वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्रालय
azadi ka amrit mahotsav g20-india-2023

भारत का कुल निर्यात अक्टूबर 2023 में 62.26 बिलियन डॉलर होने का अनुमान; अक्टूबर 2022 के 56.90 बिलियन डॉलर की तुलना में 9.43 प्रतिशत की वृद्धि


अक्टूबर 2023 में वस्तु निर्यात अक्टूबर 2022 में 31.60 बिलियन डॉलर के मुकाबले 6.21 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 33.57 डॉलर पर पहुंच गया

अप्रैल-अक्टूबर 2023 के लिए अनुमानित सेवा निर्यात 192.65 बिलियन डॉलर है, अप्रैल-अक्टूबर 2022 के 181.37 बिलियन डॉलर की तुलना में 6.22 प्रतिशत की वृद्धि का अनुमान

अप्रैल-अक्टूबर के दौरान कुल व्यापार घाटा 2022 के 89.86 बिलियन डॉलर से 35.86 प्रतिशत कम होकर 2023 में 57.64 बिलियन डॉलर हो गया; वस्तु व्यापार घाटा भी अप्रैल-अक्टूबर 2022 के 167.14 बिलियन डॉलर से बढ़कर अप्रैल-अक्टूबर 2023 में 147.07 डॉलर हो गया

गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न एवं आभूषण निर्यात में अक्टूबर 2022 के 21.99 बिलियन डॉलर की तुलना में 11.74 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई और अक्टूबर 2023 में यह 24.57 बिलियन डॉलर हो गया

अक्टूबर 2023 में निर्यात वृद्धि के प्रमुख योगदानकर्ताओं में औषधि और फार्मास्यूटिकल्स, इंजीनियरिंग सामान, इलेक्ट्रॉनिक सामान, कॉटन यार्न/फैब्स/मेड-अप्स, हैंडलूम उत्पाद आदि, लौह अयस्क, सिरेमिक उत्पाद और कांच के बर्तन और मांस, डेयरी और पोल्ट्री उत्पाद शामिल हैं

अक्टूबर 2023 में औषधि और फार्मा निर्यात 29.31 प्रतिशत बढ़कर 2.42 बिलियन डॉलर हो गया, जो अक्टूबर 2022 में 1.87 बिलियन डॉलर था

इंजीनियरिंग सामान के निर्यात में 7.2 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई, जो अक्टूबर 2022 में 7.55 बिलियन डॉलर से बढ़कर अक्टूबर 2023 में 8.09 बिलियन डॉलर हो गया

इलेक्ट्रॉनिक सामान का निर्यात अक्टूबर 2023 के दौरान 28.23 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 2.38 बिलियन डॉलर हो गया, जबकि अक्टूबर 2022 में यह 1.85 बिलियन डॉलर था

अक्टूबर 2023 में कृषि निर्यात में वृद्धि जारी रही: अनाज की तैयारी और विविध प्रसंस्कृत वस्तुएं (40.95 प्रतिशत), तिलहन (29.7 प्रतिशत), फल और सब्जियां (24.48 प्रतिशत), ऑयल मिल्स (17.32 प्रतिशत), मसाले (10.78 प्रतिशत), कॉफी (8.45 प्रतिशत), चाय (4.12 प्रतिशत), काजू (3.29 प्रतिशत)

Posted On: 15 NOV 2023 2:45PM by PIB Delhi

अक्टूबर 2023* में भारत का कुल निर्यात (वस्तु और सेवाएँ संयुक्त) 62.26 बिलियन डॉलर होने का अनुमान है, जो अक्टूबर 2022 की तुलना में 9.43 प्रतिशत की सकारात्मक वृद्धि दर्शाता है। अक्टूबर 2023* में कुल आयात 79.35 बिलियन डॉलर होने का अनुमान है, जो अक्टूबर 2022 की तुलना में 11.10 प्रतिशत की सकारात्मक वृद्धि दर्शाता है।

