कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन मंत्रालय

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने जम्मू और कश्मीर नगर निकायों के प्रतिनिधियों के साथ कोविड की रोकथाम के उपायों पर चर्चा करने के लिए एक वीडियो कॉन्फ्रेंस बैठक की

Posted On: 03 JUN 2020 9:34PM by PIB Delhi

केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने आज जम्मू और कश्मीर नगर निकायों के प्रतिनिधियों के साथ कोविड की रोकथाम के उपायों पर चर्चा करने के लिए एक वीडियो कॉन्फ्रेंस बैठक की।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि कोविड महामारी के पहले दो चरणों में मुख्य चिंता देश के विभिन्न हिस्सों में लोगों के लिए आवश्यक आपूर्ति की व्यवस्था करना था, जबकि दूसरे चरण में मुख्य जिम्मेदारी यह थी कि देश के विभिन्न हिस्सों से घर लौट रहे लोगों की मुफ्त आवाजाही सुनिश्चित की जाए। हालांकि, वर्तमान चरण में, ध्यान दो मुद्दों पर है, अर्थात् रोकथाम और जागरूकता, और इन दो उद्देश्यों को पूरा करने के लिए, स्थानीय निकायों और उनके प्रतिनिधियों के साथ-साथ नागरिक समाज की भूमिका एक असामान्य महत्व प्राप्त करेगी।

दो घंटे की बैठक के दौरान, अपने विचार प्रस्तुत करने वालों में जम्मू नगर निगम के महापौर चंद्र मोहन गुप्ता, जम्मू नगर निगम की उप महापौर पूर्णिमा शर्मा, श्रीनगर नगर निगम के महापौर जुनैद अजीम मट्टू और श्रीनगर नगर निगम के उप महापौर परवेज कादरी शामिल थे। इसके अलावा, बैठक में बिलवार, बशोली, हीरानगर, भद्रवाह, डोडा, विजयपुर, कुपवाड़ा, बारामूला, अनंतनाग, चेनानी, रामगढ़, पैरोल, बटोटे और अन्य के नगर निकायों के अध्यक्षों ने भी भाग लिया।

http://164.100.117.97/WriteReadData/userfiles/image/image001GO62.jpg

 

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा, "जागरूकता चिंता नहीं" के मंत्र का पालन करना समय की जरूरत है। इसके लिए नगर निकायों के निर्वाचित प्रतिनिधि, जो जमीनी स्तर के नेता हैं, लोगों को घबराहट के बिना सावधानी बरतने के महत्व को समझाकर एक ठोस भूमिका निभा सकते हैं।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा, हमें लोगों को यह समझने की जरूरत है कि भले ही कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या अधिक है, क्योंकि सामूहिक जांच और अधिक संख्या में नमूने भेजे जाने के कारण यह काफी हद तक ज्यादा दिख रहा है। अन्यथा, पिछले दस हफ्तों में प्रतिशत की व्यापकता और मृत्यु दर लगभग समान रही है।

कोविड महामारी के वर्तमान चरण के मद्देनजर डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि नगरपालिका की गतिविधियों जैसे फ्यूमेगेशन, स्वच्छता और स्वच्छता का रखरखाव, सोशल डिस्टेंसिंग आदि महत्वपूर्ण होंगे और उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन को निर्देश दिया गया है कि नगर निकाय योजना का निष्पादन करें।

नगर निकायों के प्रमुखों ने डॉ. जितेंद्र सिंह और उनके कार्यालय द्वारा दिन-प्रतिदिन बनाए गए उनके साथ नियमित संपर्क की सराहना की। उन्होंने मंत्री से ये बात भी कही कि स्थानीय निकायों को धन जारी करने में देरी हुई।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कोरोना संकट के दौरान नगर निकायों और नागरिक समाज द्वारा निभाई गई भूमिका की सराहना की और उन्हें आश्वासन दिया कि वह व्यक्तिगत रूप से सभी के बीच घनिष्ठ समन्वय के लिए काम कर रहे हैं।

 

<><><><><>

एसजी/एएम/वीएस



(Release ID: 1629269) Visitor Counter : 63