स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय
azadi ka amrit mahotsav

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) ने मुंबई में आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन (एबीडीएम) पर राज्य के संयुक्त निदेशकों / निदेशकों के लिए अनुकूलन कार्यशाला का आयोजन किया

राज्य के अधिकारियों को एबीडीएम के कोर बिल्डिंग ब्लॉक्स पर गहन ज्ञान प्रदान करने और अधिक लाभार्थियों को जोड़ने के लिए आवश्यक सहयोगात्मक प्रयासों के लिए अनुकूलन कार्यशाला के दूसरे चरण का आयोजन किया जा रहा है

Posted On: 08 JUN 2022 3:20PM by PIB Delhi

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) ने देश भर के विभिन्न राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के संयुक्त निदेशकों/निदेशकों के लिए तीन दिवसीय अभिविन्यास कार्यशाला शुरू की। कार्यशाला आज से 10 जून 2022 तक कोइता सेंटर फॉर डिजिटल हेल्थ (केसीडीएच), आईआईटी बॉम्बे के साथ साझेदारी में आयोजित की जा रही है। एनएचए टीम आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन (एबीडीएम) योजना, इसके मूल घटकों के साथ-साथ भविष्य के रास्ते के बारे में गहन प्रशिक्षण प्रधान करेगी।

इस कार्यशाला में बिहार, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, मणिपुर, पंजाब, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश सहित विभिन्न राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश चंडीगढ़, दादरा और नगर हवेली और दमन और दीव के साथ एनएचए और केसीडीएच की टीम के लगभग 50 अधिकारी भागीदारी कर रहे हैं।

कार्यशाला की शुरुआत राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के सीईओ डॉ. आर.एस. शर्मा के स्वागत भाषण से हुई। इसके बाद डॉ. प्रवीण गेदम, अतिरिक्त सीईओ और मिशन निदेशक - एबीडीएम द्वारा संदर्भ सेटिंग की गई। एबीडीएम टीम के डिवीजन प्रमुखों और विषय वस्तु विशेषज्ञों (एसएमई) ने एबीडीएम के विभिन्न बिल्डिंग ब्लॉक्स पर तीन दिनों के लिए विस्तृत सत्रों की योजना तैयार की है, जैसे कि आभा नंबर (हेल्थ आईडी), आभा ऐप (पर्सनल हेल्थ रिकॉर्ड ऐप), हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स रजिस्ट्री (एचपीआर), हेल्थ सुविधा रजिस्ट्री (एचएफआर), एबीडीएम सैंडबॉक्स, और एकीकृत स्वास्थ्य इंटरफ़ेस (यूएचआई) एबीडीएम नीति, कानूनी पहलू, मानक परिदृश्य, राज्य कार्यान्वयन के लिए एबीडीएम कार्य योजना और शिकायत निवारण तंत्र पर भी सत्र होंगे।

एनएचए टीम के अलावा, विभिन्न स्वास्थ्य उद्योग विशेषज्ञ और शिक्षाविद भी आईटी परियोजना प्रबंधन, एबीडीएम के लिए डिजाइन चिंतन, स्वास्थ्य प्रबंधन सूचना प्रणाली, डेटा गोपनीयता, और स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली इंजीनियरिंग और चिंतन पर अपने ज्ञान को साझा करेंगे। राज्य के प्रतिनिधि राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन (एनडीएचएम) के नाम से परियोजना के पायलट चरण से अपने अनुभवों और सीखों को भी साझा करेंगे। दर्शकों से प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए सत्रों का समापन एक ओपन-हाउस सत्र के साथ किया जाएगा। एबीडीएम एकीकृत स्वास्थ्य सुविधाओं को देखने के साथ कार्यशाला का समापन होगा।

कार्यशाला डिजिटल हेल्थ इको-सिस्टम के लाभों को देश के दूर-दराज के क्षेत्रों में ले जाने में मदद करेगी और सभी के लिए गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा को सुलभ बनाएगी।

****

एमजी/ एमए/ एसकेएस/सीएस



(Release ID: 1832276) Visitor Counter : 85


Read this release in: Telugu , English , Urdu , Marathi