विद्युत मंत्रालय

सरकार ने पीएलआई (भाग-II) के तहत 39,600 मेगावाट घरेलू सौर पीवी मॉड्यूल विनिर्माण क्षमता का आवंटन किया


पीएलआई (भाग- II) के तहत 93041 करोड़ रुपये का निवेश प्राप्त किया जाएगा, एक लाख से अधिक प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार का सृजन होगा

उन्नत सौर पीवी मॉड्यूल विनिर्माण में पीएलआई की सफलता, प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत की सोच के लिए एक बड़ा प्रोत्साहन होगा: केंद्रीय विद्युत व नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री आर.के. सिंह

अगले 3 वर्षों में 48 गीगावाट घरेलू सौर मॉड्यूल विनिर्माण क्षमता प्राप्त की जाएगी

Posted On: 28 MAR 2023 1:34PM by PIB Delhi

सरकार ने उच्च दक्षता वाले सौर पीवी मॉड्यूल (भाग- II) के लिए उत्पादन संबद्ध प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना के तहत 14,007 करोड़ रुपये के कुल परिव्यय के साथ 11 कंपनियों को 39,600 मेगावाट की घरेलू सौर पीवी मॉड्यूल निर्माण क्षमता आवंटित की है। इनमें कुल 7,400 मेगावाट की विनिर्माण क्षमता अक्टूबर 2024 तक, 16,800 मेगावाट क्षमता अप्रैल 2025 तक और बाकी 15,400 मेगावाट क्षमता अप्रैल 2026 तक चालू होने की उम्मीद है। इस भाग- II से 93,041 करोड़ रुपये का निवेश प्राप्त होने की संभावना है। इसके अलावा यह कुल 1,01,487 रोजगार भी सृजित करेगा, जिसमें 35,010 लोगों को प्रत्यक्ष और 66,477 को अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार प्राप्त होगा। इन कंपनियों की सूची अनुबंध-ए दी गई है।

पीएलआई योजना की सफलता पर केंद्रीय ऊर्जा व नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री आर के सिंह ने कहा कि भारत पहले से ही उन्नत सौर पीवी मॉड्यूल उत्पादन के मूल्य श्रृंखला में प्रगति की राह पर था और यह क्षमता वृद्धि सौर विनिर्माण क्षेत्र में भारत को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में एक बड़ा कदम है। श्री सिंह ने कहा, "पीएलआई योजना भारत के नवीकरणीय परिदृश्य में एक रूपांतरणकारी घटना सिद्ध हुई है, जिसके परिणामस्वरूप अगले 3 वर्षों के भीतर लगभग 48 गीगावाट घरेलू मॉड्यूल निर्माण क्षमता प्राप्त होगी। इस योजना ने न केवल वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला के झटकों के प्रभाव को कम करने के लिए सरकार के प्रयासों को बढ़ावा दिया है, बल्कि माननीय प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत की सोच की दिशा में आयात पर हमारी निर्भरता को भी कम किया है।"

नवंबर- दिसंबर, 2022 में योजना के भाग-I के तहत 8737 मेगावाट की कुल एकीकृत क्षमता आवंटित की गई थी। इन दोनों भागों को मिलाकर सरकार ने पीएलआई योजना के तहत घरेलू सौर पीवी मॉड्यूल निर्माण क्षमता 48,337 मेगावाट आवंटित करने के साथ इसके लिए 18,500 करोड़ रुपये से अधिक की वित्तीय सहायता प्रदान की है।

अनुसूची- ए

 

          पीएलआई योजना के तहत प्रदान की गई क्षमता (भाग-II)

                      पी+डब्ल्यू+सी+एम बास्केट

क्रम संख्या

बोलीदाता का नाम

 विनिर्माण क्षमता (मेगावाट में)

1

इंडोसोल

6,000

2

रिलायंस

6,000

3

फर्स्ट सोलर

3,400

 कुल

15,400

 

 

                         डब्ल्यू+सी+एम बास्केट

क्रम संख्या

बोलीदाता का नाम

 विनिर्माण क्षमता (मेगावाट में)

1

वारी

6,000

2

अवादा

3,000

3

रिन्यू

4,800

4

जेएसडब्ल्यू

1,000

5

ग्रेयू

2,000

 कुल

16,800

 

 

                         सी+एम बास्केट

क्रम संख्या

बोलीदाता का नाम

 विनिर्माण क्षमता (मेगावाट में)

1

विक्रम

2,400

2

एम्पिन

1,000

3

टाटा पावर सोलर

4,000

 कुल

7,400

तीनों बास्केट का कुल

39,600

                        ***************************

 

एमजी/एमएस/एआर/एचकेपी/एजे



(Release ID: 1912085) Visitor Counter : 177


Read this release in: English , Urdu , Marathi , Odia