तालिका 1: अक्टूबर 2023 के दौरान व्यापार*

 

 

अक्टूबर 2023

(बिलियन डॉलर)

अक्टूबर

 2022

(बिलियन डॉलर)

वस्तु

निर्यात

33.57

31.60

आयात

65.03

57.91

सेवा*

निर्यात

28.70

25.30

आयात

14.32

13.51

समग्र व्यापार

(वस्तु +सेवा) *

निर्यात

62.26

56.90

आयात

79.35

71.42

व्यापार संतुलन

-17.08

-14.52

* नोट: भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा जारी सेवा क्षेत्र का नवीनतम डेटा सितंबर 2023 के लिए है। अक्टूबर 2023 का डेटा एक अनुमान है, जिसे भारतीय रिजर्व बैंक की बाद की रिलीज़ के आधार पर संशोधित किया जाएगा। (ii) अप्रैल-अक्टूबर 2022 और अप्रैल-जून 2023 के डेटा को तिमाही भुगतान संतुलन डेटा का उपयोग करके आनुपातिक आधार पर संशोधित किया गया है।

चित्र 1: अक्टूबर 2023 के दौरान समग्र व्यापार*

अप्रैल-अक्टूबर 2023* में भारत का कुल निर्यात (वस्‍तु और सेवाएँ संयुक्त) 437.54 बिलियन डॉलर होने का अनुमान है, जो अप्रैल-अक्टूबर 2022 की तुलना में (-) 1.61 प्रतिशत की नकारात्मक वृद्धि दर्शाता है। अप्रैल-अक्टूबर 2023* में कुल आयात अनुमानित है अप्रैल-अक्टूबर 2022 की तुलना में (-) 7.37 प्रतिशत की नकारात्मक वृद्धि दर्शाते हुए, 495.17 बिलियन डॉलर हो जाएगा।

तालिका 2: अप्रैल-अक्टूबर 2023* के दौरान व्यापार

 

 

अप्रैल-अक्टूबर 2023

(बिलियन डॉलर )

अप्रैल-अक्टूबर 2022

(बिलियन डॉलर )

वस्तु

निर्यात

244.89

263.33

आयात

391.96

430.47

सेवा*

निर्यात

192.65

181.37

आयात

103.22

104.09

समग्र व्यापार

(वस्तु +सेवा) *

निर्यात

437.54

444.70

आयात

495.17

534.56

व्यापार संतुलन

-57.64

-89.86

 

चित्र : अप्रैल-अक्टूबर 2023 के दौरान समग्र व्यापार

वस्तु व्यापार

  • अक्टूबर 2023 में वस्तु  वस्तुओं का निर्यात 33.57 बिलियन डॉलर था, जबकि अक्टूबर 2022 में यह 31.60 बिलियन डॉलर था।
  • अक्टूबर 2023 में वस्तु  आयात 65.03 बिलियन डॉलर था, जबकि अक्टूबर 2022 में यह 57.91 बिलियन डॉलर था।

चित्र 3: अक्टूबर 2023 के दौरान वस्तु व्यापार

  • अप्रैल-अक्टूबर 2023 की अवधि में वस्तु  निर्यात 244.89 बिलियन डॉलर था, जबकि अप्रैल-अक्टूबर 2022 के दौरान यह 263.33 बिलियन डॉलर था।
  • अप्रैल-अक्टूबर 2023 की अवधि के लिए वस्तु  आयात 391.96 बिलियन डॉलर था, जबकि अप्रैल-अक्टूबर 2022 के दौरान यह 430.47 बिलियन डॉलर था।
  • अप्रैल-अक्टूबर 2023 के लिए वस्तु व्यापार घाटा 147.07 बिलियन डॉलर होने का अनुमान लगाया गया था, जबकि अप्रैल-अक्टूबर 2022 के दौरान यह 167.14 बिलियन डॉलर था।

