पृथ्‍वी विज्ञान मंत्रालय

दक्षिणपश्चिम मानसून पूर्वोत्तर राज्यों तथा उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम की ओर बढ़ा

Posted On: 06 JUN 2021 4:34PM by PIB Delhi

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के अनुसारः

(तिथिः 6 जून, 2021, जारी करने का समयः1430 बजे आईएसटी)

1. दक्षिणपश्चिम मानसून की प्रगति

दक्षिणपश्चिम मानसून आज 6 जून, 2021 को मध्य अरब सागर के कुछ और हिस्सों, महाराष्ट्र के कुछ और भागों, संपूर्ण कर्नाटक, तेलंगाना के कुछ और हिस्सों, पूरे तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश के कुछ और भागों, मध्य बंगाल की खाड़ी के कुछ और हिस्सों और उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी ओर आगे बढ़ गया और वहां से भारत के संपूर्ण पूर्वोत्तर राज्य (नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा, असम और मेघालय, अरुणाचल प्रदेश), उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम के अधिकांश हिस्सों की ओर बढ़ गया है

मानसून की उत्तरी सीमा (एनएलएम) अक्षांश 18.0° उत्तर/ देशांतर 65°पूर्व, अक्षांश 18.5° उत्तर/ देशांतर 70°पूर्व, अलीबाग, पुणे, मेडक, नलगोंडा, रेंताचिंताला, श्रीहरिकोटा अक्षांश 14° उत्तर/ देशांतर 85.0°पूर्व, 16° उत्तर/88°पूर्व, 20°उत्तर/ 90.5°पूर्व तथा 24.0°उत्तर/89.5°पूर्व तथा बागडोगरा से गुजरती है। (संदर्भ चित्र 1 दक्षिणपश्चिम मानसून की उत्तरी सीमा 6 जून, 2021 के लिए)

आज 0830 बजे आईएसटी को समाप्त होने वाले समय के लिए पिछले 24 घंटों में हुई वर्षा की मुख्य मात्राः तिरुमयम (पुड्डुकोट्टई जिला)-19; त्रिपुरा, गंगटोक प्रत्येक-11; श्रीराली, अनंतपुर प्रत्येक-10; मनकी, भटकल, चिक्कमंगलुरु, कड्डपा, पेरामबलुर प्रत्येक-9; थाणे, पूर्वी खासी पहाड़ी, रिवा, होनावर प्रत्येक-8; रायगड़, वडगांव (पुणे), अगरतला, कुड्डालोर प्रत्येक-7; तिरुपति-6 ।

  1. पूर्वानुमान और चेतावनी

दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के मजबूत होने और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल के ऊपर तथा निचले क्षोभमंडल स्तर के पड़ोस में चक्रवाती सर्कुलेशन के कारण अगले 4-5 दिनों के दौरान पूर्वोत्तर राज्यों तथा निकटवर्ती पूर्व भारत में व्यापक वर्षा हो सकती है। 06 तथा 08 तारीख को अरुणाचल प्रदेश, 08, 09 तारीख को असम और मेघालय तथा उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम; 06-07 तारीख को नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम तथा त्रिपुरा, 08-09 तारीख को ओडिशा, 10 जून को गांगेय पश्चिम बंगाल के कुछ स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है। आज, 06 जून को असम और मेघालय और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में और 10 जून को ओडिशा में भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है ।

उत्तर महाराष्ट्र तट से उत्तर केरल तट तक औसत समुद्र स्तर पर अपतटीय गर्त के प्रभाव के कारण तथा निचले क्षोभमंडल स्तर में कोंकण और गोवा के ऊपर चक्रवाती सर्कुलेशन के कारण दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत तथा पश्चिम तट के हिस्सों में आज 6 जून, 2021 को आंधी, बिजली कड़कने और तेज हवा के साथ छिटपुट से व्यापक वर्षा हो सकती है, इसके बाद तीव्रता में कमी की संभावना।

(कृपया विवरण और ग्राफिक्स के लिए यहां क्लिक करें)

कृपया स्थान विशिष्ट पूर्वानुमान और चेतावनी के लिए मौसम एप डाउनलोड करें, एग्रोमेट परामर्श के लिए मेघदूत एप और बिजली गिरने की चेतावनी के लिए दामिनी एप और जिलेवार चेतावनी के लिए राज्य एमसी/आरएमसी वेबसाइटों पर जाएं।

****

एमजी/एएम/एजी/डीए



(Release ID: 1724968) Visitor Counter : 42


Read this release in: English , Urdu , Bengali , Tamil