वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्रालय

कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीईडीए) ने जर्मनी के साथ आभासी माध्यम से क्रेता–विक्रेता बैठक आयोजित की

Posted On: 26 NOV 2020 4:12PM by PIB Delhi

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के तहत कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीईडीए) निर्यात प्रोत्साहन की विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से अपने निर्धारित कृषि और प्रसंस्कृत उत्पादों के निर्यात की सुविधा प्रदान करता है।

कोविड -19 महामारी की अवधि के दौरान, एपीईडीए ने आभासी माध्यम से कृषि उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए अपना प्रयास जारी रखा। इस क्रम में, विदेशों में भारतीय दूतावास के साथ मिलकर आयातक देशों के साथ आभासी माध्यम से कई क्रेताविक्रेता बैठकें आयोजित की गईं।

इस श्रृंखला में, देश से ताजे फल और सब्जियों के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए 25.11.2020 को जर्मन आयातकों के साथ एक आभासी नेटवर्किंग बैठक का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का आयोजन बर्लिन स्थित भारतीय दूतावास और जर्मन एग्रीबिजनेस एलायंस के सहयोग से एपीईडीए द्वारा किया गया। इस आयोजन में 70 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया।

इस अवसर पर सुश्री परमिता त्रिपाठी, मिशन की उप- प्रमुख, भारतीय दूतावास, बर्लिन, डॉ. एम. अंगमुथु, अध्यक्ष, एपीईडीए और सुश्री जूलिया हरनाल, अध्यक्ष, जर्मन एग्रीबिजनेस एलायंस ने प्रतिभागियों को संबोधित किया।

अपने संबोधन में, अध्यक्ष, एपीईडीए ने भारतीय जीआई और जैविक उत्पादों के साथ-साथ प्रसंस्कृत उत्पादों की संभावनाओं पर जोर दिया। सुश्री परमिता त्रिपाठी, मिशन की उप - प्रमुख, भारत के दूतावास, बर्लिन ने अपने अद्वितीय स्वाद और गुणों के लिए प्रसिद्ध भारतीय बागवानी की व्यापक उपस्थिति पर जोर दिया।

इस कार्यक्रम में भारतीय पक्ष की ओर से निर्यात में भारतीय कृषि उत्पादों, खासकर अंगूर और ताजे फलों एवं सब्जियों, की संभावनाओं के बारे में प्रस्तुतियां दी गईं। जर्मन पक्ष की ओर से, जर्मन बाजार की आवश्यकताओं और अपेक्षाओं के बारे में प्रस्तुतियां दी गईं।

इस आयोजन ने भारतीय कृषि उत्पादों में जर्मन खरीदारों के विश्वास को और मजबूत करने और निर्यात को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ताजे फल और सब्जियों के निर्यात में भारत की क्षमता प्रदर्शित करने का एक मंच प्रदान किया।

*****

एमजी/एएम/आर/एसएस



(Release ID: 1676102) Visitor Counter : 30