चित्र 4: अप्रैल-अक्टूबर 2023 के दौरान वस्तु व्यापार

  • अक्टूबर 2023 में गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न एवं आभूषण निर्यात 24.57 बिलियन डॉलर था, जबकि अक्टूबर 2022 में यह 21.99 बिलियन डॉलर था।
  • अक्टूबर 2023 में गैर-पेट्रोलियम, गैर-रत्न और आभूषण (सोना, चांदी और कीमती धातु) का आयात 36.87 बिलियन डॉलर था, जबकि अक्टूबर 2022 में यह 35.12 बिलियन डॉलर था।

तालिका 3: अक्टूबर 2023 के दौरान पेट्रोलियम और रत्न एवं आभूषण को छोड़कर व्यापार

 

अक्टूबर  2023

(बिलियन डॉलर )

अक्टूबर  2022

(बिलियन डॉलर )

गैर-पेट्रोलियम निर्यात

27.56

25.30

गैर- पेट्रोलियम आयात

47.36

41.57

गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न एवं आभूषण निर्यात

24.57

21.99

गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न एवं आभूषण आयात

36.87

35.12

 

नोट: रत्न एवं आभूषण आयात जिसमें सोना, चांदी और मोती, बेशकीमती व और अर्ध-बेशकीमती रत्न शामिल हैं

चित्र 5: अक्टूबर  2023 के दौरान पेट्रोलियम और रत्न आभूषण को छोड़कर व्यापार  

  • अप्रैल-अक्टूबर 2023 के दौरान गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न एवं आभूषण निर्यात 178.42 बिलियन डॉलर था, जबकि अप्रैल-अक्टूबर 2022 में 182.24 बिलियन डॉलर था।
  • अप्रैल-अक्टूबर 2023 में गैर-पेट्रोलियम, गैर-रत्न और आभूषण (सोना, चांदी और कीमती धातु) आयात 246.50 बिलियन डॉलर था, जबकि अप्रैल-अक्टूबर 2022 में 260.01 बिलियन डॉलर था।

तालिका 4: अप्रैल-अक्टूबर 2023 के दौरान पेट्रोलियम और रत्न एवं आभूषण को छोड़कर व्यापार

 

अप्रैल -अक्टूबर  2023

(बिलियन डॉलर )

अप्रैल -अक्टूबर  2022

(बिलियन डॉलर )

गैर-पेट्रोलियम निर्यात

197.02

206.19

गैर- पेट्रोलियम आयात

292.01

307.50

गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न एवं आभूषण निर्यात

178.42

182.24

गैर-पेट्रोलियम और गैर-रत्न एवं आभूषण आयात

246.50

260.01

नोट : रत्न एवं आभूषण आयातों में सोना, चांदी और मोती, बेशकीमती और अर्ध-बेशकीमती रत्न शामिल हैं

चित्र 6: अप्रैल -अक्टूबर 2023 के दौरान पेट्रोलियम और रत्न एवं आभूषण को छोड़कर व्यापार

सेवा व्यापार

  • अक्टूबर 2023* के लिए सेवाओं के निर्यात का अनुमानित मूल्य 28.70 बिलियन डॉलर है, जबकि अक्टूबर 2022 में यह 25.30 बिलियन डॉलर था।
  • अक्टूबर 2023* के लिए सेवाओं के आयात का अनुमानित मूल्य 14.32 बिलियन डॉलर है, जबकि अक्टूबर 2022 में यह 13.51 बिलियन डॉलर था।

चित्र 7: अक्टूबर  2023* के दौरान सेवा व्यापार

  • अप्रैल-अक्टूबर 2023* के लिए सेवाओं के निर्यात का अनुमानित मूल्य 192.65 बिलियन डॉलर है, जबकि अप्रैल-अक्टूबर 2022 में यह 181.37 बिलियन डॉलर था।
  • अप्रैल-अक्टूबर 2023* के लिए सेवाओं के आयात का अनुमानित मूल्य 103.22 बिलियन डॉलर है, जबकि अप्रैल-अक्टूबर 2022 में यह 104.09 बिलियन डॉलर था।
  • अप्रैल-अक्टूबर 2023* के लिए सेवा व्यापार अधिशेष 89.43 बिलियन डॉलर होने का अनुमान है, जबकि अप्रैल-अक्टूबर 2022 में यह 77.28 बिलियन डॉलर था।

