नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय

भारत सरकार के हरित ऊर्जा उद्देश्यों को प्राप्त करने तथा कार्बन तटस्थ अर्थव्यवस्था की दिशा में प्रयास के लिए एसईसीआई तथा एचपीसीएल ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए


समझौता ज्ञापन में नवीकरणीय ऊर्जा, इलेक्ट्रिक मोबिलिटी तथा वैकल्पिक ईंधनों के क्षेत्र में सहयोग का प्रावधान

Posted On: 28 FEB 2022 4:13PM by PIB Delhi

हरित ऊर्जा उद्देश्यों तथा कार्बन तटस्थ अर्थव्यवस्था की दिशा में भारत सरकार के प्रयासों को साकार करने के लिए 24 फरवरी, 2022 को नई दिल्ली में हिंदुस्तान पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड(एचपीसीएल) तथा सौर ऊर्जा निगम इंडिया लिमिटेड (एसईसीआई) ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। समझौता ज्ञापन पर एचपीसीएल के मुख्य महा प्रबंधक- जैव ईंधन तथा नवीकरणीय श्री शुवेंदु गुप्ता और एसईसीआई के कार्यकारी निदेशक श्री संजय शर्मा ने हस्ताक्षर किए। समझौता ज्ञापन में नवीकरणीय ऊर्जा, इलेक्ट्रिक मोबिलिटी तथा ईएसजी परियोजनाओं के विकास सहित वैकल्पिक ईंधनों के क्षेत्र में सहयोग का प्रावधान है।

 सौर ऊर्जा निगम लिमिटेड (एसीसीआई) नवीकरणीय क्षमता विकास में अग्रणी रहा है और देश में सबसे कम आरई शुल्क लाने का श्रेय उसे जाता है। एसीसीआई विभिन्न नवीकरणीय ऊर्जा संसाधनों विशेषकर सौर/पवन ऊर्जा, आरई आधारित स्टोरेज सिस्टम, अवशिष्ट से ऊर्जा, विद्युत व्यापार, अनुसंधान और विकास परियोजनाओं के साथ-साथ ग्रीन हाइड्रोजन, ग्रीन अमोनिया, आरई चालित ईवी के प्रोत्साहन और विकास में शामिल है। भारत सरकार के आरई क्षमता विकास तथा देश में त्वरित रूप से इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को अपनाने के उद्देश्य के अनुरूप एचपीसीएल नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में विविधता और ईएसजी परियोजनाओं के विकास का काम हाथ में लेगी।

***

एमजी/एएम/एजी/एचबी



(Release ID: 1801862) Visitor Counter : 459