दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में कुछ भारतीय रक्षा स्टार्ट-अप के साथ बातचीत करेंगे। जर्मनी के रक्षा मंत्री 05 जून को अपनी चार दिवसीय यात्रा पर भारत आए हैं। वे 07 जून को मुंबई जाएंगे, जहां उनका मुख्यालय, पश्चिमी नौसेना कमान और मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड का दौरा करने का कार्यक्रम है।

***

एमजी/एमएस/आईपीएस/जीआरएस/डीके-



(Release ID: 1930237) Visitor Counter : 333