चित्र 8: अप्रैल -अक्टूबर  2023* के दौरान सेवा व्यापार

  • अक्टूबर 2023 महीने के लिए, वस्तु निर्यात के तहत, 30 प्रमुख सेक्टरों में से 22 ने पिछले वर्ष की समान अवधि (अक्टूबर 2022) की तुलना में अक्टूबर 2023 में सकारात्मक वृद्धि प्रदर्शित की। इनमें लौह अयस्क (2595.91 प्रतिशत), सिरेमिक उत्पाद और कांच के बर्तन (48.16 प्रतिशत), तंबाकू (47.6 प्रतिशत), अनाज की तैयारी और विविध प्रसंस्कृत वस्तुएं (40.95 प्रतिशत), मांस, डेयरी और पोल्ट्री उत्पाद (38.57 प्रतिशत), कपास यार्न/फैब्स ../मेड-अप्स, हथकरघा उत्पाद आदि। (36.49 प्रतिशत), तिलहन (29.7 प्रतिशत), औषधि एवं फार्मास्यूटिकल्स (29.3प्रतिशत), इलेक्ट्रॉनिक सामान (28.23 प्रतिशत), फल एवं सब्जियां (24.48 प्रतिशत), ऑयल मिल्स (17.32 प्रतिशत), कालीन (16.63 प्रतिशत), प्लास्टिक एवं लिनोलियम (12.83 प्रतिशत), मसाले (10.78प्रतिशत), मानव निर्मित यार्न/फैब्स/मेड-अप्स आदि (10.23 प्रतिशत), कॉफी (8.45 प्रतिशत), समुद्री उत्पाद (8.16 प्रतिशत), इंजीनियरिंग सामान (7.2 प्रतिशत), हस्तशिल्प को छोड़कर, हाथ से बना कालीन (4.72 प्रतिशत), चाय (4.12 प्रतिशत), काजू (3.29 प्रतिशत) और फर्श कवरिंग (0.42 प्रतिशत) सहित जूट विनिर्माण शामिल हैं।
  • वस्तु  आयात के तहत, 30 प्रमुख क्षेत्रों में से 10 ने अक्टूबर 2023 में नकारात्मक वृद्धि प्रदर्शित की। इनमें कपास कच्चा और अपशिष्ट (-78.69 प्रतिशत), वनस्पति तेल (-35.7 प्रतिशत), उर्वरक, कच्चा और विनिर्मित (-34.58 प्रतिशत), परिवहन उपकरण (-33.99 प्रतिशत), लुगदी और अपशिष्ट कागज (-33.38 प्रतिशत), अखबारी कागज (-33.08 प्रतिशत), प्रोजेक्ट सामान (-23.73 प्रतिशत ), मोती, कीमती और अर्ध-कीमती पत्थर (-9.76 प्रतिशत), लकड़ी और लकड़ी के उत्पाद (-7.82प्रतिशत) और चमड़ा एवं चमड़ा उत्पाद (-5.38 प्रतिशत) शामिल हैं। ।
  • अप्रैल-अक्टूबर 2023 के लिए, वस्तु निर्यात के तहत, 30 प्रमुख सेक्टरों में से 14 ने अप्रैल-अक्टूबर 2022 की तुलना में अप्रैल-अक्टूबर 2023 के दौरान सकारात्मक वृद्धि प्रदर्शित की। इनमें लौह अयस्क (157.03 प्रतिशत), ऑयल मिल्स (37.71 प्रतिशत), इलेक्ट्रॉनिक सामान (27.7 प्रतिशत), तिलहन (24.39 प्रतिशत), सिरेमिक उत्पाद और कांच के बर्तन (23.65 प्रतिशत), तंबाकू (12.99 प्रतिशत ), फल और सब्जियां (12.82 प्रतिशत), दवाएं और फार्मास्यूटिकल्स (8.14 प्रतिशत), अनाज की तैयारी और विविध प्रसंस्कृत मद (6.32 प्रतिशत), कॉटन