स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय

कोविड-19 टीकाकरण के अगले चरण के लिए को-विन2.0 पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन 1 मार्च 2021 को सुबह 9.00 बजे से www.cowin.gov.in पर शुरू होगा

आयुष्मान भारत पीएमजेएवाई के तहत सूचीबद्ध 10,000 से ज्यादा निजी अस्पताल, सीजीएचएस के तहत चलने वाले 600 से ज्यादा अस्पताल और राज्यों की योजनाओं के तहत सूचीबद्ध अन्य निजी अस्पताल कोविड टीकाकरण केंद्रों के रूप में काम कर सकते हैं

सभी सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं पर नि:शुल्क कोविड टीकाकरण

Posted On: 28 FEB 2021 6:54PM by PIB Delhi

आयु अनुकूल जनसंख्या समूहों के लिए दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान का अगला चरण 1 मार्च 2021 (कल) से शुरू होगा। रजिस्ट्रेशन 1 मार्च 2021 को (www.cowin.gov.in पर) सुबह 9:00 बजे से शुरू होगा। नागरिक को-विन2.0 पोर्टल या आरोग्य सेतु जैसे अन्य आईटी एप्लीकेशंस का उपयोग करके, किसी भी समय और कहीं भी, टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन और बुक कराने व अपॉइंटमेंट लेने में सक्षम होंगे।

यह जानकारी आयुष्मान भारत पीएमजेएवाई के तहत सूचीबद्ध 10,000 निजी अस्पतालों, सीजीएचएस के तहत संचालित 600 से अधिक अस्पतालों और राज्य सरकार की स्वास्थ्य बीमा योजनाओं के तहत सूचीबद्ध अन्य निजी अस्पतालों के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) की ओर से को-विन2.0 पर आयोजित उन्मुखीकरण कार्यशाला के दौरान साझा की गई। उन्हें को-विन2.0 डिजिटल प्लेटफॉर्म में जोड़ी गई नई विशेषताओं के बारे में बताया गया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकारण (एनएचए) की मदद निजी क्षेत्र के सूचीबद्ध कोविड टीकाकरण केंद्रों (सीवीसी) को भी टीकाकरण की प्रक्रिया के विभिन्न पहलुओं और टीकाकरण के बाद आने वाली किसी प्रतिकूल स्थितियों (एईएफआई) को देखभाल के बारे में प्रशिक्षित किया गया।

प्रतिभागियों को बताया गया कि ऐसे सभी नागरिक जो बुजुर्ग हैं, या जो 1 जनवरी 2022 को 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के हो जाएंगे, टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन कराने के लिए पात्र हैं। इसके अलावा ज्यादा आयु के ऐसे सभी नागरिक या 1 जनवरी 2022 को 45 से 59 वर्ष के हो जाएंगे और जो निर्दिष्ट 20 सह-रुग्णाताओं (अनुलग्नक के अनुसार) में से किसी से पीड़ित हैं, भी रजिस्ट्रेशन कराने के लिए पात्र हैं।

किसी भी समय प्रत्येक खुराक के लिए एक लाभार्थी के लिए केवल एक ही लाइव अपॉइंटमेंट होगा। किसी कोविड टीकाकरण केंद्र के लिए किसी भी तारीख के लिए अपॉइंटमेंट को जिस समय (स्लॉट) के लिए खोला गया होगा, उसे उसी दिन दोपहर 3:00 बजे बंद कर दिया जाएगा। उदाहरण के लिए, 1 मार्च के लिए स्लॉट 1 मार्च को सुबह 9:00 बजे से दोपहर 3:00 बजे तक खुला रहेगा, और इससे पहले कभी भी अपॉइंटमेंट कराया जा सकता है, जो उपलब्धता के आधार पर तय होगा। हालांकि, 1 मार्च को टीकाकरण स्लॉट उपलब्ध होने पर आगे किसी भी तारीख के लिए अपॉइंटमेंट लिया जा सकता है। पहली खुराक के लिए अपॉइंटमेंट की तारीख के 29वें दिन उसी कोविड टीकाकरण केंद्र पर दूसरी खुराक के लिए टीकाकरण का समय भी मिलेगा। यदि कोई लाभार्थी पहली खुराक की अपॉइंटमेंट रद्द करता है, तो उसकी दोनों खुराक की अपॉइंटमेंट रद्द हो जाएगी।

