भारी उद्योग मंत्रालय

बीएचईएल ने कोविड महामारी से लड़ने के लिए राष्ट्र के प्रयासों को सहायता दी, इसके संयंत्रों ने अब तक 5 लाख क्यूबिक मीटर से अधिक मेडिकल ऑक्सीजन प्रदान की है

अन्य इकाइयों में ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता बनाने के लिए प्रयास जारी

Posted On: 21 JUN 2021 2:53PM by PIB Delhi

कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर तेजी से राष्ट्र के लिए एक अभूतपूर्व संकट के रूप में विकसित हुईइस गंभीर राष्ट्रीय संकट के बीच बीएचईएल (भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड) देश और साथी नागरिकों के लिए युद्ध स्तर पर काम कर रही है। भोपाल और हरिद्वार में स्थित बीएचईएल के संयंत्रों ने अपने और नजदीकी इलाके में मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए सभी संभव संसाधनों के साथ स्थिति का सामना किया।

बीएचईएल हरिद्वार में आंतरिक पाइपलाइनों के माध्यम से कैप्टिव उपयोग के लिए प्रतिदिन 24,000 क्यूबिक मीटर ऑक्सीजन उत्पादित करने की क्षमता थी। मध्य अप्रैल के दौरान देश में मेडिकल ऑक्सीजन की भारी कमी को देखते हुए, संयंत्र ने एक सप्ताह के रिकॉर्ड समय में प्रतिदिन 3,000 से अधिक सिलेंडरों को भरने की क्षमता प्राप्त की। प्रत्येक दिन 3,000 से अधिक सिलेंडर को भरने के लिए संयंत्र ने संपूर्ण लॉजिस्टिक और मानव श्रमशक्ति को दिन-रात काम पर लगाया। इस संयंत्र ने अब तक दिल्ली-एनसीआर के साथ-साथ उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के अस्पतालों व जिला प्राधिकारियों, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों और सशस्त्र बलों की जरूरतों को पूरा करने के लिए चिकित्सा ऑक्सीजन के लगभग 67,000 सिलेंडरों (3,87,000 क्यूबिक मीटर से अधिक) को भरा है। इससे इस संकट में हजारों लोगों की जान बचाई गईं।

इस तरह से ही, बीएचईएल के भोपाल संयंत्र ने अब तक मध्य प्रदेश के विभिन्न निजी अस्पतालों के अतिरिक्त कई अन्य अस्पतालों में 1,74,000 क्यूबिक मीटर ऑक्सीजन (26,000 से अधिक सिलेंडर) की आपूर्ति की है। इन अस्पतालों में कस्तूरबा अस्पताल, एम्स, सैन्य अस्पताल, रेलवे अस्पताल और पुलिस अस्पताल शामिल हैं।

चिकित्सा उपयोग को लेकर ऑक्सीजन की आपातकालीन जरूरत को पूरा करने के लिए, बीएचईएल की हैदराबाद इकाई ने एक 40 साल पुराने ऑक्सीजन संयंत्र को भी शुरू किया है, जो पिछले 12 वर्षों से बंद था। इसके लिए आपातकालीन आधार पर मरम्मत और जीर्णोद्धार का काम किया गया और अथक प्रयासों से परियोजना को रिकॉर्ड समय में पूरा किया गया। यह संयंत्र प्रतिदिन लगभग 2,000 क्यूबिक तक मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति के जरिए अस्पतालों की सहायता करेगा।

इस कंपनी की अन्य इकाइयों में भी ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता बनाने के प्रयास जारी हैं। बीएचईएल, राष्ट्रीय जरूरतों को पूरा करने के लिए पूरे दिल से योगदान करने के अपने संकल्प पर अटल है।

बीएचईएल, भारत में अपनी तरह की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग और विनिर्माण कंपनियों में से एक है, जो अर्थव्यवस्था के प्रमुख क्षेत्रों की लगातार बढ़ती जरूरतों को पूरा करने के लिए 180 से अधिक उत्पादों और सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला के डिजाइन, इंजीनियरिंग, निर्माण, परीक्षण, स्थापना और सेवा में लगी हुई है।

***

एमजी/एएम/एचकेपी/डीवी



(Release ID: 1729120) Visitor Counter : 137