भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार का कार्यालय

भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के कार्यालय ने जी20-मुख्य विज्ञान सलाहकारों के गोलमेज (जी20-सीएसएआर) पर योजना बैठक आयोजित की

Posted On: 23 JAN 2023 3:44PM by PIB Delhi

जी20-मुख्य विज्ञान सलाहकारों के गोलमेज (जी20-सीएसएआर) की योजना बैठक शुक्रवार, 20 जनवरी, 2023 को ऑनलाइन मोड में आयोजित की गई, जिसमें प्रस्तावित उच्च-स्तरीय गोलमेज बैठकों के एजेंडे के विषयों और योजना पर चर्चा की गयी।

भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के कार्यालय में वैज्ञानिक सचिव डॉ. (श्रीमती) परविंदर मैनी ने बैठक की अध्यक्षता की। अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, यूरोपीय संघ, फ्रांस, जर्मनी, इंडोनेशिया, इटली, जापान, कोरिया, मैक्सिको, नीदरलैंड (आमंत्रित देश), रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की, यूनाइटेड किंगडम, संयुक्त राज्य अमेरिका का प्रतिनिधित्व करने वाले वरिष्ठ अधिकारी ने भाग लिया और इस पहल के लिए आपसी हित के विषयों पर अपने विचार और सुझाव दिए।

एक स्वास्थ्य, विद्वतापूर्ण वैज्ञानिक ज्ञान तक खुली पहुंच, उभरती हुई प्रौद्योगिकियां और वैज्ञानिक डेटा साझाकरण आदि जी20-सीएसएआर के सांकेतिक एजेंडा विषय हैं, जो चर्चा के दौरान सामने आए।

जी20-सीएसएआर एक सरकार-से-सरकार स्तर की पहल है, जिसकी परिकल्पना भारत की जी20 अध्यक्षता के माध्यम से की गई है। इस पहल की प्रेरणा, जी20 सदस्य देशों के मुख्य विज्ञान सलाहकारों और उनके समकक्षों के साथ-साथ आमंत्रित देशों को एक मंच पर लाने पर आधारित है, ताकि कुछ बहुत जरूरी वैश्विक विज्ञान और प्रौद्योगिकी (एस एंड टी) नीतिगत मुद्दों पर विचार-विमर्श किया जा सके और आपसी सहयोग से जुड़ी रूपरेखा विकसित की जा सके। यह पहल एक प्रभावी और सुसंगत वैश्विक विज्ञान सलाह व्यवस्था स्थापित करने में भी मदद करेगी।

A collage of peopleDescription automatically generated with low confidence

(अर्जेंटीना, ब्राजील, कनाडा, मैक्सिको और संयुक्त राज्य अमेरिका के प्रतिनिधि)

ये जी20-सीएसए गोलमेज बैठकें, वैज्ञानिक अनुसंधान, प्रौद्योगिकी विकास और इनके उपयोग से संबंधित कुछ लंबे समय से लंबित और संभावित मुद्दों पर चर्चा करने और समाधान प्राप्त करने के लिए एक प्रभावी मंच होंगी। जी20-सीएसएआर पहल; व्यापक जी20 संरचना के तहत अन्य कार्य समूहों और पहलों की पूरक और परस्पर विचार साझा करने में सहायक सिद्ध होगी।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002PIQH.jpg

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003QQMJ.jpg

(यूरोपीय संघ, फ्रांस, जर्मनी, इटली, नीदरलैंड, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की और यूनाइटेड किंगडम के प्रतिनिधि)

भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के कार्यालय में वैज्ञानिक सचिव डॉ. (श्रीमती) परविंदर मैनी ने बैठक में कहा,जी20 मुख्य विज्ञान सलाहकार गोलमेज सम्मेलन बुलाकर, हम वैश्विक विज्ञान और प्रौद्योगिकी (एस एंड टी) नीति के मुद्दों पर चर्चा करने के लिए एक प्रभावी संस्थागत व्यवस्था स्थापित करना चाहते हैं, जो एक प्रभावी और सुसंगत वैश्विक विज्ञान सलाह संरचना के रूप में विकसित हो सकती है और वैश्विक एस एंड टी इकोसिस्टम द्वारा सामना किए जाने वाले मुद्दों में से कुछ, यदि सभी नहीं, का समाधान पेश कर सक्ती है।’’

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image004DX5D.jpg

(ऑस्ट्रेलिया, चीन, इंडोनेशिया, जापान और कोरिया के प्रतिनिधि)

भारत की जी20 अध्यक्षता के दौरान, दो उच्च-स्तरीय जी20-सीएसएआर बैठकें आयोजित की जाएंगी – पहली जी20-सीएसएआर 26-28 मार्च 2023 के दौरान हैदराबाद में और दूसरी जी20-सीएसएआर 27-29 अगस्त 2023 के दौरान बेंगलुरु में आयोजित की जाएगी।

***

एमजी/एएम/जेके/एसएस



(Release ID: 1893074) Visitor Counter : 551


Read this release in: English , Urdu , Tamil , Telugu