पात्र व्यक्ति चरणबद्ध प्रक्रिया के माध्यम से अपने मोबाइल नंबर के जरिए को-विन2.0 पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन करने में सक्षम होंगे। एक मोबाइल नंबर के साथ, एक व्यक्ति अधिकतम चार लाभार्थियों का रजिस्ट्रेशन कर सकता है। हालांकि, एक मोबाइल नंबर पर रजिस्टर्ड होने वाले सभी व्यक्तियों में मोबाइल नंबर के अलावा अन्य कुछ भी एक समान नहीं होना चाहिए। ऐसे सभी लाभार्थी का फोटो आईडी कार्ड नंबर निश्चित तौर पर अलग होना चाहिए। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए नागरिक निम्नलिखित में से किसी एक फोटो पहचान पत्र का इस्तेमाल कर सकते हैं -

1. आधार कार्ड/पत्र

2. मतदाता फोटो पहचान पत्र (ईपीआईसी)

3. पासपोर्ट

4. ड्राइविंग लाइसेंस

5. पैन कार्ड

6. एनपीआर स्मार्ट कार्ड

7. तस्वीर के साथ पेंशन दस्तावेज

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) की वेबसाइट पर नागरिकों के रजिस्ट्रेशन और टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट लेने की एक यूजर गाइड अपलोड की गई है:

https://www.mohfw.gov.in/pdf/UserManualCitizenRegistration&AppointmentforVaccination.pdf

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) की वेबसाइट पर ऐसे सभी निजी अस्पतालों की एक सूची अपलोड की गई है। इन तक यहां से पहुंचा जा सकता है:


ए) https://www.mohfw.gov.in/pdf/CGHSEmphospitals.xlsx

बी) https://www.mohfw.gov.in/pdf/PMJAYPRIVATEHOSPITALSCONSOLIDATED.xlsx

यह भी बताया गया कि केंद्र सरकार सभी टीकों को खरीदेगी और उनकी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नि:शुल्क आपूर्ति करेगी, जो उन्हें आगे सरकारी और निजी कोविड टीकाकरण केंद्रों (सीवीसी) तक पहुंचाएंगे। यह भी दोहराया गया कि सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं में लाभार्थियों को लगने वाले टीके पूरी तरह से नि:शुल्क होंगे, जबकि निजी स्वास्थ्य संस्थान किसी लाभार्थी से प्रति व्यक्ति प्रति खुराक 250 रुपये (टीके के लिए 150/-रुपये और टीका लगाने के शुल्क के तौर पर 100/- रुपये) से ज्यादा फीस नहीं ले सकते हैं। निजी अस्पताल उन्हें आवंटित होने वाली वैक्सीन की लागत राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) के नामित खाते में वापस जमा करते हैं। उसके लिए एनएचए की ओर से अपनी वेबसाइट पर पेमेंट गेटवे लगाया जा रहा है।

भारत सरकार ने राज्यों/संघ शासित प्रदेशों को स्वास्थ्य देखभाल कर्मियों (एचसीडब्ल्यू) और अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों (एफएसडब्ल्यू) के टीकाकरण के लिए दो कोविड-19 वैक्सीन, कोविशिल्ड और कोवाक्सिन की नि:शुल्क आपूर्ति की है, जो अगले प्राथमिकता समूह जैसे 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग और 45 से 59 वर्ष का वह आयु वर्ग, जो किसी बीमा से पीड़ित है, के लिए भी उपलब्ध होगी।

