नागरिक उड्डयन मंत्रालय

माननीय प्रधानमंत्री ने बेंगलुरु हवाई अड्डे पर नए टर्मिनल भवन का उद्घाटन किया


टर्मिनल 2 को “ उद्यानों के नगर ( गार्डन सिटी ऑफ़ )” बेंगलुरु  के लिए एक उपहार के रूप में डिज़ाइन किया गया है और यहां यात्रियों को " उद्यान में टहलने " जैसा अनुभव होगा

•  इस हरित क्षेत्र  ( ग्रीनफील्ड ) हवाई अड्डे को सार्वजनिक निजी भागीदारी ( पीपीपी ) के आधार पर निर्माण स्वामित्व संचलन एवं हस्तांतरण ( बिल्ड ओन ऑपरेट एंड ट्रांसफर – बीओओटी ) मॉडल पर क्रियान्वित किया गया है

•  इस नए ग्रीनफील्ड हवाई अड्डे पर  लगभग 2470 करोड़ रूपये की 24.05.2008 से परियोजना लागत के साथ 4008 एकड़ भूमि पर 24.05.2008 से  निर्माण कार्य  शुरू हुआ था

• हवाई अड्डे का  17 जुलाई 2013 को केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के रूप में फिर से नामकरण  किया गया था


Posted On: 11 NOV 2022 4:10PM by PIB Delhi

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज बेंगलुरु में लगभग 5000 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के टर्मिनल 2 का उद्घाटन किया। यह टर्मिनल हवाई अड्डे की यात्री क्षमता को लगभग 2.5 करोड़ की वर्तमान क्षमता से दोगुना करके प्रति वर्ष 5-6 करोड़ यात्री कर देगा।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/Gallery/PhotoGallery/2022/Nov/H20221111121024.JPG

टर्मिनल 2 को उद्यानों के नगर ( गार्डन सिटी ऑफ़ ) बेंगलुरु के लिए एक उपहार  के रूप में डिज़ाइन किया गया है और यहां यात्रियों को " उद्यान  में टहलने " जैसा अनुभव होगा। यात्री 10,000+ वर्ग मीटर की हरित दीवारों,  झूलते उद्यानों ( हैंगिंग गार्डन ) और बाह्य  उद्यानों के बीच से निकलते हुए यात्रा करेंगे। हवाई अड्डे ने पहले ही अपने परिसर में अक्षय ऊर्जा के 100 प्रतिशत उपयोग के साथ स्थिरता में एक बेंचमार्क स्थापित कर लिया है। टर्मिनल 2 को डिजाइन के साथ गुंथे हुए स्थिरता के सिद्धांतों के साथ निर्मित किया गया है। सततता ( सस्टेनेबिलिटी ) नवाचारों  के आधार पर  टर्मिनल 2 अपने यहां परिचालन शुरू करने से पहले अमेरिकी ( यूएस ) जीबीसी  ( ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल ) द्वारा पूर्व प्रमाणित प्लेटिनम स्तर ( रेटिंग ) प्राप्त करने वाला विश्व का सबसे बड़ा टर्मिनल होगा। 'नवरस'  की विषयवस्तु पर टर्मिनल 2 के लिए निर्मित की गई सभी कलाकृतियों को एक – दूसरे से जोडती है। ये कलाकृतियां कर्नाटक की परम्परा  और संस्कृति के साथ-साथ व्यापक भारतीय लोकाचार को भी परिलक्षित करती  हैं ।

कुल मिलाकर, टर्मिनल 2 का अभिकल्प ( डिज़ाइन )  एवं  वास्तुकला एक उद्यान  में टर्मिनल, दीर्घकालिता, प्रौद्योगिकी तथा कला एवं संस्कृति के चार मार्गदर्शक सिद्धांतों से प्रभावित है। ये सभी पक्ष  टी 2 को एक ऐसे टर्मिनल के रूप में प्रदर्शित करते हैं जो आधुनिक होने के साथ-साथ प्रकृति में निहित है और सभी यात्रियों को एक स्मरण योग्य  ' गंतव्य '  का अनुभव प्रदान करता है ।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002ZGHG.jpg

