संस्‍कृति मंत्रालय

भारत ने एक साथ 78,220 तिरंगे झंडे फहराकर विश्व रिकॉर्ड बनाया


केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह की उपस्थिति में भारत ने एक साथ 78 हजार 220 तिरंगे झंडे फहराकर ‘गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड’ बनाया

Posted On: 25 APR 2022 9:50PM by PIB Delhi

केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह की उपस्थिति में भारत ने एक ही समय में राष्ट्रीय ध्वज फहराने का रिकॉर्ड स्थापित किया है। 23 अप्रैल 2022 को, भारत ने बिहार के भोजपुर जिले के जगदीशपुर में दुलेर ग्राउंड में "वीर कुंवर सिंह विजयोत्सव" कार्यक्रम में एक ही समय में 78,220 तिरंगे झंडे फहराकर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है।

MC-1.jpg

MC-2.jpg

यह उपलब्धि जगदीशपुर के तत्कालीन राजा वीर कुंवर सिंह की शानदार विजय को श्रद्धांजलि देने के अवसर हासिल की गई जिन्हें 1857 के स्वतंत्रता संग्राम का एक प्रमुख नायक (हीरो) माना जाता है। इस कार्यक्रम का आयोजन गृह मंत्रालय और संस्कृति मंत्रालय द्वारा 'आजादी का अमृत महोत्सव', भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ के तहत किया गया था।

इस प्रयास के गवाह गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के प्रतिनिधि और उपस्थित लोग बने जिन्हें भौतिक पहचान के लिए बैंड पहनने के लिए कहा गया था। इस पूरी घटना को वीडियो के रूप में प्रलेखित किया गया है।

अपने संबोधन में केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमन्त्री श्री नरेन्द्र मोदी ने यह कल्पना की है कि वर्ष 2047 में भारत को विश्व का नेतृत्व करना चाहिए और वीर कुंवर सिंह जैसे सभी बहादुर स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति हमारी यही सच्ची श्रद्धांजलि हो सकती है। बाबू कुंवर सिंह भी एक महान समाज सुधारक थे और उन्होंने उस समय पिछड़े और दलित लोगों के कल्याण का विचार राष्ट्र के सामने रखा था। इतिहास बाबू कुंवर सिंह के प्रति अन्यायपूर्ण रहा है, क्योंकि उन्हें वह स्थान नहीं दिया गया जिसके वे अपनी वीरता, योग्यता और बलिदान के आधार पर हकदार थे। हालांकि आज बिहार के लोगों ने उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी है और वीर कुंवर सिंह का नाम एक बार फिर इतिहास में अमर हो गया।

बाबू वीर कुंवर सिंह 1857 के भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के एक प्रमुख नेता के रूप में उभरे और 80 वर्ष की आयु होने बावजूद उन्होंने ब्रिटिश औपनिवेशिक शासन के खिलाफ बहादुरी से युद्ध किया। वे जगदीशपुर के परमार राजपूतों की उज्जयिनी वंश के थे।  जगदीशपुर वर्तमान में बिहार के भोजपुर जिले का हिस्सा है।

बाबू वीर कुंवर सिंह ने 80 वर्ष की आयु में ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी की कमान के तहत अंग्रेज सैनिकों के खिलाफ सशस्त्र सैनिकों के एक चुनिंदा समूह का नेतृत्व किया। वे ब्रिटिश औपनिवेशिक शासन के विरुद्ध बिहार में स्वतंत्रता संग्राम के एक प्रमुख 'नायक' थे। वे वीर कुंवर सिंह के नाम से लोकप्रिय हैं।

इस ऐतिहासिक कार्यक्रम में केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह की उपस्थिति में केन्द्रीय मंत्री श्री आर के सिंह, श्री अश्विनी चौबे और श्री नित्यानंद राय भी मौजूद थे। इनके अलावा उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी भी मौजूद रहीं। हजारों की संख्या में जुटे लोगों ने पांच मिनट तक तिरंगा फहराया और राष्ट्रीय गीत वंदे मातरम् गाया।

***

एमजी/एएम/आईपीएस/ओपी



(Release ID: 1820186) Visitor Counter : 287


Read this release in: English , Urdu , Bengali