गृह मंत्रालय

जनजातीय युवा एक्सचेंज कार्यक्रम (TYEP) में भाग लेने वाले युवा प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति से मुलाकात की


राष्ट्रपति ने उन्हें देश के संविधान और लोकतंत्र में पूरा भरोसा रखने की सलाह दी,  हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्था सभी को समान अवसर प्रदान करती है

राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार देश और सभी नागरिकों के सर्वांगीण विकास के लिए प्रयासरत है, सरकार बिना किसी भेदभाव के सभी को समान अवसर प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है

सरकार सभी के विकास के लिए दूर-दराज के इलाकों में भी सड़क, संचार, शिक्षा और स्वास्थ्य जैसी सुविधाओं का निर्माण कर रही है

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने 18 अक्टूबर को नई दिल्ली में TYEP के अंतर्गत जनजातीय युवाओं से संवाद किया था

जनजातीय युवाओं को देश भ्रमण के बाद अपने गांव वापस जाकर सबको बताना चाहिए कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में देश आज हर क्षेत्र में प्रगति कर रहा है और जनजातियों के लिए हर क्षेत्र में अपार संभावनाएं मौजूद हैं

Posted On: 05 NOV 2023 7:24PM by PIB Delhi

मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के एक युवा प्रतिनिधिमंडल ने आज राष्ट्रपति भवन में भारत की राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु से मुलाकात की। वामपंथी उग्रवाद से सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्रों के युवाओं के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा आयोजित जनजातीय युवा एक्सचेंज कार्यक्रम (TYEP) के तहत युवा दिल्ली में हैं।

प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति ने उन्हें देश के संविधान और लोकतंत्र में पूरा भरोसा रखने की सलाह दी। राष्ट्रपति ने कहा कि हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्था सभी को समान अवसर प्रदान करती है। उन्हें बस कड़ी मेहनत और समर्पण के साथ अपना रास्ता बनाना है। राष्ट्रपति ने कहा कि युवाओं का भविष्य उज्ज्वल है। उन्होंने इस बात पर ज़ोर दिया कि हिंसा के जरिये कभी भी विकास हासिल नहीं किया जा सकता।

राष्ट्रपति ने कहा कि सरकार देश और सभी नागरिकों के सर्वांगीण विकास के लिए प्रयासरत है। सरकार बिना किसी भेदभाव के सभी को समान अवसर प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार सभी के विकास के लिए दूर-दराज के इलाकों में भी सड़क, संचार, शिक्षा और स्वास्थ्य जैसी सुविधाओं का निर्माण कर रही है। युवाओं के व्यावसायिक कौशल को बढ़ाने और उन्हें रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए कई आईटीआई और कौशल विकास केंद्र स्थापित किए गए हैं।

राष्ट्रपति ने कहा कि शिक्षा व्यक्तिगत और सामुदायिक विकास की नींव है। उन्होंने युवाओं से शिक्षा के महत्व को समझने और दूसरों को भी शिक्षा के महत्व के बारे में जागरूक करने का आग्रह किया। उन्होंने युवाओं से हमारे पूर्वजों से प्रेरणा लेने और उनके मूल्यों और आदर्शों को अपनाकर भारत को मजबूत करने की सलाह दी।

इससे पहले केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने 18 अक्टूबर 2023 को नई दिल्ली में TYEP के अंतर्गत 200 जनजातीय युवाओं से संवाद किया था। इस अवसर पर गृह मंत्री ने कहा था कि हिंसा से रोजगार नहीं मिल सकता, बल्कि विकास और आधारभूत ढांचे के निर्माण के लिए समाज की मुख्यधारा से जुड़ना ज़रूरी है।  श्री शाह ने कहा कि ये युवाओं की ज़िम्मेदारी है कि वे न तो खुद गलत रास्ते पर जाएं और न ही दूसरों को जाने दें। गृह मंत्री ने कहा कि जनजातीय युवाओं को देश भ्रमण के बाद अपने गांव वापस जाकर सबको बताना चाहिए कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में देश आज हर क्षेत्र में प्रगति कर रहा है और जनजातियों के लिए हर क्षेत्र में अपार संभावनाएं मौजूद हैं।

केन्द्रीय गृह मंत्रालय पिछले 15 वर्षों से जनजातीय युवा एक्सचेंज कार्यक्रम (TYEP) चला रहा है। यह कार्यक्रम युवा मामले व खेल मंत्रालय के अधीन नेहरू युवा केंद्र संगठन (NYKS) के माध्यम से चलाया जा रहा है। इसमें वामपंथी उग्रवाद से सर्वाधिक प्रभावित क्षेत्रों के अंदरूनी हिस्से से जनजातीय युवक और युवतियों को देशभर के प्रमुख शहरों और महानगरों के भ्रमण पर ले जाया जाता है।

राजधानी दिल्ली में नवम्बर में TYEP के अंतर्गत एक कार्यक्रम आयोजित किया गया है इस कार्यक्रम के दौरान इन युवाओं को IIIT Delhi में Incubation Centre और Innovation Lab तथा Honda Factory, Manesar के दौरे के साथ-साथ शिक्षा, कौशल विकास व carrier counseling और उद्यमशीलता व व्यवसाय पर मागदर्शन दिया जायेगा। इसके अलावा युवा संसद का आयोजन, Tribal Research Institute का दौरा, CRPF Camp में वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा मार्गदर्शन व पुलिस में भर्ती के लिये काउंसिलिंग, युवा प्रशाशनिक अधिकारियों द्वारा मार्गदर्शन व उत्साह वर्धन, दिल्ली के महत्वपूर्ण स्थलों का भ्रमण, सांस्कृतिक कार्यक्रम और भाषण प्रतियोगिता इत्यादि का आयोजन किया जाएगा।

*****

आरके/आरआर/पीआर



(Release ID: 1974891) Visitor Counter : 330