प्रधानमंत्री कार्यालय

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह के बीच वार्ता के बाद संयुक्त प्रेस वक्तव्य

Posted On: 17 NOV 2018 7:39PM by PIB Delhi

मालदीव गणराज्य के राष्ट्रपति महामहिम इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने अपने राष्ट्रपति उद्घाटन समारोह में हिस्सा लेने के लिए मालदीव आने के लिए भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का स्वागत और धन्यवाद किया।  

 

प्रधानमंत्री मोदी ने इस उद्घाटन समारोह में आमंत्रित करने के विशेष भाव के लिए राष्ट्रपति सोलिह को शुक्रिया अदा किया। उन्होंने शांति, समृद्धि और स्थिरता के लिए आवश्यक लोकतंत्र की मजबूती के लिए मालदीव गणराज्य के लोगों को भारत के लोगों की ओर से बधाई और प्रशंसा ज्ञापित की।

 

दोनों नेताओं ने भारत और मालदीव के रिश्तों के बीच लचीलेपन को दर्ज करते हुए मालदीव के राष्ट्रपति के तौर पर सोलिह के चुने जाने के साथ ही सहयोग और मित्रता के इन नजदीकी संबंधों के नवीकरण में भरोसा जताया।

 

अपनी बैठक के दौरान दोनों नेताओं ने इस क्षेत्र की स्थिरता के लिए एक-दूसरे की चिंताओं और आकांक्षाओं को ध्यान में रखने और हिंद महासागर में सुरक्षा और शांति बनाए रखने के महत्व को लेकर सहमति जताई।

 

दोनों नेताओं ने इस क्षेत्र के अंदर और क्षेत्र से बाहर भी आतंकवाद से लड़ने में बढ़े हुए सहयोग के लिए अपना समर्थन और अटल प्रतिबद्धता जाहिर की।

 

राष्ट्रपति सोलिह अपने जिस देश का कार्यभार संभालने जा रहे हैं उसकी बुरी आर्थिक स्थिति से भी प्रधानमंत्री मोदी को अवगत करवाया। दोनों नेताओं ने उन तरीकों पर चर्चा की जिनमें भारत अपनी विकास भागीदारी जारी रख सके, विशेष तौर पर मालदीव के लोगों के लिए ली गई प्रतिज्ञाओं को पूरा करने में नई सरकार की मदद करने के सिलसिले में। राष्ट्रपति सोलिह ने दूरस्थ द्वीपों में जल व सीवरेज व्यवस्थाओं को स्थापित करने और आवास एवं बुनियादी ढांचा विकास की बढ़ी हुई जरूरत को विशेष तौर पर उभारकर बताया।        

 

प्रधानमंत्री मोदी ने टिकाऊ सामाजिक और आर्थिक विकास को प्राप्त करने के लिए मालदीव को सहयोग करने में भारत की दृढ़ प्रतिबद्धता को लेकर राष्ट्रपति सोलिह को आश्वस्त किया। उन्होंने हर संभव तरीके से मदद का हाथ आगे बढ़ाने में भारत की तत्परता के बारे में बताया और सुझाव दिया कि मालदीव की जरूरतों के मुताबिक ब्यौरों पर काम करने के लिए दोनों पक्षों को जल्द से जल्द मिलना चाहिए। 

 

प्रधानमंत्री मोदी ने दोनों देशों के पारस्परिक लाभ के लिए अलग-अलग क्षेत्रों में मालदीव में निवेश करने के लिए भारतीय कंपनियों के अवसरों को दिए जा रहे विस्तार का स्वागत किया। दोनों ही देशों के नागरिक इन दोनों मुल्कों में बड़े पैमाने पर यात्रा करते हैं इस बात की पहचान करते हुए दोनों नेताओं ने आसान वीज़ा प्रक्रियाओं की व्यवस्था करने की जरूरत पर सहमति जताई।   

 

प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति सोलिह को आमंत्रित किया कि वे जल्द से जल्द अपनी सुविधा मुताबिक भारत की राजकीय यात्रा करें। राष्ट्रपति सोलिह ने खुशी-खुशी उनका ये न्यौता स्वीकार किया।

 

मालदीव के विदेश मामलों के मंत्री आगे की वार्ताओं को आयोजित करने और राष्ट्रपति सोलिह की आगामी भारत यात्रा की तैयारी करने के लिए 26 नवंबर को भारत की आधिकारिक यात्रा करेंगे।

 

राष्ट्रपति सोलिह ने उम्मीद जताई कि प्रधानमंत्री निकट भविष्य में मालदीव की आधिकारिक यात्रा करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने साभार उनके आमंत्रण को स्वीकार किया।

****

आर.के.मीणा/अर्चना/जीबी-11305



(Release ID: 1553259) Visitor Counter : 215