यार्न/फैब्स/मेड-अप्स, हथकरघा उत्पाद आदि, (5.65 प्रतिशत), मांस, डेयरी और पोल्ट्री उत्पाद (4.54 प्रतिशत), कॉफ़ी (4.02 प्रतिशत), मसाले (2.35 प्रतिशत) और काजू (0.72 प्रतिशत) शामिल हैं। अप्रैल-अक्टूबर 2023 के दौरान इलेक्ट्रॉनिक सामान का निर्यात 15.48 बिलियन डॉलर दर्ज किया गया और अप्रैल-अक्टूबर 2022 के 12.13 बिलियन डॉलर की तुलना में 27.70 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई।
  • वस्तु आयात के तहत, 30 प्रमुख सेक्टरों में से 17 ने अप्रैल-अक्टूबर 2022 की तुलना में अप्रैल-अक्टूबर 2023 में नकारात्मक वृद्धि प्रदर्शित की। इनमें कॉटन रॉ एंड वेस्ट (-65.07 प्रतिशत), चांदी (-62.55 प्रतिशत), सल्फर और अनरोस्टेड आयरन पाइराइट्स (-40.4 प्रतिशत), उर्वरक, कच्चा तेल और विनिर्मित (-35.92 प्रतिशत), कोयला, कोक और ब्रिकेट्स, आदि (-32.83 प्रतिशत), वनस्पति तेल (-24.87 प्रतिशत ), मोती, कीमती और अर्ध-कीमती पत्थर (-24.02 प्रतिशत), कार्बनिक और अकार्बनिक रसायन (-22.08 प्रतिशत), पेट्रोलियम, कच्चा तेल और उत्पाद (-18.72 प्रतिशत), सूत का कपड़ा, निर्मित वस्तुएं (-16.61 प्रतिशत), चमड़ा और चमड़ा उत्पाद (-13.95प्रतिशत ), परिवहन उपकरण (-13.06 प्रतिशत), लकड़ी और लकड़ी के उत्पाद (-12.3 प्रतिशत), अखबारी कागज (-8.31 प्रतिशत), लुगदी और अपशिष्ट कागज (-5.81 प्रतिशत), धातुयुक्त अयस्क और अन्य खनिज (4.49 प्रतिशत) और कृत्रिम रेजिन, प्लास्टिक सामग्री, आदि (-4.4 प्रतिशत) शामिल हैं।
  • अप्रैल-अक्टूबर 2022 की तुलना में अप्रैल-अक्टूबर 2023 के दौरान सेवा निर्यात के 6.22 प्रतिशत की दर से सकारात्मक रूप से बढ़ने का अनुमान है।
  • भारत के व्यापार घाटे में अप्रैल-अक्टूबर 2023 में उल्लेनीय काफी गिरावट देखी गई है। अप्रैल-अक्टूबर 2023* के लिए समग्र व्यापार घाटा 57.64 बिलियन डॉलर होने का अनुमान है, जबकि अप्रैल-अक्टूबर 2022 के दौरान 89.86 बिलियन डॉलर का घाटा हुआ था, जिसमें (-) 35.86 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। अप्रैल-अक्टूबर 2023 में वस्‍तु व्यापार घाटा अप्रैल-अक्टूबर 2022 के दौरान 167.14 बिलियन डॉलर की तुलना में 147.07 बिलियन डॉलर है, जो (-) 12.01 प्रतिशत की गिरावट दर्ज करता है।

  *त्वरित अनुमान के लिए लिंक-

****

एमजी/एआर/एसकेजे/वाईबी/डीके



(Release ID: 1977096) Visitor Counter : 814


Read this release in: Bengali , English , Urdu , Marathi