रक्षा मंत्रालय

प्रथम प्रशिक्षण स्क्वाड्रन ने पोर्ट लुई की यात्रा के दौरान द्विपक्षीय संबंधों को समृद्ध किया

Posted On: 15 MAR 2024 3:28PM by PIB Delhi

प्रथम प्रशिक्षण स्क्वाड्रन (1टीएस), जिसमें आईएनएस तीर और सीजीएस सारथी शामिल हैं, ने अपनी लंबी दूरी की प्रशिक्षण तैनाती के हिस्से के रूप में पोर्ट लुई, मॉरीशस की यात्रा पूरी की। 57वें मॉरीशस राष्ट्रीय दिवस समारोह के साथ हुई इस यात्रा ने भारत और मॉरीशस के बीच गहरे समुद्री संबंधों को रेखांकित किया। एक नौसैनिक दल और एक हेलीकॉप्टर ने मॉरीशस राष्ट्रीय दिवस शहर परेड में भाग लिया। राष्‍ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु कार्यक्रम की मुख्य अतिथि  थीं और उन्‍होंने परेड का अवलोकन किया।

यह यात्रा भारतीय नौसेना के प्रशिक्षुओं के लिए समृद्ध रही, जिन्होंने मॉरीशस के मैरीटाइम एयर स्क्वाड्रन और पुलिस हेलीकॉप्टर स्क्वाड्रन का दौरा किया। क्रॉस ट्रेनिंग विजिट के हिस्से के रूप में, मॉरीशस के राष्ट्रीय तट रक्षक कर्मियों को 1टीएस जहाजों पर छोटे हथियारों और अग्निशमन का प्रशिक्षण दिया गया। यह यात्रा पीएएसएसईएक्‍स और वीबीएसएस अभ्यास के साथ समाप्त हुई इस अभ्‍यास से दोनों सेनाओं के बीच आपसी परिचालन में इजाफा हुआ। पोर्ट लुई में प्रवेश करने से पहले मॉरीशस तटरक्षक डोर्नियर के साथ 1टीएस द्वारा संयुक्त ईईजेड चौकसी भी की गई थी।

मौजूदा यात्रा क्षेत्रीय सुरक्षा के प्रति साझा प्रतिबद्धता को रेखांकित करती है तथा भारत और मॉरीशस के बीच समृद्ध सांस्कृतिक और राजनयिक संबंधों को उजागर करती है।

***

एमजी/एआर/एकेपी/ओपी

 



(Release ID: 2014969) Visitor Counter : 123


Read this release in: English , Urdu , Marathi , Tamil