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/Gallery/PhotoGallery/2022/Nov/H20221111121034.JPG

बेंगलुरु में लगभग 2470 करोड़ रूपये की परियोजना लागत के साथ 4008 एकड़ भूमि पर निर्मित नए हरित क्षेत्र ( ग्रीनफील्ड ) हवाई अड्डे ने 24.05.2008 से अपना संचालन शुरू कर दिया था। 17 जुलाई 2013 को हवाई अड्डे को फिर से केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के रूप में नामकरण किया गया था।

हवाई अड्डे के वर्तमान सम्पर्क (कनेक्टिविटी) + क्षमता + पैक्स सम्बन्धी आवश्यकताओं पर पूरा ध्यान दिया जा रहा है

वर्तमान में बेंगलूरू हवाई अड्डे से 76 घरेलू और 25 अंतरराष्ट्रीय गंतव्यों को जोड़ने वाली 36 विमान कम्पनियां ( एयरलाइंस )  संचालित हो रही हैं। 1,63,535 वर्गमीटर के क्षेत्र में फैले टर्मिनल 1 ( टी 1 ) की वर्तमान निर्दिष्ट क्षमता 2 करोड़ 65 लाख  यात्री प्रति वर्ष ( एमपीपीए ) [  वित्त वर्ष 19-20 में प्रबंधित पैक्स ] है  जिसे 3 करोड़ 33 लाख यात्री प्रति वर्ष ( एमपीपीए ) तक बढ़ाया जा सकता है

वित्तीय वर्ष के अनुसार बेंगलुरु हवाई अड्डे पर नियंत्रित यात्रियों का विवरण

 

वर्ष

प्रतिवर्ष घरेलू यात्री ( एमपीपीए  में)

प्रतिवर्ष अंतर्राष्ट्रीय यात्री (एमपीपीए में )

कुल यात्री प्रतिवर्ष (एमपीपीए में )

वित्तवर्ष 18

23.09

3.81

26.9

वित्तवर्ष 19

28.82

4.48

33.3

वित्तवर्ष 20

27.78

4.58

32.36

वित्तवर्ष 21

10.44

0.46

10.9

वित्तवर्ष 22

15.18

1.11

16.29

वित्तवर्ष 23 (सितम्बर 2022 तक

12.32

1.68

13.99

 

भविष्य के सम्पर्क ( कनेक्टिविटी )  अनुमान और इसलिए नए टर्मिनल की आवश्यकता

बेंगलुरु अन्तर्राष्ट्रीय विमानपत्तन लिमिटेड ( बीआईएएल ) को आशा है कि वित्त वर्ष 26 में वार्षिक ट्रैफ़िक 5 करोड़  से अधिक हो जाएगा और वित्त वर्ष 28 तक 06 करोड़  को पार कर जाएगा। 2,55,645 वर्गमीटर के क्षेत्रफल वाले हवाई अड्डे के नवनिर्मित टर्मिनल 2 में 02 करोड़ 50 लाख यात्री प्रतिवर्ष ( 25 एमपीपीए ) की  निर्दिष्ट क्षमता होगी, जो सर्वाधिक – विस्तार ( पीक-स्प्रेडिंग ) और औसत पैक्स / एटीएम के आधार पर टी1+टी2 से 05 करोड़ 15 लाख ( 51.5 एमपीपीए ) की कुल निर्दिष्ट क्षमता को 06 करोड़ यात्री प्रतिवर्ष ( 60 एमपीपीए  ) तक बढ़ाएगी । अतः बढ़ी हुई क्षमता निकट भविष्य में यात्रियों की संख्या में वृद्धि को पूरा करने में सक्षम होगी ।

*****

एमजी  / एएम / एसटी/डीके-



(Release ID: 1875323) Visitor Counter : 291


Read this release in: English , Urdu , Manipuri , Telugu