राज्यों से कोविड टीकाकरण केंद्रों (सीवीसी) को सुचारु रूप से वैक्सीन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए निकटतम कोल्ड चेन प्वाइंट के साथ कोविड-19 टीकाकरण केंद्रों (सीवीसी) (सरकारी और सूचीबद्ध निजी अस्पताल दोनों) के संपर्क को सक्रिय बनाने का अनुरोध किया गया है।

45 से 59 आयु वर्ग में टीकाकरण के लिए नागरिकों के पात्रता तय करने के लिए

निर्दिष्ट सह-रुग्णताओं की सूची

 

क्रम संख्या

मापदंड

1

बीते एक साल में हॉर्ट फेल होना, जिसमें अस्पताल में भर्ती रहना पड़ा हो

2

कार्डियक ट्रांसप्लांट/लेफ्ट वेंट्रिकुलर असिस्ट डिवाइस (एवीएडी) के बाद

3

सिग्नीफिकेंट लेफ्ट वेंट्रिकुलर सिस्टोलिक डिस्फंगक्शन (एलवीईएफ<40 प्रतिशत)

4

वॉल्व संबंधी मध्यम या गंभीर हृदय रोग

5

गंभीर पीएएच या आइडियोपैथिक पीएएच के साथ जन्मजात हृदय रोग

6

पूर्व में सीएबीजी/पीटीसीए/एमआई के साथ कोरोनरी अर्टिलरी की बीमारी और उच्च रक्तचाप/मधुमेह, जिसका इलाज चल रहा हो

7

ऐन्जाइना और उच्च रक्तचाप/मधुमेह, जिसका इलाज चल रहा हो

8

सीटी/एमआरआई में दर्ज स्ट्रोक और उच्च रक्तचाप/मधुमेह, जिसका इलाज चल रहा हो

9

पल्मोनरी अर्टिलरी हाइपरटेंशन और उच्च रक्तचाप, जिसका इलाज चल रहा हो

10

मधुमेह (> 10 वर्ष या जटिलताओं के साथ) और उच्च रक्तचाप, जिसका इलाज चल रहा हो

11

किडनी/लीवर/ हेमेटोपोएटिक स्टेम सेल ट्रांसप्लांट: प्राप्तकर्ता/ प्रतीक्षा सूची वाले

12

हेमोडायलिसिस/सीएपीडी पर निर्भर अंतिम चरण के किडनी रोग

13

लंबे समय से ओरल कॉर्टिकोस्टेरॉइड्स / इम्यूनोसप्रेसेन्ट दवाओं का सेवन जारी होना

14

डिकंपेंसेटेड सिरोसिस

15

बीते दो वर्षों में अस्पताल में भर्ती होने के साथ गंभीर श्वसन रोग/एफईवी 1<50 प्रतिशत

16

लिम्फोमा/ल्यूकेमिया/मायलोमा

17

जुलाई 2020 को या उसके बाद पता चले सॉलिड कैंसर या वर्तमान में कैंसर का कोई भी इलाज चल रहा हो

18

सिकल सेल डिजीज/बोनमैरो फेल्योर/ अप्लास्टिक एनीमिया /थैलेसीमिया मेजर

19

प्राइमरी इम्यूनोडिफीशियेंसी डिजीज/ एचआईवी संक्रमण

20

बौद्धिक अक्षमता के कारण दिव्यांग व्यक्ति/ मस्कुलर डिस्ट्रॉफी/श्वसन प्रणाली के साथ एसिड अटैक वाले व्यक्ति/अत्यधिक सहायता की जरूरत वाले दिव्यांग व्यक्ति/सुनने और देखने में समस्या के साथ एक से अधिक दिव्यांगता वाले व्यक्ति

 

****

एमजी/एएम/आरकेएस/डीसी



(Release ID: 1701606) Visitor Counter : 416